IBPS PO साक्षात्कार परीक्षा टिप्स

0
209
IBPS PO साक्षात्कार परीक्षा टिप्स

IBPS PO साक्षात्कार परीक्षा टिप्स – बैंकिंग कार्मिक चयन ने आधिकारिक तौर पर प्रोबेशनरी ऑफिसर की भर्ती से संबंधित IBPS प्रोबेशनरी ऑफिसर (PO) की मुख्य परीक्षा का रिज़ल्ट घोषित कर दिया है। आपको बता दें कि जिन उम्मीदवारों ने IBPS प्रोबेशनरी ऑफिसर (PO) की मुख्य परीक्षा में सफलता प्राप्त की थी उनके लिए अब शीघ्र ही अंतिम दौर की परीक्षा यानि साक्षात्कार दौर का आयोजन किया जाएगा।

साक्षात्कार परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए, उम्मीदवारों को कुछ अहम रणनीति पर ध्यान देने की जरूरत है। IBPS प्रोबेशनरी ऑफिसर (PO) की साक्षात्कार परीक्षा 100 अंकों की होगी। इस लेख में, हम प्रोबेशनरी ऑफिसर (PO) की साक्षात्कार परीक्षा 2017 में सफलता कैसे प्राप्त करें, हेतु कुछ महत्त्वपूर्ण युक्तियां (टिप्स) प्रदान कर रहे हैं। आशा है यह युक्तियाँ साक्षात्कार देने वालों के लिए लाभदायक सिद्ध होंगी।

 

IBPS प्रोबेशनरी ऑफिसर (PO) साक्षात्कार (इंटरव्यू) परीक्षा टिप्स !

दो या दो से अधिक व्यक्तियों के बीच बातचीत एवं विचारों का आदान-प्रदान साक्षात्कार (Interview) कहलाता है। इसमें एक या कई व्यक्ति किसी एक व्यक्ति से प्रश्न पूछते हैं और वह व्यक्ति इन प्रश्नों के जवाब देता है या इन पर अपनी राय व्यक्त करता है। यह उम्मीदवार तथा उसकी अनुकूलता (Fitness) को जांच-परखने की एक जीवन्त सामाजिक स्थिति है। इसमें दो पक्ष होते हो। इन पक्षों के बीच की वार्ता ही अन्तिम निर्णय का आधार बनती है। आइए अब हम IBPS PO साक्षात्कार परीक्षा टिप्स के कुछ महत्त्वपूर्ण तथ्यों से परिचित हो लेते हैं-

  • सामान्यतया देखा जाता है कि जब प्रत्याशी लिखित परीक्षा उत्तीर्ण कर लेता है तो वह साक्षात्कार से घबराता है। इसके विषय में कई प्रकार की भ्रांतियां फैली हुई है, जिनके कारण प्रतियोगी डरे हुए रहते है। परन्तु ऐसा नहीं है, साक्षात्कार एक स्वर्णिम अवसर होता है। जिसके द्वारा आप शिक्षण या किसी ख़ास काम के लिए आप अपनी रुची, लगन और प्रतिबद्धता को प्रदर्शित कर सकते हैं। 
  • उम्मीदवारों को सचेत होना चाहिए। साक्षात्कारकर्ता आपके शौक, निजी-जीवन, कोर विषयो, बैंकिंग इत्यादि से संबंधित किसी भी प्रकार के प्रश्न पूछ सकते है। इसलिए बैंकिंग व बैंकिंग के बेसिक सिद्धांतो  के ज्ञान के साथ-साथ, जिन विषयों में आप स्नातक और स्नातकोत्तर हैं का भी सम्पूर्ण ज्ञान होना चाहिए। वे व्यक्तिगत प्रश्न भी पूछ सकते हैं। आत्मविश्वास के साथ प्रश्नो का उत्तर दें तथा वास्तविक बने रहें। आखिरकार, कोई भी सब कुछ नहीं जानता। अगर आप कुछ सवालों का जवाब देने में सक्षम नहीं हैं तो यह समस्या नहीं है। बैंकिंग टर्म्स को गहराई से जरुर अध्ययन कर लें। रेपो रेट और बैंकिंग रेट में क्या अंतर है, रिवेर्स रेपो रेट, एस.एल.आर आदि क्या होता है, इससे काल्पनिक परिदृश्य तैयार कर प्रश्न पूछे जा सकते हैं।

साक्षात्कार ( Interview ) में सफलता प्राप्त करने के लिए स्मार्ट तथ्य 

  • साक्षात्कार के लिए जाते समय अपने मन को हीन भावना से मुक्त रखें अर्थात सकरात्मक सोच रखें। यदि आपका शरीर क्षीण और दुर्बल है तो भी किसी भी प्रकार की हीन भावना अपने मन में न आने दें। हमेशा याद रखें कि जीवन में शरीर की अपेक्षा ज्ञान की अधिक आवश्यकता होती है।
  • संगठन और पद के विषय में जानकारी रखें।
  • बैंकिंग प्रणाली, बैंकों के विलय, विभिन्न बैंक दर, बैंकिंग शब्दावली, रिज़र्व बैंक से बैंकों का सम्बन्ध के विषय में एक नजर अवश्य डाल लें। इसके अतिरिक्त विमुद्रीकरण, जीएसटी, ऑनलाइन बैंकिंग, नोटबंदी जैसे प्रश्नों का उत्तर कैसे देना है, इस विषय की भी रणनीति पूर्व में ही तय कर लें। प्रश्नों का उत्तर देते समय हमेशा सकारात्मक और सोच-समझकर जबाब दें। जब आप उत्तर दें तो आपके जबाब में सच्चाई प्रकट होनी चाहिए, नहीं तो आपकी झूठी बात यहां तुरंत पकड़ में आ जाएगी।
  • अगर आपके मजबूत पक्ष के विषय में पूछा जाए तो जवाब कई हो सकते हैं परन्तु आपके द्वारा सकारात्मक जवाब ही दिया जाना चाहिए। आपके काम करने की क्षमता, परेशानियों को दूर करने में कुशलता, दबाव में काम करने की क्षमता, प्रोफेशनल अनुभव, लीडरशिप स्किल और सकारात्मक नजरिया।
  • आमतौर पर साक्षात्कार में सबसे पहले प्रश्न यही होता है कि-‘अपने विषय में कुछ बताएं।’  इसके लिए कुछ तैयारी कर लें। ऐसा ना हो आप बातों को रिपीट कर रहे हों। कोशिश करें कि जो काम आप जानते हैं उन्हीं के बारे में बताएं। यदि आप पहले कोई नौकरी की है तो पहले से किए कामों को बताते हुए वर्तमान में जो काम आप कर रहे हैं उन्हें बताते हुए बात खत्म करें।
  • साक्षात्कार में आपकी फ्लुएंसी, विचारों में स्पष्टता, प्रेजेंटेशन स्किल्स, लिशनिंग एबिलिटी, आपका दृष्टिकोण और बॉडी लैंग्वेज देखी जाती है। साक्षात्कार में आपका प्रश्नों पर आप किस तरह बिहेव कर रहे हैं इसे भी देखा जाता है।
  • दबाव से बचें क्योंकि साक्षात्कार देने के लिए जाते समय किसी पर भी स्वाभाविक रूप से दबाव बन जाता है। लेकिन अभ्यर्थी को हमेशा शांत रहना चाहिए और इस तरह से बात करनी चाहिए जिससे साक्षात्कार लेने वाले लोगों पर अच्छा प्रभाव पडे। जब भी कहीं साक्षात्कार देने के लिए जाए तो भले ही मुद्दा कुछ भी हो, लेकिन असभ्य शब्दों का प्रयोग नहीं करना चाहिए। किसी भी स्थिति में समुदाय, लिंग या वर्ग आदि पर कोई असभ्य टिप्पणी ना करें। आप आपने नाम का अर्थ, जिस शहर से आते हैं उसके इतिहास, महत्वपूर्ण विशेषताओं, महापुरुषों आदि से भी अवगत हो लें। सरकारी नीतियों से सम्बंधित प्रश्न होने पर उसके सकारात्मक पक्ष पर ही प्रकाश डालें।
  • अगर कोई प्रश्न आप समझ नहीं पा रहे हैं तो बेहतर होगा कि तुरंत साक्षात्कार लेने वाले से फिर से प्रश्न पूछने की गुजारिश करें। किसी प्रश्न का उत्तर न आने पर उसे स्पष्ट रूप से स्वीकार लें। किसी सवाल का अप्रासंगिक उत्तर देने से यह कहीं बेहतर विकल्प है।
  • साक्षात्कार कक्ष में अनुमति लेकर ही प्रवेश करना चाहिए।
  • कक्ष में प्रवेश करने से पूर्व वस्त्र-परिधान एवं अपने केश आदि को व्यवस्थित कर लेना चाहिए।
  • साक्षात्कार कक्ष में प्रवेश करते ही साक्षात्कारकर्ताओं का औपचारिक ढंग से अभिवादन करना चाहिए।
  • कक्ष में सामान्य एवं सहज गति से प्रवेश करना चाहिए।
  • खुद को सामान्य बनाए रखें। बनावटी व्यवहार मत रखें। आप जैसे हैं वैसे ही खुद को दिखाएँ। मुस्कुराते रहें जो यह प्रदर्शित करेगा कि आप इस इंटरव्यू को लेकर काफी गंभीर हैं।
  • कक्ष के अंदर अभ्यर्थी को नियत स्थान पर तब तक नहीं बैठना चाहिए जब तक कि उसे बैठने के लिए कहा न जाए, यदि साक्षात्कारकर्ता आपसे बैठने के लिए न बोले तो आप उनसे अनुमति लेकर बैठ सकते हैं, कभी-कभी  साक्षात्कारकर्ता ऐसा आपमें पहल करने की प्रवृति की जांच करने के लिए करते हैं। आपको सीट पर बैठकर धन्यवाद अवश्य ज्ञापित करना चाहिए।

कुछ ऐसे प्रश्न जो प्रायः पूछे जाते हैं-

  • आप बैंक में क्यों शामिल होना चाहते हैं?
  • एनपीए (गैर परफॉर्मिंग एसेट) के बारे में बताये?
  • आप बैंकों के लाभ को कैसे बढ़ा सकते हैं?
  • राष्ट्रीय और गैर-राष्ट्रीयकृत बैंक के बीच क्या अंतर है?
  • रेपो दर क्या है? आरबीआई इसे क्यों बढ़ाता है और क्यों कम करता है?
  • आप किस शहर/प्रदेश से संबध रखते हैं, कुछ ख़ास बाते बताएं?
  • अगर आपको मौका मिले, तो आप किसी बैंक में क्या बदलना चाहेंगे?
  • ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिंग सेवाओं में सुधार लाने के लिए आपकी क्या रणनीति होगी?
  • आप बैंकिंग के रूटीन (प्रतिदिन) के कार्य-व्यवहार में क्या बदलाव लाना चाहेंगे?
  • एक PO के रूप में आपको किन जिम्मेदारियों का निर्वहन करना होगा?

अभ्यर्थियों को ‘IBPS PO साक्षात्कार परीक्षा टिप्स’ के तहत साक्षात्कार परीक्षा के दौरान होने वाले भय से निजात दिलाने के लिए आपको इन तैयारी युक्तियों को याद रखना चाहिए इससे आप निश्चित रूप से साक्षात्कार में सफलता प्राप्त कर लेंगे।

फ्री IBPS PO साक्षात्कार कैप्सूल PDF डाउनलोड करें :IBPS PO

हम आपको IBPS प्रोबेशनरी ऑफिसर (PO) साक्षात्कार परीक्षा 2017 के संदर्भ में अन्य गतिविधियों से आगे भी अवगत कराते रहेंगे, तब तक हमसे जुड़े रहें। बैंक परीक्षाओं में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए सर्वश्रेष्ठ बैंकिंग परीक्षा तैयारी एप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Best Government Exam Preparation App OnlineTyari

NO COMMENTS

Leave a Reply