सरकारी परीक्षाएं करें पास, उत्कृष्ट रणनीति और तैयारी के टिप्स

सरकारी परीक्षाएं करें पास (उत्कृष्ट रणनीति और तैयारी के टिप्स): प्रत्येक वर्ष बहुत बड़ी संख्या में उम्मीदवार तैयारी करते हैं और IBPS, SSC, IAS आदि परीक्षाएं देते हैं इस उम्मीद में कि उनका “सरकारी नौकरी” पाने का सपना पूरा हो जाएगा। सरकारी नौकरियों की मांग सदाबहार होती है और नौकरी की सुरक्षा प्रदान करती है। प्राइवेट सेक्टर की अपेक्षा बैंकिंग और प्रशासनिक सेवाओं में नियमित पे-स्केल, भत्ते और अन्य लाभ दिए जाते हैं।

लेकिन SSC और IBPS जैसी परीक्षाओं को पास करने के लिए, आपको अपनी बेहतर तैयारी करनी होगी। अधिकतर सरकारी नौकरियों में लिखित परीक्षाएं होती हैं जिनमें चुने हुए उम्मीदवार साक्षात्कार स्तर तक पहुंचते हैं। इसलिए, आपका पहला पड़ाव है लिखित परीक्षा को पार करने का। स्वाध्याय के बजाए अधिकतर उम्मीदवार कोचिंग संस्थानों में जाना पसंद करते हैं। इस गला काट प्रतियोगिता के दौर में समय और कठिन परिश्रम की मात्रा ही किसी भी सरकारी परीक्षा को पार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी।

कैसे करें पास सरकारी परीक्षाएं: टिप्स और ट्रिक्स

लिखित परीक्षा को पास करना आसान हो जाता है जब आपमें इन टिप्स को अपनी आदत में दर्शाते हैं विशेषकर सारिणी या रूटीन के संदर्भ में जिसका आप नियमित रूप से पालन या तो करते हैं या नहीं।

Prepare for Government Written Exams

यहां सरकारी लिखित परीक्षा को हल करने के कुछ टिप्स दिए गए हैं। प्रत्येक वाक्य पर ध्यान दें और समझें कि कैसे आसानी से किसी लिखित परीक्षा को पार किया जाता है।

परीक्षा के दिशा-निर्देश ध्यान से पढ़ें

जब भी किसी रिक्त स्थान की घोषणा की जाती है, प्रशासनिक विभाग द्वारा एक अधिकारिक अधिसूचना जारी की जाती है जिसमें संबंधित पद के लिए लिखित परीक्षा के आयोजन की बात कही जाती है। सरकारी परीक्षा की इस अधिसूचना में लिखित परीक्षा संबंधी जानकारी प्रदान की जाती है। ये जानकारी महत्वपूर्ण तिथियों, पात्रता मानदंड, रिक्तियां, लिखित परीक्षा के सिलेबस और पैटर्न से संबंधित होती है।

लिखित परीक्षा के सिलेबस और पैटर्न को समझें

प्रत्येक सरकारी परीक्षा का एक विशेष परीक्षा पैटर्न और सिलेबस होता है। लिखित परीक्षा की मार्किंग स्कीम, परीक्षा पैटर्न, सिलेबस संबंधी प्रत्येक निर्देश को ध्यानपूर्वक पढ़ें। इससे आप प्रश्नों की कुल संख्या, कुल समय आवंटित, नेगेटिव मार्किंग (यदि है) आदि से अवगत हो जाएंगे। जब आपको सटीक परीक्षा सिलेबस जान जाएंगे, आप मुख्य विषयों पर ध्यान केंद्रित कर सकेंगे और अधिक अंक प्राप्त कर सकेंगे।

एक टाइमटेबल बनाएं

परीक्षा सिलेबस और पैटर्न जानने के बाद आपको एक टाइम टेबल बनाने की ज़रूरत है। एक सुनियोजित समय सारिणी की सहायता से आप प्रत्येक सेक्शन के लिए बराबर समय आवंटित कर सकेंगे और प्रत्येक विषय की प्रभावी तैयारी कर सकेंगे।

बुनियादी कॉन्सेप्ट से शुरू करें

अधिकतर सरकारी लिखित परीक्षाओं में न्यूमेरिकल एबिलिटी, रीज़निंग, अंग्रेज़ी और जनरल अवेयरनेस के सेक्शन शामिल होते हैं। हम ये सुझाव देंगे कि इन विषयों के बुनियादी सिद्धांतों के साथ ही इनकी तैयारी शुरू करें। यदि विषयों के बुनियादी सिद्धांतों की जानकारी है तो लिखित परीक्षा में ऐसे कई प्रश्न होते हैं उन्हीं सिद्धांतों के आधार पर हल किया जा सकता है।

कोचिंग क्लासेस और सेल्फ़ प्रिपरेशन एप्स

सरकारी परीक्षाओं में लिखित परीक्षा का स्तर तेज़ी से बढ़ा है। अपनी लिखित परीक्षा की तैयारी को सुधारने के लिए कई IBPS और IAS उम्मीदवार प्रतिष्ठित कोचिंग संस्थान जाना पसंद करते हैं। कोचिंग के ट्यूटर उम्मीदवारों का मार्गदर्शन करते हैं और उन क्षेत्रों को पहचानने में उनकी मदद करते हैं जहां उम्मीदवार कमज़ोर होता है। हालांकि, सरकारी परीक्षाओं के लिए रोज़गार कमाने वाले लोग कोचिंग क्लासेस से ज़्यादा खुद तैयारी करने में विश्वास रखते हैं। परीक्षा के लिए स्वाध्याय तभी सार्थक होगा यदि आपको विषयों की अच्छी समझ होगी और सरकारी परीक्षा पास करने के लिए उपयुक्त अध्ययन सामग्री।

खुद तैयारी करने की दिशा देने वाला एप OnlineTyari भी अत्यधिक उपयोगी सिद्ध हो सकता है यदि उम्मीदवार सीखने की चाह से तैयारी करता है।

नियमित रूप से पुनरावृत्ति करें

किसी विशेष प्रकार के प्रश्न को हल करने के लिए कॉन्सेप्ट, पिछले पाठ, महत्वपूर्ण फ़ॉर्मूले और पैटर्न की पुनरावृत्ति अनिवार्य है। सुनिश्चित करें कि आपने टाइम टेबल में पुनरावृत्ति के लिए प्रत्येक सप्ताह के लिए घंटे आवंटित किए हुए हैं। आप 6-8 महीनों में जो पर्याप्त पढ़ रहे हैं, यदि आप उसका 70 फ़ीसद भी लागू करने में सक्षम हैं तो ये सरकारी लिखित परीक्षा आप आसानी से पास कर सकते हैं।

स्वाध्याय के दौरान नोट्स बनाएं

अध्ययन के दौरान बनाए गए स्वलिखित नोट्स आपकी तैयारी के स्तर को बढ़ा सकते हैं। इससे आप कहां खड़े हैं और आपको किस क्षेत्र में काम करना है ये पता चलता है। अपनी कमियों को जानना ही परीक्षा में बेहतर स्कोर और परीक्षा पास करने की दिशा में बेहतरीन प्रयास है।

विशेषज्ञ का मार्गदर्शन

अत्यंत प्रतियोगी परीक्षा जैसे IAS के लिए ये सुझाया जाता है कि आप किसी विशेषज्ञ के मार्गदर्शन के अधीन ही परीक्षा की तैयारी करें। वे ही आपको संभावित सबसे उचित दिशा प्रदान कर सकेंगे और वास्तविक सरकारी परीक्षा में आप अपील के तौर पर अपने अंतिम स्कोर भी सुधार सकते हैं।

अभ्यास, अभ्यास और अभ्यास

पिछले वर्षों के प्रश्नपत्र हल करने से शुरू करें। इससे आप पिछले वर्षों में प्रत्येक सेक्शन के कठनाई स्तर, परीक्षा सिलेबस व पैटर्न, अंकों के आवंटन आदि का रेखाचित्र तैयार कर सकेंगे। नियमित रूप से मॉक टेस्ट हल करें और सरकारी परीक्षाओं के अभ्यास पेपर हल करना भी आवश्यक है। लेकिन सबसे महत्वपूर्ण काम है प्रत्येक हल किए गए मॉक टेस्ट में अपने प्रदर्शन की समीक्षा करना।

विश्वास रखें!

प्रत्येक प्रतियोगी परीक्षा के लिए, एक ही चीज़ सदा आवश्यक होती है – वो है विश्वास। आपको अपनी चिंताओं को परे रखते हुए अपनी तैयारी पर पूर्ण विश्वास रखना है। परीक्षा के दिन जब आप प्रश्नपत्र देखें तो घबराएं कतई नहीं। स्वयं की क्षमताओं पर पूर्ण विश्वास और भरोसे से ही लंबा सफ़र सफ़लतापूर्वक पूरा किया जाता है।

“खुद पर यकीन करें। लगे रहें!”

सरकारी परीक्षा 2017 से संबंधित अधिक जानकारी के लिए हमसे जुड़े रहें। सरकारी परीक्षाओं में उत्कृष्टता हासिल करने के लिए सर्वश्रेष्ठ सरकारी परीक्षा तैयारी एप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Best Exam Preparation App OnlineTyari

अगर अभी भी आपके मन में किसी प्रकार की कोई शंका या कोई प्रश्न है तो कृपया नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में उसका ज़िक्र करें और बेहतर प्रतिक्रिया के लिए OnlineTyari Community पर अपने प्रश्नों को हमसे साझा करें।

2 REPLIES

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.