SSC CPO परीक्षा 2018 : 3 सप्ताह हेतु परीक्षा तैयारी रणनीति : टिप्स एंड ट्रिक्स

1
2627

SSC CPO परीक्षा 2018 : 3 सप्ताह हेतु परीक्षा तैयारी रणनीति : कर्मचारी चयन आयोग 4 से 10 जून 2018 तक SSC CPO परीक्षा 2018 के लिए लिखित परीक्षा का आयोजन करेगा। अब आपके पास पुरे पाठ्यक्रम को कवर करने के लिए एक महीने से भी कम समय बचा है। इसी समयावधि में आपको पाठ्यक्रम के तहत सारे सेक्शन को कवर करना होगा और आपको इसी समय में  SSC CPO परीक्षा 2018 के लिए अपनी तैयारी करनी है, रिविजन करना है और तैयारी की जांच भी करना है।

SSC CPO टियर I परीक्षा 2018: फ्री पैक (हिंदी माध्यम)

OnlineTyari ने SSC CPO टियर I परीक्षा 2018 की तैयारी कर रहे छात्रों की तैयारी में सहायता करने और उनकी तैयारी के स्तर को जांचने के लिए SSC CPO टियर I परीक्षा से संबंधित इस फ्री पैकेज का संकलन किया है। यह पैकेज विषय के अनुभवी विशेषज्ञों द्वारा परीक्षा के पाठ्यक्रम और परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों के कठिनाई स्तर के अनुरूप निर्मित किया गया। इस संपूर्ण पैकेज में 1 फ्री परीक्षा अनुरूप मॉक टेस्ट और 4 सेक्शनल टेस्ट हैं। अनुभवी टीम द्वारा तैयार यह मॉक सीरीज SSC CPO टियर I परीक्षा की तैयारी कर रहे हर उम्मीदवारों के लिए बहुत उपयोगी है।

अभ्यास करने के लिए यहाँ क्लिक करें !

परन्तु हम आज आपको इस विषय से अवगत कराएँगे कि आप 3 सप्ताह में कैसे ऑनलाइन परीक्षा (SSC CPO परीक्षा 2018) की तैयारी कर सकते हैं। यदि आपने परीक्षा तैयारी की सफल रणनीति बना ली और सभी प्रत्येक सेक्शन की उचित प्रकार से तैयारी की, तो आप अवश्‍य ही यह परीक्षा पास कर लेंगे। परन्तु उसके लिए आपको कठिन परिश्रम करना होगा।

 

SSC CPO परीक्षा 2018 : 3 सप्ताह हेतु परीक्षा तैयारी रणनीति

विदित हो की आयोग ने SSC CPO परीक्षा 2018 ऑनलाइन कराने का निर्णय लिया है और अब परीक्षा के लिए उम्मीदवारों के पास काफी कम समय बचा है। आयोग द्वारा ऑनलाइन परीक्षा का निर्णय किसी भी प्रकार की परीक्षा विसंगति से बचने के लिए उठाया है और उनका यह कदम सराहनीय भी है। परन्तु इस कदम से ऑनलाइन इंटरफेस और उसके वातावरण से अंजान छात्र इस दुविधा में हैं कि वह परीक्षा के लिए अब क्या करेंगे। कहीं सम्पूर्ण तैयारी रहते हुए भी वे परीक्षा के दौरान किसी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़ जाए।

आपको बता दें कि किसी भी परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए आवश्यक है की आपको परीक्षा पैटर्न का ज्ञान हो और उसे कवर करने के लिए आपके पास एक सटीक रणनीति हो। तो आइए हम सबसे पहले SSC CPO के परीक्षा पैटर्न से परिचित हो लेते हैं-

पेपर-1 के लिए SSC CPO परीक्षा पैटर्न

SSC CPO परीक्षा 2017 के पेपर-1 में वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्न पूछे जाएंगे जो 200 अंकों के होंगे।

सेक्शन का नाम प्रश्नों की संख्या अंक
जनरल इंटेलीजेंस और रीज़निंग 50 50
सामान्य ज्ञान और जनरल अवेयरनेस 50 50
क्वॉन्टिटेटिव एप्टिट्यूड 50 50
अंग्रेज़ी कॉम्प्रिहेंशन 50 50

कंप्यूटर आधारित इस पेपर के 4 सेक्शन आधारित प्रश्नों को हल करने के लिए आवंटित समयावधि 2 घंटे होगी और प्रत्येक सही उत्तर प्रदान करने पर जहाँ आपको 1 अंक प्राप्त होंगे वहीं  प्रत्येक ग़लत उत्तर के लिए 0.25 अंक की कटौती भी की जाएगी।

  • निःसन्देश 120 मिनट में 200 प्रश्नों को हल करना काफी दुष्कर कार्य है जिसे सटीक रणनीति के बिना नहीं हल किया जा सकता।
  • जैसा की सभी उम्मीदवारों को ज्ञात होगा कि SSC CPO SI/ASI परीक्षा में, गणित और अंग्रेजी सेक्शन अत्‍यंत महत्‍वपूर्ण सेक्शन होते हैं और इसलिये इन पर विशेष ध्यान दिए जाने की सलाह दी जाती है।
  • अन्‍य दो सेक्शन रीजनिंग और सामान्‍य जागरूकता भी स्‍कोरिंग खण्‍ड हैं, इसलिये इसे नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए।
  • सभी सेक्शन के लिये विशेष रूप से सामान्‍य जागरूकता सेक्शन के लिये, क्षेत्र या विषय से ज्‍यादा अध्‍यायों पर ध्‍यान देना अधिक जरूरी है।
  •  अपने अभ्‍यास और समय के साथ समझौता कभी न करें।
  • अपनी तैयारी को दोहरायें और उसका विश्‍लेषण करें।
  • परीक्षा में, उस खण्‍ड को हल करें जिसमें आप सबसे ज्‍यादा सहज एवं विश्‍वास से भरे हों।

SSC CPO परीक्षा 2018 : सेक्शनवाइज तैयारी रणनीति

परीक्षा में आप तभी सफलता प्राप्त कर सकते हैं, जब एक सफल रणनीति बनाते हैं और तैयारी के दौरान उस पर अमल करते हैं। जनरल इंटेलिजेंस एवं क्वॉन्टिटेटिव एप्टिट्यूड के प्रश्नों को हल करने में अंग्रेजी और जनरल अवेयरनेस की अपेक्षा अधिक समय लगता है। इस कारण आपकी कोशिश यह होनी चाहिए कि अंग्रेजी और जनरल अवेयरनेस में कम समय दें और शेष बचे हुए समय का समायोजन अन्य पेपर की तैयारी में करें, तो आप निर्धारित समय सीमा के अंदर प्रश्नों को हल करने में सफल हो सकते हैं।

जैसा की परीक्षा पैटर्न में बताया गया कि SSC CPO परीक्षा 2018 के तहत चार सेक्शन से प्रश्न परीक्षा प्रश्न-पत्र में पूछे जाएंगे-

1. जनरल इंटेलीजेंस और रीज़निंग

  • सर्वप्रथम परीक्षा के सभी टॉपिक को कवर करें और हर टॉपिक सम्बंधित प्रश्न प्रकार को हल करें।
  • प्रश्नों को अभ्यास पूर्वक हल करके उसके पीछे के पैटर्न को समझने का प्रयास करें। प्रश्नों को तेजी से हल करने के लिए शॉर्टकट तरीकों पर ध्यान केन्द्रित करें।
  • इस खण्‍ड के प्रश्नों को हल करने के लिए आवश्यक स्किल अपने अन्दर डेवेलेप करें। इन प्रश्‍नों को हल करने में तेज एवं तार्किक सोच एवं रणनीति बनाने के कौशल की जरूरत होती है।
  • इस सेक्शन पर पकड़ बानाने के लिए आवश्यक है कि आप जितना संभव हो अभ्यास करें। परीक्षाओं में पूछे गए सम्बंधित टॉपिक के प्रश्नों को हल करें और हल करने की गति को जांचे। आप जितना अभ्यास करेंगे प्रश्न आपके लिए उतने ही सहज होते जाएंगे।
  • अभ्यास से प्रश्नों को हल करते समय शॉर्टकट टेक्निक का पता चलता है, जिससे प्रश्नों को तीव्र गति से हल करने की क्षमता में वृद्धि होगा।
  • प्रश्नों को हल करने की अपनी गति में लगातार सुधार करने के लिए टाइमर का प्रयोग करें।

2. सामान्य ज्ञान और जनरल अवेयरनेस

  •  इस खण्‍ड के लिये, महत्‍वपूर्ण अध्‍यायों पर ध्‍यान दें, न कि पूरे विषय पर ध्‍यान दें।
  • जनरल साइंस, हिस्ट्री एंड इंडियन पॉलिटी के अध्यायों को ध्यानपूर्वक पढ़ें और याद रखें।
  • SSC परीक्षा में कई सवाल विगत वर्षों के प्रश्न पत्रों से भी पूछे जाते हैं, अतः उनका भी अभ्यास करें।
  • स्टेटिक जीके के तहत ऐसे प्रश्न पूछे जाते हैं जो बहुत प्रसिद्ध हैं और ज्यादातर लोग उससे भिज्ञ हों।
  • आप स्तरीय पत्र-पत्रिकाओं की सहायता से राष्ट्रीय, अंतरराष्ट्रीय, आर्थिक, खेल गतिविधियों एवं पुरस्कार, चर्चित व्यक्ति, स्थल, महत्वपूर्ण तिथियों आदि का नियमित अध्ययन करें।
  • यह खण्‍ड महत्‍वपूर्ण है क्‍योंकि यही एकमात्र खण्‍ड है जो आपको कम समय में ज्‍यादा अंक दे सकता है।
  • इस सेक्शन को कम समय में हल कर आप इसमें बचे हुए समय को गणित या रीजनिंग के प्रश्न हल करने में लगा सकते हैं और अच्‍छे अंक हासिल कर सकते हैं।

3. क्वॉन्टिटेटिव एप्टिट्यूड (गणित)

  • इस सेक्शन के लिये आपको बीजगणित, ज्‍यामिति, निर्देशांक ज्‍यामिति, त्रिकोणमिति और क्षेत्रमिति पर ध्‍यान देने की जरूरत है।
  • यदि आपकी गणित पर बेहतरीन पकड़ है तो ये विषय आपके लिये पंसदीदा व स्‍कोरिंग हो सकते हैं।
  • प्रतियोगी को सटीकता से समझौता किये बिना सवालों को तेजी से हल करना आना चाहिए।
  • अर्थमेटिक की तैयारी के क्रम में दसवीं स्तर की पुस्तक की सहायता से विभिन्न टाइप के सवालों को समझें। आमतौर पर मैट्रिक स्तर के अंकगणित को इसके अंतर्गत पूछा जाता है।
  • इस सेक्शन की तैयारी के लिए कई फॉर्मूलों, मूल्यों और पहाड़ों को याद करने की ज़रूरत है। आप सभी फॉर्मूलों को एक जगह लिख सकते हैं इससे इन्हें याद करने में आपको आसानी होगी। औसत, समय और कार्य, आयतन और सतह क्षेत्र से संबंधित प्रश्नों के लिए बहुत अभ्यास आवश्यक है। इनमें लंबे गणना की आवश्यकता नहीं है और सेकेंड्स में हल किया जा सकता है बशर्ते आपको सटीक फॉर्मूले और मूल्य पता हों।
  • प्रश्नों को हल करने की अपनी गति बढ़ाने और समय बचाने के लिए, कई शॉर्टकट तकनीक का अभ्यास करें।

4. अंग्रेज़ी कॉम्प्रिहेंशन

  • अंग्रेजी भाषा खण्‍ड के लिये आपको अंग्रेजी व्‍याकरण में अपने ज्ञान को वास्‍तविक रूप से दोहराने की जरूरत है। इस परीक्षा के लिये अंग्रेजी व्‍याकरण की तुलना में अंग्रेजी में बोलचाल की जरूरत कम है।
  • इसके अंतर्गत वोकेबलरी, ग्रामर, सेंटेंस स्ट्रक्चर, सिनोनिम्स, एंटोनिम्स और अंग्रेजी में राइटिंग स्किल से संबंधित प्रश्न पर फोकस करें।
  • इस खण्‍ड की तैयारी के लिये अधिक पढ़ने की आदत बनायें। आप रोजाना आधार पर अंग्रेजी अखबार, मैग्‍जीन और लेख इत्‍यादि का अध्‍ययन करें।
  • इसका नियमित अध्‍ययन करने से आपको शब्‍दावली, पढ़ने की गति, भाषा को समझने की योग्‍यता और अपना व्‍याकरण सुधारने में मदद मिलेगी।

SSC CPO परीक्षा टीयर 2 परीक्षा 2017, ऑल इंडिया टेस्ट (AIT)| 5-7 मई, 2018

क्यों जरुरी है ऑल इंडिया मॉक टेस्ट (AIT) में सम्मिलित होना 

  1. इस परीक्षा के टॉपर्स वास्तविक परीक्षा में भी उच्च स्कोर करते हैं : AIT में अच्छा प्रदर्शन करने वाले छात्र वास्तविक परीक्षा में भी उच्च स्कोर करते हैं। उदाहरण के लिए, हाल ही में आयोजित एसबीआई पीओ ‘ऑल इंडिया टेस्ट’ में शीर्ष 10 स्कोरर में सम्मिलित 7 में से 3 उम्मीदवारों ने ‘एसबीआई पीओ’ में भी उच्च स्कोर से सफलता प्राप्त की है।
  2. हजारों गंभीर परीक्षार्थियों के साथ प्रतिस्पर्धा करें : आपने सही सुना। प्रति AIT में हजारों गंभीर परीक्षार्थी परीक्षा में प्रतिभाग करते हैं। इससे छात्र अपना मूल्यांकन हजारों छात्रों के बीच अपने तैयारी स्तर को जान कर कर पाते हैं। यदि आप AIT में अच्छा स्कोर करने में सफल होते हैं तो आप अवश्य ही वास्तविक परीक्षा में भी सफल होंगे।
  3. ऑनलाइन परीक्षा देने का अभ्यास करें: AIT परीक्षा में सम्मिलित होकर परीक्षार्थी ऑनलाइन परीक्षा देने का अभ्यास कर सकते हैं और पहली बार आयोजित होने जा रही SSC CPO ऑनलाइन परीक्षा के लिए खुद को तैयार कर सकते हैं।
  4. AIT प्रश्न पत्र प्रतियोगी परीक्षा के अग्रणी प्रकाशन विशेषज्ञों द्वारा निर्मित है : सभी AIT प्रश्न पत्र प्रतियोगी परीक्षा के अग्रणी प्रकाशन विशेषज्ञों द्वारा निर्मित किया जाता है। AIT प्रश्न पत्र को वास्तविक परीक्षा के पैटर्न, पाठ्यक्रम और समकक्ष कठिनाई स्तर के अनुरूप बनाया जाता है। इसलिए, छात्र आश्वस्त रहें और परीक्षा में अवश्य प्रतिभाग करें।
  5. वास्तविक परीक्षा के अनुरूप अभ्यास करें और सफल हो जाएं : हमारे ‘ऑल इंडिया टेस्ट’ में अच्छा प्रदर्शन करना निश्चित रूप से आपको आत्मबल प्रदान कर आपके मनोबल को बढ़ाएगा। आपको परीक्षा के लिए एकदम सटीक रणनीति तैयार करने में मदद करेगा। जिससे आपकी सफलता निश्चित सी हो जाती है।
[/su_row]

SSC CPO परीक्षा 2018 : टिप्स 

पाठ्यक्रम का ज्ञान जरूरी है: अगर आप पाठ्यक्रम को समझ लेते हैं तो आप आधी सफलता प्राप्त कर लेते हैं, क्योंकि आपको पता होता है कि आपको पढ़ना क्या है। आप इससे उचित अध्ययन सामग्री का चयन कर पाते हैं और अपनी तैयारी के लिए एक टाइम टेबल बना कर उस पर चलकर सभी टॉपिक्स को निश्चित समय में कवर कर सकते हैं। इसीलिए सबसे पहले आप पाठ्यक्रम का सूक्ष्म अध्ययन करें और उसे स्पष्ट रूप से समझ लें।
समय प्रबंधन है आवश्‍यक: प्रतियोगी परीक्षा में शामिल होते समय ध्‍यान रखने योग्‍य सबसे अधिक महत्‍वपूर्ण चीज समय प्रबंधन है। छात्रों को अपने पढ़ने के घण्‍टों को उनके विषय और अध्‍ययन सामग्री में बांटना चाहिए। जो भी आप सामग्री चुनें वह आपकी निरंतर पकड़ में होनी चा‍हिए।
उलझे नहीं, आगे बढ़ें: बेहतर स्ट्रेटेजी यह है कि आप सबसे पहले उन्हीं प्रश्नों को हल करें, जिन्हें अच्छी तरह से जानते हैं। अक्सर देखा जाता है कि स्टूडेंट्स किसी एक प्रश्नों में उलझ जाते हैं। इससे वे बहुमूल्य समय जाया कर देते हैं। परिणामस्वरूप आगे के प्रश्नों को हल करने के क्रम में काफी दबाव में आ जाते हैं और समय के अभाव में प्रश्न जानते हुए भी सॉल्व नहीं कर पाते हैं। इससे बचने के लिए जरूरी है कि आप पहले ही इसके लिए तैयार रहें।
सटीक अध्ययन सामग्री का चुनाव: क्‍या आप SSC CPO परीक्षा के लिये सर्वश्रेष्‍ठ अध्‍ययन सामग्री को लेकर चिंतित हैं तो आप OnlineTyari द्वारा अनुशंसित पाठ्य सामग्री से अपनी तैयारी करें। OnlineTyari द्वारा हम सदैव आप तक सर्वश्रेष्‍ठ अध्‍ययन सामग्री पहुचाते हैं और आपकी समस्याओं के लिए भी सुझाव देते रहते हैं।

 

SSC CPO परीक्षा 2018 : ट्रिक्स

महत्‍वपूर्ण अध्‍यायों पर ध्‍यान दें: महत्‍वपूर्ण अध्‍यायों (जिनसे अधिक प्रश्न परीक्षा में पूछे जाते हैं ) की सूची बना लें और उन अध्‍यायों का गहराई से अध्ययन और अभ्‍यास करें।
अपने कमजोर क्षेत्रों पर ध्‍यान दें: परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है की अपने कमजोर पक्षों को न्यून करना। कमजोर पक्षों पर विशेष ध्यान दें और उनको हल करने के आसान/सरल तरीकों को सीखें। इससे आप अपना सर्वोत्तम परीक्षा में दे पाएंगे और गलतियाँ करने से बचेंगे साथ ही अधिक अंक अर्जित कर पाएंगे।
विगत वर्ष के प्रश्‍नपत्रों को हल करें: विगत वर्ष के प्रश्न पत्रों को हल करने से उम्मीदवारों को परीक्षा में पूछे जा रहे प्रश्न प्रकार, प्रश्नों के कठिनाई स्तर और प्रश्नों को पूछने के तरीकों में किए जा रहे बदलाव को समझने में आसानी होती है। सबसे महत्वपूर्ण बात यह कि यदि उम्मीदवार घड़ी में टाइमर लगा कर प्रश्न पत्र हल करें तो उसे प्रश्नों को हल करने के लिए सटीक रणनीति बनाने में आसानी होती है और आप अपने कमजोर क्षेत्र/पक्ष के विषय से भी अवगत हो सकते हैं।
गणित और रीजनिंग को पढ़े नहीं लगाएं: सबसे महत्वपूर्ण बात जहाँ कई उम्मीदवार गलती करते हैं, वह प्रश्नों को लगाने के बजाय पढ़ कर समझने का प्रयास करते हैं, जो सर्वथा गलत रणनीति है। जब आप पढ़ते हैं तो आपको सब आता है पर जब आप उसी प्रश्न को हल करते हैं तो उसे आप हल नहीं कर पाते। अतः गणित और रीजनिंग के प्रश्नों को कापी और पेन के माध्यम से ही हल करें। ऐसा करने से आप प्रश्नों को हल करने के बुनियादी समझ विकसित करने में सक्षम हो जाएंगे।
अभ्‍यास ही सफलता का सही मार्ग है: यह सौ फीसदी सही है कि अभ्यास ही सफलता का रहष्य है। आप जितना अभ्यास करेंगे उतनी ही आप की पकड़ और बुनयादी समझ संदर्भित विषय में मजबूत होती जाएगी और आप प्रश्नों में छुपी छोटी-छोटी बातों को पकड़ पायेंगे और गलतियों की सम्भावना को कम करते जाएंगे।
मॉक पेपर, सैम्‍पल/मॉडल पेपर हल करें: उम्मीदवार जितना हो सके मॉक पेपर, सैंपल और मॉडल पेपर को हल करें। इससे परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों को हल करने की उनकी गति बढ़ेगी और गलतियाँ कम होती जाएँगी। जो अधिक अंक हासिल करने में सहायक होंगी और तयशुदा समय में प्रश्न-पत्र को कैसे समाप्त करें, इस विषय पर भी समझ विकसित करेंगी।
अधिक तनाव न लें: परीक्षा की तैयारी के दौरान यह जरूरी है कि बोझ महसूस न करें। यह परीक्षा पर ध्‍यान बनाये रखने के लिये अत्‍यंत जरूरी है।

आशा है अब आप SSC CPO परीक्षा 2018 से जुड़ी लगभग सभी महत्वपूर्ण तथ्यों से अवगत हो चूके होंगे और यहाँ दिए गए सुझाव आपकी परीक्षा तैयारी में सहायक होंगे।

दोस्‍तों यदि आपको परीक्षा के पैटर्न में हुए बदलाव व उसके ऑनलाइन होने से दुविधा में है तो आप OnlineTyari द्वारा आयोजित CPO-AIT परीक्षा में बैठ कर अपने संदेह दूर कर सकते हैं। अभी फ्री में खुद को ऑनलाइन परीक्षा देने हेतु रजिस्टर करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

SSC CPO भर्ती 2018 से संबंधित अधिक जानकारी के लिए हमारे साथ बने रहिए। बैंक की परीक्षाओं में उत्कृष्टता हासिल करने के लिए सर्वश्रेष्ठ SSC CPO लिखित परीक्षा तैयारी एप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

OnlineTyari Plus

1 COMMENT

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.