IAS की मुख्य परीक्षा के लिए वैकल्पिक विषय इतिहास की तैयारी कैसे करें

IAS की मुख्य परीक्षा के लिए वैकल्पिक विषय इतिहास की तैयारी कैसे करें: हर वर्ष लाखों की संख्या में छात्र सिविल सर्विसेस की परीक्षा में सम्मिलित होते हैं। संघ लोक सेवा आयोग ने 7 अगस्त 2016 को IAS प्रारंभिक की परीक्षा का संचालन किया। परीक्षा का परिणाम अभी घोषित किया जाना बांकी है। सभी छात्रों को IAS की मुख्य परीक्षा की तैयारी शुरू कर देनी चाहिए।

IAS परीक्षा के लिए वैकल्पिक विषय का चयन करना एक कठिन कार्य होता है साथ ही यह बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। किसी भी छात्र द्वारा वैकल्पिक विषय का चयन काफी समझदारी से इस प्रकार करना चाहिए की वह अपने पाठ्यक्रम के साथ सामान्य अध्ययन के पाठ्यक्रम को भी समाहित करता हो। इतिहास, बिना किसी शक के उन सभी के लिए जो सिविल सर्विसेज मुख्य परीक्षा देंगे, सबसे लोकप्रिय विषयों में से एक है।

इस लेख में हम IAS की मुख्य परीक्षा के लिए वैकल्पिक विषय इतिहास की तैयारी कैसे करें पर पूर्ण जानकारी उपलब्ध कराएंगे। हम कुछ इस परीक्षा से सबंधित कुछ सन्दर्भ पुस्तकों की अनुशंषा भी करेंगे तथा कुछ उपयोगी टिप्स पर चर्चा भी करेंगे।

IAS की मुख्य परीक्षा के लिए वैकल्पिक विषय इतिहास की तैयारी कैसे करें

इतिहास का विषय बहुत ही व्यापक एवं विशाल समझा जाता है। लेकिन इसके साथ ही यह बहुत स्कोरिंग भी हो जाता है यदि आप इसके पाठ्यक्रम को जान लें। अतः सर्वप्रथम आप स्वयं को इसके सम्पूर्ण पाठ्यक्रम से परिचित करें।

इस परीक्षा में वैकल्पिक विषय इतिहास के 2 पत्र तथा 2 सेक्शन होते हैं।

  • पत्र I : सेक्शन A – प्राचीन इतिहास, सेक्शन B – मध्यकालीन इतिहास
  • पत्र II : सेक्शन A – आधुनिक इतिहास, सेक्शन B – विश्व इतिहास

एक बार आप इसके पाठ्यक्रम के साथ परिचित हो जाएँ, फिर आप नीचे दिए गए अध्ययन सामग्री की मदद से तैयारी शुरू कर सकते हैं।

वैकल्पिक विषय इतिहास के लिए अध्ययन सामग्री

  • प्राचीन एवं पूर्व मध्यकालीन भारत (उपिन्दर सिंह)
  • मध्यकालीन भारत का विस्तृत इतिहास (सलमा अहमद फारूकी) एवं पुरानी NCERT की मध्यकालीन भारत की किताबें
  • आधुनिक भारत (बिपिन चन्द्र)
  • विश्व इतिहास (एल मुख़र्जी ) एवं आधुनिक यूरोप एंड विश्व 2 भाग (नार्मन लोव)  उन टॉपिक्स के लिए जो एल. मुख़र्जी में नहीं हैं

अतिरिक्त स्रोत

  • इंडिया आफ्टर गाँधी (राम चन्द्र गुहा)
  • आधुनिक भारत इतिहास – स्पेक्ट्रम
  • मास्टरिंग मॉडर्न वर्ल्ड हिस्ट्री (नार्मन लोव )
  • स्पेक्ट्रम कल्चर बुक
  • स्वतंत्रता पश्चात् भारत (बिपिन चन्द्र)

मानचित्र अभ्यास के लिए

  • स्पेक्ट्रम का ऐतिहासिक एटलस (की प्लेसेस के साथ) मानचित्र अभ्यास के लिए अच्छी किताब है
  • आपको स्थानों को समय काल में बाँट लें जैसे इतिहास पूर्व (पुरा/ मध्य/ नव पाषाण काल), एतिहासिक (महाजनपद काल / मौर्य काल/ गुप्त काल आदि) एवं इसके बाद आप इन्हें राज्यवार मानचित्र पर दर्शायें तथा मानचित्र के पीछे इनके महत्वपूर्ण बिन्दुओं को लिखते हुए इन पर लघु निबंध लिखें।

IAS मुख्य परीक्षा के वैकल्पिक विषय इतिहास के तैयारी के लिए टिप्स

जब आप वैकल्पिक विषय की तैयारी करें, तो सर्वप्रथम किताबों एवं अन्य अध्ययन सामग्रियों की उपलब्धता देख लें। अगर आपके पास इतिहास की शैक्षिक पृष्ठभूमि है तो निश्चय ही यह आपके लिए प्लस प्वाइंट है। इतिहास केवल आंकड़ों का खेल नहीं है बल्कि इसमें भी अन्य विषयों के जैसे कठिन मेहनत की आवश्यकता होती है। वैकल्पिक विषय इतिहास की तैयारी कैसे करें पर नीचे दिए गए टिप्स पर नजर डालते हैं :

  • सर्वप्रथम कुछ सन्दर्भ पुस्तकों का चयन करें और उन्हें ध्यानपूर्वक पढ़ें। अन्य अध्ययन सामग्रियां आपके ज्ञान को पूरित करेंगी एवं पाठ्यक्रम को समाहित करेगी।
  • नोट बनाने का अभ्यास करें। पढ़े एवं उन पर नोट्स बनाएं, यह एक महत्वपूर्ण टिप्स है। यह वैकल्पिक इतिहास की तैयारी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है क्योंकि इससे आपके पुनरीक्षण (REVISION) में मदद मिलती है।
  • हम यह सलाह नहीं देंते हैं की छात्र रणनीति से खेलें, आप अपने उत्तर को उम्दा बनाने के लिए कुछ घटनाओं, तारीखों का खेल भी खेल सकते हैं।
  • पिछले साल के प्रश्नों का अधिक से अधिक अभ्यास करें क्योंकि इतिहास एक स्थितिक विषय है अतः कई संकल्पनाओं की पुनरावृति होंगी। अतः आप कम-से-कम पिछले 10 वर्षों के प्रश्न पत्रों का अभ्यास अवश्य कर लें। इससे आपके लेखन क्षमता का विकास भी होगा।
  • विश्व इतिहास से सम्बंधित पत्र-पत्रिकाओं का अध्ययन करें तथा विभिन्न स्रोतों से जानकारियां प्राप्त करें। यह आपके प्रभावकारी उत्तर लेखन में मदद करेगा एवं आपके अंकों को बढ़ाएगा।

वैकल्पिक विषय इतिहास के लिए उत्तर लेखन टिप्स

अच्छे तत्वों की रचना अपने शब्दों में करने के लिए अत्यधिक कौशल की आवश्यकता होती है। जब आप वैकल्पिक विषय की तैयारी कर रहे हों तो आपको अपने लेखन क्षमता पर भी ध्यान देना चाहिए। IAS मुख्य परीक्षा में अच्छे उत्तर लिखने के लिए कुछ सुझाव एवं तरकीब पर चर्चा हम यहां कर रहे हैं:

  • अपने उत्तर की शुरुआत परिचय से करें तथा मुख्य भाग में प्रश्न के सभी भागों को समाहित करें
  • वर्तमान में इतिहास विषय में पूछे जाने वाले प्रश्नों में संकल्पनाओं की अच्छी समझ तथा विश्लेष्णात्मक उत्तर की आवश्यकता होती है। अतः प्रश्नों को ध्यान से पढ़ें तथा उनके भागों को समझें और निश्चित करें की आपको क्या लिखना है।
  • कुछ उत्तर ऐसे होंगे जो एतिहासिक परिप्रेक्ष्य में सामाजिक, आर्थिक, जातीय मुद्दों से जुड़े होते हैं। अतः इतिहास के इन गत्यात्मक विषयों पर उत्तर लेखन के लिए तैयार रहना चाहिए।
  • छात्रों को प्रत्येक पत्र के प्रत्येक भाग पर मजबूत पकड़ होनी चाहिए।
  • पुरातात्विक खोजों एवं उनके उदाहरणों को अपने उत्तर में शामिल करें तथा नवीनतम खोजों को शामिल करने का प्रयास करें।

हम उम्मीद करते हैं कि यह लेख IAS मुख्य परीक्षा 2016 के लिए वैकल्पिक विषय इतिहास की तैयारी के लिए आपका उचित मार्गदर्शन प्रदान करेगा। आगामी UPSC सिविल सेवा मुख्य परीक्षा 2016 के लिए हमारी ओर से आपको हार्दिक शुभकामनायें।

UPSC सिविल सेवा भर्ती परीक्षा 2016 के संबंध में और अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़े रहें। UPSC परीक्षा में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए, सर्वश्रेष्ठ IAS परीक्षा तैयारी ऐप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Best-Exam-Preparation-App-OnlineTyari

अगर अभी भी आपके मन में किसी प्रकार की कोई शंका या कोई प्रश्न है तो कृपया नीचे दिए गए कॉमेंट सेक्शन में उसका ज़िक्र करें और बेहतर प्रतिक्रिया के लिए OnlineTyari Community पर अपने प्रश्नों को हमसे साझा करें।

1 REPLY

  1. arjun pandit

    सर..मुख्य विषय के रूप में लोकप्रशासन और संस्कृत साहित्य की तैयारी कैसे की जाये..कृपया पाठ्य सामग्री के साथ उचित मार्ग दर्शन दीजिए..

    Reply

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.