X

IBPS PO परीक्षा 2018 के लिए रीजनिंग एबिलिटी की तैयारी कैसे करें

IBPS PO परीक्षा 2018 के लिए  रीजनिंग एबिलिटी की तैयारी कैसे करें : बैंकिंग कार्मिक संस्थान संस्थान विभिन्न सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (PSB) में उम्मीदवारों की भर्ती के लिए हर साल IBPS CWE PO परीक्षा आयोजित करता है।

बैंकिंग कार्मिक संस्थान (IBPS) अक्टूबर 2018 के महीने में IBPS CWE PO/MT भर्ती परीक्षा का आयोजन करेगा। IBPS PO की प्रारंभिक परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त करने और अर्हता प्राप्त करने के लिए, हम इस लेख में रीजनिंग एबिलिटी की तैयारी कैसे करें के बारे में विस्तार से बताएंगे।

हम प्रारंभिक परीक्षा से संबंधित महत्वपूर्ण टिप्स के बारे में बताएंगे। आइये सबसे पहले IBPS PO परीक्षा 2018 के परीक्षा पैटर्न को समझते हैं, उसके बाद IBPS PO परीक्षा में सफलता प्राप्त करने की दिशा में आगे बढ़ेंगे।

IBPS PO परीक्षा 2018: परीक्षा पैटर्न

IBPS PO प्रारंभिक परीक्षा एक कंप्यूटर-आधारित परीक्षा (CBT) होगी जिसमें वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्न शामिल होंगे। प्रश्नपत्र में कुल 100 प्रश्न होंगे जो कि 3 सेक्शन में विभाजित होंगे- इंग्लिश भाषा, न्यूमेरिकल एबिलिटी और रीजनिंग एबिलिटी।

सेक्शन का नाम प्रश्नों की संख्या अधिकतम अंक
इंग्लिश भाषा 30 30
न्यूमेरिकल एबिलिटी 35 35
रीजनिंग एबिलिटी 35 35
कुल 100 100

IBPS PO प्रारंभिक परीक्षा 2018 से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण विवरण इस प्रकार है:

IBPS CWE PO / MT परीक्षा के लिए परीक्षा पैटर्न काफी सरल है, लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि कड़ी मेहनत से ही इस परीक्षा में सफलता प्राप्त की जा सकती है।

IBPS PO परीक्षा 2018 के लिए रीजनिंग एबिलिटी की तैयारी कैसे करें

रीजनिंग पर आधारित प्रश्नों को हल करना मजेदार होता है, बशर्ते आप वास्तव में जानते ये जानते हों कि उस प्रश्न को हल कैसे करना है। पिछले साल IBPS PO की प्रारंभिक परीक्षा के विश्लेषण के आधार पर, रीज़निंग एबिलिटी सेक्शन से 35 प्रश्न पूछे गए थे। इस सेक्शन संबंधित टॉपिक निम्नानुसार हैं:

टॉपिक का नाम प्रश्नों की संख्या कठिनाई स्तर
सिटिंग अरेंजमेंट और पज़ल्स 20 मध्यम
कोडिंग-डिकोडिंग 4 मध्यम
न्याय कथन (Syllogism) 5 मध्यम
असमानताएं (Inequalities) 3 मध्यम
विविध (Miscellaneous) 3 मध्यम

यहां हम आपको इनमें से कुछ महत्वपूर्ण टॉपिक्स बता रहे हैं जो निश्चित रूप से आपके स्कोर को बढ़ाने में आपकी मदद करेंगे:

  • वर्गीकरण
  • समानता
  • निर्णय लेना
  • शब्द गठन
  • श्रृंखला, डिकोडिंग और कोडिंग
  • ब्लड रिलेशन
  • प्रतीक और नोटेशन
  • वक्तव्य और निष्कर्ष
  • सिटिंग अरेंजमेंट

IBPS PO का रीज़निंग सेक्शन काफी विशाल है। इसलिए, ये हो सकता है कि आप कुछ स्कोरिंग टॉपिक्स को भूल जाएं। रीजनिंग सेक्शन पर आधारित प्रश्नों को हल किया जा सकता है यदि आप प्रश्नों को हल करने की ट्रिक जानते हों। चलिए अब हम रीजनिंग सेक्शन के प्रत्येक टॉपिक की तैयारी कैसे करें की दिशा में आगे बढ़ते हैं –

सिटिंग अरेंजमेंट और पज़ल्स की तैयारी कैसे करें

उम्मीदवारों को बैठने की व्यवस्था और पहेली परीक्षण संबंधित प्रश्नों का अभ्यास करना चाहिए क्योंकि IBPS परीक्षा में लगभग 5-5 प्रश्नों का सेट पूछा जाता है।

  • बैठने की व्यवस्था से संबंधित प्रश्न एक गोल मेज के चारों तरफ बैठे लोगों से मिलती हैं “टेबल के केंद्र की तरफ”, “टेबल के केंद्र से दूर रहने” दोनों का संयोजन इन प्रश्नों में दिखता है। इस तरह के प्रश्नों को हल करने के लिए आपको अभ्यास की आवश्यकता होती है हालांकि, प्रारंभिक परीक्षा में ‘टेबल के केंद्र की तरफ’ से संबंधित प्रश्नों के आने की आने की संभावना अधिक है।
  • इसके अलावा, बैठने की व्यवस्था की के प्रश्नों को हल करने के दौरान, खुद से यह प्रश्न पूछने की जरूरत है – ‘क्या मैं इसे इष्टतम समय में हल कर सकता हूं?’
  • पज़ल्स से संबंधित प्रश्नों को हल करने के लिए अभ्यास की आवश्यकता है किसी प्रश्न को हल करने में चर की कुल संख्या का विश्लेषण करने में आपको सक्षम होना चाहिए। पज़ल्स से संबंधित प्रश्नों को मौखिक रूप से हल करने का प्रयास न करें, हमेशा ऐसे प्रश्नों को हल करने के लिए किसी न किसी आरेख का इस्तेमाल करें। इससे चीजें आसान हो जाएंगी।

न्याय कथन (Syllogism) की तैयारी कैसे करें

syllogism पर आधारित प्रश्न तर्क पर आधारित होते हैं। इस सेक्शन में बेहतर स्कोर सुनिश्चित करने के लिए, आप निम्नलिखित तकनीकों का उपयोग कर सकते हैं-

  • ऐसे सवालों को हल करने सबसे अच्छा और आसान तरीका वेन डायग्राम होता है। हालांकि, कभी-कभी कुछ प्रश्नों में वेन आरेख बहुत हो सकते हैं।
  • इस मामले में, कम समय में हल किए जाने वाले प्रश्नों को हल करना चाहिए।
  • विभिन्न प्रकार के Syllogism प्रश्नों को समझने के लिए अधिक से अधिक अभ्यास करें।

कोडिंग-डिकोडिंग की तैयारी कैसे करें

  • कोडिंग डिकोडिंग पर आधारित प्रश्नों को हल करना बहुत आसान हैं। कोडिंग मूल रूप से शब्द या वाक्य या किसी अन्य रूप में चरित्र के संग्रह के रूपांतरण की एक प्रक्रिया है, जिन्हें कुछ तर्क या नियम का पालन करके हल किया जा सकता है। जो परिणामस्वरूप कोड के रूप में जाना जाता है।
  • इस तरह के प्रश्नों को हल करने के लिए आपको तर्क या नियम ढूंढना होगा जो दिए गए शब्दों / वाक्यों / वर्णों की तुलना करके प्राप्त किये जा सकते हैं।
  • कोडिंग डिकोडिंग प्रश्न में कई भिन्नताएं होती हैं। इसलिए, उचित अभ्यास के बिना उन प्रश्नों को हल करना असंभव है।

बल्ड रिलेशन से संबंधित प्रश्नों की तैयारी कैसे करें

  • ब्लड रिलेशन से संबंधित टॉपिक के प्रश्नों को हल करना किसी रोमांच से कम नहीं होता।बस प्रश्न में पूछी गई समस्या को अपने परिवार पर लागू कर प्रश्न की संरचना का पालन करें, आपको निश्चित रूप से कम समय में जवाब मिलेगा।
  • इस टॉपिक के प्रश्न को किसी अन्य रूप में भी हेरफेर किया जा सकता है।
  • उम्मीदवारों को इस विषय को कुशलतापूर्वक अभ्यास करना चाहिए क्योंकि इससे उन्हें कम समय में अधिक स्कोर करने में मदद मिलेगी।

एनालॉजी के प्रश्नों की तैयारी कैसे करें

  • एनालॉजी पर आधारित प्रश्नों में, एक विशेष संबंध दिया जाता है और दिए गए विकल्पों से दूसरे समान संबंध को पहचानना होता है।
  • एनालॉग रीजनिंग प्रश्न मौखिक और गैर मौखिक दोनों ही प्रकार के होते हैं। हालांकि, एक बहुत कम संभावना है जिसमें गैर-मौखिक सादृश्य सवाल होंगे। मौखिक प्रश्नों में एक रिश्ता दिया जाता है और आपको दिए गए विकल्पों से समान संबंध खोजना होता है।

स्टेटमेंट पर आधारित प्रश्नों की तैयारी कैसे करें

वक्तव्य- आकलन, वक्तव्य-निष्कर्ष, वक्तव्य- तर्क, वक्तव्य- कार्रवाई के पाठ्यक्रम – इन टॉपिक्स से एक या दो प्रश्न शामिल हो सकते हैं।

हम उम्मीद करते हैं कि IBPS PO परीक्षा 2018 के रीज़निंग एबिलिटी की तैयारी ‘IBPS CWE PO/MT भर्ती परीक्षा में सफलता प्राप्त करने में नीचे दी गई अध्ययन सामग्री को अपनी तैयारी का हिस्सा बनाएं।

IBPS PO परीक्षा 2018 से संबंधित अधिक जानकारी के लिए हमारे साथ बने रहिए। बैंकिंग परीक्षा में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए, सर्वश्रेष्ठ बैंकिंग परीक्षा तैयारी ऐप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

अगर अभी भी आपके मन में किसी प्रकार की कोई शंका या कोई प्रश्न है तो कृपया नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में उसका ज़िक्र करें और बेहतर प्रतिक्रिया के लिए OnlineTyari Community पर अपने प्रश्नों को हमसे साझा करें।

OnlineTyari Team :
© 2010-2018 Next Door Learning Solutions