UPSC सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा 2017 की संभावित कटऑफ़

UPSC सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा 2017 की संभावित कटऑफ़ : संघ लोक सेवा आयोग ने 18 जून को सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2017 का आयोजन किया। परीक्षा का कठिनाई स्तर मध्यम से कठिन था। प्रारंभिक परीक्षा में सफलता प्राप्त करने वाले उम्मीदवार मुख्य परीक्षा के लिए चयनित किए जाएंगे।

यह लेख सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2017 में सम्मिलित हुए उम्मीदवारों के लिए तैयार किया गया है। इस लेख की सहायता से उम्मीदवारों को इस वर्ष की संभावित कटऑफ़ से अवगत हो सकेंगे। हमने यहां 2016 की कटऑफ़ भी दी है जिससे आप संभावित कटऑफ़ का अनुमान लगा सकें।

UPSC सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा 2017 की संभावित कटऑफ़ 

हम यहां IAS प्रारंभिक परीक्षा 2016 से संबंधित कटऑफ़ का उल्लेख कर रहे हैं जिसमें प्रत्येक श्रेणी द्वारा अर्जित कम से कम अंकों को प्रदर्शित किया गया है।

वर्ग (Category) UPSC सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा कटऑफ़
सामान्य (General) 116.00
अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) 110.66
अनुसूचित जाती (SC) 99.34
अनुसूचित जनजाति (ST) 96.00
PH-1 75.34
PH-2 72.66
PH-1 40.00
कुल अंक 200

इस वर्ष परीक्षा का कठिनाई स्तर पिछले वर्ष की परीक्षा से कठिन स्तर का था। सामान्य अध्ययन प्रश्न पत्र-I में वस्तु और सेवा कर, बेनामी लेनदेन और केंद्र सरकार की योजनाओं जैसे नेशनल स्किल क्वालिफिकेशन फ्रेमवर्क, विद्यांजलि योजना और स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन जैसी योजनाओं के बारे में सवाल पूछे गए। समसामयिक से इस वर्ष काफी कम प्रश्न पूछे गए। अगर हम ट्रेंड की बात करें तो साफ़ दिखेगा कि पिछले कुछ वर्षों से UPSC प्रारंभिक परीक्षा में वैचारिक सवालों के स्थान पर तथ्यपूर्ण सवालों पर ध्यान दे रहा है। अब आपको बताते हैं की इस वर्ष की कटऑफ़ कहां तक पहुंचने की उम्मीद है-

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2017 की संभावित कटऑफ़  

हम अब सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2017 के सम्मिलित होने वाले उम्मीदवारों के लिए संभावित कटऑफ़ प्रस्तुत कर रहे हैं, आशा है इससे आपको मदद मिलेगी-

वर्ग (Category) UPSC सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा कटऑफ़
सामान्य (General) 115.00
अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) 109.00
अनुसूचित जाती (SC) 98.00
अनुसूचित जनजाति (ST) 95.00
PH-1 74.34
PH-2 71.66
PH-1 39.00
कुल अंक 200

ज़रुर पढ़ें: UPSC सिविल सेवा का प्रारंभिक परीक्षा 2017 का विश्लेषण

UPSC सिविल सेवा परीक्षा 2017 से संबंधित और अधिक जानकारी के लिए हमारे साथ जुडे रहें । सिविल सेवा परीक्षा में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए, सर्वश्रेष्ठ IAS परीक्षा तैयारी ऐप निःशुल्क डाउनलोड करें।

Best-Government-Exam-Preparation-App-OnlineTyari

अगर अभी भी आपके मन में किसी प्रकार की कोई शंका या कोई प्रश्न है तो कृपया नीचे दिए गए कॉमेंट सेक्शन में उसका ज़िक्र करें और बेहतर प्रतिक्रिया के लिए OnlineTyari Community पर अपने प्रश्नों को हमसे साझा करें।

55 REPLIES

  1. Sonika

    I am fresher for try to apply ias exam
    How I prepare, what I should do and from where I start for my preparation
    Please help me I am very confused.

    Reply
    1. OnlineTyari Team Post author

      आप सबसे पहले NCERT की कक्षा 6-12 तक की पुस्तकों का अध्ययन कर अपनी विभिन्न विषयों पर बुनियादी समझ विकसित करें. उसके पश्चात आप IAS परीक्षा हेतु महत्वपूर्ण पुस्तकों का अध्ययन करें फिर करंट अफेयर पर फोकस करें.

      Reply
        1. OnlineTyari Team Post author

          कला एवं संस्कृति : राष्ट्रीय ओपन स्कूल (NIOS) की पुस्तक
          कक्षा 11 की NCERT (पुरानी) – फ़ाइन आर्ट्स पर टेक्स्ट बुक
          नीचे दी गई लिंक पर क्लिक कर भी पुस्तक देख सकते हैं- http://hindiblog.onlinetyari.com/ias/ias-prelims-2017-important-questions-on-history-expected

          Reply
    2. Abhishek Meena (Bittu Meena)

      Sir meri is sal b.a. final h to m civil exam ki preparation krna chahta hu but only hindi medium kyoki meri english thodi weak h but aap mujhe guide krenge ki English ko acchi krne k liye kha focus krna h to m clearly smj jaunga. But meri all subject clear h

      Reply
  2. Rakesh Kumar Chakradhari

    क्या IAS मे गणित के प्रश्न भी आते है?

    Reply
    1. OnlineTyari Team Post author

      सामान्य अध्ययन प्रश्न पत्र-II जिसे CSAT पेपर भी कहते हैं के अंतर्गत गणित से प्रश्न पूछे जाते हैं. पर यह पेपर सिर्फ क्वालीफाई प्रकृति का होता है, मेरिट सामान्य अध्ययन प्रश्न पत्र-I के तहत तैयार की जाती है.

      Reply
  3. Anil Kumar Kushwaha

    Sir job Karne walo ke liye suggest kijiye. Kaise preparation suru ki Jaye. Time ki kami h.. Please sir

    Reply
    1. OnlineTyari Team Post author

      आप इतिहास और कला एवं संस्कृति, भूगोल, अर्थशास्त्र, विज्ञान, पर्यावरण एवं पारिस्थितिकी और राज्यव्यवस्था सम्बंधित पुस्तकों का अध्ययन अवश्य करें.

      Reply
  4. Divyanshi dwewedi

    Hloo sir mene 18 June ko first tym upsc prilism exam diya h suna h negative marking b h to kitne % marks hone chahiy passing k liy kya dono exam m 33% dono chahiy ya dono m alg alg 33% hone chahiy pls tell me bohot mehnat ki I want ki m clear kr lu mujhe trust b h m krlungi pr dar sa lgrha h mains ki tyari kb kre

    Reply
    1. OnlineTyari Team Post author

      बिलकुल नेगेटिव मार्किंग है. पर अभ्यर्थियों की संख्या पिछले वर्ष से अधिक है और दिनों-दिन प्रतिस्पर्धा बढ़ती जा रही है. हालांकि माना कि इस वर्ष का प्रश्न-पत्र विगत वर्ष के प्रश्न पत्र से थोड़ा कठिन था पर कट-ऑफ पिछले वर्ष के कट-ऑफ के नजदीक ही रहेगी. हमने कट ऑफ अधिक रखी है पर यह सामान्य के लिए 110-115 रहेगी ऐसा अनुमान है. विदित हो कि सामान्य के लिए विगत वर्ष की कट ऑफ 116 थी.

      Reply
    1. OnlineTyari Team Post author

      वैकल्पिक विषय का महत्त्व

      यह कहना पूर्णत: सही नहीं है कि सामान्य अध्ययन 1000 अंकों का है और वैकल्पिक विषय सिर्फ 500 अंकों का, इसलिये अभ्यर्थियों को सामान्य अध्ययन पर ज़्यादा बल देना चाहिये। ऐसा कहने वाले शायद वैकल्पिक विषय के रणनीतिक महत्त्व को नहीं समझते।
      इस परीक्षा में यह बात बिल्कुल मायने नहीं रखती कि किसी अभ्यर्थी को कितने अंक हासिल हुए हैं। महत्त्व सिर्फ इस बात का है कि किसी उम्मीदवार को अन्य प्रतिस्पर्द्धियों की तुलना में कितने कम या अधिक अंक प्राप्त हुए हैं।
      विगत कुछ वर्षों के परीक्षा परिणामों पर नज़र डालें तो आप पाएंगे कि हिंदी माध्यम के लगभग सभी गंभीर अभ्यर्थियों को सामान्य अध्ययन में 325-350 अंक प्राप्त हुए (2014 की सिविल सेवा परिक्षा में निशांत जैन ने एक अपवाद के रूप में 378 अंक प्राप्त किये थे)। इसके विपरीत, अंग्रेज़ी माध्यम के गंभीर अभ्यर्थियों को इसमें औसत रूप से 20-30 अंक अधिक हासिल हुए, जबकि वैकल्पिक विषय में लगभग सभी गंभीर अभ्यर्थियों को 270-325 अंक हासिल हुए। इस औसत से वैकल्पिक विषय का महत्त्व अपने आप स्पष्ट हो जाता है। ध्यान रहे कि ये लाभ आपको तभी मिल सकता है जब आपने वैकल्पिक विषय का चयन बहुत सोच-समझकर किया हो।
      भले ही वैकल्पिक विषय सिर्फ 500 अंकों का होता हो किंतु गलत वैकल्पिक विषय चुनने से आप लगभग 100 अंकों की नकारात्मक स्थिति में जा सकते हैं। इतना नुकसान तो अभ्यर्थी को 1000 अंकों के सामान्य अध्ययन में भी नहीं उठाना पड़ता।
      इस स्थिति को देखते हुए हिंदी माध्यम के उम्मीदवारों के लिये समुचित रणनीति यही बनती है कि अगर सामान्य अध्ययन में उन्हें कुछ तुलनात्मक नुकसान होता है तो उन्हें अन्य क्षेत्रों में इस नुकसान की भरपाई या उससे ज़्यादा लाभ हासिल करने की कोशिश करनी चाहिये।
      ऐसे क्षेत्र दो ही हैं- निबंध और वैकल्पिक विषय। निबंध का हल हमारी इच्छा पर निर्भर नहीं होता, वह सभी के लिये अनिवार्य है। किसी भी माध्यम के उम्मीदवारों को समान विषयों पर ही निबंध लिखना होता है। किंतु वैकल्पिक विषय का चयन हमें करना होता है और अगर हमारा चयन गलत हो जाता है तो पूरी संभावना बनती है कि सिर्फ एक गलत निर्णय के कारण हमारी सारी तैयारी व्यर्थ हो जाए।
      हिंदी माध्यम के उम्मीदवार उन्हीं विषयों या प्रश्नपत्रों में अच्छे अंक (यानी अंग्रेज़ी माध्यम के गंभीर उम्मीदवारों के बराबर या उनसे अधिक अंक) ला सकते हैं जिनमें तकनीकी शब्दावली का प्रयोग कम या नहीं होता हो, अद्यतन (Updated) जानकारियों की अधिक अपेक्षा न रहती हो और जिन विषयों पर पुस्तकें और परीक्षक हिंदी में सहजता से उपलब्ध हों।
      ………………..
      अखबार से आपको समसामयिक विषय की समझ हो जाती है और सामान्य अध्ययन के तहत पूछे जाने वाले प्रश्नों की रुपरेखा बनती है. साथ ही यह आपके निबंध लेखन में भी मदद करता है. इससे आपको अपने विचार को संपुष्ट कर अपनी बात को तर्काताम्क ढंग से रखने में भी मदद मिलती है. अतः अखबार आपके सामान्य अध्ययन, निबंध और साक्षात्कार में भी आपकी मदद करता है.

      Reply
    1. OnlineTyari Team Post author

      ph फिजिकली हैंडीकैप्ड (शारीरिक अक्षमता) की श्रेणी को दर्शाता है.

      Reply
  5. pawan kumar upadhyay

    Sir meri age 30 years ho chuki hai mai upsc ka preparation karna chahata hun start kaha se karu kuch samjh nai aa raha hai mai general category ka hun aur at a Time ek govt job me v hun.

    Reply
  6. Bikrant

    सर कया मेंस मे काला पेन का ईसतमाल कर सकते हैं

    Reply
  7. Shubham sahu

    Hello Sir mai BA 3 ka student hu mere subject hai political science and English Mai ias ki preparation karna chahta hu mains exam me optional subject me mai political science lu ya phir public administration lu mujhe done hi subject bahut achhe lagte h aap mujhe btaiye mai kaun sa subject choose karu jo mains ke liye Best hoga aur mujhe GS me bhi help mile please sir thank you Sir

    Reply
  8. Neetendra Pratap Singh

    श्रीमानजी…,
    मै IAS बनना चाहता हूँ ,आपकी अतिउपयोगी APP के माध्यम से घर पर ही हिन्दी माध्यम से स्वाध्याय कर यथावत तैयारी प्रारम्भ कर दी है।
    आप से निवेदन है कि आप…
    कृपया!
    IAS ‘मुख्य परीक्षा’ के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान करें। काफी दुविधा में हूँ । इसके प्रश्न पत्र एक ही दिन में सारे होते है,की एक कि अलग अलग दिनों में ।

    अतएव आप पूर्णतया जानकारी प्रदान करें।

    Reply
    1. OnlineTyari Team Post author

      आपने स्वाध्याय तैयारी प्रारंभ की है…पढ़कर अच्छा लगा…सर्वप्रथम NCERT बुक फिर विषय विशेष IAS हेतु books. UPSC सिविल सर्विस परीक्षा में तीन चरण होते हैं-प्रारंभिक परीक्षा (एकदिवसीय-दो प्रश्न पत्र), मुख्य परीक्षा (बहुदिवसीय परीक्षा-7 मुख्य प्रश्न पत्र ) और उसके बाद एक साक्षात्कार परीक्षा का आयोजन किया जाता है. मुख्य परीक्षा की सम्पूर्ण जानकरी के लिए कृपया नीचे दिए गए लिंक से अधिकांश संदर्भित लेख प्राप्त करें—http://hindiblog.onlinetyari.com/?s=UPSC+सिविल+सेवा+मुख्य+परीक्षा

      Reply
    1. OnlineTyari Team Post author

      IAS परीक्षा के लिए प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और अंत में साक्षात्कार होता है. प्रारंभिक परीक्षा के तहत दो पेपर, मुख्य परीक्षा के तहत 8 पेपर (अंग्रेजी एवं हिंदी या अन्य आठवी अनुसूची में उल्लेखित अन्य भाषा परीक्षा- क्वालीफाइंग प्रकृति की, 1 निबंध पेपर, 4 GS पेपर, 2 चयनित विषय से पेपर होते हैं. अंत में साक्षात्कार आयोजित किया जाता है.

      Reply
  9. Nikhesh Chouhan

    Dear sir
    मै self ही IAS की तैयारी कर रहा हूँ तो सबसे पहले ncert ही पढना ठीक रहेगा क्या?

    Reply
    1. OnlineTyari Team Post author

      विषय की बुनियादी समझ के लिए NCERT पढ़ना ही बेहतर होता है.

      Reply
    1. OnlineTyari Team Post author

      आप IAS परीक्षा से सम्बंधित सारे blog हमारे blog पर IAS सेक्शन के तहत प्राप्त कर सकते हैं-
      UPSC सिविल सेवा मुख्य परीक्षा 2017 : निबंध लेखन (प्रश्नपत्र -1) की रणनीति
      http://hindiblog.onlinetyari.com/ias/how-to-prepare-upsc-ias-mains-paper-1-in-hindi

      Reply
  10. Meraj Khan

    श्रीमान क्या NCERT पुस्तकों का नोट बनाना चाहिए?

    Reply
    1. OnlineTyari Team Post author

      NCERT पुस्तकों का नोट अवश्य बनाना चाहिए. आप कुछ भी पढ़ें अपने स्मरण के लिए उसका नोट्स बनाना ही चाहिए. इससे रिविजन में आसानी रहती है.

      Reply
  11. Satish singh

    सर क्या बायो से IAS की तैयारी सरल होती है या कठिन

    Reply
  12. Naman mishra

    Sir मैं अभी 10th में हु,,,और मुझे ias की तैयारी अभी से किस तरह से करनी चाहिए

    Reply
    1. OnlineTyari Team Post author

      प्रिय नमन !
      यह अच्छा है, आप अभी से IAS परीक्षा के लिए सोच रहे हैं. अगर आप IAS परीक्षा में जाने का निश्चय कर चूके हैं तो आपको अभी सिर्फ अपनी पुस्तकों का ध्यानपूर्वक अध्ययन करना होगा और प्रत्येक टॉपिक को सलीके से समझना होगा. और अगर टाइम मिले तो पिछली कक्षा की पुस्तकों को देखते रहना होगा. हो सके तो आप अपनी कक्षा की NCERT की पुस्तकों का भी अध्ययन करते रहें.
      इसके अतिरिक्त आप समाचार सुने और कर्रेंट में चल रहे मुद्दों, बहसों को समझने की कोशिश करें. पेपर की सम्पादकीय पढ़ें और खुद भी कर्रेंट के मुद्दों पर लिखने का प्रयास करें.

      Reply
      1. Naman mishra

        Sir ,mai current affairs online taiyari app se update krta hu kya yah app current affairs k liye kafi hai???

        Reply
  13. lavkush mishra

    Sir ncert me sabhi books pdna chahiye aur upsc ki books kha se milegi online mil skti h aur sir mai optional subject maths lena chahta hu to uske liye koun si book pdna chahiye .

    Reply
    1. OnlineTyari Team Post author

      सबसे पहले आप NCERT की पुस्तकें पढ़ें फिर विषय विशेष हेतु प्रमाणिक पुस्तकों का अध्ययन करें ! ज्यादा जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक के माध्यम से अधिक जानकारी प्राप्त करें –
      http://hindiblog.onlinetyari.com/?s=upsc+%E0%A4%B8%E0%A4%BF%E0%A4%B5%E0%A4%BF%E0%A4%B2+%E0%A4%B8%E0%A5%87%E0%A4%B5%E0%A4%BE

      Reply

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.