X

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2019 के राज्यव्यवस्था विषय के महत्त्वपूर्ण टॉपिक्स

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2019 के राज्यव्यवस्था विषय के महत्त्वपूर्ण टॉपिक्स- UPSC IAS सिविल सेवा परीक्षा देश की सबसे चुनौतीपूर्ण परीक्षाओं में से एक मानी जाती है। हर साल लाखों उम्मीदवार सिविल सेवा परीक्षा में शामिल होते हैं। इस बार, UPSC द्वारा 02 जून 2019 को IAS प्रारंभिक परीक्षा का आयोजन किया जाएगा।

कई अन्य महत्त्वपूर्ण विषयों के अलावा, भारतीय इतिहास विषय प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा दोनों में एक महत्त्वपूर्ण स्थान रखता है। ऐसा पाया गया है कि सामान्य अध्ययन में पूछे गए कुल सवालों में भारतीय इतिहास का हिस्सा काफी होता है। इस ब्लॉग में, हम IAS प्रारंभिक परीक्षा के लिए राज्यव्यवस्था (महत्त्वपूर्ण विषयों) पर ध्यान केंद्रित करेंगे। जिसके तहत शासन व्यवस्था, संविधान, राजव्यवस्था, सामाजिक न्याय तथा अंतर्राष्ट्रीय संबंध महत्त्वपूर्ण टॉपिक हैं।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2019 के राज्यव्यवस्था विषय के महत्त्वपूर्ण टॉपिक्स : अवश्य पढ़ें

यहां हम कुछ महत्त्वपूर्ण टॉपिक्स बता रहे हैं जिसके माध्यम से राजव्यवस्था को कवर किया जा सकता है-

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2019 के लिए राज्यव्यवस्था के महत्त्वपूर्ण टॉपिक्स: संविधान के भाग

  • संवैधानिक कर्तव्य
  • निर्देशात्मक सिद्धांत
  • 73वां संशोधन
  • बिलों के पास होने से संबंधित (सामान्य और विशेष)
  • नामावली
  • संघ और राज्यों के बीच शक्ति का विभाजन
  • विभिन्न गतियां
  • संयुक्त बैठक

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2019 के लिए राज्यव्यवस्था के महत्त्वपूर्ण टॉपिक्स : संवैधानिक पद

  • राष्ट्रपति
  • प्रधानमंत्री
  • मंत्री परिषद
  • राज्यपाल
  • स्पीकर
  • CAG
  • महान्यायवादी

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2019 के लिए राज्यव्यवस्था के महत्वपूर्ण विषय: महत्त्वपूर्ण संस्थाएं

  • संसद
  • राज्य विधान मंडल
  • संसद की कमेटी
  • योजना आयोग
  • NDC
  • NITI आयोग
  • मंत्रीमंडल सचिवालय
  • पंचायती राज

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2019 के लिए राज्यव्यवस्था के महत्वपूर्ण विषय: विविध

  • PESA 1996
  • वन अधिकार अधिनियम 2006
  • अप्रसार संधि
  • स्थानीय संस्थाओं में भारतीय सदस्यता

अपनी तैयारी को दृढ़ करने के लिए ऊपर दिए गए विषयों को तैयार करें। परीक्षा पाठ्यक्रम प्रारूप के अनुसार, उम्मीदवारों को अत्यंत सजग होकर प्रत्येक टॉपिक का अध्ययन करना चाहिए और उनपर अपनी पकड़ बनानी चाहिए। आप विषय समझ को जांचने के लिए सम्बंधित विषय की मॉक टेस्ट में सम्मिलित हो सकते हैं और उससे आप अपने  विश्लेषणात्मक और तथ्यात्मक ज्ञान की समझ के स्तर को समझ सकते हैं।

हम कभी भी IAS परीक्षा की तैयारी के लिए मॉक टेस्ट की भूमिका को कम नहीं समझ सकते। यदि उम्मीदवार विगत वर्ष के प्रश्न पत्र को हल करता है तो उसे परीक्षा में प्रश्न कैसे पूछें जा रहे हैं? उन प्रश्नों का कठिनाई स्तर क्या है क्या आपका स्तर पूछे जा रहे प्रश्नों के स्तर का है?- से उम्मीदवार परिचित हो जाता है। और जब उम्मीदवार मॉक टेस्ट हल करता है तो वह आगामी परीक्षा के लिए खुद को तैयार कर लेता है इससे उसका आत्मविश्वास बढ़ जाता है और वह परीक्षा को निर्धारित समय में हल करने का प्रबंधन कर पाता है।

ऊपर उल्लेख किये गए टॉपिक्स को अपनी तैयारी में ज़रूर शामिल करें इससे आप राज्यव्यवस्था विषय की तैयारी सही दिशा में कर सकेंगे और विषय पर अपनी पकड़ भी बना सकेंगे।

TyariPlus जॉइन करें !
अपनी आगामी सभी परीक्षाओं की तैयारी के लिए अब सिर्फ TyariPlus की सदस्यता लें और वर्ष भर अपनी तैयारी जारी रखें-
TyariPLUS सदस्यता के फायदे
  • विस्तृत परफॉरमेंस रिपोर्ट
  • विशेषज्ञों द्वारा नि: शुल्क परामर्श
  • मुफ्त मासिक करेंट अफेयर डाइजेस्ट
  • विज्ञापन-मुक्त अनुभव और भी बहुत कुछ

परीक्षा के लिए आवेदन करने वाले सभी उम्मीदवार अपनी परीक्षा के लिए तैयारी जारी रखें और मॉक टेस्ट से अपनी तैयारी को जांचते रहें। अनलिमिटेड मॉक टेस्ट से अभ्यास करने के लिए अभी TyariPLUS जॉइन करें।

IAS परीक्षा 2019 के बारे में और अधिक जानकारी के लिए हमसे जुड़े रहें। IAS परीक्षा में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए सर्वश्रेष्ठ IAS परीक्षा तैयारी ऐप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

OnlineTyari Team :
© 2010-2018 Next Door Learning Solutions