X

IBPS Clerk मॉक टेस्ट अटेम्पट से बढ़ेगा स्कोर : जानें 5 टिप्स से !

IBPS Clerk मॉक टेस्ट अटेम्पट से बढ़ेगा स्कोर : जानें 5 टिप्स से – फाइनल मैच से पहले प्रैक्टिस मैच खेलना आपको खेल के लय (फॉर्म) में लाता है और फाइनल में आपको अच्छा करने के लिए तैयार करता है। ठीक वैसे ही प्रैक्टिस टेस्ट आपको वास्तविक परीक्षा से पहले खुद की तैयारी की जांचने, परीक्षा दबाव को समझने और अपनी गलतियों से सीखने का मौका देता है। जिससे आप वास्तविक परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन कर सकें।

हमें यह सूचित करने में अत्यंत प्रसन्नता हो रही है कि IBPS क्लर्क परीक्षा 2018 में शामिल होने वाले काफी उम्मीदवारों IBPS क्लर्क मॉक टेस्ट सीरीज को अटेम्प्ट कर रहे हैं और अपने आप में सुधार लाते हुए खुद को परीक्षा के लिए तैयार कर रहे हैं। आप ही की तरह मयंक शर्मा भी IBPS क्लर्क की तैयारी कर रहे हैं और क्लर्क परीक्षा में सफलता के लिए खुद को तैयार कर रहे हैं। वे बड़ी तेजी से अपने कमजोर क्षेत्रों को कम करते जा रहे हैं यही कारण है कि मयंक शर्मा केवल 3 मॉक टेस्ट का प्रयास करके उल्लेखनीय सुधार किया और अपने स्कोर को 15 से 65.62 तक बढ़ा लिया

नीचे दिए गए ग्राफ से आप  उनके सुधार प्रदर्शन का विश्लेषण कर सकते हैं:

जैसा की सभी उम्मीदवारों को पता है कि बैंकिंग कार्मिक और चयन संस्थान (IBPS) द्वारा दिसंबर माह (8, 9 और 15, 16 दिसंबर 2018 को) में IBPS क्लर्क प्रारंभिक परीक्षा का आयोजन किया जाना है। अब जब परीक्षा के लिए कम दिन बचे हैं तो यह समय अपनी तैयारी को जांचने और विश्लेषण करने का है। आज हम आपको बता रहे हैं कि मयंक शर्मा कैसे IBPS क्लर्क परीक्षा के लिए अपने स्कोर में लगातार सुधार कर रहे हैं।

मयंक शर्मा ने कैसे अपने स्कोर को 15 से 65.62 तक सुधारा?

किसी भी सरकारी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करते समय केवल विशिष्ट प्रश्नों (टॉपिकवाइज) या सेक्शनल टेस्ट को हल करना परीक्षा के लिए सही रणनीति नहीं है, बल्कि परीक्षा के मॉडल पेपर (फुल लेंथ टेस्ट) को भी परीक्षा समय में हल करना सीखना अत्यंत महत्वपूर्ण है।

जानें क्यों परीक्षा में सफल होने वाले छात्र मॉक टेस्ट एटेम्पट करने का सुझाव देते हैं-

  • IBPS क्लर्क परीक्षा के मॉक टेस्ट से प्रैक्टिस करने पर उम्मीदवारों को उन विषयों को जानने में मदद मिलेगी, जिससे वे कमजोर हैं और प्रश्न हल नहीं कर पा रहे हैं या गलत कर रहे हैं। आपको ऐसे टॉपिक पर फिर से अध्ययन करने और उसकी बुनियादी समझ विकसित करने की जरुरत है।
  • सभी मॉक टेस्ट वास्तविक परीक्षा के पैटर्न, पाठ्यक्रम और समकक्ष कठिनाई स्तर के अनुरूप निर्मित होता है। इसलिए, छात्र परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों के कठिनाई स्तर, परीक्षा में होने वाले दबाव के बीच परीक्षा देते हैं। जिससे उन्हें वास्तविक परीक्षा का अनुभव प्राप्त होता है। वे परीक्षा दबाव से खुद को निकाल पाते हैं और दबाव को मैनेज करना सीख जाते हैं। इससे उनके कुछ प्रश्न स्वतः गलत होने से बच जाते हैं।
  • ‘मॉक टेस्ट’ में अच्छा प्रदर्शन करना निश्चित रूप से आपको आत्मबल प्रदान कर आपके मनोबल को बढ़ाएगा। आपको परीक्षा के लिए एकदम सटीक रणनीति तैयार करने में मदद करेगा। और बार-बार के अभ्यास से आपकी प्रश्नों को हल करने की गति भी बढ़ेगी। गति बढ़ने से आप कम समय में प्रश्नों को हल कर निश्चित सफलता की तरफ बढ़ सकेंगे।
  • किसी भी प्रतियोगी परीक्षा में, समय प्रबंधन सबसे अधिक बड़ा कारक होता है क्योंकि आपको अधिक प्रश्नों को हल करने के लिए कम समय मिलेगा। तो आप वास्तविक परीक्षा से पहले समय प्रबंधन और अपनी गति बढ़ाने के लिए मॉक टेस्ट सीरीज़ का अभ्यास कर सकते हैं।
  • ऑनलाइन मॉक टेस्ट का ऑल इंडिया रैंक आपको यह भी बताता रहता है कि आप परीक्षा की तैयारी में जुटे अन्य छात्रों के मुकाबले कैसा प्रदर्शन कर रहे हो। आप कितने छात्रों से अभी भी पीछे हो और आपको कितना परिश्रम कर इसे अचीव कर सकते हो।

यहां कुछ अन्य उम्मीदवार भी हैं जिन्होंने IBPS क्लर्क परीक्षा के मॉक टेस्ट को अटेम्प्ट कर अपने स्कोर में सराहनीय सुधार किया है –

उम्मीदवार परीक्षा में पूछे गए प्रश्नों के उत्तर नहीं भूलते पर याद किया भूल जाते हैं। जाहिर है प्रैक्टिस अपने ज्ञान को बढ़ाने और अपने ज्ञान को जांचने का प्रभावी तरीका है। नीचे IBPS क्लर्क परीक्षा के लिए हमारे अनुभवी परीक्षा विशेषज्ञों द्वारा निर्मित मॉक टेस्ट सीरीज दी गई है जो IBPS क्लर्क परीक्षा 2018 में अपना स्कोर सुधारने में मदद करेगी। तो देर किस बात की अभी अपना IBPS क्लर्क परीक्षा के तैयारी स्तर को जांचें और जानें आप परीक्षा के लिए कितना तैयार हैं-

                    IBPS क्लर्क परीक्षा 2018: मॉक टेस्ट सीरीज
कुल (26) फुल लेंथ: (20) सेक्शनल (6)

हम उम्मीद करते हैं कि IBPS क्लर्क प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए यह लेख आपको आपकी तैयारी योजना बनाने और आगामी परीक्षा में बेहतर स्कोर करने में सहायता करेगा।

अगर आप को यह लेख पसंद आया हो तो इसे लाइक करें, शेयर करें और कमेंट करना न भूलें।

IBPS क्लर्क प्रारंभिक परीक्षा 2018 में 70+ अंक कैसे पाएं !

IBPS क्लर्क भर्ती परीक्षा 2018 के संबंध में और अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़े रहें। बैंक परीक्षाओं में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए, सर्वश्रेष्ठ IBPS क्लर्क परीक्षा तैयारी ऐप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Ajay K. Tripathi :
© 2010-2018 Next Door Learning Solutions