IBPS PO मुख्य परीक्षा 2017 : रीजनिंग और कंप्यूटर ज्ञान को कैसे करें तैयार

IBPS PO मुख्य परीक्षा 2017 : रीजनिंग और कंप्यूटर ज्ञान : बैंकिंग कार्मिक संस्थान (IBPS) PO के प्रारंभिक परीक्षा में सफल रहने वाले उम्मीदवारों को अब मुख्य परीक्षा के दौर से गुजरना होगा। IBPS के द्वारा नवम्बर में मुख्य परीक्षा का आयोजन किया जाना है।

ऐसे में लाज़मी है कि प्रारंभिक परीक्षा में सफल रहने वाले सभी छात्र मुख्य परीक्षा की तैयारी में जुट गए होंगे। उनकी तैयारी को आसान बनाने और IBPS PO मुख्य परीक्षा के सभी सेक्शन (अनुभाग) की तैयारी कैसे करें कि आपको सफलता मिले इस विषय से अवगत कराने के लिए यह लेख अवश्य देखें।

 

IBPS PO मुख्य परीक्षा 2017 : रीजनिंग और कंप्यूटर ज्ञान

यह लेख मुख्य परीक्षा की तैयारी में जुटे हुए छात्रों के लिए विशेष उपयोगी साबित होगा। उन्हें इस अनुभाग की तैयारी कैसे करें, की जानकारी से अवगत कराया जाएगा।

IBPS PO मुख्य परीक्षा की समीक्षा शुरू करने से पहले, हम बुनियादी परीक्षा पैटर्न से अवगत हो लेते हैं-

सेक्शन का नाम  प्रश्न  अंक  समयावधि (मिनट में)
सामान्य/वित्तीय जागरूकता 40 40 35
अंग्रेजी भाषा 35 40 40
डाटा विश्लेषण और व्याख्या 35 60 45
रीजनिंग और कंप्यूटर जागरूकता 45 60 60
 कुल  155 200 180 

डाटा विश्लेषण और व्याख्या के 45 प्रश्नों जो 60 अंक के होंगे छात्रों को 60 मिनट का समय प्राप्त होगा। छात्रों को तयशुदा समय में इस सेक्शन को हल करने की रणनीति तय करनी होगी।

 

IBPS PO मुख्य परीक्षा 2017 : रीजनिंग और कंप्यूटर ऐप्टिट्यूड

‘IBPS PO मुख्य परीक्षा के तहत रीज़निंग एबिलिटी और कंप्यूटर ऐप्टिट्यूड के लिए कैसे तैयारी करें’ पर यह लेख मुख्य रूप से केंद्रित है जिससे IBPS PO मुख्य परीक्षा में बैठने वाले उम्मीदवारों को सहायता पहुचाई जा सके।

IBPS PO मुख्य परीक्षा की तैयारी के लिए सर्वोत्तम तैयारी टिप्स और ट्रिक्स यहाँ दिए जा रहे हैं। इससे पहले हम इस विषय पर आगे बढ़ें आइए मुख्य परीक्षा में रीज़निंग एबिलिटी और कंप्यूटर ऐप्टिटूड के तहत पूछे जाने वाले टॉपिक्स से अवगत हो लेते हैं-

  • पहेली (Puzzles)
  • डेटा प्रवाह आरेख (Data Flow Diagram)
  • निर्णय लेना (Decision Making)
  • कोडिंग डिकोडिंग (Coding Decoding)
  • कंप्यूटर योग्यता (Computer Aptitude)
  • ब्लड रिलेशन + सीटिंग अरेंजमेंट (Blood relation + Seating Arrangements)
  • कोडेड असमानता (Coded Inequality)
  • इनपुट आउटपुट (Input/Output)
  • विश्लेषणात्मक तर्क (Analytical Reasoning)
  • डेटा दक्षता (Data Sufficiency)

उल्लेखित है कि मुख्य परीक्षा के टॉपिक को हल करने के लिए हम यहाँ टिप्स दिए जा रहे हैं-

पहेली (Puzzles)

  • ज्यादातर 5 प्रश्न इस टॉपिक से पूछे जाते हैं।
  • इस खंड के प्रश्नों को कभी-कभी अन्य विषयों जैसे रक्त संबंध, दिशा, बैठने की व्यवस्था आदि के साथ मिलाया जाता है।
  • ज्यादातर लोगों को पहेली की लंबाई से डर लगता है और वे प्रश्न हल करने का प्रयास नहीं करते। लेकिन एक बार जब उम्मीदवारों पहेली हल करना शुरू करते हैं, तो धीरे-धीरे इसे हल करना बहुत आसान हो जाता है।
  • पहेली के 10 से 15 अलग-अलग सेटों का अभ्यास करने से उम्मीदवार इस अनुभाग में अच्छी तरह से स्कोर कर सकते हैं।

डेटा प्रवाह आरेख (Data Flow Diagram)

  • इनपुट / आउटपुट अनुभाग एक शब्द और संख्या व्यवस्था मशीन प्रश्न के साथ आता है, जब दिए गए शब्दों की एक इनपुट लाइन दी जाती है और प्रत्येक चरण में एक विशेष नियम के बाद उन्हें पुनर्व्यवस्थित किया जाता है।
  • इसमें बहुत संभावना है कि इस विषय में डबल-पक्षीय व्यवस्था के 3 प्रश्न शामिल होंगे।
  • इसलिए, एक उम्मीदवार को तदनुसार अभ्यास करने की सलाह दी जाती है।

कोडेड असमानता (Coded Inequality)

  • कम समय में असमानता आधारित प्रश्नों को सुलझाने का प्रयास करें ताकि आप अन्य वर्गों के लिए अधिक समय बचा सकें।
  • IBPS PO मुख्य परीक्षा के अनुसार, यह उम्मीद की जाती है कि ये सवाल सीधे नहीं आएंगे (A>B<C>D) लेकिन छिपे हुए फ़ॉर्म में (A@B$C*D)।

ब्लड रिलेशन (Blood relation)

  • रक्त संबंध विषय हल करने के लिए मजेदार है। बस प्रश्न में पूछी गई समस्या को अपने परिवार पर लागू कर प्रश्न की संरचना का पालन करें, आपको निश्चित रूप से कम समय में जवाब मिलेगा।
  • इस विषय के प्रश्न को किसी अन्य रूप में भी हेरफेर किया जा सकता है।
  • इस खंड से लगभग 3 से 4 प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • उम्मीदवारों को इस विषय को कुशलतापूर्वक अभ्यास करना चाहिए क्योंकि इससे उन्हें कम समय में अधिक स्कोर करने में मदद मिलेगी।

विश्लेषणात्मक तर्क (Analytical Reasoning)

  • आम तौर पर टॉपिक कारण और प्रभाव, कथन और अवधारणा, कथन और निष्कर्ष, कार्रवाई, कथन और तर्क, विवेचनात्मक रीजनिंग आधारित प्रश्न इस खंड से पूछे जाते हैं।
  • आपको इस पर बुनियादी पकड़ बनानी होगी जिससे प्रश्न आसानी से त्वरित गति से आप समाधान करने में सक्षम हों।
  • इस अनुभाग में उत्कृष्टता का एकमात्र तरीका अधिक से अधिक अभ्यास करना है।
  • गत वर्ष इस खंड से 9 से 10 प्रश्न पूछे गए थे। इस साल भी हम इसी अनुपात की अपेक्षा कर सकते हैं।

कोडिंग डिकोडिंग (Coding and Decoding)

  • कोडिंग और डिकोडिंग का ‘बैंक परीक्षाओं में महत्वपूर्ण महत्व है।
  • कोडिंग और डिकोडिंग के आधार पर प्रश्नों को हल करने के लिए आपको प्रश्न में दिए गए वर्णों या संख्याओं को देखने की आवश्यकता है।
  • जितनी अधिक आपकी तैयारी होगी, उतना ही बेहतर होगा कि आपका स्कोर।

डाटा दक्षता (Data Sufficiency)

  •  ये प्रश्न आम तौर पर आसान होते हैं लेकिन इन्हें हल करने में समय लगता है क्योंकि उम्मीदवारों को प्रश्न के तर्क को समझने में बहुत समय लगता है।
  • इसे नियमित अभ्यास से सुलझाया जा सकता है और इस विषय पर मॉक टेस्ट पेपर हल कर सकते हैं।
  • पिछले साल के पैटर्न के आधार पर, डेटा दक्षता से लगभग 3 से 5 प्रश्न पूछे गए थे

निर्णय लेना (Decision Making)

  •  निर्णय लेने वाले प्रश्नों में, उस विकल्प का चयन करें जिससे अधिकतर (बहुमत) का लाभ सम्मिलित हो। व्यक्तिगत निर्णय न दें।
  • यह छात्रों की सामान्य प्रवृत्ति है कि वह अपने स्वयं के मूल्य प्रणाली के आधार पर एक दृष्टिकोण धारण करते हैं। आम तौर पर इस खंड से 2 से 3 प्रश्न पूछे जाते हैं।

कंप्यूटर ज्ञान (Computer Knowledge)

  • IBPS PO मुख्य परीक्षा में कंप्यूटर जागरूकता एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। कंप्यूटर की बुनियादी समझ जटिल समस्या को सुलझाने में आपकी मदद करेगी, इसलिए आपको परीक्षा से पहले कंप्यूटर के मौलिक तत्वों को पढ़ना होगा।
  • इस क्षेत्र में विकसित कई तकनीकों पर छात्रों को नजर रखनी पड़ेगी और उससे अपडेट रहने की आवश्यकता है।
  • इसमें सम्मिलित नए प्रकार के प्रश्न सिर्फ विषय की समझ की मांग करते हैं। अतः सावधानीपूर्वक प्रश्नों को पढ़ें और उसके  अनुसार प्रश्न हल करें।

IBPS PO मुख्य परीक्षा के रीज़निंग ऐबिलिटी और कंप्यूटर ऐप्टिटूड सेक्शन में बेहतर स्कोर करने के लिए IBPS PO मुख्य परीक्षा 2017 की तैयारी करते समय इन बिंदुओं का पालन करें-

  • अनुभाग को टॉपिक के आधार पर तैयार करें और फिर प्रश्नों को हल कर अपने तैयारी के सैट को जांच लें। आप अपने मजबूत पकड़ वाले और कमजोर पकड़ वाले टॉपिक को भी जान लें। कमजोर टॉपिक का अधिक से अधिक अभ्यास करें।
  • पाठ्यक्रम में शामिल सभी टॉपिक्स को कवर करने का प्रयास न करें। बस महत्वपूर्ण विषयों पर ध्यान केंद्रित करें जो प्रश्न पत्र में अधिक अंक महत्त्व के हैं।
  • सटीकता और गति पर ध्यान दें। अपने लिए एक टाइमर सेट करके विभिन्न ऑनलाइन मॉक टेस्ट पेपर का अभ्यास करें। यह अभ्यास सबसे अधिक लाभकारी है और उचित समय प्रबंधन की गारंटी देता है।
  • संदर्भ पुस्तकों से अध्ययन करके मूल बातें जानें। प्रत्येक टॉपिक के पीछे की मूल बातें पढ़ें और समझें। इस तरह आप उन अवधारणाओं को समझ पाएंगे जो प्रश्नों को आसानी से सुलझाने में आपकी मदद करेंगे।
  • परीक्षा में पूछे जाने वाले सवालों के पैटर्न को समझने के लिए पिछले साल के प्रश्नपत्रों का समाधान करें।
  • अंत में, आप उन टॉपिक्स का रिविजन करना न भूलें जिन्हें आपने पूरे हफ़्ते में सीखा है।

IBPS PO मुख्य परीक्षा 2017

 

IBPS PO मुख्य परीक्षा 2017 : फ्री पैकेज  

OnlineTyari ने IBPS PO की मुख्य परीक्षा 2017 की तैयारी कर रहे छात्रों के लिए इस फ्री पैकेज का संकलन किया है। यह पैकेज अनुभवी विशेषज्ञों द्वारा परीक्षा पाठ्यक्रम और परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों के कठिनाई स्तर के अनुरूप निर्मित किया गया है। इस संपूर्ण पैकेज में 1 फुल लेंथ मॉक टेस्ट और 4 सेक्शनल टेस्ट शामिल हैं। इस संपूर्ण पैकेज टेस्ट सीरीज को हल करने पर छात्र सभी सेक्शन में अपनी पकड़ मजबूत बना सकेंगे और संभावित प्रश्न-पत्र एवं मॉक टेस्ट से छात्र वास्तविक परीक्षा के तनाव को दूर करने और प्रश्नों को हल करने की स्पीड बढ़ाने में सक्षम हो सकेंगे।

अभी खरीदें

हम आपको IBPS PO की मुख्य परीक्षा 2017 के संदर्भ में अन्य गतिविधियों से आगे भी अवगत कराते रहेंगे, तब तक हमसे जुड़े रहें। बैंक परीक्षाओं में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए सर्वश्रेष्ठ IBPS PO परीक्षा तैयारी एप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Best Government Exam Preparation App OnlineTyari

अगर अभी भी आपके मन में किसी प्रकार की कोई शंका या कोई प्रश्न है तो कृपया नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में उसका ज़िक्र करें और बेहतर प्रतिक्रिया के लिए OnlineTyari Community पर अपने प्रश्नों को हमसे साझा करें।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.