MP पुलिस कॉन्सटेबल भर्ती परीक्षा के लिए 30 दिन की अध्ययन योजना

MP पुलिस कॉन्सटेबल अध्ययन योजनाः मध्य प्रदेश व्यावसायिक परीक्षा मंडल (MPPEB) ने एक अधिकारिक अधिसूचना प्रकाशित की है जिसमें जीडी कॉन्सटेबल, ट्रेड कॉन्सटेबल, हेड कॉन्सटेबल और सहायक सब इंसपेक्टर पदों के लिए आवेदकों को आमंत्रित किया गया है। मध्य प्रदेश पुलिस विभाग में अपना भविष्य बनाने के लिए यह सुनहरा अवसर है। यह लेख MP पुलिस कॉन्सटेबल परीक्षा को पास करने के लिए 30 दिनों की एक कुशल अध्ययन योजना पर केंद्रित है।

परीक्षा की तिथि 17 जुलाई 2016 रखी गई है, जिससे MP पुलिस कॉन्सटेबल परीक्षा की तैयारी के लिए आपको एक महीने से भी अधिक समय मिलता है। यदि आप समय का उचित प्रयोग व रणनीति के अनुसार तैयारी करते हैं तो पेपर में पूछे गए विषयों की तैयारी के लिए आपके पास पर्याप्त समय है।

पहली चीज़, सबसे पहले, आपको यह विश्वास होना चाहिए कि आप MP पुलिस भर्ती परीक्षा पास कर सकते हैं। इसके लिए ज़रूरी है कि आप पढ़ें और इस 30 दिन की अध्ययन योजना का अत्यंत समर्पण के साथ पालन करें। इससे पहले कि हम अध्ययन योजना पर विस्तार से चर्चा करें, हम आपको MP पुलिस परीक्षा पैटर्न और सिलेबस की बुनियादी जानकारी से अवगत कराना चाहेंगे।

MP पुलिस कॉन्सटेबल एवं परीक्षा पैटर्न

दो प्रकार के पेपर होंगे जो आपको हल करने होंगे, पेपर-1 और पेपर-2 जो कि आगे आपके द्वारा आवेदित पद पर निर्भर करते हैं। वे उम्मीदवार जिन्होंने कॉन्सटेबल की पद के लिए आवेदन किया है वे सिर्फ़ पेपर-1 देंगे। बाकी उम्मीदवार जिन्होंने कॉन्सटेबल की पद के अतिरिक्त अन्य पदों के लिए आवेदन किया है वे दोनों, पेपर-1 और पेपर-2 देंगे।

दोनों परीक्षाएं ऑब्जेक्टिव MCQ आधारित पेपर होंगे, जिसमें कुल 100 प्रश्न पूछे जाएंगे और प्रत्येक पेपर 2 घंटे का होगा। ग़लत उत्तरों के लिए नेगेटिव मार्किंग की जाएगी।

पेपर-1 में सामान्य ज्ञान, इंटेलेक्चुअल एबिलिटी और मेंटल एप्टिट्यूड, विज्ञान और सरल गणित विषय शामिल है। पेपर-2 तकनीकी पेपर है जो कि कम्प्यूटर नेटवर्किंग सॉफ़्टवेयर के विषयों पर आधारित है।

MP पुलिस कॉन्सटेबल परीक्षा: पेपर-1

 

सेक्शन का नाम अंक
सामान्य ज्ञान और लॉजिकल रीज़निंग 40
इंटेलेक्चुअल एबिलिटी और मेंटल एप्टिट्यूड 30
विज्ञान और सरल गणित 30

 

MP पुलिस कॉन्सटेबल परीक्षाः पेपर-2

 

सेक्शन का नाम प्रश्नों की संख्या
कम्प्यूटर नेटवर्किंग सॉफ़्टवेयर के विषयों पर आधारित तकनीकी पेपर 100

परीक्षा से जुड़े कुछ बिंदुओं को ध्यान में रखना आवश्यक हैं, जो कि निम्नलिखित हैः

  • प्रत्येक परीक्षा की समय सीमा 2 घंटे है।
  • दोनों ही पेपरों के कुल अंक 200 हैं।

यहां ऐसे कुछ संसाधन दिए गए हैं जो कि MP पुलिस कॉन्सटेबल भर्ती परीक्षा की तैयारी के लिए सहायक होंगे।

  • पिछले वर्ष के प्रश्न पत्र
  • ऑनलाइन मॉक टेस्ट सीरीज़
  • विषयानुसार अध्ययन सामग्री ( प्रश्न बैंक और ई-बुक)

इस लेख के सबसे महत्वपूर्ण सेक्शन की ओर बढ़ते हुए, हम MP पुलिस कॉन्सटेबल भर्ती परीक्षा के लिए 30 दिन की अध्ययन योजना को सप्ताह के प्रारूप में देखते हैं।

सप्ताह 1: MP पुलिस कॉन्सटेबल भर्ती परीक्षा के लिए अध्ययन योजना 

  1. सबसे पहले, जो विषय आपको पढ़ने हैं उन्हीं विभिन्न विषयों के आधार पर अध्ययन सामग्री को अलग करें। यह पुस्तकें और विभिन्न विषयों को ढूंढने के आपके समय को बचाएगा। साथ ही महत्वपूर्ण विषयों के छोटे-छोटे नोट्स बनाइए और उन विषयों के भी जिन्हें आप अक्सर भूल जाते हैं। आपने जो भी पढ़ा होगा यह आगे आपको उसकी त्वरित पुनरावृत्ति करने में सहायक होगे।
  2. पिछले वर्ष के पेपरों का विश्लेषण करें और पूछे गए प्रश्नों के पैटर्न खोजने की कोशिश करें। यह आपको, कौन से टॉपिक महत्वपूर्ण हैं, आपने क्या तैयार किया है, क्या बचा है और किन विषयों के टॉपिक का कितना वेटेज है, इसका सही आकलन देगा।
  3. जो विषय आपको मुश्किल लगते हैं उनसे प्रश्नों को हल करें क्योंकि इन्हीं विषयों में अधिक समय लगता है।

सप्ताह 2 : MP पुलिस कॉन्सटेबल भर्ती परीक्षा के लिए अध्ययन योजना

इसके बाद आप दूसरे सप्ताह की ओर बढ़ रहे होंगे, साथ ही दबाव और चिंता भी बनने लगेगी। लेकिन चिंता ना करें, हम यहां आपकी सभी समस्याओं का हल निकालने में आपकी मदद करेंगे। अब वो समय है जब आपको शांत रहना है और आग़ामी परीक्षा पर ध्यान केंद्रित करते हुए अपने सपनों को पूरा करना है।

  1. इस सप्ताह, लॉजिकल रीज़निंग के अभ्यास का आरंभ करना ही मुख्य मिशन है। यही वो विषय है जिसमें अधिक समय व अधिक अभ्यास की ज़रूरत होती है। सभी विषयों में से इसका वेटेज सबसे अधिक होता है।
  2. साथ ही गणित पर भी ध्यान केंद्रित करें क्योंकि इसमें ऐसे कई महत्वपूर्ण विषय हैं जिन्हें निरंतर अभ्यास की आवश्यकता है।
  3. विषय वार मॉडल टेस्ट पेपर हल करने की कोशिश करें और हल किए गए प्रश्नों व समय की गणना करे। यह आपको समय प्रबंधन में सहायक होगा और आप अपनी क्षमता का परीक्षण कर सकेंगे।

सप्ताह 3 : MP पुलिस कॉन्सटेबल भर्ती परीक्षा के लिए अध्ययन योजना

तीसरे सप्ताह के दौरान आपको अपनी तैयारी और पुनरावृत्ति स्तर को जोड़ने की ज़रूरत है। इसमें ऐसे प्रावधान की ज़रूरत है जिसमें आपने अब तक जो पढ़ा है, उसको सीखें और उसका पुनरीक्षण कर सकें।

  1. एप्टिट्यूड सेक्शन पर ध्यान केंद्रित करें और उन क्षेत्रों का विश्लेषण करें जो या तो अधिक समय लेते हैं या फिर जिनमें गल्तियां होने की संभावना अधिक होती है। अब वो समय है जब आपको इन क्षेत्रों के प्राथमिकता के स्तर का निर्णय करना होता है कि पेपर में इन विषयों को हल करेंगे या छोड़ेंगे।
  2. मेंटल एप्टिट्यूड और रीज़निंग एबिलिटी के लिए ज़रूरी सभी शॉर्टकट तकनीकों को याद कर लें और सीख लें जो कि संख्या और अक्षर से संबंधित होती हैं।
  3. कोशिश करें यह देखने की कि जब से आपने इस अध्ययन योजना का पालन करना शुरू किया है, तब से क्या आपने कोई प्रगति की है।

सप्ताह 4 : MP पुलिस कॉन्सटेबल भर्ती परीक्षा के लिए अध्ययन योजना

अब आप भ्रर्ती परीक्षा से कुछ ही दिन दूर हैं। यहां कुछ चीज़ें हैं जो कि MP पुलिस कॉन्सटेबल परीक्षा से पहले चौथे सप्ताह के दौरान करनी आवश्यक हैं।

  • प्रतिदिन कम-से-कम एक मॉक टेस्ट हल करें और जैसे ही आप इसे पूरा करते हैं शीघ्र ही इसका विश्लेषण करें।
  • इस परीक्षा की तैयारी करने के दौरान आपने जो छोटे-छोटे नोट्स बनाए थे उन्हें दोबारा देखें। यह एक बेहतरीन पुनरीक्षण उपकरण के रूप में सहायक होगा।
  • अपने आप पर कुछ नया करने या सीखने का बोझ ना डालें। बेहतर होगा यदि आप उन्हीं चीज़ों को पुनः पढ़ते हैं और उसे ही पक्का करते हैं जिन्हें आपने अब तक पढ़ा है। नए विषय अब आपको भ्रमित कर सकते हैं।

MP पुलिस कॉन्सटेबल भर्ती परीक्षा की तैयारी के लिए एक शांत मन के साथ इस 30 दिन की अध्ययन योजना का पालन करें। तभी आप इस प्रक्रिया से लाभान्वित होंगे।

हम आपके सभी प्रयासों के लिए शुभकामनाएं देते हैं और आशा करते हैं कि आप सफ़ल हों साथ ही, आग़ामी MP पुलिस कॉन्सटेबल भर्ती परीक्षा में अच्छे अंक हासिल करें।

Doubts-Hindi- (1)

बेहतर प्रतिक्रियाओं के लिए, अपने सवाल OnlineTyari Community पर पोस्ट करें।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.