MPPSC प्रारंभिक परीक्षा 2010: जनरल स्टडीज़ पेपर-1 की विस्तृत समीक्षा

MPPSC प्रारंभिक परीक्षा 2010 जनरल स्टडीज़ पेपर-1 की विस्तृत समीक्षा: मध्य प्रदेश में प्रत्येक वर्ष मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग का आयोजन किया जाता है। हाल ही में, मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग ने राज्य सेवा और राज्य वन परीक्षा 2017 के लिए MPPSC भर्ती की अधिसूचना जारी की है। ऑनलाइन फ़ीस जमा कराने की और आवेदन भरने की अंतिम तिथि 08 जनवरी 2017 है।

MPPSC ने वर्ष 2010 में भी इस परीक्षा का आयोजन किया था। MPPSC प्रारंभिक परीक्षा के जनरल स्टडीज़ पेपर-1 की विस्तृत समीक्षा पर ये लेख, उम्मीदवारों को MPPSC प्रारंभिक परीक्षा 2010 में पूछे गए प्रश्नों का पूर्ण ब्यौरा देने में सहायक होगा।

MPPSC प्रारंभिक परीक्षा 2010 के विषय

इस परीक्षा के लिए उम्मीदवारों को 2 स्तर पार करने होंगे – (i) प्रारंभिक परीक्षा (ii) मुख्य परीक्षा। कटऑफ़ के आधार पर इन दोनों पेपरों को पास करने वाले उम्मीदवार ही साक्षात्कार के लिए आवेदन भर सकते हैं।

इसलिए, जिन उम्मीदवारों ने इस वर्ष MPPSC परीक्षा के लिए आवेदन किया है, उन्हें पिछले वर्ष के पेपर से भलीभांति अवगत होना चाहिए ताकि पेपर में पूछे गए प्रश्नों की बेहतर समझ हो सके। ऐसा करने से वे अपनी तैयारी को सही क्रम और उचित दिशा दे पाएंगे। आपका समय बचाने के लिए हम वर्ष 2010 में आयोजित MPPSC प्रारंभिक परीक्षा की विस्तृत समीक्षा करेंगे। सबसे पहले, हम उन विषयों पर एक नज़र डालेंगे जिनके आधार पर प्रारंभिक परीक्षा आयोजित की गई थी:

  • इतिहास
  • भारतीय राजनीति
  • भूगोल
  • सामान्य विज्ञान
  • गणित
  • मध्य प्रदेश GK
  • रीज़निंग
  • करेंट और स्टैटिक अफ़ेयर्स

MPPSC प्रारंभिक परीक्षा 2010 जनरल स्टडीज़ पेपर-1: परीक्षा समीक्षा

MPPSC प्रारंभिक परीक्षा में कुल 150 प्रश्न पूछे गए थे जिन्हें विभिन्न विषयों में बांटा गया था। नीचे दिए गए चार्ट के माध्यम से प्रत्येक विषय पर आधारित प्रश्नों की संख्या को बताया है।

MPPSC-Bar-Graph

यहां ये स्पष्ट हो जाता है कि सामान्य विज्ञान से सबसे अधिक प्रश्न पूछे गए थे। वैसे भी, सामान्य विज्ञान विभिन्न राज्य स्तरीय प्रवेश परीक्षाओं में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है। साथ ही, ध्यान दें कि भूगोल और भारतीय राजनीति से भी अच्छी संख्या में प्रश्न पूछे गए थे। आमतौर पर राज्य स्तरीय परीक्षाएं देने वाले उम्मीदवार से विशिष्ट राज्य की ऐतिहासिक और भौगोलिक विशेषताओं की तैयारी की अपेक्षा की जाती है। पेपर के भूगोल और इतिहास सेक्शन में मुख्य रूप से मध्य प्रदेश पर आधारित प्रश्न पूछे गए थे। कम-से-कम आधा पेपर इन्हीं तीन विषयों पर आधारित था। इसी पैटर्न के अनुसार, हम विश्वास के साथ कह सकते हैं कि परीक्षा के दृष्टिकोण से ये विषय अत्यंत महत्वपूर्ण हैं।

अब हम अपना ध्यान, सेक्शनवार तरीके से प्रश्नों के आवंटन पर केंद्रित करेंगे और प्रत्येक विषय से पूछे गए प्रश्नों की संख्या का विश्लेषण करेंगे। जैसे कि हमने देखा कि अधिकतम प्रश्न सामान्य विज्ञान सेक्शन से पूछे गए थे, इसलिए हम इसी विषय के साथ शुरू करेंगे।

MPPSC प्रारंभिक परीक्षा 2010 परीक्षा समीक्षा: सामान्य विज्ञान

इस विषय से 34 प्रश्न पूछे गए थे जो अन्य विषयों की अपेक्षा सबसे अधिक थे। इस विषय में मुख्य रूप से फ़िज़िक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी विषय प्रमुख थे।

MPPSC-Pie

ऊपर दिए गए पाई चार्ट के अनुसार, हम ये निष्कर्ष निकाल सकते हैं कि विज्ञान और तकनीक के बाद, बायोलॉजी से अधिकतम प्रश्न यानि कुल 16 प्रश्न पूछे गए थे।

MPPSC प्रारंभिक परीक्षा 2010 परीक्षा समीक्षा: मध्य प्रदेश GK

अधिक प्रश्नों के पूछे जाने की दौड़ में मध्य प्रदेश सामान्य ज्ञान का विषय भी पीछे नहीं है। MPPSC प्रारंभिक परीक्षा में ये महत्वपूर्ण विषयों में शामिल किया जाता है। राज्य स्तरीय ज्ञान पर आधारित कुल 28 प्रश्न पूछे गए थे।

MPPSC प्रारंभिक परीक्षा 2010 परीक्षा समीक्षा: करेंट और स्टैटिक अफ़ेयर्स

इस विषय से भी उम्मीदवार अच्छे प्रश्नों की संख्या की अपेक्षा कर सकता है। MPPSC प्रारंभिक परीक्षा  2010 में अंतर्राष्ट्रीय घटनाओं, राष्ट्रीय घटनाओं, खेल, पुरस्कार आदि विषयों से 25 प्रश्न पूछे गए थे। पिरामिड ग्राफ़ के ज़रिए हम सेक्शनवार तरीके से प्रश्नों के आवंटन पर एक नज़र डालते हैं:

MPPSC-Pie-2

पूछे गए प्रश्न, अंतर्राष्ट्रीय करेंट अफ़ेयर्स, खेल की घटनाओं और प्रचलित पुरस्कार और सम्मान पर आधारित थे।

MPPSC प्रारंभिक परीक्षा 2010 परीक्षा समीक्षा: भूगोल

इस सेक्शन से पूछे गए प्रश्नों की संख्या 24 थी। विषयों को अलग-अलग कर देखते हैं:

MPPSC-Pie-3

इस विषय में भारतीय और वैश्विक भूगोल के प्रश्न पूछे गए थे। साथ ही, इसे विभिन्न सेक्शन में भी विभाजित किया गया है।

MPPSC प्रारंभिक परीक्षा 2010 परीक्षा समीक्षा: भारतीय राजनीति

इस विषय से पेपर में कुल 20 प्रश्न पूछे गए थे जो विशेषकर इन 4 सेक्शन पर आधारित थे:

विषय का नाम प्रश्नों की संख्या
संवैधानिक इतिहास 7
भारतीय संसद 9
संविधान में अनुच्छेद 1
मिश्रण 3

अब आगे बढ़ते हैं और अन्य विषयों का विश्लेषण करते हैं।

MPPSC प्रारंभिक परीक्षा 2010 परीक्षा समीक्षा: इतिहास

इस सेक्शन से कुल 14 प्रश्न पूछे गए थे। ये आगे 3 अन्य सेक्शन में विभाजित किया गया है – प्राचीन भारत, मध्यकालीन भारत और आधुनिक भारत। इस सेक्शन के विषय नीचे दिए गए चार्ट में प्रदर्शित की गई है।

MPPSC-Pie-4

कई प्रश्न स्वतंत्रता संग्राम के आधुनिक इतिहास से संबंधित थे।

MPPSC प्रारंभिक परीक्षा 2010 परीक्षा समीक्षा: गणित और रीज़निंग

प्रारंभिक परीक्षा में कुल 5 प्रश्न पूछे गए थे जो कि सरल कठिन स्तर के थे। दोनों को अलग करके देखें तो प्रतिशत विषय से गणित में सिर्फ़ एक ही प्रश्न पूछा गया था। बाकी अन्य 4 अपेक्षाकृत सरल प्रश्न रीज़निंग विषय से पूछे गए थे।

आमतौर पर, पिछले वर्ष की परीक्षा के पैटर्न से हमें वास्तविक परीक्षा की विस्तृत छवि प्रदान करता है।

अत: MPPSC  प्रारंभिक परीक्षा की विस्तृत समीक्षा पर हम अपना लेख यहीं समाप्त करते हैं। यदि आपको कोई शंका या प्रश्न है तो हमें नीचे दिए गए टिप्पणी अनुभाग में लिख भेजिए।

MPPSC भर्ती परीक्षा 2016-17 से संबंधित अधिक जानकारी के लिए हमसे जुड़े रहें। राज्य परीक्षा में उत्तीर्ण करने के लिए मुफ़्त में बेस्ट राज्य परीक्षा तैयारी एप डाउनलोड करें।

Best-Government-Exam-Preparation-App-OnlineTyari

अगर अभी भी आपके मन में किसी प्रकार की कोई शंका या कोई प्रश्न है तो कृपया नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में उसका ज़िक्र करें और बेहतर प्रतिक्रिया के लिए OnlineTyari Community पर अपने प्रश्नों को हमसे साझा करें।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.