सिविल सेवा परीक्षा हेतु NCERT पुस्तकों का महत्त्व एवं उपयोगिता

0
2030

सिविल सेवा परीक्षा हेतु NCERT पुस्तकों का महत्त्व एवं उपयोगिता :  सिविल सेवा (IAS, PCS) की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए किताबों का चयन करना बेहद ही मुश्किल काम होता है। सिविल सेवा (IAS, PCS) की तैयारी करने के लिए किताबों को लेकर हर वेब पोर्टल का अपना सुझाव होता है। जिससे अभ्यर्थी असमंजस में पड़ जाता है और वह एक निर्णय पर नहीं पहुँच पाता। उन्हें यह परेशानी भी होती है कि प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा के लिए तैयारी कैसे करें।

IAS प्रारंभिक परीक्षा 2018 : फ्री पैकेज
यह पैकेज IAS प्रारंभिक परीक्षा 2018 को ध्यान में रखकर संकलित किया गया है। यह पैकेज अभ्यर्थियों को उचित मार्गदर्शन प्रदान करता है तथा उनको प्रारंभिक परीक्षा के लिए रणनीत बनाने में सहायता प्रदान करता है तथा साथ ही साथ उनके आत्मविश्वास में वृद्धि भी करता है। इस पैकेज में 10 टेस्टों का संकलन किया गया है और प्रत्येक टेस्ट में 100 प्रश्न हैंl
आज हम इसी समस्या का समाधान आपके समक्ष प्रस्तुत कर रहे हैं, जिससे आप इस समस्या से निजात पा सके और व्यर्थ में भटकाव से बच कर अपना अमूल्य समय नष्ट किए बिना तैयारी पर फोकस कर सकें। सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी करने वाला हरेक अभ्यर्थी यह सुनता है कि वह NCERT पुस्तकों का अध्ययन करे।

 

सिविल सेवा परीक्षा हेतु NCERT पुस्तकों का महत्त्व एवं उपयोगिता 

अगर अभ्यर्थी सिविल सेवा परीक्षा के विगत वर्षों के टॉपर्स से यह प्रश्न करें कि तैयारी के लिये क्या–क्या पढ़ना चाहिये? तो निःसंदेह इस सवाल के जवाब में आपको NCERT पुस्तकें पढ़ने की सलाह सामान्य रूप से मिलेगी। न सिर्फ टॉपर बल्कि सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी कराने वाले प्रत्येक अध्यापक भी आपको NCERT पढ़ने की सलाह अवश्य देंगे।

बुनियादी समझ विकसित करने में करती हैं मदद

यह बेवजह नहीं है, सिविल सेवा परीक्षा में सफलता के लिए अभ्यर्थी को विभिन्न टॉपिक की अवधारणात्मक की समझ होनी चाहिए। क्योंकि क्योंकि परीक्षा में प्रश्न सीधे नहीं पूछे जाते इसलिए अवधारणात्मक समझ विकसित होना अनिवार्य है। बिना NCERT अध्ययन किए, खासकर मुख्य परीक्षा उत्तीर्ण करना एक तरह से असम्भव प्राय है। सबसे प्रमुख तथ्य तो यही है कि बिना NCERT पढ़े बिना आपमें कुछ विषय की बुनियादी समझ ही उचित रीति से विकसित नहीं होगी क्योंकि विभिन्न विषयों की NCERT की पुस्तकें वस्तुतः उन विषयों की जड़ होती हैं, अगर आपने किसी विषय की NCERT अच्छी तरह से तैयार कर ली तो फिर उसकी स्तरीय पाठ्य पुस्तकों को पढ़ने-समझने में आपको समस्या नहीं आएगी और उम्मीदवार परीक्षा में पूछे गए प्रश्न का मूलभाव समझ कर प्रश्नों के उत्तर देने में समर्थ होंगे।

सरल भाषा, प्रमाणिक तथ्य 

लेकिन NCERT को तैयार करने में समस्या ये आती है कि लगभग सभी सिविल सेवा अभ्यर्थी NCERT की कक्षा 6 से 12 तक की किताबें (इतिहास, सामाजिक विज्ञान/राजनीति विज्ञान, विज्ञान, भूगोल, अर्थशास्त्र, विज्ञान) खरीदते हैं लेकिन उनमें से बहुत ही कम अभ्यर्थी होते हैं जो इन किताबों का अच्छे से अध्ययन करते हैं।

सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी के शुरुआत में NCERT की पुस्तकों का अध्ययन करना चाहिए क्योंकि यह आधारभूत समझ बनाने में मदद करती है| NCERT की पुस्तकों भारत सरकार द्वारा काफी अनुसंधान के बाद बनाई जाती है अतः इसमें तथ्य सम्बंधी अशुद्धता नहीं होती है। सिविल सेवा परीक्षा में तथ्य सम्बंधी प्रश्नो के उत्तर देने के लिए यह सबसे विश्वसनीय स्रोत है। साथ ही NCERT की पुस्तकें सरल और स्पष्ट भाषा में लिखीं होती है जो कि अभ्यर्थी की भाषा शैली के सुधार में मदद करती है। और अच्छी भाषा शैली के द्वारा छात्र सिविल सेवा के मुख्य परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन कर सकता है।

प्रश्नों के उत्तर की समझ विकसित करती है 

सिविल सेवा परीक्षा के नये प्रारूप में सामान्य अध्ययन के क्षेत्र में चाहे बड़े परिर्वतनों का आगाज़ हुआ है परन्तु अभी भी इनमें NCERT की पुस्तकों की उपयोगिता अद्वितीय है। चाहे वह प्रारम्भिक परीक्षा हो या मुख्य परीक्षा के प्रश्न -पत्र, संघ लोक सेवा आयोग ने सदैव ही प्रश्नों की प्रवृति और प्रकार में बदलाव और नयापन देकर उम्मीदवारों को चकित किया है। इन स्थितियों का सामना करने के लिए व्यापक, सक्षम और मौलिक एवं आधारभूत स्पष्टता की जरूरत अपेक्षित है। NCERT पुस्तकें आपकी तैयारी में आधारशिला के रूप में कार्य करती हैं और विस्तृत एवं आधारभूत स्पष्टता के साथ आप किसी भी समसामयिक घटना/मुद्दों को सही प्रकार समझ सकते है और सहसम्बन्ध जानने की स्थिति में आ सकते हैं।

आज के बदलते परिदृश्य में सिविल सेवा परीक्षा में आप तब ही प्रभावी प्रदर्शन दे सकते जब आप मौलिक सूचनाओं/जानकरियो से परिचित है। यही वजह है की विशेषज्ञ NCERT की पुस्तकें पढ़ने की सलाह देते है।

सहज और ऑनलाइन निःशुल्क उपलब्ध 

NCERT पुस्तकें प्रसिद्ध विषय विशेषज्ञ द्वारा लिखी जाती है और यह आसानी से बाजार में उपलब्ध होती हैं और इनकी कीमत काफी कम हैं। ऑनलाइन इसे निःशुल्क भी NCERT की आधिकारिक साईट से डाउनलोड किया जा सकता है। कुछ महत्त्वपूर्ण पुस्तकें आप नीचे दिए गए डायरेक्ट लिंक से भी निःशुल्क डाउनलोड कर सकते हैं-

कक्षा 9

·  भारत और समकालीन विश्व
·  अर्थशास्त्र
·  लोकतांत्रिक राजनीति-1
·  सामाजिक विज्ञान समकालीन भारत-1

 

कक्षा 11

·  राजनितिक सिद्धान्त
·  भारत का संविधान सिद्धान्त और व्यवहार
·  भूगोल में प्रयोगात्मक कार्य
·  भारत भौतिक पर्यावरण
·  भौतिक भूगोल के मूल सिद्धान्त
·  भारतीय-अर्थव्यवस्था-का-विकास

कक्षा 10

·  समकालीन भारत-2
·  लोकतांत्रिक राजनीति-2
·  भारत और समकालीन विश्व-2
·  आर्थिक विकास की समझ

 

 

कक्षा 12

·  स्वतंत्र भारत में राजनीति
·  समकालीन विश्व राजनीति
·  भारतीय इतिहास के कुछ विषय-भाग-1
·  भारतीय इतिहास के कुछ विषय-भाग-2
·  भारतीय इतिहास के कुछ विषय-भाग-3
·  भूगोल में प्रयोगात्मक कार्य
·  मानव भूगोल के मूल सिद्धान्त
·  समष्टि अर्थशास्त्र एक परिचय
·  व्यष्टि अर्थशास्त्र एक परिचय

अगर आप IAS की प्रारंभिक परीक्षा 2018 की तैयारी की योजना बना रहे हैं तो इसकी शुरूआत NCERT की पुस्तकों के साथ करें। एक बार जब आप विषय के आधार को समझ जाएंगे तो आप अन्य अध्ययन सामग्री को भी बेहतर तरीके से समझ पाएंगे।

OnlineTyari Plus : Join Now

UPSC सिविल सेवा भर्ती परीक्षा 2018 के संबंध में अधिक जानकारी के हमसे जुड़े रहें। सिविल सेवा परीक्षा में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए सर्वश्रेष्ठ IAS परीक्षा तैयारी ऐप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Best-Government-Exam-Preparation-App-OnlineTyari

NO COMMENTS

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.