X

UPPSC परीक्षा 2018 के लिए GS प्रश्नपत्र-1 की तैयारी कैसे करें

UPPSC परीक्षा 2018 के लिए GS प्रश्नपत्र-1 की तैयारी कैसे करें: उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (UPPSC) ने सम्मिलित राज्य/प्रवर अधीनस्थ सेवा परीक्षा के लिए UPPSC भर्ती 2018 के लिए आधिकारिक तौर पर अधिसूचना जारी कर दी है। UPPSC ने वर्ष 2018 के लिए, सम्पूर्ण राज्य में सम्मिलित सेवा पदों के लिए 831 रिक्त पदों की घोषणा की है। UPPSC की आवेदन प्रक्रिया प्रारंभ हो चुकी है और ऑनलाइन आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 2 अगस्त, 2018 है।

सिविल सेवा परीक्षा में जनरल स्टडीज (GS) का प्रश्नपत्र हमेशा ही अत्यंत कठिन माना जाता हैं। कई बार, ऐसा इसीलिए होता है क्योंकि आपको परीक्षा के सिलेबस और परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों की अच्छी समझ नहीं होती है। GS को बहुत ही आसानी से संभाला जा सकता है, यदि तैयारी के समय और परीक्षा के समय सावधानीपूर्वक अध्ययन योजना बनाई जाये। यहां हम आपको UPPSC प्रश्नपत्र-1 की तैयारी के लिए कुछ टिप्स प्रदान करने जा रहे हैं। लेकिन सबसे पहले, आइये, आपको परीक्षा पैटर्न के बारे में एक संक्षिप्त जानकारी देते हैं।

UPPSC प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए परीक्षा पैटर्न

तो, आइये, अब हम आगामी उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग परीक्षा के लिए परीक्षा पैटर्न और संरचना को देखते हैं।

UPPSC प्रतियोगी परीक्षा में तीन चरण शामिल होते हैं अर्थात-

  • प्रारंभिक परीक्षा (वस्तुनिष्ट प्रकार और बहुविकल्पीय प्रश्न)
  • मुख्य परीक्षा (पारंपरिक प्रकार यानि लिखित परीक्षा)
  • साक्षात्कार (पर्सनालिटी टेस्ट)

यहां हम केवल UPPSC प्रारंभिक परीक्षा के परीक्षा पैटर्न पर ध्यान केंद्रित करेंगे। नीचे UPPSC प्रारंभिक परीक्षा के लिए परीक्षा पैटर्न दिया गया है।

UPPSC प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए परीक्षा पैटर्न

प्रारंभिक परीक्षा में दो अनिवार्य प्रश्नपत्र होते हैं। उम्मीदवारों को अपने उत्तर OMR शीट पर अंकित करने होते हैं। दोनों प्रश्नपत्र, प्रत्येक 200 अंक, के होते हैं और संपूर्ण परीक्षा को हल करने के लिए 2 घंटे का समय होता है। दोनों प्रश्नपत्रों में वस्तुनिष्ठ प्रकार के बहुविकल्पीय प्रश्न शामिल होते हैं।

अनिवार्य प्रश्नपत्र अंक
जनरल स्टडीज प्रश्नपत्र I 200
जनरल स्टडीज प्रश्नपत्र II 200
  • प्रारंभिक परीक्षा का प्रश्नपत्र-II, न्यूनतम निर्धारित 33% क्वालीफाइंग अंकों के एक क्वालीफाइंग प्रश्नपत्र होगा।
  • उम्मीदवारों के लिए यह आवश्यक है कि वे प्रारंभिक परीक्षा के दोनों प्रश्नपत्रों में, मूल्यांकन के उद्देश्य से, उपस्थित रहे।
  • उम्मीदवारों की मेरिट सूची, प्रारंभिक परीक्षा के प्रश्नपत्र-I में प्राप्त अंकों के आधार पर तैयार की जायेगी।

जनरल स्टडीज प्रश्नपत्र I और प्रश्नपत्र II:

प्रत्येक प्रश्नपत्र 200 अंकों का होगा और 2 घंटे का होगा। दोनों प्रश्नपत्र वस्तुनिष्ठ प्रकार के और बहुविकल्पीय होंगे जिसमें क्रमश: 150 और 100 प्रश्न होंगे। प्रश्नपत्र I का समय सुबह 9:30 से 11:30 तक होगा और प्रश्नपत्र II का समय दोपहर 2:30 बजे से 4:30 बजे तक होगा।

अब आप UPPSC प्रारंभिक परीक्षा के परीक्षा पैटर्न से अच्छी तरह से परिचित हो चुके हैं। तो, आइये, अब हमारे मुख्य बिंदु की ओर बढ़ते हैं अर्थात UPPSC के GS प्रश्नप्रत्र I की तैयारी किस प्रकार करें।

UPPSC के GS प्रश्नप्रत्र I की तैयारी किस प्रकार करें: टिप्स और ट्रिक्स

इस सेक्शन के अंतर्गत, हम UPPSC GS प्रश्नपत्र-I की तैयारी के लिए कुछ महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर चढ़ा करेंगे। यह आवश्यक है कि UPPSC GS प्रश्नपत्र-I पर अपनी पकड़ को मजबूत करने के लिए आप इन सभी टिप्स और ट्रिक्स का पालन करें।

UPPSC के GS प्रश्नप्रत्र I की तैयारी किस प्रकार करें: चरण-वार तैयारी के टिप्स

  • प्रारंभिक परीक्षा के लिए करेंट अफेयर्स को सर्वोच्च प्राथमिकता देनी चाहिए, क्योंकि हमेशा अकेले करेंट अफेयर्स से ही लगभग 30 प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • करेंट अफेयर्स के बाद, अगला चरण इतिहास की तैयारी करना है क्योंकि हमेशा केवल इतिहास से 25 प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • तीसरे स्थान पर विज्ञान और प्रौद्योगिकी होना चाहिए क्योंकि हमेशा केवल विज्ञान से ही लगभग 25 प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • चौथे स्थान पर भूगोल और पर्यावरण होना चाहिए, क्योंकि हमेशा केवल भूगोल और पर्यावरण सेक्शन से ही लगभग 25 प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • पांचवे स्थान पर राजनीति के प्रश्न होने चाहिए, क्योंकि प्रारंभिक परीक्षा में हमेशा केवल राजनीति सेक्शन से लगभग 20 प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • अगले स्थान पर अर्थव्यवस्था के प्रश्न होने चाहिए, क्योंकि प्रारंभिक परीक्षा में हमेशा केवल अर्थव्यवस्था से ही लगभग 17 प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • अंत में, उत्तर प्रदेश और सामन्य ज्ञान पर आधारित प्रश्नों की तैयारी करें, हाल ही में प्रारंभिक परीक्षा में उत्तर प्रदेश पर आधारित प्रश्नों की संख्या भारी कमी आयी है।

UPPSC GS प्रश्नपत्र I के लिए आवश्यक पुस्तकें

किसी भी परीक्षा के लिए सर्वश्रेष्ठ अध्ययन सामग्री का चयन करना एक कठिन काम हो जाता है। एक उम्मीदवार को UPPSC GS प्रश्नपत्र I की तैयारी के लिए अध्ययन सामग्री का चुनाव बहुत ही ध्यानपूर्वक करना चाहिए। अब, आइये, प्रत्येक विषय के लिए हमारी सुझावित अध्ययन सामग्री पर एक नज़र डालते हैं।

राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व की वर्तमान घटनाओं के लिए

राष्ट्रीय घटनाओं के लिए समाचार पत्र, हिंदू, टाइम्स ऑफ इंडिया, इकोनॉमिक टाइम्स और इंडिया टुडे हैं। प्रतियोगिता दर्पण या घाटना चक्र भी बहुत उपयोगी होंगे।

भारतीय इतिहास और  भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन के लिए

कक्षा 9, 10, 11 और 12 की NCERT की इतिहास की पुस्तकें। बिपिन चंद्रा की आधुनिक भारत का इतिहास एक अच्छा संस्करण है जिसे आप अपनी आगामी परीक्षा की तैयारी के लिए पसंद कर सकते हैं।

सांस्कृतिक प्रश्नों के लिए, उम्मीदवार, भारतीय संगीत, नृत्य, नाटक, चित्रकारी आदि पर आधारित NBT पुस्तकों की सहायता ले सकते हैं।

भारत और विश्व के भूगोल के लिए

कक्षा 9, 10, 11 और 12 की भूगोल की NCERT की पुस्तकें (पुराना संस्करण)। आप माजिद हुसैन की भारतीय भूगोल भी देख सकते हैं।

मानचित्र आधारित प्रश्नों के लिए, एक अच्छी एटलस, मुख्य रूप से ऑक्सफ़ोर्ड स्कूल एटलस या ओरिएंट लॉन्गमैन से एक अच्छी सहायता मिल सकती है।

भारतीय राजनीति और प्रशासन

कक्षा 9, 10, 11 और 12 की राजनीति विज्ञान की NCERT की पुस्तकें। अन्य पुस्तकें हैं- भारत का संविधान – प्रकाशन डिवीजन (पॉकेट बुक) से, एम लक्ष्मीकांत की भारतीय राजनीति।

पैकेज नवीनतम पैटर्न पर अनुभवी विषय एवं परीक्षा विशेषज्ञों द्वारा परीक्षा पाठ्यक्रम और परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों के कठिनाई स्तर के अनुरूप निर्मित किया गया है। अतः इस पैकेज को अपनी तैयारी का हिस्सा बना कर आप परीक्षा में आने वाले प्रश्नों से परिचित हो सकेंगे साथ ही परीक्षा प्रबंधन भी कर सकेंगे। प्रश्न पत्र का अभ्यास कर ही सफलता प्राप्त की जा सकती है।

परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए ऊपर दी गयी पुस्तकों को देखें।

आर्थिक और सामाजिक विकास

कक्षा 9, 10, 11 और 12 की अर्थशास्त्र की NCERT की पुस्तकें।

अन्य पुस्तकें हैं- दत्त और सुन्दरम की भारतीय अर्थव्यवस्था,  वित्त मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा प्रकाशित वार्षिक आर्थिक सर्वेक्षण।

सामान्य विज्ञान

प्रश्न, विज्ञान के प्रतिदिन के सामान्य अनुप्रयोगों और समझ पर आधारित होंगे।

कक्षा 6 और 10 की NCERT की पुस्तकें, इस विषय के लिए सर्वश्रेष्ठ अध्ययन सामग्री हैं। इसके अतिरिक्त, कक्षा 11 और 12 की NCERT की पुस्तकों के विज्ञान और उनके अनुप्रयोग पर आधारित कुछ अध्यायों को भी पढ़ सकते हैं।

पर्यावरण और पारिस्थितिकी

शंकर IAS पर्यावरण, एरच भरुचा की एनवायरनमेंटल स्टडीज फॉर अंडरग्रेजुएट कोर्सेज, पी.डी. शर्मा की पारिस्थितिकी और पर्यावरण

आगामी परीक्षा में अपने स्कोर को बढ़ाने के लिए ऊपर दी गयी पुस्तकों को देखें।

उत्तर प्रदेश का सामान्य ज्ञान

इसमें पहाड़ों, नदियों, जलवायु, वनस्पतियों और जीवों के विकास, उत्तर प्रदेश के भूगोल में खनिज परिवहन से संबंधित प्रश्न होंगे। इसमें उत्तर प्रदेश के इतिहास और संस्कृति में महत्वपूर्ण राजवंशों के योगदान से संबंधित प्रश्न भी शामिल होंगे।

अन्य पुस्तकें

लूसेंट GK (इस पुस्तक में तथ्यात्मक जानकारी का संग्रह है, UPPSC के प्रश्न अधिकतर तथ्यात्मक होते हैं और इसीलिए, यह पुस्तक UPPSC के लिए बहुत उपयोगी होती है।)

सिर्फ 399 रुपये में TyariPLUS की सदस्यता लें और 1000+ मॉक टेस्ट्स पाएं। अपने मजबूत पक्ष, कमजोर पक्ष और सुधार क्षेत्रों को जानने के लिए फ्री मॉक टेस्ट दें और प्रत्येक टेस्ट देने  के बाद गहन विश्लेषण रिपोर्ट के साथ अपने लिए व्यक्तिगत प्रतिक्रियाएं और टेस्ट में सम्मिलित हुए छात्रों के मध्य रैंकिंग तुरंत प्राप्त करें।

अगर आप को यह लेख पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों को लाइक करें और शेयर करें। किसी प्रकार की जानकारी के लिए हमें कमेंट करना न भूलें।

UPPSC परीक्षा 2018 के बारे में अधिक जानकारी के लिए हमसे जुड़े रहें। PCS भर्ती परीक्षाओं में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए, सर्वश्रेष्ठ भर्ती परीक्षा तैयारी ऐप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

OnlineTyari Team :
© 2010-2018 Next Door Learning Solutions