SSC CHSL परीक्षा 2017: रीज़निंग और जनरल इंटेलीजेंस की तैयारी कैसे करें !

SSC CHSL परीक्षा 2017: रीज़निंग और जनरल इंटेलीजेंस की तैयारी कैसे करें – कर्मचारी चयन आयोग ने, आधिकारिक तौर पर, SSC संयुक्त उच्चतर माध्यमिक स्तर (10+2) परीक्षा 2017 के लिए अधिसूचना जारी की थी। SSC CHSL देश की प्रसिद्ध परीक्षाओं में से एक है, जिसके लिए प्रत्येक वर्ष भारी संख्या में उम्मीदवार आवेदन करते हैं।

SSC CHSL परीक्षा के तहत लोअर डिवीजन क्लर्क / जूनियर सचिवालय सहायक, डाक सहायक / सोर्टिंग असिस्टेंट और डाटा एंट्री ऑपरेटर के रिक्त पदों पर भर्ती की जानी है। SSC CHSL 2017 के लिए 3259 रिक्तियों की घोषणा की गयी है। आइये अब हम रीजनिंग सेक्शन की ओर आगे बढ़ते हैं कि कैसे इस विषय की बेहतर तैयारी करें।

 

SSC CHSL परीक्षा पैटर्न और संरचना 2017  

SSC CHSL परीक्षा में एक लिखित परीक्षा युक्त तीन टीयर होते हैं अर्थात टीयर I, टीयर II और टीयर III टीयर I के लिए उपस्थित होने वाले उम्मीदवारों को एक कंप्यूटर आधारित परीक्षा (CBT) के लिए उपस्थित होना होगा। टीयर II का आयोजन पेन और पेपर मोड (लिखित परीक्षा) में किया जायेगा तथा परीक्षा के टीयर III में एक स्किल टेस्ट/टाइपिंग टेस्ट होगा जो कि क्वालीफाइंग होगा। SSC CHSL परीक्षा में 25% हिस्सा रीज़निंग और जनरल इंटेलीजेंस सेक्शन का रहेगा।

सेक्शन का नाम प्रश्नों की संख्या अंक
रीज़निंग और जनरल इंटेलीजेंस 25 50
जनरल अवेयरनेस 25 50
न्यूमेरिकल अवेयरनेस 25 50
इंग्लिश कॉम्प्रिहेंशन 25 50
कुल 100 200

SSC CHSL पाठ्यक्रम : रीज़निंग और जनरल इंटेलीजेंस

इसमें वर्बल और नॉन-वर्बल दोनों प्रकार के प्रश्न शामिल होंगे। टेस्ट में नीचे दिए गए टॉपिक्स पर आधारित प्रश्न शामिल होंगे:

सिमेंटिक एनालॉगी, सिंबॉलिक ऑपरेशन, सिंबॉलिक/नंबर एनालॉगी, ट्रेंड्स, फिगरल एनालॉगी, स्पेस ओरिएंटेशन, सिमेंटिक क्लासिफिकेशन, वेन डायग्राम, सिंबॉलिक/नंबर क्लासिफिकेशन, ड्राइंग इन्फेरेंसस, फिगरल क्लासिफिकेशन, पंच्ड होल/पैटर्न-फोल्डिंग और अन्फोल्डिंग, सिमेंटिक सीरीज, फिगरल पैटर्न-फोल्डिंग और कम्पलीशन, नंबर सीरीज, एम्बेडेड फिगर, फिगरल सीरीज, क्रिटिकल थिंकिंग, प्रॉब्लम सॉल्विंग, इमोशनल इंटेलिजेंस, वर्ड बिल्डिंग, सोशल इंटेलिजेंस, कोडिंग और डिकोडिंग, नुमेरिकल ऑपरेशंस के अन्य विविध टॉपिक।

आज हम बात करेंगे कि रीजनिंग में कैसे पढ़ाई कर और 50/50 का स्कोर तैयार करे। सबसे पहले तो आपको अपने मन से ये बात निकाल देना है कि आपको रीजनिंग आती है और हम इसमें अपना समय क्यो बर्बाद करे, तभी आप इसमे एक अच्छा स्कोर कर पाएंगे नही तो बस आधे मार्क्स ही कवर कर पाएंगे। रीजनिंग के लिए आप अपना सिलेबर्स देखे और हर एक टॉपिक को पड़े भले ही वो कितना ही सरल क्यो न हो अगर आपने सरल समझा और वही पेपर में आया फिर आप भूल गए तब सोचोगे की यार एक बार और पड़ लेते, तो दोस्तों इस बात को बिल्कुल भी मत भूले कि आप बो सब कर सकते है जो आप सोच भी नही सकते।

ये मुख्य बिंदु आपको SSC CHSL के रीज़निंग सेक्शन पेपर-1 परीक्षा में बेहतर स्कोर करने में सहायक होंगे।

1. प्राथमिकता की सूची बनाएं

आपको एक सूची चाहिए। आपको विगत वर्षों में पूछे गए प्रश्नों की संख्या और टॉपिक का डाटा तैयार करना होगा और उससे आपको महत्त्वपूर्ण विषयों की जानकारी प्राप्त कर प्रायिकता सूचि निश्चित करनी चाहिए और उसमे पूछे जाने वालों प्रश्नों की संख्या के तहत आप उन्हें हल करना शुरू करें।

2. सबसे पहले, कांसेप्ट पर ध्यान दें

हां, SSC CHSL परीक्षा में गति का अपना महत्व है। लेकिन यदि आपके लिए कांसेप्ट नया है तो?  आपको उसकी बुनियादी बातें समझने की ज़रूरत है। गति और सटीकता समय के साथ प्रश्नों का अभ्यास करते-करते आ जाती है।

3. रीज़निंग और जनरल इंटेलीजेंस में क्वॉन्टिटेटिव विषय

कुछ विषय जैसे अक्षर, शब्दकोश, कोडिंग-डीकोडिंग, एनालॉजी, रूल डिटेक्शन और सीरीज़ हैं जिनसे क्वॉन्ट का सेक्शन बनता है। ये प्रश्न अत्यंत प्रतियोगी हैं और इन्हें हल करने के लिए अच्छा अभ्यास करना होता है। इसलिए, इन प्रश्नों को हल करने के लिए आपको थोड़ा अतिरिक्त समय चाहिए।

4. अपने शब्दकोष को बढ़ाएं

रीज़निंग और जनरल इंटेलीजेंस पर आधारित प्रश्न काफ़ी जोड़-तोड़ वाले और भ्रमित करने वाले होते हैं भाषा के संदर्भ में। इन प्रश्नों को अच्छे से समझने के लिए आपको अपनी शब्दावली पर भी काम करने की ज़रूरत है।

5. कोडिंग-डीकोडिंग प्रश्नों की ओर विशेष ध्यान दें

जी हां, आपको कोडिंग-डीकोडिंग प्रश्नों के लिए अतिरिक्त मेहनत करनी होगी। प्रत्येक वर्ष इससे पूछे जाने वाले प्रश्नों की संख्या बढ़ रही है। यदि आपने इनका अच्छे से अभ्यास किया है तो आप आसानी से इन्हें हल कर सकते हैं।

6. पिछले वर्ष के प्रश्नपत्र

आप इस वर्ष का SSC CHSL परीक्षा में अच्छा स्कोर नहीं कर सकते यदि आपने पिछले वर्ष के पेपर हल नहीं किए हैं। इसलिए, सबसे पहले पिछले वर्ष के पेपरों को हल करने का प्रयास करें और मॉक टेस्ट के साथ-साथ SSC CHSL विगत वर्ष के लिए प्रैक्टिस पेपर हल करें।

7. नियमित रूप से अपने प्रदर्शन की समीक्षा करें

आपके सभी प्रयास, तैयारी और टिप्स किसी काम के नहीं होंगे यदि आपने उनकी पुनरावृत्ति नहीं की होगी। अपने प्रदर्शन को जांचने से आपको उन क्षेत्रों के बारे में पता चलेगा जहां पर आपको काम करना होगा।

SSC CHSL टियर I परीक्षा 2017 : फ्री पैकेज

SSC CHSL टियर I परीक्षा 2017 – फ्री पैकेज

OnlineTyari ने  SSC CHSL टियर I परीक्षा 2017 की तैयारी कर रहे छात्रों  की परीक्षा तैयारी में सहायता पहुचाने और उनकी तैयारी स्तर को जांचने के लिए SSC CHSL टियर I परीक्षा 2017 फ्री पैकेज का संकलन किया है। यह SSC CHSL टियर I परीक्षा 2017 फ्री पैकेज टेस्ट सीरीज अनुभवी विषय विशेषज्ञों द्वारा परीक्षा पाठ्यक्रम और परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों के कठिनाई स्तर के अनुरूप निर्मित किया गया है। इस पैकेज में 1 सम्पूर्ण परीक्षा मॉक टेस्ट और 4 सेक्शनल टेस्ट सम्मिलित किया गया है।

फ्री में अभ्यास शुरू करें !

SSC CHSL भर्ती परीक्षा 2017 के संबंध में और अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़े रहें। SSC परीक्षाओं में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए सर्वश्रेष्ठ SSC परीक्षा तैयारी ऐप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Best-Government-Exam-Preparation-App-OnlineTyari

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.