RPSC ग्रेड-1 टीचर सिलेबस | पेपर-1 और पेपर- 2

RPSC ग्रेड-1 टीचर सिलेबस: राजस्थान पब्लिक सर्विस कमीशन (RPSC) इस वर्ष मई के महीने में RPSC ग्रेड-1 स्तर के लेक्चरर पद की भर्ती के लिए परीक्षा आयोजित करेगा। परीक्षा मई के आख़िरी सप्ताह में आयोजित होने की संभावना है। परीक्षा के लिए अभी कोई तिथि तय नहीं हो सकी है। लेकिन RPSC ग्रेड-1 स्तर के शिक्षक पद से जुड़ी दोनों परीक्षाओं की तैयारी करने के लिए सिलेबस की जानकारी होना बेहद महत्वपूर्ण हैं। इससे भटकाव की स्थिति नहीं होगी और केंद्रित होकर परीक्षा के लिए तैयार हो सकेंगे। इसलिए हम इस लेख के माध्यम से आपको वो सभी महत्वपूर्ण जानकारी और सही मार्गदर्शन देने जा रहे हैं।

 

RPSC ग्रेड-1 टीचर सिलेबस: पेपर-1

RPSC ग्रेड-1 स्तर के लिए आयोजित पेपर-1 सभी उम्मीदवारों के लिए अनिवार्य है। यह पेपर सिंगल नॉन-सेक्शनल टेस्ट होगा। यह सामान्य ज्ञान और सामान्य अध्ययन विषय से जुड़े सवालों पर आधारित होगा। पेपर-1 में प्रश्नों की कुल संख्या 75 तय की गई है और इस पेपर को हल करने के लिए 90 मिनट की समय अवधि दी गई है।

विषय

प्रश्नों की संख्या

अधिकतम अंक

राजस्थान का इतिहास और भारतीय इतिहास (भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन पर विशेष ज़ोर देते हुए)

15

30

  • मानसिक योग्यता टेस्ट, सांख्यिकी (माध्यमिक स्तर)
  • गणित (माध्यमिक स्तर)
  • भाषा ज्ञान टेस्ट: हिंदी, इंग्लिश

20

40

समसामयिक घटनाक्रम

10

20

सामान्य विज्ञान, भारतीय राजनीति और राजस्थान का भूगोल

15

30

शैक्षिक प्रबंधन, राजस्थान में शैक्षिक परिदृश्य, शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009

15

30

कुल

75

150

आइए अब बात करते हैं RPSC ग्रेड-1 स्तर के लेक्चरर पद से संबंधित सिलेबस (पेपर-1) के महत्वपूर्ण विषयों की।

 

1. भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन पर विशेष जोर देने के साथ राजस्थान और भारतीय इतिहास का इतिहास

  • मौर्य और गुप्त काल के दौरान कला, विज्ञान और साहित्य का विकास।
  • प्राचीन भारतीय शिक्षा प्रणाली और शिक्षा के शैक्षिक संस्थानों, विदेशों में भारतीय सांस्कृतिक विस्तार।
  • ब्रिटिश काल के दौरान शिक्षा का विकास, 1857 का स्वतंत्रता संग्राम। राष्ट्रवादी आंदोलन का उदय, राष्ट्रीय आंदोलन के प्रमुख नेता वी.डी. सावरकर, बंकिम चंद्र, लाल, बाल, पाल, चंद्रशेखर आजाद, भगत सिंह, सुखदेव, रास बिहारी बोस, सुभाष चंद्र बोस। सामाजिक और धार्मिक पुनर्जागरण में राजा राम मोहन राय, दयानंद सरस्वती और विवेकानंद का योगदान।
  • महात्मा गांधी और राष्ट्रीय आंदोलन।
  • 1857 का स्वतंत्रता संग्राम और राजस्थान। किसान और श्रमिक आंदोलन। विजय सिंह पथिक, अर्जुन लाल सेठी, केसरी सिंह और  जोरावर सिंह बर्थ।
  • शिवाजी और मराठा स्वराज, राजपूत राजनीति, 12वीं और 7वीं सदी के दौरान समाज और संस्कृति।
  • भक्ति आंदोलन और सांस्कृतिक संश्लेषण, शिक्षा, भाषा, साहित्य, मुगल काल के दौरान कला और वास्तुकला का विकास।
  • महाराणा प्रताप, मुगलों के साथ संघर्ष।

 

2. मानसिक योग्यता टेस्ट

ऐनालॉजी, सीरीज कॉम्प्लिशन, कोडिंग-डिकोडिंग, ब्लड रिलेशन, लॉजिकल वेन डायग्राम, अल्फाबेटिकल टेस्ट, नंबर रैंकिंग और टाइम-सिक्वेंस टेस्ट, मैथेमैटिकल्स ऑपरेशंस, अंकगणितीय रीजनिंग, डेटा इंटरप्रिटेशन, डेटा सफिसिएंशी, क्यूब्स एवं डाइस, कंस्ट्रक्शन ऑफ सिक्वेंसेज़ ऐंड ट्राएंगल्स।

सांख्यिकी (माध्यमिक स्तर): वर्गीकृत एवं अवर्गीकृत डेटा का डेटा का संग्रह, डेटा प्रस्तुतिकरण, ग्राफिकल डेटा रिप्रजेंटेशन, मेज़र ऑफ सेंट्रल टेंडेंसी, मीन, मोड, मीडियन।

गणित (माध्यमिक स्तर): प्राकृतिक, परिमेय और अपरिमेय संख्याएं, वास्तविक संख्या एवं उनका दशमलव-विस्तार, वास्तविक संख्या संबंधी ऑपरेशन, वास्तविक संख्या के लिए exponents के नियम, परिमेय संख्या एवं उनका दशमलव-विस्तार जीरोज़ ऑफ पोलिनोमियल (Zeroes of a polynomial). रिलेशनशिप बिटविन जीरोज़ ऐंड कॉफिशिऐंट्स ऑफ ए पोलिनोमियल (Relationship between zeroes and coefficients of a polynomial). डिविजन अल्गोरिथ्म फोर पोलिनोमियल (Division algorithm for polynomials). अल्जेब्राइक मेथड ऑफ सॉल्यूश ऑफ पेयर ऑफ लीनियर इक्वेशंस इन टू वैरिएबल्स (Algebraic methods of solution of pair of linear equations in two variables).

 

क्षेत्रमिति: घनाभ, घन, राइट सर्कुलर सिलिंडर, राइट सर्कुलर कोन, स्फेयर की सतह का क्षेत्रफल। घनाभ, सिलिंडर, राइट सर्कुलर कोन, स्फेयर का आयतन। एक ठोस संयोजन से दूसरी आकृति में तब्दील हुए आकार के सतह का क्षेत्रफल और आयतन।

भाषा योग्यता टेस्ट: हिंदी, इंग्लिश

 

3. समसामयिक गतिविधियां

भारत की आर्थिक योजना, 12वीं पंचवर्षीय योजना, भारत की जनगणना 2011, भारत और राजस्थान के विभिन्न विकास कार्यक्रम,  गरीबी उन्मूलन कार्यक्रम, युवा रोज़गार कार्यक्रम, राजस्थान की स्वास्थ्य और स्वच्छता योजनाएं, भारत के अंतरिक्ष कार्यक्रम, परमाणु ऊर्जा कार्यक्रम, भारत और विश्व घटनाक्रमों की महत्वता, सुर्खियों में रहने वाले भारतीय स्थान और व्यक्ति, विज्ञान और प्रौद्योगिकी में समकालीन घटनाएं, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार, नवीनतम पुस्तकें और भारतीय लेखक, खेल।

 

4. सामान्य अध्ययन

अणु और परमाणु, रासायनिक प्रतिक्रियाएं और समीकरण, कार्बन और इसके यौगिक, बल और गति, कार्य और ऊर्जा, ऊतक, नियंत्रण और समन्वय, आनुवंशिकता और विकास, प्राकृतिक संसाधनों के प्रबंधन, पर्यावरण की सुरक्षा, जैव -विविधता और सतत विकास।

 

भारतीय राज-व्यवस्था:

  • भारत के संविधान की मुख्य विशेषता, भारतीय कार्यपालिका, विधायिका और न्यायपालिका- संगठन, सिद्धांत और व्यवहार, भारत में निर्वाचन, भारत के राष्ट्रपति, निर्वाचन और राष्ट्रपति की आपातकालीन शक्तियां।
  • कैबिनेट, प्रधानमंत्री और उनकी शक्तियां।
  • संसद के अध्यक्ष और उनके कार्य।
  • भारत की नौकरशाही व्यवस्था।
  • राजनीतिक दल और उनकी भूमिका- सिद्धांत और व्यवहार।
  • उच्चतम न्यायालय- संगठन और शक्तियां, राष्ट्रीय स्तर पर आयोग और बोर्ड।

 

राजस्थान का भूगोल:

स्थान, विस्तार, आकृति, आकार, भौतिक जलवायु सुविधाएं, भौगोलिक विशेषताएं, कृषि, खनिज संसाधन, ऊर्जा संसाधन, पर्यटन और परिवहन, उद्योग और व्यापार।

 

5. शैक्षिक प्रबंधन, राजस्थान में शैक्षिक परिदृश्य, शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009

संकल्पना और शैक्षिक प्रबंधन के फंक्शन, राजस्थान में शैक्षिक प्रबंधन, स्कूल एक विकेन्द्रीकृत नियोजन इकाई के रूप में, शैक्षिक प्रबंधन सूचना प्रणाली (EMIS), संस्थागत नियोजन, स्कूल मैपिंग, ब्लॉक संसाधन केन्द्र (BRC), स्कूल प्रबंधन समिति (SMC), शिक्षा के लिए जिला सूचना प्रणाली (DISE),  सर्व शिक्षा अभियान (SSA), राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान (RMSA), राजस्थान में प्राथमिक और माध्यमिक शैक्षिक स्तर के संगठन, RIE, SIERT , BSER , IASE, CTE, DIET की भूमिका, बालिका शिक्षा फाउंडेशन, कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय, राजस्थान पाठ्य पुस्तक बोर्ड, भारत स्काउट और गाइड के कार्य। राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूल, सैनिक स्कूल, पब्लिक स्कूल, मॉडल स्कूल, ई-मित्र, ई-गवर्नेंस, राजशिक्षा, एजुसैट, ज्ञानदर्शन, ज्ञानवाणी। बच्चों के अधिकार के लिए प्रावधानों को मुफ्त और अनिवार्य शिक्षा का अधिकार अधिनियम, 2009

 

RPSC ग्रेड-1 टीचर सिलेबस: पेपर-2

दूसरे पेपर के लिए आपको कोई एक विशेष विषय चुनना पड़ेगा। इस प्रश्न-पत्र में 150 प्रश्न होंगे। RPSC पेपर-1 की ही तरह इसमें भी ऑब्जेक्टिव प्रश्न ही होंगे।

सेक्शन

विषय

प्रश्न

अंक

1.

विषय संबंधी ज्ञानसीनियर सेकेंड्री स्तर

55

110

2.

विषय संबंधी ज्ञानस्नातक स्तर

55

110

3.

विषय संबंधी ज्ञानस्नातकोत्तर स्तर

10

20

4.

शैक्षिक मनोविज्ञान, शिक्षा शास्त्र, शिक्षण अधिगम सामग्री, कंप्यूटर के उपयोग और शिक्षण अधिगम में सूचना प्रौद्योगिकी

30

60

कुल

150

300

RPSC ग्रेड-1 स्तर के लेक्चरर पद के पेपर-2 की परीक्षा के लिए 150 मिनट का समय निर्धारित किया गया है। नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक कर अपने विषय से संबंधित सिलेबस को विस्तार से देख सकते हैं:

हमें उम्मीद है अब आप RPSC ग्रेड-1 स्तर के शिक्षक परीक्षा के सिलेबस को समझ गए होंगे। यदि अभी भी आपके मन में कोई संशय है, तो हमें बताएं।

2 REPLIES

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.