X

RRB ग्रुप डी परीक्षा 2018: जानें अरुण कुमार ने कैसे अपना स्कोर 33.87 से 64.29 सुधारा

RRB ग्रुप डी परीक्षा 2018: जानें अरुण कुमार ने कैसे अपना स्कोर 33.87 से 64.29 सुधारा: रेलवे की लगभग 63 हजार ग्रुप-D की बंपर वैकेंसी के लिए रेलवे ने आधिकारिक ऑफिसियल पैटर्न जारी कर दिया गया है और रेलवे ग्रुप डी परीक्षा (17 सितम्बर) घोषित कर दिया है। ग्रुप डी में चयन के लिए दो परीक्षा-पहली परीक्षा सीबीटी यानी कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट होगा और दूसरी परीक्षा पीईटी यानी फिजिकल एफिशियंसी टेस्ट होगा। दोनों परीक्षा पास करने वाला अभ्यर्थी ही चयन के लिये मान्य होंगे।

कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट का मतलब है यह परीक्षा कंप्यूटर पर होगी। तो उम्मीदवारों को इसकी तैयारी भी ऑनलाइन ही करनी होगी। आपको बता दें कि रेलवे ग्रुप डी ऑनलाइन परीक्षा के तहत सॉफ्टवेयर से कंप्यूटर की स्क्रीन पर 100 प्रश्न पूछे जायेंगे जिन्हें उम्मीदवारों को 1 घंटे में हल करना होगा। इसमे माइनस मार्किंग नियम लागू होगा यानी प्रत्येक गलत उत्तर के लिए एक तिहाई अंक काटे जाएंगे।

RRB ग्रुप डी परीक्षा 2018: जानें अरुण कुमार ने कैसे अपना स्कोर 33.87 से 64.29 सुधारा !

हमें यह सूचित करते हुए अत्यंत प्रसन्नता हो रही है कि रेलवे ग्रुप डी परीक्षा के लाखों उम्मीदवारों ने OnlineTyari प्लेटफॉर्म पर ग्रुप डी मॉक टेस्ट सीरीज से अपनी तैयारी को सुधारा है। जिसमें से हम आज आपके सामने अरुण कुमार की कहानी साझा कर रहे हैं जिन्होंने मॉक टेस्ट से प्रयास कर अपने परीक्षा के लिए अपने स्कोर (33.87 से 64.29 अंक) उल्लेखनीय सुधार किया है। नीचे आप उनके द्वारा खुद में किये गए सुधार ग्राफ को देख सकते हैं-

इस ग्राफ द्वारा ग्रुप डी परीक्षा में सम्मिलित होने वाले सभी उम्मीदवार अरुण कुमार साहू द्वारा RRB ग्रुप डी मॉक टेस्ट प्रैक्टिस से हुए बढ़ते सुधार को देख और समझ सकते हैं।

जैसा कि आप उपर्युक्त छवि में देख सकते हैं, उनके द्वारा अटेम्प्ट किये गए पहले टेस्ट में उन्होंने 33.87 स्कोर अर्जित किया जो निरंतर अन्य प्रयास में बढ़ता ही गया और 8वें टेस्ट प्रयास में उन्होंने 64.29 स्कोर हासिल किया। अरुण का अपनी परीक्षा के लिए सुधार अभी भी जारी है। और आशा है कि इस सुधारात्मक प्रयास से वह परीक्षा में भी अपना बेहतर देकर निश्चित ही सफलता प्राप्त करेंगे।

OnlineTyari प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध RRB ग्रुप डी परीक्षा के लिए उपलब्ध यदि आंकड़ों की बात करें तो यह रुझान एकदम स्पष्ट रूप से दीखता है कि अधिकतम मॉक टेस्ट में शामिल होने वाले उम्मीदवारों ने अपने स्कोर में सराहनीय सुधार किया है। ऐसे सभी RRB ग्रुप डी परीक्षा के उम्मीदवार जिन्होंने OnlineTyari के प्लेटफॉर्म पर 15 मॉक टेस्ट अटेम्प्ट किएं, उनके स्कोर में 30-35% की सामान्य वृद्धि दर्ज हुई है।

अगर आप भी ग्रुप डी परीक्षा की तैयारी के लिए अपने स्कोर में सुधार करना चाहते हैं तो आप भी अरुण कुमार की तरफ अपने स्कोर में सुधार कर ग्रुप डी परीक्षा 2018 में अपनी एक सीट पक्की कर रेलवे में सरकारी नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।

तो अब समस्या किस बात की है, अभी OnlineTyari प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध लेटेस्ट ऑफिसियल पैटर्न पर अनुभवी विषय एवं परीक्षा विशेषज्ञों द्वारा परीक्षा पाठ्यक्रम और परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों के कठिनाई स्तर के अनुरूप निर्मित किए गए मॉक टेस्ट से वास्तविक परीक्षा में सफलता के लिए खुद को तैयार करे। याद रखें- प्रैक्टिस ही आपको सफलता की तरफ ले जाती है और परीक्षा समय प्रबंधन से आप सफल बन पाते हैं।

मॉक टेस्ट सीरीज टेस्ट्स की संख्या अटेम्प्ट करने के लिए लिंक
लेटेस्ट ऑफिसियल पैटर्न आधारित 15 क्लिक कर टेस्ट दें
सेक्शनल 8 क्लिक कर टेस्ट दें
विगत वर्ष के प्रश्नपत्र (Previous year Paper) 10 क्लिक कर टेस्ट दें
प्रैक्टिस सेट (Practice Sets) 50 क्लिक कर टेस्ट दें
कुल 83

यहाँ हम आपको यह बताने की प्रयास कर रहे हैं कि आपको उपरोक्त मॉक टेस्ट से क्यों प्रयास करना चाहिए-

क्यों जरुरी है मॉक टेस्ट (CBT) में सम्मिलित होना

  1. मॉक परीक्षा के टॉपर्स वास्तविक परीक्षा में भी उच्च स्कोर करते हैं: मॉक टेस्ट में लगातार अच्छा प्रदर्शन करने वाले छात्र वास्तविक परीक्षा में भी उच्च स्कोर करते हैं। क्योंकि वह प्रश्नों की प्रकृति और समय प्रबंधन के दबाव में अधिकतम प्रश्नों को हल करने की कला सिख लेते हैं और वह प्रश्न देखते ही प्रश्न हल करने और हल न करने का का निर्णय लेकर काफी समय बचा पाते हैं और उस समय में अन्य प्रश्न हल कर सामान्य उम्मीदवारों से अधिकतम स्कोर कर पाते हैं।
  2. हजारों गंभीर परीक्षार्थियों के साथ प्रतिस्पर्धा: आपने सही पढ़ा।  प्रति मॉक टेस्ट में हजारों गंभीर परीक्षार्थी सम्मिलित होते हैं। इससे छात्र अपना मूल्यांकन हजारों छात्रों के बीच कर अपने तैयारी स्तर को जान सकता है। यदि आप मॉक टेस्ट में अच्छा स्कोर करने में सफल होते हैं तो आप अवश्य ही वास्तविक परीक्षा में भी अधिकतम स्कोर करने में सफल होंगे।
  3. मॉक टेस्ट अनुभवी परीक्षा विशेषज्ञों द्वारा निर्मित: सभी मॉक टेस्ट प्रतियोगी परीक्षा के अनुभवी विषय विशेषज्ञों  द्वारा निर्मित किया जाता है। अतः सभी मॉक टेस्ट वास्तविक परीक्षा के पैटर्न, पाठ्यक्रम और समकक्ष कठिनाई स्तर के अनुरूप निर्मित होता है। इसलिए, छात्र आश्वस्त रहें और परीक्षा में अवश्य प्रतिभाग करें और वास्तविक परीक्षा का अनुभव प्राप्त करें।
  4. वास्तविक परीक्षा के अनुरूप अभ्यास करें, स्पीड बढ़ाएं और सफल हो जाएं: ‘मॉक टेस्ट’ में अच्छा प्रदर्शन करना निश्चित रूप से आपको आत्मबल प्रदान कर आपके मनोबल को बढ़ाएगा। आपको परीक्षा के लिए एकदम सटीक रणनीति तैयार करने में मदद करेगा। और बार-बार के अभ्यास से आपकी प्रश्नों को हल करने की गति भी बढ़ेगी। गति बढ़ने से आप कम समय में प्रश्नों को हल कर अपनी सफलता की तरफ बढ़ सकेंगे और आपकी सफलता निश्चित सी हो जाएगी।
  5. समय प्रबंधन: किसी भी प्रतियोगी परीक्षा में, समय प्रबंधन सबसे अधिक बड़ा कारक होता है क्योंकि आपको अधिक प्रश्नों को हल करने के लिए कम समय मिलेगा। तो आप वास्तविक परीक्षा से पहले समय प्रबंधन और अपनी गति बढ़ाने के लिए मॉक टेस्ट सीरीज़ का अभ्यास कर सकते हैं।
TyariPlus जॉइन करें !
अपनी आगामी सभी परीक्षाओं की तैयारी के लिए अब सिर्फ TyariPlus की सदस्यता लें और वर्ष भर अपनी तैयारी जारी रखें-
TyariPLUS सदस्यता के फायदे
  • विस्तृत परफॉरमेंस रिपोर्ट
  • विशेषज्ञों द्वारा नि: शुल्क परामर्श
  • मुफ्त मासिक करेंट अफेयर डाइजेस्ट
  • विज्ञापन-मुक्त अनुभव और भी बहुत कुछ

परीक्षा के लिए आवेदन करने वाले सभी उम्मीदवार अपनी परीक्षा के लिए तैयारी जारी रखें और मॉक टेस्ट से अपनी तैयारी को जांचते रहें। अनलिमिटेड मॉक टेस्ट से अभ्यास करने के लिए अभी TyariPLUS जॉइन करें।

इसके अलावा आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि कंप्यूटर आधारित (ऑनलाइन) मॉक टेस्ट सीरीज़ का अभ्यास करना कितना लाभकारी सिद्ध होता है जिसके कुछ प्रमुख बिंदु इस प्रकार हैं:

  • यह परीक्षा में आपकी आपकी गति बढ़ाने में मददगार साबित होगा।
  • अच्छे अंक प्राप्त करने में सहायक।
  • मोबाइल ऐप और डेस्टॉप पर आसानी से उपलब्ध है।
  • यह आपको अपने कमजोर क्षेत्रों को खोजने में मदद करता है।
  • समाधान के साथ तुरंत रिज़ल्ट प्राप्त होता है।
  • हजारों अन्य छात्रों के साथ प्रतिस्पर्धा करने का अवसर मिलता है।
  • ये प्रैक्टिस टेस्ट सीरीज़ (मॉक टेस्ट्स) आपके आत्मविश्वास के स्तर को बढ़ाएगी और परीक्षा के लिए आपके आत्मविश्वास को भी बढ़ाएगी।

अगर आप को यह लेख पसंद आया हो तो इसे लाइक करें, शेयर करें और कमेंट करना न भूलें।

RRB ग्रुप डी परीक्षा सम्बन्धी समस्त जानकारियों के लिए हमसे जुड़े रहें। रेलवे की परीक्षाओं में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए सर्वश्रेष्ठ रेलवे परीक्षा तैयारी ऐप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Ajay K. Tripathi :
© 2010-2018 Next Door Learning Solutions