RRB NTPC मुख्य परीक्षा विश्लेषण (18 जनवरी): शिफ्ट-III

RRB NTPC मुख्य परीक्षा विश्लेषण (18 जनवरी 2017): रेलवे भर्ती बोर्ड द्वारा, मार्च और अप्रैल के महीने में, 18252 पदों पर गैर-तकनीकी उम्मीदवारों की भर्ती के लिए कंप्यूटर-आधारित परीक्षा का आयोजन किया गया था। परिणामस्वरूप, वर्ष 2016 में आयोजित RRB NTPC चरण-I परीक्षा के लिए लाखों उम्मीदवार उपस्थित हुए, जिसने देश की सर्वाधिक लोकप्रिय सरकारी परीक्षाओं के रिकॉर्ड को तोड़ दिया।

इस लेख में, 18 जनवरी 2018 को आयोजित परीक्षा से संबंधित परीक्षा विश्लेषण पर चर्चा करने से पहले 18 जनवरी 2018 को तीनों शिफ्ट्स में आयोजित परीक्षा के विस्तृत परीक्षा विश्लेषण को पढ़ें।

आइये अब हम 18 जनवरी 2018 को पहली शिफ्ट में आयोजित परीक्षा के सेक्शन-वाइज़ विश्लेषण पर नज़र डालते हैं।

RRB NTPC मुख्य परीक्षा विश्लेषण (18 जनवरी 2017)

तो, आइये, RRB NTPC मुख्य परीक्षा के परीक्षा पैटर्न के साथ शुरुआत करते हैं। RRB NTPC मुख्य परीक्षा में जनरल इंटेलीजेंस, क्वॉन्टिटेटिव एप्टीट्यूड और जनरल अवेयरनेस पर आधारित मिश्रित प्रश्न थे। अब, आइये, RRB NTPC मुख्य परीक्षा के विश्लेषण की ओर रुख करते हैं। इसके साथ-साथ, हम प्रत्येक सेक्शन के अंत में, विभिन्न कारकों के आधार पर सबसे सफलतम प्रयासों के गणना भी करेंगे। तो, आइये, ओवरऑल कठिनाई स्तर पर चर्चा से प्रारंभ करते हैं।

RRB NTPC चरण मुख्य परीक्षा/ द्वितीय चरण
परीक्षा का मोड़ ऑनलाइन
प्रश्नों की संख्या 120
नेगेटिव मार्किंग 0.33
परीक्षा अवधि 90 मिनट
परीक्षा की तिथि/शिफ्ट 18 जनवरी/ 04.00 PM से 05.30 PM

आइये परीक्षा के ओवरऑल कठिनाई स्तर के बारे में बात करने से शुरूआत करते हैं। कुल मिलाकर, प्रश्नपत्र का कठिनाई स्तर मध्यम था, जो कि भर्ती परीक्षा का दूसरा चरण होते हुए, स्वाभाविक भी था।

RRB NTPC मुख्य परीक्षा विश्लेषण (18 जनवरी): जनरल अवेयरनेस (शिफ्ट-III)

जनरल अवेयरनेस के अधिकतर प्रश्न करेंट अफेयर्स से संबंधित थे। कोई भी उम्मीदवार, जो पिछले 2-3 महीनों के समाचारों से अवगत रहा होगा, वो इस सेक्शन में अच्छा स्कोर करेगा।

जनरल अवेयरनेस सेक्शन में सफलतम प्रयासों की कुल संख्या सटीकता के साथ 40-45 के मध्य होगी। आज की परीक्षा में जनरल अवेयरनेस सेक्शन का कठिनाई स्तर मध्यम श्रेणी का था।

RRB NTPC मुख्य परीक्षा विश्लेषण (18 जनवरी): जनरल इंटेलीजेंस/ रीजनिंग (शिफ्ट-III)

जनरल इंटेलीजेंस सेक्शन हल करने के उद्देश्य से सरल था और इसलिए इस सेक्शन को हल करके अधिकतम अंक प्राप्त किए जा सकते थे। अधिकतर प्रश्न लॉजिकल रीज़निंग, एनॉलागी और सिटिंग अरेंजमेंट्स से संबंधित थे। अब अगर ओवरऑल कठिनाई स्तर की बात करें तो कठिनाई स्तर सरल से मध्यम श्रेणी का था।

जनरल इंटेलिजेंस सेक्शन में सफलतम प्रयासों की कुल संख्या, सटीकता के साथ 25-27 के मध्य होगी।

RRB NTPC मुख्य परीक्षा विश्लेषण (18 जनवरी):  क्वॉन्टिटेटिव एप्टीट्यूड

क्वॉन्टिटेटिव एप्टीट्यूड को लगभग सभी उम्मीदवारों द्वारा बहुत कठिन माना जाता है। कुछ उम्मीदवारों को यह सेक्शन कठिन लगा। शुक्र है कि आज की परीक्षा में क्वॉन्टिटेटिव एप्टीट्यूड सेक्शन का कठिनाई स्तर सरल से मध्यम था।

क्वॉन्टिटेटिव एप्टीट्यूड सेक्शन में सफलतम प्रयासों की कुल संख्या, सटीकता के साथ 25-28 के मध्य होगी।

यहां हम अपने इस लेख को समाप्त करते हैं। वे सभी उम्मीदवार जो अभी परीक्षा में उपस्थित होने वाले हैं, आगे बढिए और NTPC चरण 2 परीक्षा के लिए इन मॉक टेस्ट पेपर्स में से किसी का भी अभ्यास कीजिये।

यह सुनिश्चित कर लें कि आपने मुख्य परीक्षा में उपस्थित होने से पहले, ऊपर दिए गये RRB NTPC मॉक टेस्ट पेपर्स में से किसी भी एक का अभ्यास कर लिया है।

RRB NTPC Mock Test

आप हमारी विशेष मॉक टेस्ट सीरीज में पूछे गये प्रश्नों की एक विस्तृत श्रृंखला का अभ्यास करके अभी भी अपने स्कोर में बेहतर तरीके से सुधार कर सकते हैं।

कुछ सैंपल प्रश्नों का अभ्यास करने के लिए यहां क्लिक करें

आप नीचे दिए गये कॉमेंट सेक्शन में लाइव डिस्कशन में भी शामिल हो सकते हैं। आप आज के प्रश्नपत्र, इसके कठिनाई स्तर की समीक्षा भी प्रदान कर सकते हैं और यहां तक कि परीक्षा में पूछे गये प्रश्नों को भी साझा कर सकते हैं।

हम यहां, आपके प्रश्नों को उत्तर देने के लिए उपस्थित हैं।

तब तक, RRB NTPC भर्ती परीक्षा के संबंध में और अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़े रहें। रेलवे परीक्षाओं में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए, सर्वश्रेष्ठ RRB परीक्षा तैयारी ऐप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Best Exam Preparation App OnlineTyari

अगर अभी भी आपके मन में किसी प्रकार की कोई शंका या कोई प्रश्न है तो कृपया नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में उसका ज़िक्र करें और बेहतर प्रतिक्रिया के लिए OnlineTyari Community पर अपने प्रश्नों को हमसे साझा करें।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.