SBI PO प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए स्टडी प्लान: सेक्शन-वाइज रणनीति

0
4119
SBI PO प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए स्टडी प्लान: सेक्शन-वाइज रणनीति

SBI PO प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए स्टडी प्लान: भारतीय स्टेट बैंक, भारत के सबसे पुराने और सबसे विश्वसनीय बैंकों में से एक है। भारतीय स्टेट बैंक में नौकरी प्राप्त करना मानो, एक सपने के सच होने की तरह है। SBI द्वारा परिवीक्षाधीन अधिकारी (PO) की भर्ती के लिए राष्ट्रीय स्तर पर भर्ती परीक्षा का आयोजन किया जाता है। ऑनलाइन परीक्षा में दो चरण शामिल होते हैं अर्थात प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा। SBI PO भर्ती 2018 के बारे में बात करें, तो भारतीय स्टेट बैंक में विभिन्न शाखाओं में परिवीक्षाधीन अधिकारी के पद के लिए कुल 2000 रिक्त पद हैं।

आपने नवीनतम परीक्षा पैटर्न अनुरूप तैयारी शुरू की ?
क्या आप इस वर्ष SBI PO परीक्षा 2018 में सम्मिलित हो रहे हैं? तो क्या आपने अपनी तैयारी शुरू कर दी है? क्या आपको पता है की आपको अब अपनी तैयारी रणनीति में थोड़ा परिवर्तन करना होगा, क्योंकि इस वर्ष SBI PO परीक्षा बदले हुए परीक्षा पैटर्न में आयोजित की जायेगी? बदले हुए परीक्षा पैटर्न में आने वाले प्रश्न पत्र का अभ्यास करने के लिए OnlineTyari द्वारा नवीनतम पैटर्न के अनुरूप विषय विशेषज्ञों द्वारा निर्मित अभ्यास सम्पूर्ण प्रश्न पत्र से अपनी तैयारी को जांचे !

आपमें से बहुत से उम्मीदवारों ने 1 जुलाई, 2018 से आयोजित होने वाली इस परीक्षा के लिए आवेदन किया होगा। हम OnlineTyari, आपके लिए परीक्षा के महत्त्व को अच्छी तरह से समझते हैं। यह तैयारी प्रारंभ करने का  सही समय है। यही कारण है कि हमने शेष बचे दिनों के लिए SBI PO प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए एक उचित स्टडी प्लान तैयार किया है।

 

SBI PO प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए परीक्षा पैटर्न और संरचना

तो, आइये, सबसे पहले इस वर्ष के लिए SBI PO प्रारंभिक परीक्षा का परीक्षा पैटर्न देखते हैं। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने इस साल SBI PO परीक्षा पैटर्न में कुछ बड़े बदलाव किए हैं। पहली बार, भारतीय स्टेट बैंक ने SBI PO परीक्षा 2018 में सेक्शनल टाइम का उल्लेख किया है, आइये नए परीक्षा पैटर्न पर एक नज़र डालते हैं:

क्रम.संख्या विषय  प्रश्नों की संख्या  अंक समय-सीमा
1 इंग्लिश भाषा 30 30 20 मिनट
2 न्यूमेरिकल एबिलिटी 35 35 20 मिनट
3 रीज़निंग एबिलिटी 35 35 20 मिनट
कुल 100 100 1 घंटा

परीक्षा पैटर्न में किए गए परिवर्तनों के कुछ मुख्य प्वाइंट्स नीचे दिए गए हैं :

  • प्रत्येक टेस्ट में सेक्शन को हल करने के लिए एक अलग समय होगा (20 मिनट)।
  • इसके अलावा, कोई भी सेक्शनल नहीं होगी।
  • मुख्य परीक्षा के लिए उम्मीदवारों का चयन Decending Order में प्राप्त किए गए अंकों के आधार पर बैंक द्वारा तय प्रत्येक श्रेणी के उम्मीदवारों की संख्या के आधार पर किया जाएगा।

प्रत्येक श्रेणी के लिए, SBI द्वारा निर्धारित विशिष्ट आवश्यकताओं को पूरा करने वाले, चयनित उम्मीदवारों को ही SBI PO मुख्य परीक्षा में उपस्थित होने की अनुमति दी जायेगी।

SBI PO प्रारंभिक परीक्षा 2018 में सुरक्षित स्कोर कैसे प्राप्त करें?

हमारा मानना है कि इस प्रश्न का केवल यही उत्तर है कि आपको परीक्षा के लिए सही तरीके से तैयारी करने के लिए अपने समय को ठीक से व्यवस्थित करने की आवश्यकता है। आपकी तैयारी को एक सही दिशा में ले जाने के लिए, नीचे एक साप्ताहिक तैयारी चार्ट दिया गया है। यह सुनिश्चित कर लें कि आपने सभी टॉपिक्स का रिविजन कर लिया है और आप नियमित रूप से बार-बार उनका अभ्यास भी कर रहे हैं। आप जिस भी समय अपनी तैयारी प्रारंभ करें, प्रारंभिक चरण में निम्नलिखित घंटे समर्पित करें। इस सारणी की सहायता से, SBI PO परीक्षा 2018 आपके लिए बहुत ही आसान हो जायेगी, बशर्ते आप दिन के लगभग 10 घंटे समर्पित करें। नीचे दी गयी सारणी को देखें और उसी के अनुसार अपना  समय आवंटित करें।

दिन  इंग्लिश भाषा  रीजनिंग एबिलिटी क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड  
रविवार  2.5-3.5 घंटे  3-4 घंटे  3.5-4.5 घंटे
सोमवार  2.5-3.5 घंटे  3-4 घंटे  3.5-4.5 घंटे
मंगलवार  2.5-3.5 घंटे  3-4 घंटे  3.5-4.5 घंटे
बुधवार  2.5-3.5 घंटे  3-4 घंटे  3.5-4.5 घंटे
बृहस्पतिवार  2.5-3.5 घंटे  3-4 घंटे  3.5-4.5 घंटे
शुक्रवार  2.5-3.5 घंटे  3-4 घंटे  3.5-4.5 घंटे
शनिवार  2.5-3.5 घंटे  3-4 घंटे  3.5-4.5 घंटे

SBI PO प्रारंभिक परीक्षा की प्रभावी रूप से तैयारी करने के लिए स्वयं को इस सारणी के साथ जोड़ लें । अब, आइये,  आगे बढ़ते हैं और सेक्शन-वाइज रणनीति को देखते हैं।

SBI PO प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए स्टडी प्लान: सेक्शन-वाइज रणनीति

प्रतिवर्ष लाखों उम्मीदवार SBI PO की प्रारंभिक परीक्षा के लिए बैठते हैं और उनमें से इस वर्ष लगभग 20,000 उम्मीदवार मुख्य परीक्षा के लिए चयनित होंगे। उम्मीदवार इस बात से अंदाजा लगा सकते हैं कि परीक्षा में सफलता के लिए उन्हें कितने परिश्रम की जरुरत है। आइए अब हम सेक्शनवाइज रणनीति की तरफ बढ़ते हैं। आम तौर पर, हिंदी भाषा उम्मीदवार अंग्रेजी से भयभीत रहते हैं अतः हमारे विश्लेषण का पहला सेक्शन इंग्लिश भाषा है।

SBI PO प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए स्टडी प्लान: इंग्लिश भाषा

नीचे कुछ टॉपिक्स की सूची दी गयी है जो कि हमारे अनुसार इस परीक्षा के लिए महत्वपूर्ण हैं। टॉपिक्स के साथ प्रश्नों की संभावित संख्या और संभावित कठिनाई स्तर भी दिया गया है।

टॉपिक्स प्रश्नों की संभावित संख्या  कठिनाई स्तर
रीडिंग कॉम्प्रिहेंशन  10  मध्यम
क्लोज़ टेस्ट  5 सरल
स्पॉटिंग द एरर  5 मध्यम-कठिन
जम्बल्ड सेंटेंसेज/पैराग्राफ  5 मध्यम
विविध  5 कठिन

कई बार, अभ्यास के अभाव में, उम्मीदवार कुछ टॉपिक्स को अनछुआ छोड़ देते हैं। आपको यह न करने की सलाह दी जाती है और इंग्लिश भाषा सेक्शन का अभ्यास करने के लिए समय देने की सलाह दी जाती है क्योंकि यह आपको अच्छे अंक प्राप्त करने में सहायता करेगा। हमेशा सेंटेंस को ध्यानपूर्वक पढ़ें और इसका अर्थ निकालने का प्रयास करें। सेंटेंस को दो भागों में विभाजित करें और कनेक्टिव ज्ञात करके सेंटेंस को सही करके उसे फिर से जोड़ दें। यदि किसी प्रश्न को हल करने में अधिक समय लग रहा है, तो इसे कुछ समय के लिए छोड़ दें और अगला प्रश्न हल करें। SBI PO के इंग्लिश भाषा सेक्शन को ऊपर दी गयी जानकारी के अनुसार तैयार करें।

यहां हम कुछ उपयोगी सुझाव प्रस्तुत कर रहे हैं जिनसे प्रश्नों को हल करने में अभ्यर्थियों कि मदद होगी-

  • सबसे पहले, आपको व्याकरण के नियम याद देखें और शब्दकोष पर ध्यान दें। हालांकि, आपको पिछले वर्ष के पेपर हल करने के बाद सभी व्याकरण के नियमों को जानने की ज़रूरत नहीं होगी, आप आसानी से यह समझ सकते हैं कि SBI परीक्षा में किस तरह के सवाल पूछे जा रहे हैं और आपको किस टॉपिक पर अधिक ध्यान देने की जरुरत है।
  • SBI PO लेवल परीक्षा की स्मार्ट तैयारी के लिए, विगत वर्षों के प्रश्नपत्र, परीक्षा संभावित मॉक टेस्ट को प्राप्त कर उनका दैनिक अभ्यास करना सबसे अच्छा तरीका होगा।
  • जब आप विगत वर्ष के प्रश्न पत्र और मॉडल पेपर हल करेंगे तो अपने द्वारा की जा रही गलतियों को समझ पाएंगे और उनमें सुधार करने में आपको मदद मिलेगी। इससे आपको अंग्रेजी भाषा सेक्शन में अपने प्रदर्शन को सुधारने में मदद मिलेगी और आप अधिक प्रश्नों को हल करने में सक्षम हो जायेंगे।
  • इससे आप अंग्रेजी भाषा में अपने कमजोर पक्षों के विषय में भी अवगत हो जायेंगे और उन्हें व्याकरण की किताबों से समझ विकसित कर मजबूत कर पाएंगें। ऐसे पक्षों पर अधिक समय देकर उनसे सम्बंधित प्रश्न हल करें फिर आपका आत्मविश्वास अपने आप अंग्रेजी भाषा में बढ़ जायेगा।
  • प्रत्येक दिन SBI PO अंग्रेजी भाषा के लिए नियमित अभ्यास करें और इस समय अपनी रणनीति के तहत इस पर कम-से-कम 3 घंटे समर्पित करें।

SBI PO प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए स्टडी प्लान: रीजनिंग एबिलिटी

रीजनिंग सेक्शन के लिए तैयारी करते समय सबसे अच्छी बात यह होती है कि इसे कॉमन सेंस का प्रयोग करके हल किया जा सकता है (वास्तव में, यह इतना भी कॉमन नहीं होता है)। इन प्रश्नों को हल करने के लिए आपका बुद्धि तत्परता ही काफी होती है और इस सेक्शन में अच्छा स्कोर कर सकते हैं, जिसके परिणामस्वरूप आप परीक्षा में ओवरऑल कटऑफ को भी पार कर सकते हैं। कॉन्सेप्ट्स का निर्माण और प्रश्नों को हल करते समय, कोई समय सीमा और दबाव नहीं होना चाहिए। नीचे कुछ टॉपिक्स की सूची दी गयी है जो कि हमारे अनुसार इस परीक्षा के लिए महत्त्वपूर्ण हैं।

टॉपिक्स

प्रश्नों की संभावित संख्या कठिनाई स्तर
ब्लड रिलेशन  1-2 मध्यम
कोडिंग-डिकोडिंग  2-3 सरल
मैथमेटिकल ऑपरेशन  2-3 मध्यम-कठिन
डायरेक्शन बेस्ड  2-3 मध्यम
इनइक्वलिटीज 3-5 मध्यम
सीटिंग अरेंजमेंट 5-10 सरल
कॉम्प्लेक्स अरेंजमेंट और पज़ल टेस्ट 5-10 सरल
लॉजिकल स्टेटमेंट और सिलॉगिज्म 3 सरल

रीजनिंग के कुछ प्रश्न सरल होते हैं और कुछ कठिन प्रकृति के होते हैं। कुछ प्रश्न लम्बे और उलझाऊ प्रकृति के होते हैं। आपको सबसे पहले सरल और फिर कठिन प्रश्नों को हल करना चाहिए पर उलझाऊ और लम्बे प्रश्नों को हल करने से बचना चाहिए उन्हें तभी हल करें यदि आपके पास उपयुक्त समय हो। यह ध्यान रखें कि आप को इस भाग को 20 मिनट से पहले हल करने का अभ्यास करना होगा।

आप दिशाओं की समझ, रक्त संबंध, क्रम और रैंकिंग संबंधी समस्याएं डाटा पर्याप्तता, कोडिंग और डीकोडिंग और सीटिंग व्यवस्था को इसी क्रम में हल करें। सबसे अंत में पजल हल करें। पजल जैसे उलझाऊ प्रश्नों को हल करने से बचे। रीजनिंग के प्रश्नों को हल करते समय आप सरलता से कठिनाई की तरफ बढ़ें।

कथन(स्टेटमेंट) आधारित प्रश्नों को हल करते समय आप कथन के अनुरूप ही उत्तर दें और उसमें अपने आप से कुछ भी अन्य न जोड़े। कथन को ही सर्वथा सत्य मान कर चलें और अपना उत्तर दें। इसका उत्तर देते समय कोई भी 100 फ़ीसद उत्तर के प्रति निश्चित नहीं हो सकता लेकिन निरंतर अभ्यास से आप अपने निर्णय में होने वाली गलतियों को कम कर सकते हैं।

SBI PO प्रारंभिक परीक्षा 2018 के लिए स्टडी प्लान: क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड

उम्मीदवारों को कुल हल किये गये प्रश्नों में 80% सटीकता का लक्ष्य बनाना चाहिए। नीचे कुछ टॉपिक्स की सूची दी गयी है जो कि हमारे अनुसार इस परीक्षा के लिए महत्त्वपूर्ण हैं।

टॉपिक्स   प्रश्नों की संभावित संख्या कठिनाई स्तर
सरलीकरण  5 कठिन
संख्या श्रंखला  5 सरल
समय, चाल और दूरी  3 मध्यम-कठिन
कार्य और समय  1-2 मध्यम
प्रतिशत 1-2 कठिन
औसत 1-2 सरल
लाभ और हानि 1-2 सरल
अनुपात और समानुपात 1-2 सरल
भागीदारी 1-2 सरल
नाव और धारा 1-2 सरल
पाइप और सिस्टर्न 1-2 सरल
संख्या पद्धति (ल.स.प. और म.स.प., अंतिम अंक, फैक्टर और फैक्टरेलियल्स, विभाज्यता नियम, संख्याओं के गुण) 1-3 सरल
डाटा इंटरप्रिटेशन 12-15 सरल

इस सेक्शन में अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए गति, नियंत्रण और सटीकता तीन महत्त्वपूर्ण तत्व होते हैं।  पिछले वर्षों के प्रश्नपत्रों का अधिक से अधिक अभ्यास करना, SBI PO प्रारंभिक परीक्षा में सफल होने के आपके अवसरों को बढ़ाएगा।

सबसे पहले आपको यह जानना होगा कि आप कौन से टॉपिक पर सहज हैं और किस टॉपिक्स पर आपकी पकड़ कम है। आपको यह भी समझना होगा कि परीक्षा के प्रश्नों की कठिनाई का स्तर क्या है।  इस खंड में उम्मीदवारों के गणित ज्ञान से ज्यादा महत्त्व उनके द्वरा तेजी से प्रश्नों का उत्तर दिए जाने से होता है। इसमें आप प्रति प्रश्न के लिए निश्चित हो कर उत्तर देते हैं और यह स्कोरिंग करने वाला खंड भी है। सबसे पहले आप सरलीकरण, द्विघात समीकरण, संख्या श्रृंखला, डेटा इंटरप्रिटेशन (बार ग्राफ़ और रेखा) के प्रश्नों को हल करें। यहाँ हमारे द्वारा बताए गए टिप्स का पालन कर आप परीक्षा में अधिक अंक हासिल कर सकते हैं।

      • इस खंड को समय पर पूरा करने और सही जवाब देने के लिए गति और सटीकता बहुत महत्त्वपूर्ण हैं।
      • आसान श्रेणी के प्रश्नों को पहले हल करने का प्रयास करें जैसे कि सरलीकरण, समस्याएं, उम्र, प्रतिशत, औसत, सरल ब्याज, लाभ और हानि, अनुपात और अनुपात आदि।
      • प्रत्येक विषय के पास अपने प्रश्नों का उत्तर देने का अपना अनूठा और शॉर्टकट्स तरीका है  जो गति को बेहतर बनाने के लिए अभ्यास करते समय सीखा जाना चाहिए। 
      • प्रश्न को हल करते समय सबसे पहले शार्ट-कट तरीका ही अपनाया जाना चाहिए, पर आपका फार्मूला और सम्बंधित अवधारणा स्पष्ट होनी चाहिए।
      • आपकी गति भी इस बात पर निर्भर करती है कि आप प्रत्येक सवाल को कितनी अच्छी तरह जानते हैं, इसलिए जिन सवालों पर आप विशेष रूप से अच्छे नहीं हैं उन पर ध्यान दें। अगर आप परीक्षा तक कुछ टॉपिक पर सहज नहीं हो पाते तो आप उन्हें परीक्षा में हल करने का प्रयास न करें, क्योंकि इससे सिर्फ समय कि बर्बादी होगी। आप उसमें उलझ भी सकते हैं। जो एकदम निरर्थक होगा

अनुभाग (सेक्शनल) टेस्ट, फुल लेंथ माॅक टेस्ट से अभ्यास करना और अपनी कमियों को दूर करना तैयारी रणनीति का सबसे अच्छा तरीका है और इस तरीके से आप समय रणनीति और अधिकतम प्रश्नों को हल करने की रणनीति पर कार्य कर सकते हैं। कुछ उम्मीदवार यह मानते हैं कि अधिकतम मॉक टेस्ट में सम्मिलित होना है सही रणनीति है पर वह यह जान लें की दो मॉक टेस्ट के मध्य सुधार के लिए किया गया कार्य ही सही तरीका है जो परीक्षा में आपकी सफलता तय करता  है। यहां यह बताया गया है कि किस प्रकार OnlineTyari माॅक टेस्ट आपको बेहतर तैयारी करने में सहायता करते हैं। उम्मीदवार OnlineTyari द्वारा समय-समय पर आयोजित AIT में अवश्य शामिल हों और अपनी रैंकिंग को बेहतर करते रहें।

आशा है आपको SBI PO परीक्षा 2018 से सम्बंधित महत्त्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हुई होगी। और यह लेख आपके लिए उपयोगी होगा। अगर आपको यह लेख पसंद आया हो इसे अपने दोस्तों में शेयर करना न भूलें।

Online Tyari Plus

SBI PO भर्ती परीक्षा 2018 के संबंध में और अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़े रहें। बैंक परीक्षाओं में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए, सर्वश्रेष्ठ SBI PO परीक्षा तैयारी ऐप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Best Government Exam Preparation App OnlineTyari

NO COMMENTS

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.