X

SSC CGL परीक्षा 2017: परीक्षा हो सकती है निरस्त

SSC CGL परीक्षा 2017: परीक्षा हो सकती है निरस्त- सुप्रीम कोर्ट ऑफ इंडिया ने 2017 में कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) द्वारा आयोजित ग्रैजुएट स्तरीय परीक्षा (SSC CGL 2017) को निरस्त करने का पक्ष लिया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि पेपर दोबारा करवाना बेहतर है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि पेपर लीक से फायदा उठाने वाले सभी लोगों को पकड़ा नहीं जा सकता है। इसलिए ऐसे में यह सही रहेगा कि एग्जाम को निरस्त कर दिया जाए और नए सिरे से एग्जाम करवाया जाए। वैसे शीर्ष न्यायालय ने एग्जाम निरस्त करने का आदेश पास कर दिया है लेकिन केंद्र सरकार से जवाब तलब किया है।

आपको बता दें कि इससे पहले अगस्त, 2018 में सुप्रीम कोर्ट ने स्टाफ सिलेक्शन कमिशन(एसएससी) कंबाइंड ग्रैजुएट लेवल एग्जामिनेशन 2017 और कंबाइंड सीनियर सेकंड्री लेवल एग्जाम 2017 के रिजल्ट जारी करने पर रोक लगा दी था। सुप्रीम कोर्ट ने पूरे सिस्टम को ही दागी बताया था। फैसला सुनाते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि वह किसी को SSC एग्जामिनेशन स्कैम का फायदा उठाने और नौकरी हासिल करने की अनुमति नहीं देगा। कोर्ट ने कहा कि प्रथम दृष्टया में पूरा एसएससी सिस्टम और परीक्षा दागी है।

SSC CGL परीक्षा 2017: परीक्षा हो सकती है निरस्त

ध्यान रहे कि फरवरी में आयोजित एसएससी कंबाइंड ग्रैजुएट लेवल एग्जाम में कई तरह की अनियमितताओं के आरोप लगे थे। छात्रों ने पेपर लीक और परीक्षा में नकल के खिलाफ बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन भी किया था। छात्रों की मांग थी कि सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में मामले की जांच सीबीआई से करवाई जाए। छात्रों ने अपनी मांग को लेकर जंतर-मंतर पर धरना दिया था।

सुप्रीम कोर्ट ने मामले की सुनवाई के लिए सहमति जताई थी, इसके बाद केंद्र सरकार ने मामले की जांच सीबीआई के हवाले कर दी थी। सीबीआई ने पेपर लीक के संबंध में मई में 17 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी जिनमें सिफी टेक्नॉलजी प्राइवेट लिमिटेड के 10 कर्मचारी भी शामिल थे।

कोर्ट ने 2017 में हुई परीक्षा को रद्द कर नए सिरे से परीक्षा कराने को बेहतर माना है. हालांकि कोर्ट ने इस मामले में कोई आदेश नहीं दिया है। कोर्ट का मानना है कि पेपर लीक होने से लाभ पाने वाले सभी दोषियों को पकड़ पाना संभव नहीं है। साथ ही कोर्ट ने इस मामले में केंद्र सरकारी की प्रतिक्रिया मांगी है, जिसके बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा। बता दें कि फरवरी 2017 में हुए सीजीएल परीक्षा के पेपर लीक होने के आरोप लगाए गए थे।

SSC CGL टियर-1 परीक्षा 2018 के लिए इंग्लिश सेक्शन की तैयारी कैसे करें

SSC CGL टीयर -1 परीक्षा 2018 : रीजनिंग एबिलिटी तैयारी टिप्स

SSC CGL टियर-1 परीक्षा 2018: सामान्य ज्ञान तैयारी टिप्स

SSC CGL टीयर-1 परीक्षा 2018 : क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड तैयारी टिप्स !

अब प्रत्येक परीक्षा के लिए अलग-अलग टेस्ट पैकेज खरीदने की कोई जरुरत नहीं है। सिर्फ 399 रुपये में PLUS की सदस्यता लें और 1000+ मॉक टेस्ट्स पाएं। अपने स्ट्रोंग पॉइंट्स, वीक पॉइंट्स और इम्प्रूव एरियाज को जानने के लिए फ्री मॉक टेस्ट दें और प्रत्येक टेस्ट देने  के बाद गहन विश्लेषण रिपोर्ट के साथ अपने लिए व्यक्तिगत प्रतिक्रियाएं और टेस्ट में सम्मिलित हुए छात्रों के मध्य रैंकिंग तुरंत प्राप्त करें।

TyariPLUS जॉइन करें !
अपनी आगामी सभी परीक्षाओं की तैयारी के लिए अब सिर्फ TyariPLUS की सदस्यता लें और वर्ष भर अपनी तैयारी जारी रखें-
TyariPLUS सदस्यता के फायदे
  • विस्तृत परफॉरमेंस रिपोर्ट
  • विशेषज्ञों द्वारा नि: शुल्क परामर्श
  • मुफ्त मासिक करेंट अफेयर डाइजेस्ट
  • विज्ञापन-मुक्त अनुभव और भी बहुत कुछ

परीक्षा के लिए आवेदन करने वाले सभी उम्मीदवार अपनी परीक्षा के लिए तैयारी जारी रखें और मॉक टेस्ट से अपनी तैयारी को जांचते रहें। अनलिमिटेड मॉक टेस्ट से अभ्यास करने के लिए अभी TyariPLUS जॉइन करें।

सरकारी भर्ती परीक्षा की नवीनतम जानकारियों के लिए हमसे जुड़े रहें। सरकारी परीक्षाओं में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रतियोगी परीक्षा परीक्षा तैयारी ऐप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Ajay K. Tripathi :
© 2010-2018 Next Door Learning Solutions