SSC CGL 2016: ऐसे करें सामान्य ज्ञान की तैयारी

सामान्य ज्ञान के लिए कैसे करें तैयारी: कर्मचारी चयन आयोग विभिन्न केंद्रीय पदों जैसे इंस्पेक्टर, डिविज़नल अकाउंटेंट, स्टैटिस्टिकल ऑफ़िसर, ऑडिटर, टैक्स असिस्टेंट आदि पदों की भर्ती के लिए SSC CGL संयुक्त स्नातक स्तरीय परीक्षा का आयोजन करता है। हमने अपने पिछले लेख में SSC संयुक्त स्नातक स्तरीय परीक्षा 2016 की रीज़निंग एबिलिटी के लिए परीक्षा तैयारी की रणनीति पर बात की थी।

पढ़ें : SSC CGL टियर-1 में रीज़निंग सेक्शन की तैयारी के लिए टिप्स

इस लेख में हम SSC CGL उम्मीदवारों का मार्गदर्शन करेंगे कि वे कैसे SSC संयुक्त स्नातक स्तरीय परीक्षा  के सामान्य ज्ञान सेक्शन के लिए तैयारी करें। सबसे पहले सामान्य ज्ञान के महत्व और सेक्शन के अनुसार उसके वेटेज को समझेंगे।

 

SSC CGL 2016 में सामान्य ज्ञान सेक्शन

SSC CGL परीक्षा निम्न चरणों में सम्पन्न होती है: टियर-1, टियर-2, टियर-3 (जहां भी आवश्यक हो)। मुख्य रूप से इसमें दो चरण होते हैं टियर-1 और टियर-2।

टियर-1 में 4 सेक्शन यानि अंग्रेज़ी, रीज़निंग, क्वॉन्टिटेटिव एप्टिट्यूड और सामान्य ज्ञान से 200 बहुविकल्पीय प्रश्न (MCQs) पूछे जाएंगे।

  • प्रत्येक सेक्शन में 50 प्रश्न होंगे और प्रत्येक प्रश्न 1 अंक का होगा। साथ ही हर एक गलत जवाब के लिए 0.25 अंक काटे जाएंगे। टियर परीक्षा की कुल अवधि 2 घंटे होगी। जो टियर-1 परीक्षा को उत्तीर्ण कर लेंगे, वे टियर-2 परीक्षा के लिए बैठेंगे।

टियर-2 के लिए दो सेक्शन होंगे – अंग्रेज़ी और क्वॉन्टिटेटिव एप्टिट्यूड।

  • क्वॉन्टिटेटिव एप्टिट्यूड 100 बहुविकल्पीय प्रश्न होंगे और प्रत्येक प्रश्न 2 अंक का होगा। इस परीक्षा का कुल समय 2 घंटे होगा। इसमें प्रत्येक गलत जवाब के लिए 0.50 अंक काटे जाएंगे।
  • अंग्रेज़ी सेक्शन में भी 100 बहुविकल्पीय प्रश्न होंगे और प्रत्येक प्रश्न 2 अंक का होगा। इस परीक्षा का कुल समय 2 घंटे है। इसमें प्रत्येक गलत जवाब के लिए 0.25 अंक काटे जाएंगे।

टियर-3 परीक्षा में कम्प्यूटर प्रवीणता / कौशल टेस्ट (जहां लागू हो) / दस्तावेज सत्यापन शामिल होगा।

नोट : साक्षात्कार अब खत्म कर दिया गया है। इसलिए कोई साक्षात्कार नहीं होगा।

हालांकि सामान्य ज्ञान का वेटेज अन्य सेक्शन के लिहाज से बराबर ही है, फिर भी आपको फाइनल स्कोर बढ़ाने के लिए अच्छी रणनीति की ज़रूरत होगी।

 

सामान्य ज्ञान के लिए तैयारी कैसे करें 

SSC संयुक्त स्नातक स्तरीय परीक्षा के लिए सामान्य ज्ञान सेक्शन बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, वो भी इस तथ्य के कारण कि ये बहुत ही स्कोरिंग होता है। अच्छे से तैयारी किए SSC उम्मीदवार को लिखित परीक्षा में सवालों का जवाब देने के लिए 2 सेकंड से भी कम का समय लगेगा

लेकिन SSC CGL में पूछे गए सामान्य ज्ञान सेक्शन, बैंकिंग और इंश्योरेंस परीक्षाओं से भिन्न होगा। कुछ बैंकिंग और इंश्योरेंस परीक्षाओं में सामान्य ज्ञान सेक्शन, करेंट अफ़ेयर पर आधारित होता है जबकि SSC CGL में कई प्रश्न स्टैटिक सामान्य ज्ञान पर भी आधारित होंगे।

SSC CGL 2016 में इस सेक्शन से 50 प्रश्न होंगे और उनमें आने वाले विषय निम्नलिखित में से हो सकते हैं:

  1. भारतीय इतिहास
  2. भारतीय राजनीति
  3. भूगोल
  4. भारतीय अर्थव्यवस्था
  5. विज्ञान (फ़िज़िक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी)
  6. मिश्रित (Miscellaneous)

मिश्रित सेक्शन को छोड़कर प्रत्येक सेक्शन से 5-6 प्रश्न पूछे जा सकते हैं। सभी विषयो में से जनरल साइंस में बायोलॉजी को केंद्र में रखते हुए 10-15 प्रश्न पूछे जा सकते हैं।

SSC CGL 2016 में इतिहास के प्रश्न

SSC CGL या कोई अन्य परीक्षा के लिए इतिहास के विषय को समझना बहुत महत्वपूर्ण है। ये प्रत्येक विषय की रीढ़ की हड्डी होती है।

यह बहुत ही दुर्लभ है कि विश्व इतिहास से प्रश्न पूछे जाएं। इसलिए विश्व का इतिहास पढ़ने में समय व्यर्थ ना करें। इसके बजाय, सिर्फ़ भारतीय इतिहास पर ध्यान लगाएं।

SSC CGL 2016 में भूगोल के प्रश्न

भूगोल से दो हिस्सों में प्रश्न पूछे जाते हैं। ये हैं – भारतीय भूगोल और भौतिक भूगोल। बुनियादी बातों को कवर करने के लिए NCERT की कक्षा XI और कक्षा XII की पुस्तकें पर्याप्त होगी।

यदि आप और अधिक पढ़ना चाहते हैं तो SSC टियर-1 में पूछे जाने वाले प्रश्नों के प्रकार को समझने के लिए मॉक टेस्ट और प्रश्न बैंक हल करें।

SSC CGL 2016 में राज-व्यवस्था के प्रश्न

कक्षा VIII से कक्षा X तक की NCERT पुस्तकें पढ़ें क्योंकि इन्हीं से राज-व्यवस्था संबंधी सबसे ज़्यादा प्रश्नों को पूछा जाएगा।

इन प्रश्नों की तैयारी के लिए लक्ष्मीकांत को भी पढ़ सकते हैं क्योंकि इसमें प्रासंगिक विषयों को शामिल किया जाता है।

SSC CGL 2016 में अर्थव्यवस्था के प्रश्न

अर्थव्यवस्था के भी दो हिस्से हैं – भारताय अर्थव्यवस्था और अर्थशास्त्र। भारतीय अर्थव्यवस्था मुख्य रूप से अर्थव्यवस्था प्रणाली की पढ़ाई है। वहीं अर्थशास्त्र में भी दो विषय शामिल हैं – व्यापक अर्थशास्त्र (Macroeconomics) और सूक्ष्म अर्थशास्त्र (Microeconomics)। ऐसे कुछ अस्पष्ट विषय भी हैं, जिन्हें विश्वसनीय स्रोतों से ही पढ़ा जाना चाहिए।

मिश्रित सेक्शन में करंट अफ़ेयर्स, कम्प्यूटर ज्ञान, तकनीक, पुस्तक और लेखक, खेल, व्यक्ति और समाचार में उनके स्थान, संकेताक्षर आदि विषयों से प्रश्न पूछे जा सकते हैं।

करंट अफ़ेयर्स में सीमित सेट से प्रश्न पूछे जाते हैं। कोशिश करें कि इसके लिए आप अधिक समय ना दें। क्या आप जानते हैं कि SSC CGL 2016 में सामान्य ज्ञान के लिए कैसे तैयारी करेंगे ? यदि हां, तो इस लेख से अंतिम सेक्शन की ओर बढ़ें।

 

SSC CGL के लिए सामान्य ज्ञान की तैयारी : स्टेप बाई स्टेप

अब जब आप आगामी SSC संयुक्त स्नातक स्तरीय परीक्षा के GK सेक्शन की तैयारी कर रहें हैं तो यहां कुछ महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखें।

  • रोज़ एक समाचार पत्र पढ़ें क्योंकि ये आपके GK और अंग्रेज़ी सेक्शन के लिए सहायक होगा।
  • SSC CGL के पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों को हल करें। इससे आपको पूछे जाने वाले प्रश्नों के प्रकार और कठिनाई स्तर का पता चलेगा।
  • GK और समसामयिक विषयों के लिए किसी वेबसाइट को ज़रूर देखें। उस साइट को अभी सब्सक्राइब कर लें।
  • UPSC सिविल सेवा परीक्षा से भिन्न SSC CGL में पूछे जाने वाले प्रश्न थोड़े सरल और सीधे-सीधे पूछे जाते हैं। इसलिए बुनियादी बातों की सामान्य जानकारी से भी आप अच्छे अंक प्राप्त कर सकते हैं।
  • पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों का विश्लेषण करने से पता चलता है कि कई प्रश्न दोहराए जाते हैं लेकिन विभिन्न प्रकारों से। इसलिए इस केस में भी पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों को हल करना आपके लिए लाभदायक हो सकता है।
  • कोशिश करें कि जो आपने सीखा है, उसे दोहराने के लिए कुछ समय दें। ये सबसे महत्वपूर्ण सुझाव है, जो कोई भी दे सकता है।

हम उम्मीद करते हैं कि आप SSC CGL 2016 के लिए इस रणनीति को अपनी तैयारी में शामिल ज़रूर करेंगे। आने वाले दिनों में हम और स्टडी प्लान बताएंगे। इस संबंध में और अधिक जानकारी के लिए नीचे के कॉमेंट सेक्शन में हमसे बेझिझक पूछें।

3 REPLIES

  1. AJAY SINGH

    Sir mai ssc cgl ki tairi karna chahta hu.
    Mujhe tire-1 ki taiyari ke liye charo parts
    Ke best books ki list de.

    Reply

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.