SSC CGL : CBI में सब–इंस्पेक्टर की जॉब प्रोफाइल,सैलरी और प्रोमोशन

Click here to read in English

SSC CGL : CBI में सब– इंस्पेक्टर की जॉब प्रोफाइल,सैलरी और प्रोमोशन- काफी लोग टीवी में, फिल्मों में, समाचार में और अन्य लोगों से CBI के बारे में सुनते हैं। CBI शब्द काफी दमदार मालूम पड़ता है। पर अधिकांश लोग यह नहीं जानते कि CBI में लोग कैसे भर्ती होते हैं और भर्ती होने के लिए उन्हें किस परीक्षा से गुजरना पड़ता है।

आज हम आपको CBI के रोचक जॉब, कार्य और कार्य के एवज में मिलने वाली सैलरी और भत्ते से परिचय कराएँगे। जिससे पुलिस की तरह CBI के लिए भी काफी छात्र जागरूक हों और इस हेतु संदर्भित परीक्षा को अपना लक्ष्य बना सके।

 

SSC CGL : CBI में सब– इंस्पेक्टर की जॉब प्रोफाइल, सैलरी और प्रोमोशन

हालांकि आज से पहले आपने कभी सोचा नही होगा अतः अगर कोई पूंछता तो आपको यह पता नहीं होता कि CBI का एक अध‍िकारी बनने के लिये क्या करना पड़ता है या फिर कैसे सीबीआई ज्वाइन कर सकते हैं? खैर छाड़‍िये हम आपको बताने जा रहे हैं कोई CBI कैसे ज्वाइन कर सकते हैं?

भर्ती प्रक्रिया 

उम्मीदवारों की CBI में भर्ती प्रक्रिया दो तरह से आयोजित की जाती है-

  1. सीधी भर्ती – सीबीआई में सीधी भर्ती सब-इंस्पेक्टर के पद से होती है, जिसके लिए चयन कर्मचारी चयन आयोग (SSC) के जरिये होता है। कर्मचारी चयन आयोग इसके लिए संयुक्त स्नातक स्तरीय परीक्षा (CGL) का आयोजन करता है। जिसमें आवेदन करने के लिए आवेदक को स्नातक डिग्री धारित होना चाहिए और उसकी उम्र सीमा 18-30 (सामान्य वर्ग के लिए) वर्ष के मध्य होनी चाहिए। इस परीक्षा में सीबीआई के सब इंस्पेक्टर पोस्ट के अलावा अन्य पदों के लिये भी परीक्षा होती है। परीक्षा के तहत आवेदक को SSC CGL की I, II और III टीयर की परीक्षा से गुजरना पड़ता है। जिसका विवरण निम्न है-

टीयर I : टीयर I परीक्षा कंप्यूटर आधारित ऑनलाइन माध्यम (CBT मोड) से आयोजित की जाती है। जिसमें बहुविकल्पीय प्रकृति से प्रश्न पूछे जाते हैं और इस परीक्षा के लिए 1 घंटे की समयावधि प्रदान की जाती है। प्रश्न पत्र में 100 प्रश्न पूछे जाते हैं और प्रति प्रश्न 2 अंकभार का होता है, जिसके तहत प्रश्न पत्र 200 अंक का होता है। प्रश्न पत्र में रीजनिंग, गणित, अंग्रेजी और सामान्य ज्ञान से क्रमशः 25-25 प्रश्न पूछे जाते है।

टीयर II :  टीयर II परीक्षा भी कंप्यूटर आधारित ऑनलाइन माध्यम (CBT मोड) से आयोजित की जाती है। जिसमें बहुविकल्पीय प्रकृति से प्रश्न पूछे जाते हैं और इस परीक्षा के लिए 4 घंटे की समयावधि प्रदान की जाती है। प्रश्न पत्र में गणित और अंग्रेजी से क्रमशः 100-200 प्रश्न पूछे जाते है। गणित के प्रश्न 2 अंकभार के तो अंग्रेजी के प्रश्न 1 अंकभार के होते हैं।

टीयर III :  टीयर III परीक्षा भी कागज़ और पेन माध्यम से आयोजित की जाती है। जिसमें लिखित प्रकृति से प्रश्न पूछे जाते हैं और इस परीक्षा के लिए 1 घंटे की समयावधि प्रदान की जाती है। प्रश्न पत्र में 100 प्रश्न पूछे जाते हैं।

आवेदक को CBI में भर्ती होने के लिए तीनों परीक्षाओं के दौर से गुजरना पड़ेगा और इसके पश्चात उन्हें  इंटरव्यू के लिये बुलाया जाता है। इस परीक्षा में अधिकतम अंक ले कर सफल घोषित होने के पश्चात उन्हें CBI (केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरों में सब इंस्पेक्टर) में भर्ती किया जाता है।

2. डेप्युटेशन के आधार पर : पुलिस अध‍िकारियों की भर्ती सभी राज्यों से अच्छे ईमानदार और तेज़ पुलिस अध‍िकारियों को समय-समय पर सीबीआई में डेप्युटेशन के आधार पर तैनात किया जाता है।

CBI के बारे में 

सीबीआई का पहला नाम सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इंवेस्टीगेशन (केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरों) से पहले इसका नाम स्पेशल पुलिस इस्टेबलिशमेंट (एसपीई) था, जिसकी स्थापना 1941 में भारत सरकार ने की थी। द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान एसपीई का काम वॉर एंड सप्लाई डिपार्टमेंट में घूसखोरी, भ्रष्टाचार, आदि की जांच करने का था। विश्वयुद्ध के बाद इसे सरकार में घूसखोरी की जांच का कार्य दिया गया। एसपीई की कार्य सीमा केवल दिल्ली तक सीमित थी। 1946 में इसका दायरा बढ़ा कर सभी राज्यों व केंद्र शासित राज्यों तक कर दिया गया। 1 अप्रैल 1963 को इस विभाग का नाम बदलकर सीबीआई रखा गया और डीपी कोहली (तत्कालीन एसपीई के आईजीपी) ने इसकी स्थापना की। इस वक्त केंद्र सरकार के सभी कार्यालय इसके दायरे में थे। 1965 से पहले सीबीआई केवल घूसखोरी और भ्रष्टाचार की जांच तक सीमित थी। 1965 से हत्या, किडनैपिंग, आतंकवाद, वित्तीय अपराध, आदि की जांच भी सीबीआई के दायरे में आ गए। 1969 में सभी राष्ट्रीय बैंक इसके दायरे में आ गये। वतमान में CBI के दो डिवीजन हैं- 1. एंटी करप्शन डिवीजन और 2. स्पेशल क्राइम डिवीजन।

सब– इंस्पेक्टर को अच्छा वेतन और समाज में सम्मान मिलता है। इस नौकरी में उम्मीदवारों को ज्यादातर काम कार्यालय से बाहर रह कर करना पड़ता है और इसलिए इसमें उत्साही युवाओं की आवश्यकता होती है। यह उम्मीदवारों के लिए एक अच्छा कार्य क्षेत्र और करिअर विकास का अवसर प्रदान करता है।

सम्मान, रोमांच और देश सेवा का मौका 

केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) में सब–इंस्पेक्टर के रूप में सेवा प्राप्त करने का मौका प्राप्त होना सहज नहीं है अपितु उम्मीदवार को कड़ी प्रतिस्पर्धा से गुजरना होता है और SSC CGL के टॉप रैंकर्स को इस सेवा का मौका प्राप्त होता है। इस सेवा से जुड़ी चुनौतियों, रोमांच, देश सेवा और सम्मान की वजह से इस सेवा के प्रति छात्रों में रुझान काफी होता है। सेवा के लिए चयनित होने के पश्चात उम्मीदवारों को 1 वर्ष से अधिक समय तक प्रशिक्षण के दौर से गुजरना पड़ता है और समय के साथ उन्हें उंची रैंक और स्तर पर पहुंचने के कई अवसर मिलते हैं। प्रशिक्षण के दौरान उन्हें शारीरिक फिटनेस के साथ– साथ कई प्रकार के भ्रष्टाचार और भ्रष्टाचार उन्मूलन कानूनों के विषय से अवगत कराया जाता है ताकि वे अपनी क्षमता और प्रज्ञा का उपयोग कर सक्षम सेवाएं दे सकें। उन्हें फिल्ड और कार्यालयी दोनों कामों में समय-समय पर नियुक्त किया जाता है। सेवा के दौरान उम्मीदवारों को देश में मौजूद अपराध के खात्मे के लिए जबरदस्त साहस और इच्छाशक्ति दिखानी होती है। उम्मीदावरों को शारीरिक तौर पर फिट होने की जरूरत है और एसएससी सीजीएल परीक्षा के लिए आवेदन करने से पहले उन्हें विभाग द्वारा निर्धारित मानदंड़ों को वे पूरा करते हैं या नहीं  यह सुनिश्चित करना होता है। परीक्षा में सफल होने के बाद, उम्मीदवारों को 32 सप्ताह का गहन प्रशिक्षण करना होता है जहां उन्हें शारीरिक फिटनेस के साथ–साथ कई प्रकार के भ्रष्टाचार और भ्रष्टाचार उन्मूलन कानूनों के बारे में बताया जाता है, ताकि वे अपनी क्षमताएं साबित कर सकें।

CBI उम्मीदवारों का प्रशिक्षण

प्रशिक्षण के दौरान उम्मीदवार को विभिन्न स्थानों पर प्रशिक्षण किया जाता है-

सीबीआई अकादमी (चरण 1) के साथ संस्थागत प्रशिक्षण – 7 महीने
स्थानीय पुलिस के साथ संयोजन – 9 सप्ताह
सीबीआई शाखा के साथ संयोजन – 9 सप्ताह
सीबीआई अकादमी (चरण 2) के साथ संस्थागत प्रशिक्षण – 10 सप्ताह
सीबीआई में उप निरीक्षक की कुल प्रशिक्षण अवधि लगभग 1 वर्ष और 7 सप्ताह की है।

CBI इंस्पेक्टर की सैलरी 

सीबीआई के एसआई को 4600 रु. के वेतनमान के साथ 9600- 34800/ रु. का वेतन मिलता है। यह अन्य सरकारी विभागों और मंत्रालयों के ग्रेड बी अधिकारियों के समकक्ष है।

सीबीआई में एक उप-निरीक्षक का वेतनभाग इस प्रकार है:

वेतनमान: रु. 9,300 – 34,800 /-
ग्रेड वेतन: रु. 4,600 /-
शुरुवाती वेतन: रु. 9,300 /-
कुल भुगतान: रु. 13,900 /-

नियमित निश्चित वेतन के अलावा उप-निरीक्षक को अन्य भत्तों का लाभ भी मिलता है।

कुल भुगतान के अतिरिक्त डीए (लगभग 107%)
परिवहन भत्ता (टीए)
घर किराया भत्ता (अगर क्वार्टर प्रदान नहीं किया गया है)
मौजूदा वेतनमानों के अनुसार, उन्निद्वार को प्रति माह करीब 45,000 /- रुपये का वेतन मिलेगा।

CBI की कार्य सीमा में आने वाली जांच  

सीबीआई एक अन्वेषण एजेंसी है जो केंद्र सरकार के नियंत्रण वाले लोक सेवकों द्वारा किए गए भ्रष्टाचार से संबंधित अपराधों, गंभीर आर्थिक अपराध एवं धोखाधड़ी और अंतर–राज्यीय / अखिल भारतीय स्तर पर किए गए सनसनीखेज अपराधों की जांच करती है। सीबीआई सामान्य और नियमित प्रकृति वाले अपराधों की जांच नहीं करती क्योंकि ऐसे अपराधों की जांच के लिए राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों की पुलिस बनाई गई है। सीबीआई मुख्य रूप से तीन प्रकार के मामलों की जांच करती है और अपराध की जांच के लिए इसमें निम्नलिखित तीन डिवीजन हैं–

भ्रष्टाचार–रोधी डिवीजनः भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम, 1988 के तहत सराकरी अधिकारियों और केंद्र सरकार के कर्मचारियों, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों, भारत सरकार के स्वामित्व वाले या नियंत्रण के अधीन आने वाले निगम या निकायों के खिलाफ जांच का काम यह डिवीजन करता है। यह सबसे बड़ा डिवीजन है और भारत के लगभग प्रत्येक राज्य में इसकी शाखा है।

आर्थिक अपराध डिवीजनः यह डिवीजन प्रमुख वित्तीय घोटालों और गंभीर वित्तीय धोखाधड़ियों जिसमें भारत के जाली नोट, बैंकों की धोखाधड़ी और साइबर अपराध भी शामिल है, से संबंधित अपराधों की जांच करता है।

विशेष अपराध डिवीजनः यह राज्य सरकारों के अनुरोध या सुप्रीम कोर्ट या उच्च न्यायालयों के आदेश पर भारतीय दंड संहिता और अन्य कानूने के दायरे में आने वाले गंभीर, सनसनीखेज और संगठित अपराध की जांच करता है।

CBI में SI पद के फायदे और नुकसान

CBI में जॉब जितनी रोमांचक लगती है वह वास्तव में उतनी ही दुष्कर भी है और यही दुष्करता ही इसे रोमांचक और आकर्षक बनाती है। CBI में कार्य करने के कुछ फायदे हैं तो कुछ नुक्सान भी जुड़े हुए हैं, जो आवेदकों को जान लेना आवश्यक है ताकि बाद में उन्हें अपने फैसले पर पछतावा न करना पड़े। सीबीआई का एसआई पद आपको किसी भी डेस्क पर नियमित 9 से 5 की नौकरी नहीं देता, क्योंकि इसमें ज्यादातर समय दफ्तर से बाहर रहना पड़ता है औऱ काम करने का समय निर्धारित नहीं है। काम बेहद तनावपूर्ण हो सकता है और इससे आपके स्वास्थ्य भी प्रभावित हो सकता है। कुछ मामलों में बहुत यात्राएं भी करनी पड़ सकती हैं। सब इंस्पेक्टरों को कुछ खतरनाक स्थानों और परिस्थितियों में भी काम करना पड़ता है जहां उन्हें अपने दिमाग से स्थितियों का सामना करने की जरूरत होती है। पद की तमाम चुनौतियों के साथ यह युवा एवं उत्साही उम्मीदवारों के लिए अच्छा करिअर विकल्प देता है। यह बोरियत भरा ऑफिस का काम नहीं देता और नियमित फील्ड वर्क एवं कार्यस्थल पर रोमांच से युवाओं की इसमें रुचि बनी रहती है।

CBI में प्रोमोशन नीति

प्रशिक्षण पूरा करने के बाद उम्मीदवार विभाग के अलग– अलग मामलों में नियुक्त किए जाने के पात्र हो जाते हैं और अच्छा काम करने पर पांच वर्ष से कम समय में ही वे इंस्पेक्ट पद पर पदोन्नत किए जा सकते हैं। इंस्पेक्टर के रूप में, उम्मीदवार के पास अधिक निर्णय लेने वाली शक्तियां प्राप्त होती हैं। नौकरी के 10- 12 वर्षों के बाद उम्मीदवार उप–अधीक्षक और फिर अधीक्षक के पद पर पहुंच सकते हैं। सेवानिवृत्ति के आस–पास उम्मीदवार विभाग  में वरिष्ठ अधीक्षक और उससे भी उंचे पद पर भी जा सकते हैं और विभाग के प्रमुख पद से सेवानिवृत्त हो सकते हैं। इसका अनुक्रम इस प्रकार हो सकता है-

अवर निरीक्षक (Sub-SI)
इंस्पेक्टर (SI)
उप अधीक्षक (Deputy Superintendent)
अतिरिक्त अधीक्षक (Additional Superintendent)
अधीक्षक (Superintendent)
वरिष्ठ अधीक्षक (Senior Superintendent)

डीआईजी के स्तर पर पदोन्नति उम्र, अनुभव और प्रदर्शन पर निर्भर करती है।

OnlineTyari टीम की तरफ से 5 और 6 अगस्त  2017 के परीक्षा को आधार बना कर आगामी दिनों की परीक्षा में सम्मिलित होने वाले अभ्यर्थियों के लिए  संभावित परीक्षा प्रश्न पत्र (मॉक टेस्ट) प्रस्तुत किया जा रहा है , परीक्षा में सम्मिलित होने जा रहे अभ्यर्थी इस मॉक टेस्ट का अभ्यास अवश्य करें –   

SSC CGL Tier 1 Expected Paper 2017 (Attempt Mock Test)

SSC CGL (टीयर 1) परीक्षा 2017 के लिए मुफ्त में मॉक टेस्ट का अभ्यास करें – 

SSC CGL परीक्षा के नवीनतम पैटर्न पर आधारित मॉक टेस्ट का अभ्यास कर अभी अपने तैयारी स्तर को जांचे और ऑनलाइन परीक्षा देने का भी अभ्यास करें-

SSC CGL 2017 प्रैक्टिस सेट्स -practice sets

SSC CGL प्रैक्टिस सेट्स, गाइडर प्रकाशन

Guider के सहयोग से Onlinetyari ने आप सभी उम्मीदवारों के लिए SSC CGL (Combined Graduate Level) Tier- I मॉक टेस्ट सीरीज 2017 (New Pattern) की शुरुआत की है। अनुभवी टीम द्वारा तैयार यह सीरीज SSC CGL Tier- I 2017 परीक्षा की तैयारी कर रहे हर उम्मीदवारों के लिए बहुत उपयोगी है। मॉक टेस्ट सीरीज ऑनलाइन तैयारी (OnlineTyari ) के मोबाइल एप्लीकेशन और वेबसाइट दोनों पर उपलब्ध है। इस ऑनलाइन टेस्ट सीरीज के माध्यम से, आप अपने प्रदर्शन का विश्लेषण कर सकते हैं तथा संपूर्ण भारत के उम्मीदवारों के साथ अपनी रैंक की तुलना कर सकते हैं और उसी के अनुसार सुधार करने की योजना बना सकते हैं।

अभ्यास करने के लिए यहाँ क्लिक करें !

SSC CGL टीयर 1 परीक्षा 2017 के बारे में और अधिक जानकारी के लिए हमसे जुड़े रहें। SSC परीक्षा में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए सर्वश्रेष्ठ SSC परीक्षा तैयारी ऐप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Best Government Exam Preparation App OnlineTyari

अगर अभी भी आपके मन में किसी प्रकार की कोई शंका या कोई प्रश्न है तो कृपया नीचे दिए गए कॉमेंट सेक्शन में उसका ज़िक्र करें और बेहतर प्रतिक्रिया के लिए OnlineTyari Community पर अपने प्रश्नों को हमसे साझा करें।

5 REPLIES

  1. AMIT KUMAR

    or sir is jov ke liye kitni padhai ko time dena padega or tyari karne ka thik tarika kya hoga kyuki m abhi private jov kar rha hu tabhi mujhe time kam mil pata h,plz tell me

    Reply
    1. OnlineTyari Team Post author

      इस जॉब के लिए आपको नियमित और कठिन अभ्यास करना होगा. क्योंकि यह पोस्ट SSC CGL के टॉप स्कोरर को प्राप्त होती है. SSC CGL में प्रति वर्ष लाखों की संख्या में उम्मीदवार बैठते हैं और इसमें सफलता का प्रतिशत 1% या इससे कम होता है.
      तैयारी करने का ठीक तरीका आपको पाठ्यक्रम के अनुरूप अध्ययन करना होगा और अधिक-से-अधिक SSC CGL मॉक टेस्ट/ प्रैक्टिस टेस्ट से अपनी तैयारी के स्तर को जांचते रहना होगा. धीरे-धीरे पाठ्यक्रम के अनुरूप टॉपिक्स पर अपनी पकड़ मजबूत कर उसे शीघ्रता से कम समय में हल करने का अभ्यास करना होगा. आप चाहे तो OnlineTyari द्वारा आयोजित किए जाने वाले SSC CGL AIT में प्रतिभाग कर हजारों छात्रों के मध्य अपनी रैंकिंग की जांच कर सकते हैं और वास्तविक परीक्षा का अनुभव भी प्राप्त कर सकते हैं.

      Reply
  2. अरुण

    Sir.एक बात जानना चाहता हू इस पोस्ट के लिए class(10-12)में कितने % होने चाहिए

    Reply

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.