SSC CHSL सफलता की कहानी: नितेश सिंह (SSC CHSL टियर I और टियर II)

SSC CHSL सफलता की कहानी: नितेश सिंह (SSC CHSL टियर I और टियर II): SSC लोअर डिवीजन क्लर्क / जूनियर सचिवालय सहायक, डाक सहायक, और डेटा एंट्री ऑपरेटर के पद की रिक्तियों को भरने के लिए प्रत्येक वर्ष संयुक्त उच्च माध्यमिक स्तर (10+2) परीक्षा आयोजित करता है। परीक्षा में सफलता के सपने के साथ लाखों उम्मीदवार प्रत्येक वर्ष परीक्षा में उपस्थित होते हैं। पर जाहिर है सफलता चंद कठिन परिश्रम और सफल रणनीति के साथ परीक्षा में बैठने वाले उम्मीदवार को ही मिलती है।

हाल ही में SSC CHSL परीक्षा 2016 का परीक्षा परिणाम घोषित किया गया है। इस साल, हम अपने यूजर की सफलता दर को देखकर बेहद खुश हैं जो SSC CHSL परीक्षा 2016 के तहत सफलता प्राप्त करने में सक्षम रहे हैं। यहां, आज हम आपके सामने ऐसे उम्मीदवार का संक्षिप्त साक्षात्कार पेश कर रहे हैं जो  OnlineTyari ऐप के नियमित यूजर रहे हैं और जिनके निरंतर दृढ़ संकल्प और प्रतिज्ञा ने उन्हें SSC CHSL परीक्षा 2016 के टियर I और टियर II में सफलता प्राप्त करने में मदद की।

 

SSC CHSL सफलता की कहानी: नितेश सिंह (SSC CHSL टियर I और टियर II)

आज हम नितेश सिंह की SSC CHSL परीक्षा में सफलता की कहानी आपसे साझा कर रहे हैं जो आपको आगामी SSC CHSL परीक्षा के लिए प्रेरणा देगी। OnlineTyari टीम द्वारा आयोजित अंकुश शर्मा के साथ साक्षात्कार नीचे दिया गया है-

OnlineTyari: हमें अपना संक्षिप्त परिचय दीजिए?
नितेश सिंह: मैंने विद्या कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, मेरठ से इलेक्ट्रॉनिक्स और इंस्ट्रुमेंटेशन में अपना बीटेक किया। इसके पश्चात मैंने रिलायंस जियो में आरएफ अभियंता के रूप में काम किया है।

OnlineTyari: आपने कैरियर के रूप में SSC CHSL परीक्षा को ही क्यों चुना?
नितेश सिंह: कर्मचारी चयन आयोग (SSC) भारत में विभिन्न केन्द्रीय पदों के लिए भर्ती निकाय है। इसके तहत ग्रुप B, C और D पदों की भर्ती की जाती है। SSC की सभी परीक्षाओं के लिए पैटर्न और पाठ्यक्रम लगभग समान है। मैं मुख्यतः SSC CGL की तैयारी कर रहा था पर मैं SSC की सभी परीक्षा चाहे वह CHSL हो या स्टेनोग्राफर मैं सभी में सम्मिलित होता था। मैं SSC CHSL की परीक्षा में 2 महीने की तैयारी कर बैठा और मैंने इसे क्लियर कर लिया।

OnlineTyari: परीक्षा में आपका एप्रोच क्या था? आपका सफलता मंत्र क्या है?
नितेश सिंह: किसी भी परीक्षा में सम्मिलित होने से पहले आपको बुनियादी तैयारी करनी चाहिए। इसके पश्चात आपको शोर्टटर्म गोल बनाए। फिर परीक्षा पाठ्यक्रम के अनुरूप पुस्तकों का चयन किया। गणित सेक्शन की तैयारी के लिए मैंने 100 प्रश्न प्रतिदिन लगाएं।
अंग्रेजी सेक्शन के लिए, मैंने पिछले साल के प्रश्नपत्र के आधार पर प्रतिदिन 10-12 मॉक टेस्ट का अभ्यास किया। रीजनिंग सेक्शन काफी सरल था, अतः मैंने पूर्व के प्रश्नपत्र में पूछे गए प्रश्नों के पैटर्न को समझते हुए उन्हें सॉल्व करना शुरू किया। अंत में, जीएस सेक्शन के लिए मैं करेंट अफेयर से खुद को अपडेट किया और मैंने लुसेंट पढ़ी।

OnlineTyari: परीक्षा के दौरान आपने समय प्रबंधन कैसे किया? आपने किस सेक्शन को पहले हल किया?
नितेश सिंह: मैं “सर्वोत्तम की उत्तरजीविता” कथन पर विश्वास करता हूं। जैसा कि आप जानते हैं कि प्रतियोगिता दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है और उम्मीदवार कटऑफ को क्रैक करने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। गणित के लिए मैं किरण प्रकाशन 89000+ प्रश्न वाली पुस्तक का सुझाव दूंगा। इससे प्रतिदिन 100 प्रश्नों का हल करने का प्रयास करें। यदि आप प्रतिदिन 100 प्रश्नों को हल करेंगे तो आप प्रश्न हल करने के आदि हो जाएंगे। यह जानने के लिए कि कौन से सेक्शन को पहले हल करें, अपने कमजोर सेक्शन की पहचान करें और इसका अधिक अभ्यास करें।

OnlineTyari: ऑफ़लाइन या ऑनलाइन अभ्यास। आप क्या सुझाव देंगे?
नितेश सिंह: मैंने ऑफ़लाइन और ऑनलाइन दोनों से अभ्यास किया। उस समय मैं ऑफलाइन अध्ययन कर रहा था परन्तु SSC ने घोषणा किया की वह सभी प्रमुख परीक्षाओं को ऑनलाइन आयोजित करेगा। तो मैंने काफी पुस्तकों से अध्ययन किया परन्तु अभ्यास ऑनलाइन मॉक टेस्ट से किया। ऑनलाइन मॉक टेस्ट ने मुझे वास्तविक परीक्षा से परिचित कराया। परीक्षा ऑनलाइन होती है और ऑनलाइन मॉक टेस्ट से अभ्यास ने मेरी काफी मदद की ।

OnlineTyari: प्रतियोगी परीक्षा में सफलता प्राप्त करने में मॉक टेस्ट कितनी मदद करता है?
नितेश सिंह: वास्तविक परीक्षा की तैयारी में मॉक टेस्ट अत्यंत महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। मॉक टेस्ट में सम्मिलित होने के पश्चात स्व-मंथन/स्व-मूल्यांकन करना बहुत महत्त्पूर्ण है।

OnlineTyari: अंत में, आप उन उम्मीदवारों को क्या सलाह देना चाहेंगे जो आप ही की तरह प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं?
नितेश सिंह: मैं सभी उम्मीदवारों को अपने लक्ष्य पर फोकस करने की सलाह देता हूँ। और कहना चाहूँगा कि किसी प्रकार के दबाव में न आएं। भले ही आप पहले प्रयास में असफल हो, आशा न खोएं। इस विफलता को अपने आत्म-सम्मान के आड़े न आने दें। अपने आप पर भरोसा रखें, आप अवश्य सफल होंगे।

नितेश सिंह जैसे ही कई उम्मीदवारों ने SSC CGL परीक्षा 2016 पास की है और उनके ऑनलाइन गुरु होने पर हम खुद को सम्मानित महसूस करते हैं। यदि आप भी अपनी सफलता की कहानी हमसे साझा करना चाहते हैं, तो कृपया कर अपना नाम, अनुक्रमांक और स्कोरकार्ड की एक फ़ोटो, support@onlinetyari.com पर या यहाँ क्लिक कर हमें भेजें। हम आपसे जल्द ही संपर्क करेंगे।

अब प्रत्येक परीक्षा के लिए अलग-अलग टेस्ट पैकेज खरीदने की कोई जरुरत नहीं है। सिर्फ 399 रुपये में Plus की सदस्यता लें और 1000+ मॉक टेस्ट्स पाएं। अपने मजबूत पक्ष, कमजोर पक्ष और सुधार क्षेत्रों को जानने के लिए फ्री मॉक टेस्ट दें और प्रत्येक टेस्ट देने  के बाद गहन विश्लेषण रिपोर्ट के साथ अपने लिए व्यक्तिगत प्रतिक्रियाएं और टेस्ट में सम्मिलित हुए छात्रों के मध्य रैंकिंग तुरंत प्राप्त करें।

Online TyariPLUS : Join Now !

अगर आप को यह लेख पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों को शेयर करें और कमेंट करना न भूलें।

SSC CHSL भर्ती परीक्षा 2018 से संबंधित अधिक जानकारी के लिए हमारे साथ बने रहिए। SSC CHSL परीक्षाओं में उत्कृष्टता हासिल करने के लिए सर्वश्रेष्ठ SSC तैयारी एप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Best-Government-Exam-Preparation-App-OnlineTyari

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.