SSC CPO SI ASI 2016 के लिए लास्ट मिनट में तैयारी टिप्स

SSC CPO SI ASI फेज़-1 परीक्षा 5 जून 2016 को आयोजित की जाएगी। परीक्षा रद्द करने संबंधी भ्रम और काफी हंगामे के बाद, आख़िरकार इस परीक्षा को आयोजित किया जा रहा है। आप दूसरों की तुलना में बेहतर प्रदर्शन करने की क्षमता रखते हैं ये सुनिश्चित करने के लिए, हम SSC CPO SI ASI परीक्षा से संबंधित लास्ट मिनट में तैयारी टिप्सआपके लिए लाएं हैं। लेकिन उससे पहले, हम एक बार फिर से परीक्षा पैटर्न पर एक नज़र डालते हैं।

सेक्शन का नाम प्रश्नों की संख्या अंक
क्वॉनटिटेटिव एप्टीट्यूड 50 50
रीज़निंग एबिलिटी 50 50
इंग्लिश भाषा 50 50
सामान्य ज्ञान 50 50
कुल 200 200

जैसा कि हमने पहले बताया था, परीक्षा में 4 प्रमुख सेक्शन बराबर वेटेज के होंगे। कुल अंक 200 निर्धारित हैं और 20 मार्च 2016 को आयोजित फेज़-1 के SSC CPO परीक्षा विश्लेषण से आप पेपर निष्कर्ष निकाल सकते हैं।

परीक्षा विश्लेषण पढ़ने के बाद, SSC CPO (चरण-1) परीक्षा के प्रत्येक सेक्शन के लिएअधिकतम अंक प्राप्त करने के लिए हम आपको लास्ट मिनट में तैयारी टिप्स बताने जा रहे है जिनका आपको ध्यानपूर्वक पालन करना चाहिए।

जनरल अवेयरनेस

जनरल अवेयरनेस सेक्शन एक ऐसा सेक्शन है जिसमें हिट एंड ट्रेल विधि के कम से कम कार्यान्वयन के साथ अधिकतर उम्मीदवार असफल थे। इस सेक्शन में आप अंक तभी प्राप्त कर सकते है जब आपने उस विषय को अच्छी तरह से पढ़ा होगा।

  1. SSC परीक्षा हमेशा स्थिर मामलों पर केंद्रित होती है इसलिए जितना संभव हो सके उन्हें कवर करने का प्रयास करें। स्टेटिक मामलों के अंतर्गत बड़ी संख्या में टॉपिक्स शामिल होते हैं।
  2. पिछले 3 महीने से संबंधित राष्ट्रीय स्तर की गतिविधियों पर अपनी पकड़ बनाएं यानि उन्हें अपनी तैयारी का हिस्सा बनाएं, क्योंकि इस सेक्शन में क़रीब8-10प्रश्न इसीटॉपिक से पूछे जाने की संभावना है।
  3. इतिहास, भूगोल, विज्ञान, राजनीति और अर्थव्यवस्था मुख्य रूप से ये पांच विषय हैं जिनमें से प्रश्न पूछे जाएंगे। तो बस आप उन विषयों को ढ़ंग से दोहराएं जिन विषयों की तैयारी आप कर चुके हैं जिससे परीक्षा में आप अधिकतम अंक प्राप्त कर सकें।
  4. इस सेक्शन को बहुत अधिक समय भी न दें क्योंकि बाक़ी के सेक्शन्स को भी समान रूप से समय देना होगा इसलिए एक तय समय के अनुसार सभी सेक्शन्स को समय दें। प्रश्न को हल करने के लिए कई बार अनुमान लगाने की प्रक्रिया से भी हल किया जा सकता है (एक प्रश्न के सही जवाब तक पहुंचने के लिए उसे बार-बार पढ़ने के अलावा केवल अनुमान लगाकर भी हल किया जा सकता है।)

प्रश्न को हल तभी करें जब आपको उसका सही जवाब मालूम हो वर्ना उसे बाद में हल करने यानि “प्रश्न की समीक्षा के लिए” छोड़ दें।

रीज़निंग एबिलिटी

रीज़निंग सेक्शन में50 प्रश्न शामिल होंगे। 20 मार्च 2016 को आयोजित परीक्षा अपना ध्यान केंद्रित करें। नए टॉपिक्स को अपनी तैयारी का हिस्सा बनाकर अपना बोझ न बढ़ाएं यानि किसी नए टॉपिक की तैयारी न करें।

  1. अधिकांश उम्मीदवार रीज़निंग सेक्शन को अपनी ताक़त मानते हैं।
  2. पिछले साल के प्रश्न-पत्रों को हल करने का प्रयास करते रहें (20 मार्च 2016 को आयोजित परीक्षा)।
  3. रीज़निंग सेक्शन के लिए एक पूर्व समय निर्धारित करें जिससे समग्र परीक्षा में अधिकतम अंक प्राप्त कर आप कटऑफ लिस्ट में स्पष्ट रूप से शामिल हो सकें।

क्वॉनटिटेटिव एप्टीट्यूड

क्वॉनटिटेटिव एप्टीट्यूड सेक्शन् में यदि उम्मीदवार 100% सटीकता के प्रश्नों को हल करे तो आसानी से अधिकतम अंक प्राप्त कर सकता है और इसीलिए इस सेक्शन को सबसे ज़्यादा स्कोरिंग सेक्शन कहा जाता है। इस सेक्शन में DI और अन्य अंकगणित टॉपिक्स सहित 50 प्रश्न शामिल होंगे।

  1. टेबल्स, वर्ग और क्यूब्स से संबंधित प्रश्नों का अभ्यास करें इससे आप तय समय पर प्रश्नों को हल कर सकेंगे।
  1. SI एवं CI, समय एवं कार्य, समय एवं दूरी आदि जैसे टॉपिक्स के लिए डायरेक्ट फॉर्मूले और शॉर्ट ट्रिक्स का इस्तेमाल करें इससे आप समय की बचत कर पाएंगे।
  1. क्वॉनटिटेटिव एप्टीट्यूड सेक्शन् के लिए पूर्व समय निर्धारित करें जिससे समग्र परीक्षा में अधिकतम अंक प्राप्त कर आप कटऑफ लिस्ट में स्पष्ट रूप से शामिल हो सकें।
  1. इस सेक्शन के प्रश्नों के स्तर को बनाए रखने के लिए अभ्यास और रीविज़न करते रहें। कठिन प्रश्नों (तृतीय स्तर) की ओर अपना रुख न करें।
  1. प्रश्न को पढ़ने से आप प्रश्न को हल करने के लिए समय सीमा का ध्याम रखें; अगर किसी प्रश्न को हल करने में 1 मिनट से अधिक का समय लगता है तो उसे छोड़ दें। किसी एक प्रश्न या सेक्शन पर बहुत अधिक समय न लगाएं।

इंग्लिश भाषा

इस सेक्शन को कई उम्मीदवार मुश्किल सेक्शन मानते हैं। इंग्लिश सेक्शनके लिए महत्वपूर्ण टॉपिक्स लगभग सभी भर्ती परीक्षाओं के लिए एक समान ही हैं। यह सेक्शन मूल रूप से शब्दावली और इंग्लिश के मूल ज्ञान की परीक्षा है।

  1. कॉम्प्रिहेंशन पढ़ना, Cloze टेस्ट, ग़लतियों की पहचान करना, रिक्त स्थानों की पूर्ति करना जैसे टॉपिक्स का अभ्यास करें।
  1. इस सेक्शन में ज्यादा अनुमान लगाने की कोशिश न करें क्योंकि इससे आप अनिश्चितता की ओर बढ़ेंगे जिससे अंक प्राप्ति में आप विफल हो जाएंगे।
  1. पूरे RC को एक ही बार में हल करने की कोशिश न करें, पहले ध्यानपूर्वक उसे पढ़ें और फिर एक-एक कर जवाब खोजें इसके बाद उसे आखिर में दोबारा पढ़ें और जिनके जवाब अभी नहीं मिले हैं उन्हें हल करने की कोशिश करें।

हम आप सभी उम्मीदवारों को आगामी SSC CPO परीक्षा के लिए शुभकामना देते हैं। नीचे टिप्पणी सेक्शन के माध्यम सेअपने संदेहों और प्रश्नों से हमें अवगत कराएं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.