SSC MTS परीक्षा पैटर्न एवं पाठ्यक्रम 2019: जानें क्या पढ़ना हैं ?

SSC MTS परीक्षा पैटर्न एवं पाठ्यक्रम 2019: जानें क्या पढ़ना हैं ? कर्मचारी चयन आयोग द्वारा विभिन्न राज्यों/संघ शासित प्रदेशों में, विभिन्न केंद्रीय मंत्रालयों/विभागों/कार्यालयों में मल्टी-टास्किंग (गैर तकनीकी) स्टाफ, ग्रुप “C” गैर-राजपत्रित, गैर-मंत्रालयी पदों पर उम्मीदवारों की भर्ती के लिए एक प्रतियोगी परीक्षा का आयोजन किया जायेगा।

फिलहाल जिन उम्मीदवारों ने अपना आवेदन कर दिया है या वह उम्मीदवार जो SSC MTS परीक्षा में शामिल होना चाहते हैं शीघ्र आवेदन कर अपनी तैयारी शुरू कर दें। सभी उमीदवारों को तैयारी शुरू करने से पहले SSC MTS परीक्षा 2019 के परीक्षा पैटर्न और पाठ्यक्रम की जानकारी अवश्य प्राप्त कर लेनी चाहिए।

SSC MTS परीक्षा पैटर्न 2019: जानें क्या पढ़ना हैं ?

SSC MTS भर्ती 2019 के अंतर्गत उम्मीदवारों का चयन प्रश्नपत्र-I और प्रश्नपत्र-II में उनके प्रदर्शन के आधार पर किया जायेगा।

SSCSSC MTS परीक्षा 2019 ऑनलाइन माध्यम [ऑनलाइन कंप्यूटर आधारित परीक्षा (सीबीटी)] के तहत ऑब्जेक्टिव टाइप के MCQ पैटर्न पर आधारित होगी। फिलहाल, इस परीक्षा के लिए 90 मिनट की समय-सीमा तय की गई है जिसमें चार सेक्शन्स होंगे – इंग्लिश भाषा, क्वॉन्टिटेटिव एप्टीट्यूड, रीज़निंग एबिलिटी और जनरल अवेयरनेस। SSC परीक्षा के पेपर में कुल प्रश्नों की संख्या 100 होगी।

SSC MTS प्रश्नपत्र-I

पार्ट विषय प्रश्नों की संख्या अधिकतम अंक परीक्षा की अवधि विकलांग छात्रों के लिए परीक्षा की अवधि
A जनरल इंटेलिजेंस और रीजनिंग 25 25 90 मिनट 120 मिनट
B नुमेरिकल एप्टीट्यूड 25 25
C जनरल इंग्लिश 25 25
D जनरल अवेयरनेस 25 25

SSC MTS प्रश्नपत्र-2

  

विषय अधिकतम अंक परीक्षा की अवधि विकलांग छात्रों के लिए परीक्षा की अवधि
अंग्रेजी भाषा या संविधान की 8वीं अनुसूची में शामिल किसी अन्य भाषा में लघु निबंध/पत्र 50 30 मिनट 40 मिनट

  • SSC MTS परीक्षा की स्कीम के अनुसार, इसमें दो प्रश्नपत्र होंगे अर्थात प्रश्नपत्र-I और प्रश्नपत्र-II।
  • प्रश्नपत्र-I पूरी तरह से वस्तुनिष्ठ होगा जबकि प्रश्नपत्र-II डिस्क्रिप्टिव होगा। प्रश्नपत्र-I में चार सेक्शन होंगे-जनरल इंटेलिजेंस और रीजनिंग, नुमेरिकल एप्टीट्यूड, जनरल इंग्लिश और जनरल अवेयरनेस।
  • प्रश्नपत्र-II में अंग्रेजी भाषा या संविधान की 8वीं अनुसूची में शामिल किसी अन्य भाषा में लघु निबंध/पत्र शामिल होगा। प्रश्नपत्र-II केवल क्वालीफाइंग होगा। इस प्रश्नपत्र के माध्यम से उम्मीदवार के पद के लिए उपयुक्त होने के लिए प्राथमिक भाषा कौशल का परीक्षण किया जायेगा।

फ्री SSC MTS मॉक टेस्ट्स 2019

अब, आइये, आगामी SSC MTS परीक्षा पाठ्यक्रम की ओर आगे बढ़ते हैं।

SSC MTS परीक्षा पाठ्यक्रम 2019

SSC MTS परीक्षा पाठ्यक्रम 2019: जनरल इंटेलिजेंस

इसमें नॉन-वर्बल टाइप के प्रश्न शामिल होंगे।प्रश्नपत्र में निम्नलिखित टॉपिक्स पर आधारित प्रश्न शामिल होंग:

सिमिलर्टीज और डिफरेंसेस, स्पेस विजुलाइजेशन, प्रॉब्लम सॉल्विंग, एनालिसिस, जजमेंट, डिशिजन मेकिंग, विजुअल मेमोरी, डिस्क्रिमिनेटिंग ऑब्जरवेशन, रिलेशनशिप कॉन्सेप्ट्स, फिगर क्लासिफिकेशन, अरिथ्मेटिकल नंबर सीरीज, नॉन-वर्बल सीरीज आदि।

इसके साथ-साथ, प्रश्नपत्र में इस प्रकार के प्रश्न शामिल होंगे जिनके द्वारा, अमूर्त विचारों और प्रतीकों तथा उनके मध्य संबंध, अंकगणितीय गणना और अन्य विश्लेषणात्मक कार्यों को करने की उम्मीदवारों की योग्यता का परीक्षण किया जायेगा।

SSC MTS परीक्षा पाठ्यक्रम 2019: इंग्लिश भाषा

अंग्रेजी भाषा के बेसिक्स, इसकी वोकेबुलरी, ग्रामर, सेंटेंस स्ट्रक्चर, सिनोनिम, एंटोनिम और इनके सही प्रयोग के संबंध में उम्मीदवार की समझ का परीक्षण किया जायेगा।

SSC MTS परीक्षा पाठ्यक्रम 2019: : नुमेरिकल एप्टीट्यूड

इस सेक्शन में, संख्या पद्धति, पूर्ण संख्याओं की गणना, , दशमलव और भिन्न और संख्याओं के मध्य संबंध, फंडामेंटल अरिथ्मेटिकल ऑपरेशन, प्रतिशत, अनुपात और समानुपात, औसत, ब्याज, लाभ और हानि, छूट, तालिका और ग्राफ का प्रयोग, क्षेत्रमिति, समय और दूरी, कार्य और समय आदि पर आधारित प्रश्न शामिल होंगे।

SSC MTS परीक्षा पाठ्यक्रम 2019: जनरल अवेयरनेस

इस टेस्ट में, उम्मीदवार के आस-पास के वातावरण और समाज के लिए उनके प्रयोग के बारे में, उम्मीदवार की सामान्य जागरूकता की क्षमता का परीक्षण करने के लिए प्रश्नों को तैयार किया जायेगा।इस टेस्ट के माध्यम से,  वर्तमान घटनाओं, वैज्ञानिक क्षेत्र में प्रतिदिन होने वाली खोजों, आविष्कारों और अनुभवों के बारे में भी उम्मीदवार के ज्ञान का परीक्षण किया जायेगा।टेस्ट में, भारत और इसके पड़ोसी देशों से संबंधित प्रश्न, विशेष रूप से खेल, इतिहास, संस्कृति, भूगोल, आर्थिक परिदृश्य, भारतीय संविधान सहित सामान्य राजनीति और वैज्ञानिक अनुसंधान आदि से संबंधित प्रश्न भी शामिल होंगे।ये प्रश्न इस प्रकार के होंगे कि इनके लिए किसी विषय का विशेष रूप से अध्ययन करने की आवश्यकता नहीं है।

SSC MTS परीक्षा पाठ्यक्रम 2019: प्रश्नपत्र-II (डिस्क्रिप्टिव)

प्रश्नपत्र में 200-250 शब्दों में एक निबंध और 150-200 शब्दों में एक पत्र/प्रार्थना पत्र लिखना होगा।प्रश्नपत्र को अंग्रेजी भाषा या संविधान की 8वीं अनुसूची में शामिल किसी अन्य भाषा में लिखना होगा।आधा प्रश्नपत्र किसी अन्य भाषा में और आधा प्रश्नपत्र अंग्रेजी भाषा में लिखे हुए का मूल्यांकन नहीं किया जायेगा।

SSC MTS परीक्षा 2019 में शामिल होने वाले उम्मीदवार ऊपर दिए गये सिलेबस और परीक्षा पैटर्न को देख सकते हैं।

SSC MTS भर्ती 2019 के संबंध में और अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़े रहें।SSC परीक्षाओं में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए सर्वश्रेष्ठ SSC परीक्षा तैयारी ऐप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

TyariPLUS

11 REPLIES

    1. OnlineTyari Team Post author

      आठवीं अनुसूची में संविधान द्वारा मान्यताप्राप्त 22 प्रादेशिक भाषाओं का उल्लेख है। इस अनुसूची में आरम्भ में 14 भाषाएँ (असमिया, बांग्ला, गुजराती, हिन्दी, कन्नड़, कश्मीरी, मराठी, मलयालम, उड़िया, पंजाबी, संस्कृत, तमिल, तेलुगु, उर्दू) थीं। बाद में सिंधी को तत्पश्चात् कोंकणी, मणिपुरी, नेपाली को शामिल किया गया, जिससे इसकी संख्या 18 हो गई। तदुपरान्त बोडो, डोगरी, मैथिली, संथाली को शामिल किया गया[3] और इस प्रकार इस अनुसूची में 22 भाषाएँ हो गईं।

      Reply
    2. OnlineTyari Team Post author

      आठवीं अनुसूची में संविधान द्वारा मान्यताप्राप्त 22 प्रादेशिक भाषाओं का उल्लेख है। इस अनुसूची में आरम्भ में 14 भाषाएँ (असमिया, बांग्ला, गुजराती, हिन्दी, कन्नड़, कश्मीरी, मराठी, मलयालम, उड़िया, पंजाबी, संस्कृत, तमिल, तेलुगु, उर्दू) थीं। बाद में सिंधी को तत्पश्चात् कोंकणी, मणिपुरी, नेपाली को शामिल किया गया, जिससे इसकी संख्या 18 हो गई। तदुपरान्त बोडो, डोगरी, मैथिली, संथाली को शामिल किया गया[3] और इस प्रकार इस अनुसूची में 22 भाषाएँ हो गईं।

      Reply
    1. OnlineTyari Team Post author

      ऐसा नहीं है, अगर आप hindi में सहज है तो hindi में लिखे और यदि आप अंग्रेजी में सहज हैं तो अंग्रेजी में लिखे. सिर्फ सही और सटीक उत्तर लेखन के माध्यम से आप अधिक अंक अर्जित कर सकते हैं.

      Reply

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.