UP PCS प्रारंभिक परीक्षा 2017 : बचे दिनों की रणनीति !

UPPCS प्रारंभिक परीक्षा 2017 : बचे दिनों की रणनीति – UP PCS प्रारंभिक परीक्षा 24 सितम्बर को संपन्न होने जा रही है। इस हेतु सभी उम्मीदवारों ने अपनी तैयारी कर ली होगी या अंतिम दौर में होगी। आज हम समस्त उम्मीदवारों को बचे हुए दिनों के लिए क्या रणनीति अपनाए जिससे उनकी सफलता सुनिश्चित हो जाए, इस विषय पर चर्चा करेंगे। आपको यह बताएँगे की परीक्षा में कितने प्रश्न करना अच्छा प्रयास होगा।

सिविल सेवा परीक्षा में जनरल स्टडीज (GS) का प्रश्नपत्र हमेशा ही अत्यंत कठिन माना जाता हैं। इसमें सफलता प्राप्त करने के लिए कठिन मेहनत और सटीक रणनीति की जरुरत होती है, अंतिम दिन में आपको रिविजन इस तरह से करना चाहिए ताकि सभी टॉपिक कवर हो जाएं।

 

UP PSC प्रारंभिक परीक्षा 2017 के लिए परीक्षा पैटर्न

कई उम्मीदवार बिना पाठ्यक्रम को जाने ही अपनी पढ़ाई शुरू कर देते हैं ऐसा इसीलिए होता है क्योंकि आपको परीक्षा के सिलेबस और परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्नों की अच्छी समझ नहीं होती है। सामान्य अध्ययन को बहुत ही आसानी से संभाला जा सकता है, यदि तैयारी के समय सावधानीपूर्वक अध्ययन योजना बनाई जाये।

प्रारंभिक परीक्षा में दो अनिवार्य प्रश्नपत्र होते हैं। उम्मीदवारों को अपने उत्तर OMR शीट पर अंकित करने होते हैं। दोनों प्रश्नपत्र, प्रत्येक 200 अंक, के होते हैं और प्रश्न पत्र को हल करने के लिए प्रति प्रश्न पत्र 2 घंटे का समय दिया जाता है। दोनों प्रश्नपत्रों में वस्तुनिष्ठ प्रकार के बहुविकल्पीय प्रश्न शामिल होते हैं और इसमें नेगेटिव मार्किंग नहीं होती है।

अनिवार्य प्रश्नपत्र अंक
जनरल स्टडीज प्रश्नपत्र I 200
जनरल स्टडीज प्रश्नपत्र II (सीसेट) 200
  • प्रारंभिक परीक्षा का प्रश्नपत्र-II क्वालीफाईंग नेचर का होता है और इस प्रश्न पत्र में उम्मीदवार को न्यूनतम निर्धारित 33% अंक प्राप्त करना अनिवार्य होता है।
  • उम्मीदवारों को प्रारंभिक परीक्षा के दोनों प्रश्नपत्रों में उपस्स्थित होना अनिवार्य होता है अन्यथा उनकी उम्मीदवारी रद्द कर दी जाती है।
  • प्रारंभिक परीक्षा की मेधा सूचि (मेरिट लिस्ट) प्रारंभिक परीक्षा के प्रश्नपत्र-I में उम्मीदवार द्वारा प्राप्त अंकों और आयोग द्वारा उस वर्ष के लिए निर्धारित कटऑफ़ के आधार पर निर्धारित की जाती है।

 

UP PCS प्रारंभिक परीक्षा 2017 : बचे दिनों की रणनीति

सर्वप्रथम हम द्वितीय प्रश्नपत्र (C-SAT) की बात करते हैं। यह प्रश्नपत्र अब केवल क्वालीफाईंग नेचर का है अतः अगर इस प्रश्न पत्र में कोई बड़ी गलती ना की जाए तो PCS की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों के लिए 33% अंक पाना ज्यादा दुष्कर कार्य नहीं होगा। इस प्रश्नपत्र के लिए आपको C-SAT के सभी टॉपिक को पढ़ लेना ही पर्याप्त होगा और आप न्यूनतम अंक हासिल कर सकते हैं।

यहां पर आपको सामान्य अध्ययन प्रश्नपत्र-I की तैयारी के लिए उचित रिविजन रणनीति पर कार्य करना होगा अतः आज हम आपको कुछ टिप्स प्रदान करने जा रहे हैं, जिसपर चलकर आप सफलता की तरफ कदम बढ़ा सकते हैं।

  1. अंतिम वर्ष के कटऑफ से हों परिचित – आपको विगत तीन-चार वर्ष के कटऑफ पर नज़र डालना श्रेयस्कर होता है, परंतु 2012 से 2015 तक जहाँ प्रथम व द्वितीय दोनों प्रश्नपत्रों को जोड़कर मेरिट बनती थी वहीं 2016 से द्वितीय प्रश्नपत्र केवल Qualifying होने से सारा दारोमदार प्रथम प्रश्नपत्र (सामान्य अध्ययन) पर आ गया है। परंतु एक तथ्य स्पष्ट है कि 2012 से 2016 तक कभी भी प्रारंभिक परीक्षा की कट आफ 70% से अधिक नहीं रही अर्थात् इस वर्ष भी 150 में से 105 से 110 प्रश्नों के बीच मेरिट रहने की प्रबल संभावना है। यदि आप निश्चिंत होकर मुख्य परीक्षा की तैयारी करना चाहते हैं तो आपको 120+ प्रश्नों को सही करने की आवश्यकता पड़ेगी और उम्मीदवार को इस हेतु ठोस रणनीति का अनुगमन करना होगा।

फोकस 

सामान्य अध्ययन – I (120+ प्रश्न)
सामान्य अध्ययन – II (33+ प्रश्न)

2. सामान्य अध्ययन प्रथम प्रश्नपत्र के पाठ्यक्रम के तहत जैसा की विदित है कि राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय समसामयिकी,  भारत का इतिहास व भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन, भारत एवं विश्व का भूगोल, भारतीय राजव्यवस्था व संविधान, आर्थिक व सामाजिक विकास, पर्यावरण, पारिस्थितिकी व कृषि, सामान्य विज्ञान, जनसंख्या व नगरीकरण और U.P. विशेष से प्रश्न पूछे जाते हैं। अब अपने मजबूत और कमज़ोर खण्डों को पहचानिए और उस हिसाब से कमज़ोर खण्डों पर विशेष मेहनत करिए।

3. विगत वर्षों के प्रश्न पत्र अवश्य देखें – विगत वर्ष के 5-10 वर्ष के प्रश्न पत्र अवश्य देख लें। UP PCS परीक्षा की प्रकृति में यह देखा गया है कि विगत वर्ष के प्रश्नपत्रों से लगभग प्रत्येक वर्ष किसी न किसी रूप में 30-40 प्रश्न पूछे जाते हैं। यह भी देखें की प्रश्नों को पूछने का ट्रेंड क्या है और ट्रेंड में चल रहे विषय पर अधिक ध्यान दें-

वर्ष  →

विषय 

2016 2015 2014 2013 2012
सामान्य विज्ञान और प्रोद्योगिकी 30 27 14 12 21
भारतीय इतिहास और संस्कृति 15 11 8 11 14
भारतीय राष्ट्रीय आन्दोलन 6 9 22 14 10
भारतीय राज्यव्यवस्स्था 21 23 19 15 20
भारत और विश्व भूगोल 19 25 13 17 21
भारतीय अर्थव्यवस्था 17 13 11 14 14
राष्ट्रीय और अंतर्राष्टीय घटनाक्रम 19 20 32 39 12
जनसँख्या, पर्यावरण, नगरीकरण 12 18 18 21 26
उत्तर प्रदेश विशेष 4 2 6 5 3
अन्य 7 2 7 2 9

प्रारंभिक परीक्षा के पिछले सालों के प्रश्न पत्रों का विश्लेषण करते हैं तो पाते हैं, कि अधिकतर प्रश्न साइंस (Science) और टेक्नोलॉजी, कर्रेंट अफेयर्स , हिस्ट्री और संविधान से आये हुए हैं। साइंस (Science) खंड में अधिकतर प्रश्न जीवविज्ञान से पूंछे जाते हैं और साथ ही सामान्य विज्ञान की अवधारणायें शामिल हैं। निरंतर बदलते राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय परिदृश्य में समसामयिक मुद्दों के महत्व को देखते हुए कर्रेंट अफेयर्स पर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता है। इसके साथ ही राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय खबरों के साथ-साथ बिहार से जुड़ी खबरों पर खास ध्यान देना चाहिए। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही सामाजिक-आर्थिक योजनाओं की भी जानकारी रखें। इतिहास खंड को भी विशेष रूप से पढ़ा जाना आवश्यक है। पर्यावरण से जुड़े प्रश्नों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है।

4. विगत वर्ष के प्रश्न पत्र और मॉक टेस्ट से समय प्रबंधन की रणनीति पर कार्य करें और निर्धारित समय में प्रश्न पत्र को हल करने की रणनीति निश्चित कर लें। सबसे पहले अपने मजबूत पक्ष के प्रश्नों को हल करें फिर क्रमशः कमजोर पक्ष को हल करें और इसी रणनीति के तहत आगे बढ़ें।

UPPSC EB

उत्तर प्रदेश जनरल नॉलेज मल्टीपल चॉइस प्रश्न (MCQs)

आपको बता दें कि इस बुक में 2600 MCQs प्रश्नों का समावेश है। इस पैकेज को ख़ासतौर पर आपकी बेहतर तैयारी के लिए डिज़ाइन किया गया है, जिससे आप वास्तविक परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन करने में सफल हो सकें।

यहां क्लिक करें

UP PSC प्रारंभिक परीक्षा 2017 के बारे में और अधिक जानकारी के लिए हमसे जुड़े रहें। PCS परीक्षा में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए सर्वश्रेष्ठ UP PSC परीक्षा तैयारी ऐप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Best Government Exam Preparation App OnlineTyari

अगर अभी भी आपके मन में किसी प्रकार की कोई शंका या कोई प्रश्न है तो कृपया नीचे दिए गए कॉमेंट सेक्शन में उसका ज़िक्र करें और बेहतर प्रतिक्रिया के लिए OnlineTyari Community पर अपने प्रश्नों को हमसे साझा करें।

2 REPLIES

  1. Ravi Pratap maurya

    धन्यवाद सर एक बेहतर तरिके से जानकारी देने के लिए हम आप का आभार प्रकट करते है

    Reply

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.