UPSC CSE मुख्य परीक्षा 2016 के लिए प्रभावी उत्तर किस प्रकार से लिखें

UPSC CSE मुख्य परीक्षा के लिए प्रभावी उत्तर लिखें: UPSC परीक्षाओं के लिए, एक सीमित समय अवधि में अच्छी तरह से संरचित, आकर्षक और स्पष्ट उत्तर लिखना, एक विशेषज्ञ के लिए काफी कठिन है। एकदम सही लिखने के लिए, आप एक विशाल – सिलेबस में से सब कुछ नहीं पढ़ सकते। केवल समझदारी और सहजता से ही परीक्षा हॉल में सार्थक और प्रभावी उत्तर लिखे जा सकते हैं। इस लेख में, हम आपसे UPSC सिविल सेवा परीक्षा में प्रभावी उत्तर लिखने के साथ-साथ, आपको मानसिक रूप से तैयार रहने के लिए कुछ ख़ास रणनीतियों के बारे में बात करेंगे।

ज्ञान अर्जित करना

एक प्रभावी निष्कर्ष लिखने के लिए सबसे पहला कदम यह जानना है कि क्या लिखना है, किसी भी विषय या टॉपिक से संबंधित संपूर्ण जानकारी रखना अपने आप में काफी होता है या यूं कह लीजिए कि सफलता पाने के लिए ज्ञान का दूसरा कोई विकल्प ही नहीं होता। अगर हम बात करें गणित विषय की तो वो एक तरह से आसान विषय है, अगर आपको किसी सवाल का सही उत्तर न मालूम हो तो आप निश्चित रूप से उसका सही उत्तर नहीं लिख सकते, और अगर बात सिविल सेवा परीक्षा की हो, तो किसी भी तरह की लेखन शैली या मानसिक स्थिति ग़लत उत्तर की स्थिति में काम नहीं आते।

ज्ञान अर्जित करने के लिए हमेशा अपने आपको मानसिक रूप से तैयार रखें। कई किताबें पढ़ें, आप जो कुछ भी पढ़ें, उसके नोट्स बनायें। यह एक तरह का व्यायाम है जो UPSC सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी करते समय काम में आता है। ऐसा करने से आप जल्दी और आसानी से रिविज़न कर सकेंगे और साथ ही इससे समय की बचत भी होती है।

अच्छी डिबेट

कभी-कभी विभिन्न कारणों के चलते किसी विषय या टॉपिक को लेकर आपकी राय पक्षपाती हो सकती है। इन पूर्वाग्रहों को कॉन्फ़िगर करने के लिए, आपको खुले दिमाग से अपने दोस्तों और साथियों के साथ अच्छी चर्चा करने की आवयश्कता है।

यह आपको उस दृष्टिकोण को जानने में सहायता करेगा जो कि आपकी राय से भिन्न हो सकता है, इसलिए ख़ुद को दिमागी रूप से सक्रिय रखें। खुली चर्चा से आपका दिमाग उन तथ्यों को भी जान पायेगा जो आपके तथ्यों से भिन्न हो सकते हैं।

एक शिक्षक बनिए

किसी विशेष टॉपिक को पूरी तरह से समझने के लिए आप एक तक़नीक का इस्तेमाल कर सकते हैं वो ये है कि आप उस विशेष टॉपिक को किसी और को पढ़ाएं वो भी एक शिक्षक की तरह ऐसा करने से आप उस टॉपिक को बेहतर तरीक़े से समझ सकेंगे।

पढ़ें: कॉलेज के समय में UPSC CSE की तैयारी कैसे करें

यह एक तथ्य है कि आप किसी और को कोई विषय तभी पढ़ा सकते हैं जब आपको स्वयं उस विषय की पूरी समझ हो।

अपनी समझ को व्यापक बनायें

जब आप उन सभी महत्वपूर्ण विषयों की सूची बना लें जिन्हें परीक्षा के नज़रिए से विस्तृत अध्ययन की आवश्यकता है, तब एक से अधिक स्रोत से विषय के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी एकत्र करें। सीधे निष्कर्ष पर पहुंचने  से पहले सभी दृष्टिकोणों से विषय का अध्ययन करें।

अपनी समझ को व्यापक बनाने से आप प्रभावपूर्ण उत्तर लिखने के लिए अपने दिमाग को प्रभावी तरीक़े से सक्षम बना पाएंगे।

वास्तविकता और विश्लेषण के बारे में जानें

प्रभावी उत्तर लिखना आसान काम नहीं है।  हालांकि, एक उत्तर लिखने के लिए आधारभूत जानकारी का होना  बहुत  महत्वपूर्ण है, लेकिन यह पर्याप्त नहीं है। UPSC के प्रश्न-पत्रों को क़रीब से देखने पर आप पाएंगे कि पूछे गए प्रत्येक प्रश्न का उत्तर देने के लिए विषयों पर अत्यधिक विचार-विमर्श और विश्लेषण की आवश्यकता है।

UPSC सिविल सेवा परीक्षा में, अत्यधिक लंबा या बड़ा उत्तर लिखने की आवश्यकता नहीं है। वास्तविकता यह है कि UPSC उस दिमाग की तलाश करता है जो “सोच” सके और ऐसे उम्मीदवार को पाकर वह ख़ुद को आभारी समझते हैं यानि इस परीक्षा का मुख्य आधार आपकी “सोच” पर निर्भर करता है। आपके उत्तरों का मुख्य आंकलन, आपके स्थिति, विषयों का विश्लेषण करने के तरीके पर आधारित होता है।

अत: यह महत्वपूर्ण है कि आप प्रश्न को स्पष्ट रूप से पढ़ें और विषय को समझें, फिर अपनी पढ़ाई  से प्राप्त ज्ञान को अपने दृष्टिकोण के साथ एकत्र कीजिये। आप, भारतीय राजव्यवस्था, भूगोल, अर्थशास्त्र,  पारिस्थितिकी तंत्र तथा विज्ञान और प्रौद्योगिकी की तैयारी करने के लिए निम्नलिखित लेख भी पढ़ सकते हैं:

अपने संशयों और प्रश्नों को नीचे दिए गए कॉमेंट सेक्शन में लिखें। UPSC सिविल सेवा परीक्षा 2016 के लिए शुभकामनाएं।

Doubts-Hindi- (1)

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.