UPSC IAS 2019 : घर पर यूं शुरू करें IAS बनने के लिए तैयारी

UPSC IAS 2019: घर पर यूं शुरू करें IAS बनने के लिए तैयारी: IAS बनने की राह पर बढ़ने वाले छात्रों को हरदम यह बताया जाता है UPSC IAS परीक्षा काफी दुष्कर है। इसकी तैयारी सबके बस की बात नहीं, आदि-आदि। परन्तु यदि उम्मीदवार सटीक रणनीति के तहत कठिन परिश्रम से आगे बढ़ता रहें और अपनी आँख-कान को खुला रखें तो यह परीक्षा उतनी भी कठिन नहीं है।

UPSC IAS 2019 परीक्षा की तैयारी के लिए सीधे कोचिंग क्लास में चले जाना ही शुरुआती रणनीति नहीं होनी चाहिए। आइए आज जानते हैं कि आप कैसे घर पर तैयारी की शुरुआत कर सकते हैं।

UPSC IAS 2019: घर पर यूं शुरू करें IAS बनने के लिए तैयारी !

ऐसे उम्मीदवार जो बिना कोचिंग के तैयारी करना चाहते हैं, यह लेख उनके लिए भी महत्त्वपूर्ण है। आइये जानते हैं की आपको घर पर UPSC IAS 2019 की तैयारी कैसे शुरू करनी चाहिए-

आपकी उम्र और योग्यता

यह बहुत ही अहम सवाल है क्योंकि सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी सही समय पर करनी चाहिए। न बहुत जल्दी और न बहुत देर से। UPSC आंकड़ों के मुताबिक, सिविल सेवा में सफल होने वाले ज्यादातर कैंडिडेट्स 23-28 साल के होते हैं। आप इसी उम्र के आसपास तक तैयारी कर सकते हैं। अगर आपने बहुत पहले (स्कूल/कॉलेज) से ही सिविल सेवा का ठान लिया है तो आपको पूरी ईमानदारी से अपने पाठ्यक्रम को पढ़ना है और थोड़ा समाचार या महत्त्वपूर्ण खबरों पर अपनी समझ विकसित करने की कोशिश करनी है। अगर आप ग्रैजुएशन (स्नातक) हो चुके हैं तो अब आपको थोड़ा सीरियस हो कर UPSC पाठ्यक्रम के हिसाब से तैयारी शुरू कर देनी चाहिए और करेंट अफेयर की एक मैगज़ीन और प्रतिदिन एक अखबार और एक टाइम समाचार सुनने और उसे समझने की शुरुवात कर देनी चाहिए। आमतौर पर जब आप ग्रैजुएशन के फाइनल ईयर में होते हैं तो 20-22 साल की उम्र इसकी तैयारी शुरू करने का सबसे सही समय है।

IAS परीक्षा की तैयारी बिगनर्स कैसे करें ?

UPSC सिविल सेवा के बेसिक्स को जानें

सिविल सेवा भर्ती परीक्षा की तैयारी शुरू करते समय अपने आप से तीन प्रश्न पूछें-

1.क्यों: सबसे पहले तो आपको पता होना चाहिए की सिविल सेवा ही क्यों, अन्य जॉब्स क्यों नहीं। यह प्रश्न आपको इस परीक्षा के लिए तैयारी करने में काफी मदद करेगा और जब आप निराश होंगे तब यह आपमें उर्जा का संचार करेगा। साथ ही साक्षात्कार में भी आप इस प्रश्न का सटीक ढंग से उत्तर दे पाएंगे।

2.क्या: क्यों का निर्णय होने के बाद आप परीक्षा की बुनियादी जानाकरी जैसे-परीक्षा पैटर्न, पाठ्यक्रम और पुस्तकों का ज्ञान प्राप्त करें। टॉपर के वीडियो देखें और आपको अभी कितना अध्ययन करना है इसकी जानकारी प्राप्त करें। टाइम टेबल बनाएं और अपने कमजोर विषयों के अध्ययन के लिए अधिक समय दें।

3. कैसे: NCERT पुस्तकों से शुरुवात कर अपने बेसिक्स को क्लियर करें फिर मानक पुस्तकों का अध्ययन करें। बेसिक्स क्लियर होने के पश्चात प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा की रणनीति बनाएं। सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा की तैयारी में फर्क होता है। प्रीलिम्स के लिए आपको बहुत सारी जानकारी चाहिए होगी लेकिन गहराई से नहीं। लेकिन मेन्स के लिए आपको किसी भी टॉपिक की बहुत गहराई तक जानकारी होनी चाहिए।

UPSC IAS 2019 के लिए टाइम टेबल का दृढ़ता से परीक्षा चक्र के हिसाब से पालन करें 

इसके अतिरिक्त जब आप घर पर अध्ययन करेंगे तो आलस्य/अभी पढ़ेंगे/पहले अन्य काम कर लेते हैं फिर रात में अधिक पढ़ लेंगे आदि समस्या से निजात पाएं और दृढ़ता से अपने टाइम टेबल को 10-12 महीने तक की योजना पर अध्ययन कार्य करें। अपने समय को पेपर 1 और 2 में बांट लें। प्रीलिम्स का पेपर 2 सिर्फ क्वालिफाइंग नेचर का है, इसलिए उस पर बहुत ही ज्यादा फोकस न करें। इसकी बजाय आपको पेपर 1 यानी जनरल स्टडी पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए। मुख्य परीक्षा की तैयारी भी प्रारंभिक परीक्षा के साथ शुरू करें। परन्तु प्रारंभिक परीक्षा से पूर्व 3 महीने या इससे कम में सिर्फ प्रारंभिक परीक्षा को तरजीह दें।

सही न्यूजपेपर और मैगजीन पढ़ें

अगर आपको मालूम नहीं हैं तो जान लें कि सिविल सेवा परीक्षा में करंट अफेयर्स और जनरल अवेयरनेस काफी मायने रखता है। पेपर 1 में करंट अफेयर्स और जनरल अवेयरनेस से कम से कम 30-40 सवाल आते हैं। इन चीजों को कवर करने के लिए आपको रोजाना अच्छे समाचार पत्र और मैगजीन का अध्ययन करना चाहिए। इसके अतिरिक्त करेंट अफेयर का मुख्य परीक्षा में भी अहम योगदान है और विषयगत प्रश्न भी इस पर आधारित पूछे जाते हैं। इस पर पकड़ बनाने के लिए प्रत्येक मुख्य खबर पर गहराई से अध्ययन करें और उसके प्रभाव परिणाम आदि का आंकलन करते चलें।

UPSC IAS परीक्षा 2019: करेंट अफेयर्स की तैयारी कैसे करें !

आपनी तैयारी का आंकलन करें

आपने NCERT की पुस्तकें गहराई से पढ़ीं या नहीं; इसका मूल्यांकन करने आप क्लास स्तरीय NCERT मॉक टेस्ट में अवश्य सम्मिलित हों और मॉक टेस्ट हल करके आप अपनी तैयारी का सटीक मूल्यांकन कर सकते हैं। फिर मानक पुस्तकों को पढ़ने के बाद IAS परीक्षा के लिए ऑनलाइन मॉक टेस्ट सीरीज जॉइन कर लें और बार-बार मॉक टेस्ट देकर अपने ज्ञान स्तर में सुधार करते रहें। इससे आपको पता चलेगा कि आपकी तैयारी किस दिशा में जा रही है। उस हिसाब से आप अपनी रणनीति में भी बदलाव कर सकेंगे।

इस वर्ष कि UPSC IAS 2019 परीक्षा के लिए टिप्स 

UPSC IAS 2019 प्रवेश परीक्षा का पहला चरण जून माह के पहले सप्ताह आयोजित होगा। सिविल सेवा परीक्षा के लिए दो महीने बाकी रह गए हैं। प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे युवा परीक्षा को लेकर हमेशा चिंतित रहते हैं। घर का दबाव, परीक्षा में बेहतर परिणाम देने के दबाव में अभ्यर्थी परेशान रहते हैं। अंतिम समय में अभ्यर्थियों पर तैयारी का दबाव और बढ़ जाता है। परीक्षा पास करने के लिए वह हर तरीके के हथकंडे अपनाते हैं, लेकिन सफलता एक सटीक प्लानिंग के बाद ही मिलती है।

अभ्यर्थियों को अंतिम समय में धैर्य के साथ लगातार तैयारी करना चाहिए। अक्सर परीक्षा के दबाव में अभ्यर्थी नई-नई मैगजीन, किताबें खरीद कर तैयारी करते हैं। कम समय होने के चलते अभ्यर्थी अक्सर शार्टकट का रास्ता अपनाते हैं, लेकिन ऐसा न करके हर अभ्यर्थी को विशेषतौर पर इन परीक्षाओं की तैयारी के लिए बनाई गई किताबों से ही पढ़ाई करनी चाहिए। समय कम बचा है तो अभ्यर्थियों को मॉक टेस्ट सॉल्व करने चाहिए। पुराने साल के पेपर और मॉक टेस्ट सॉल्व करने से असल परीक्षा में टाइम मैनेज होगा। अब कुछ भी नया पढ़ने से बेहतर है कि अपने नोट्स का ही रिविजन किया जाए। इससे अतिरिक्त दवाब से भी बच सकेंगे।

यहां हम अपने लेख को समाप्त करते हैं और आशा करते हैं की यह लेख आपके लिए लाभदायक सिद्ध होगा। अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो इसे लाइक करें, कमेंट करें और शेयर करें।  

TyariPlus जॉइन करें !
अपनी आगामी सभी परीक्षाओं की तैयारी के लिए अब सिर्फ TyariPlus की सदस्यता लें और वर्ष भर अपनी तैयारी जारी रखें-
TyariPLUS सदस्यता के फायदे

  • विस्तृत परफॉरमेंस रिपोर्ट
  • विशेषज्ञों द्वारा नि: शुल्क परामर्श
  • मुफ्त मासिक करेंट अफेयर डाइजेस्ट
  • विज्ञापन-मुक्त अनुभव और भी बहुत कुछ

सरकारी परीक्षा के लिए आवेदन करने वाले सभी उम्मीदवार अपनी परीक्षा के लिए तैयारी जारी रखें और मॉक टेस्ट से अपनी तैयारी को जांचते रहें। अनलिमिटेड मॉक टेस्ट से अभ्यास करने के लिए अभी TyariPLUS जॉइन करें।
TyariPLUS

UPSC सिविल सेवा भर्ती परीक्षा 2019 से संबंधित अधिक जानकारी के लिए हमसे जुड़े रहें। सिविल सेवा परीक्षा में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए सर्वश्रेष्ठ IAS परीक्षा तैयारी एप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Best Government Exam Preparation App OnlineTyari

3 REPLIES

    1. Ajay K. Tripathi Post author

      यह देखा जाता है कि IAS परीक्षा में लगभग एक वर्ष पूर्व अथार्त प्रारंभिक परीक्षा की तिथि से एक वर्ष पूर्व और प्रारंभिक परीक्षा से लगभग 3-4 महीने पहले तक के सवाल प्रश्न पत्र में ज्यादा पूछे जाते हैं। प्रारंभिक परीक्षा से लगभग 3-4 महीने पहले तक का करेंट अफेयर अध्ययन का लॉजिक यह है कि प्रश्न पत्र 3-4 माह पूर्व ही प्रिंट हो जाता है। अतः आप चाहें तो इस रणनीति से भी फायदा उठा सकते हैं।

      Reply

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.