UPSC IAS (मेन्स) GS पेपर 2 एनालिसिस: 5 दिसम्बर 2016

UPSC IAS (मेन्स) GS पेपर 2 एनालिसिस 5 दिसम्बर 2016: UPSC IAS सिविल सेवा परीक्षा को देश की सबसे चुनौतीपूर्ण परीक्षाओं में से एक माना जाता है| प्रत्येक वर्ष, लाखों उम्मीदवार, सिविल सेवा परीक्षा में शामिल होते हैं| UPSC ने IAS मुख्य परीक्षा के जनरल स्टडीज (GS) प्रश्नपत्र 2 का आयोजन 5 दिसम्बर 2016 को किया था|

इस लेख का मुख्य उद्देश्य, UPSC IAS मुख्य परीक्षा के GS प्रश्नपत्र 2 का विश्लेषण करना है| इसके साथ-साथ, हम IAS मुख्य परीक्षा के GS प्रश्नपत्र 2 में पूछे गए सभी प्रश्नों पर विस्तार से चर्चा करेंगे|

 

IAS (मेन्स) परीक्षा जनरल स्टडीज पेपर 2

UPSC ने IAS मुख्य परीक्षा के जनरल स्टडीज (General Studies) प्रश्नपत्र 2 का आयोजन 5 दिसम्बर 2016 को किया था| उम्मीदवार को 20 प्रश्नों के उत्तर, प्रत्येक लगभग 200 शब्दों में देने थे| प्रत्येक प्रश्न के लिए निर्धारित अंक 12.5 थे तथा संपूर्ण प्रश्नपत्र के लिए निर्धारित अंक 250 थे| तो आइये जनरल स्टडीज पेपर 2 पर विस्तार से चर्चा करते हैं|

 IAS (मुख्य) परीक्षा 2016 का GS पेपर 2

  1. 69वें संविधान संशोधन अधिनियम के उन अत्यावश्यक तत्वों और विषमताओं, यदि कोई हों, पर चर्चा कीजिये, जिन्होंने दिल्ली के प्रशासन में निर्वाचित प्रतिनिधियों और उप-राज्यपाल के बीच में हाल ही में समाचारों में आये मतभेदों को पैदा कर दिया है| क्या आपके विचार में इससे भारतीय परिसंघीय राजनीति के प्रकार्यण में एक नई प्रवृत्ति का उदय होगा|
  2. भारतीय संविधान का अनुच्छेद 370, जिसके साथ हाशिया नोट “जम्मू कश्मीर राज्य के संबंध में अस्थायी उपबंध” लगा हुआ है, किस सीमा तक अस्थायी है? भारतीय राज्य-व्यवस्था के संदर्भ में इस उपबंध की भावी संभावनाओं पर चर्चा कीजिये|
  3. “भारतीय राजनीतिक पार्टी प्रणाली, परिवर्तन के ऐसे दौर से गुजर रही है, जो अंतर्विरोधों और विरोधाभासों से भरा प्रतीत होता है”| चर्चा कीजिये|
  4. संघ और राज्यों के लेखाओं के संबंध में, नियंत्रक और महालेखापरीक्षक की शक्तियों का प्रयोग भारतीय संविधान के अनुच्छेद 149 से व्युत्पन्न है| चर्चा कीजिये कि क्या सरकार की नीति कार्यान्वन की लेखापरीक्षा करना अपने स्वयं (नियंत्रक और महालेखापरीक्षक) की अधिकारिता का अतिक्रमण करना होगा या कि नहीं|
  5. उद्देशिका (प्रस्तावना) में शब्द ‘गणराज्य’ के साथ जुड़े प्रत्येक विशेषण पर चर्चा कीजिये| क्या वर्तमान परिस्थितियों में ये प्रतिरक्षणीय हैं?
  6. कोहिलो केस में क्या अभिनिर्धारित किया गया था? इस संदर्भ में, क्या आप कह सकते हैं कि न्यायिक पुनर्विलोकन संविधान के बुनियादी अभिलक्षणों में प्रमुख महत्त्व का है?
  7. क्या भारत सरकार अधिनियम, 1935 ने एक परिसंघीय संविधान निर्धारित कर दिया था? चर्चा कीजिये|
  8. अर्ध-न्यायिक (न्यायिकवत्) निकाय से क्या तात्पर्य है? ठोस उदाहरणों की सहायता से स्पष्ट कीजिये|
  9. प्रोफेसर अमर्त्य सेन ने प्राथमिक शिक्षा तथा प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल क्षेत्रों में महत्वपूर्ण सुधारों की वकालत की है| उनकी स्थिति और कार्य-निष्पादन में सुधार हेतु आपके क्या सुझाव हैं?
  10. “भारतीय शासकीय तंत्र में, गैर-राजकीय कर्ताओं की भूमिका सीमित ही रहती है|” इस कथन का समालोचनात्मक परीक्षण कीजिये|
  11. “विभिन्न स्तरों पर सरकारी तंत्र की प्रभावित तथा शासकीय तंत्र में जन-सहभागिता अन्योन्याश्रित होती है”| भारत के संदर्भ में इनके बीच संबंध पर चर्चा कीजिये|
  12. ‘ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल’ के ईमानदारी सूचकांक में, भारत काफी नीचे पायदान पर है| संक्षेप में उन विधिक, राजनितिक, आर्थिक, सामाजिक तथा सांस्कृतिक कारकों पर चर्चा कीजिये, जिनके कारण भारत में सार्वजनिक नैतकिता का ह्रास हुआ है|
  13. क्या भारतीय सरकारी तंत्र ने 1991 में शुरू हुए उदारीकरण, निजीकरण और वैश्वीकरण की मांगों के प्रति पर्याप्त रूप से अनुक्रिया की है? इस महत्वपूर्ण परिवर्तन के प्रति अनुक्रियाशील होने के लिए सरकार क्या कर सकती है?
  14. पारंपरिक अधिकारी तंत्रीय संरचना और संस्कृति ने भारत में सामाजिक-आर्थिक विकास की प्रक्रिया में बाधा डाली है|” टिप्पणी कीजिये|
  15. राष्ट्रीय बाल नीति के मुख्य प्रावधानों का परीक्षण कीजिये तथा इसके क्रियान्वन की प्रस्थिति पर प्रकाश डालिए|
  16. “भारत में जनांकिकीय लाभांश तब तक सैद्धांतिक ही बना रहेगा जब तक कि हमारी जनशक्ति अधिक शिक्षित, जागरूक, कुशल और सृजनशील नहीं हो जाती|” सरकार ने हमारी जनसंख्या को अधिक उत्पादनशील और रोजगार-योग्य बनने की क्षमता में वृद्धि के लिए कौन से उपाय किये हैं?
  17. “ विश्व व्यापार संगठन (WTO) के अधिक व्यापक लक्ष्य और उद्देश्य वैश्वीकरण के युग में अंतर्राष्ट्रीय व्यापार का प्रबंधन और प्रोन्नति करना है| परन्तु (संधि) वार्ताओं की दोहा परिधि मृतोन्मुखी प्रतीत होती है, जिसका कारण विकसित और विकासशील देशों के बीच मतभेद है|” भारतीय परिप्रेक्ष्य में इस पर चर्चा कीजिये|
  18. शीतयुद्धोत्तर अंतर्राष्ट्रीय परिदृश्य के संदर्भ में, भारत की पूर्वोन्मुखी नीति के आर्थिक और सामाजिक आयामों का मूल्यांकन कीजिये|
  19. “भारत में बढ़ते हुए सीमा-पार से आतंकी हमले और अनेक सदस्य राज्यों के आंतरिक मामलों में पाकिस्तान द्वारा बढ़ता हुआ हस्तक्षेप सार्क (दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन) देशों के भविष्य के लिए सहायक नहीं है|” उपयुक्त उदाहरणों के साथ स्पष्ट कीजिये|
  20. यूनेस्को ( संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक तथा सांस्कृतिक संगठन) के मैकब्राइड आयोग के लक्ष्य और उद्देश्य क्या-क्या हैं? इनमें भारत की क्या स्थिति है?

UPSC IAS मुख्य परीक्षा के GS पेपर 2 को पूरी तरह से देखने के बाद, आइये अब IAS (मेन्स) परीक्षा के GS प्रश्नपत्र 2 के विश्लेषण  (Analysis) की तरफ आगे बढ़ते हैं|

 

IAS (मेन्स) के GS पेपर 2 का एनालिसिस

यहां हम IAS मुख्य परीक्षा 2016 के जनरल स्टडीज (General Studies) पेपर 2 के विश्लेषण को महत्वपूर्ण बिंदुओं के रूप में तैयार करने का प्रयास करेंगे| आइये प्रश्नपत्र का विश्लेषण नीचे प्वाइंट्स में करते हैं:

  • IAS मुख्य परीक्षा के जनरल स्टडीज (General Studies) प्रश्नपत्र 2 में, भारतीय संविधान, राष्ट्रीय बाल नीति, SAARC और UNESCO संगठन आदि जैसे टॉपिक्स को कवर किया गया था|
  • GS प्रश्नपत्र 1 की तरह इस प्रश्नपत्र में प्रश्नों के संदर्भ में अंकों का कोई आंतरिक विभाजन नहीं था|

कुल मिलाकर हम यह निष्कर्ष निकालते हैं कि UPSC IAS मेन्स के जनरल स्टडीज पेपर 2 की 5 दिसम्बर 2016 परीक्षा में प्रश्नों का स्तर कठिन था|

हम उम्मीद करते हैं कि यह लेख आपको IAS मुख्य परीक्षा 2016 के जनरल स्टडीज (General Studies) पेपर 2 की एक बेहतर समझ प्रदान करेगा| यहां हम IAS मुख्य परीक्षा के GS प्रश्नपत्र 2 के एनालिसिस को समाप्त करते हैं|संघ लोक सेवा आयोग (Union Public Service Commission) की सिविल सेवा परीक्षा 2016 के संबंध में और अधिक जानकारी हासिल करने के लिए हमसे जुड़े रहें। सिविल सेवा परीक्षा में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए, सर्वश्रेष्ठ IAS परीक्षा तैयारी ऐप नि:शुल्क डाउनलोड करें।

Best-Government-Exam-Preparation-App-OnlineTyari

अगर अब भी आपके मन में किसी भी तरह की कोई शंका या कोई सवाल है तो नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में उसका ज़िक्र करें और बेहतर प्रतिक्रिया के लिए OnlineTyari Community पर अपने सवालों/ सुझावों को हमसे जरूर साझा करें।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.