Guest
Welcome, Guest

Login/Register

महत्त्वपूर्ण लिंक

हमसे सम्पर्क करें

Bookmark Bookmark

11वीं रक्षा प्रदर्शनी अगले वर्ष लखनऊ में 05 से 08 फरवरी तक

रक्षा प्रदर्शनी भारत – 2020 के 11वें द्विवार्षिक संस्करण का पहली बार उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 05 से 08 फरवरी तक आयोजन किया जाएगा। इसमें भारतीय रक्षा उद्योग को अपनी क्षमताओं का प्रदर्शन करने और अपनी निर्यात संभावनाओं को बढ़ाने का एक उत्कृष्ट अवसर मिलेगा। रक्षा प्रदर्शनी भारत - 2020 का मुख्य विषय “भारत : उभरता हुआ रक्षा निर्माण केन्द्र” है और इसमें रक्षा के डिजिटल परिवर्तन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।


अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कराए जाने वाले इस तरह के आयोजनों से न केवल वरिष्ठ विदेशी प्रतिनिधियों के साथ व्यवसाय संबंधी बातचीत को बल्कि सरकारों के बीच बैठकें आयोजित करने और समझौता ज्ञापनों को कारगर बनाने में मदद मिलती है। प्रदर्शनी में रक्षा क्षेत्र में निवेश के लिए उत्तठर प्रदेश के एक आकर्षक स्थल के रूप में उभरने पर प्रकाश डाला जाएगा। यह प्रदर्शनी रक्षा उद्योग में गठबंधनों और संयुक्त उद्यमों के लिए एक मंच के रूप में कार्य करेगी।


इस उत्तमरी राज्य में एक मजबूत रक्षा औद्योगिक बुनियादी ढांचा है। यहां लखनऊ, कानपुर, कोरबा और नैनी (प्रयागराज) स्थित हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स की चार इकाइयां, कानपुर, कोरबा, शाहजहांपुर, फिरोजाबाद सहित नौ आयुध फैक्टरी इकाइयां तथा गाजियाबाद में भारत इलैक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड की एक इकाई है। भारत के दो रक्षा औद्योगिक गलियारों (डीआईसी) में से एक को उत्तयर प्रदेश में बनाने की योजना बनाई गई है। ये गलियारे भारतीय रक्षा उद्योग सहित रक्षा सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (एमएसएमई) को प्रोत्सायहित करेंगे तथा सार्वजनिक रक्षा क्षेत्र उपक्रमों (डीपीएसयू) को बढ़ावा देंगे। अन्यम डीआईसी तमिलनाडु में बनाने का प्रस्ताव है।


यह रक्षा प्रदर्शनी बड़े विदेशी मौलिक उपकरण निर्माताओं (ओईएम) को भारतीय रक्षा उद्योग के साथ सहयोग करने और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की मेक इन इंडिया पहल को बढ़ावा देने का अवसर प्रदान करेगी।
यह रक्षा प्रदर्शनी रक्षा उद्योग ओईएम, प्रदर्शनी लगाने वालों और निजी उद्योग को अपने नवीनतम अविष्कारों और क्षमताओं का प्रदर्शन करने के लिए एक अनोखा मंच प्रदान करेगी।


इस रक्षा प्रदर्शनी में देश- विदेश के मंत्रिस्तरीय प्रतिनिधिमंडलों और देश भर के और विदेशी मेहमानों के आने की संभावना है। इस प्रदर्शनी में भारत को एक उभरते हुए निर्माण केन्द्र के रूप में देखने का अवसर मिलेगा जो न केवल हमारी रक्षा सेनाओं को बल्कि दुनिया को निर्यात के लिए रक्षा उपकरणों के सह-विकास और सह-उत्पादन का आकर्षक अवसर प्रदान करेंगे।


उत्तर प्रदेश के बारे में


मुख्यमंत्री- योगी आदित्यनाथ


राज्यपाल- आनंदीबेन पटेल

You might be interested:

राष्ट्रमंडल टेबल टेनिस महासंघ के चेयरमैन चुने गए विवेक कोहली

भारत के विवेक कोहली और एमपी सिंह को राष्ट्रमंडल टेबल टेनिस महासंघ (सीटीटीएफ) ...

2 महीने पहले

पैकियाओ ने थरमन को पछाड़कर डब्ल्यूबीए खिताब जीता

फिलिपीन्स के दिग्गज मुक्केबाज मैनी पैकियाओ कीथ थरमन को हराकर मुक्केबाजी इत ...

2 महीने पहले

लोजपा के सांसद रामचंद्र पासवान का निधन

लोक जनशक्ति पार्टी के सांसद रामचंद्र पासवान का निधन हो गया। वह 57 वर्ष के थे। ...

2 महीने पहले

कर्नाटक संगीत की चर्चित गायिका सौम्या को ‘संगीत कलानिधि’’ सम्मान

‘द म्यूजिक एकेडमी’ ने कर्नाटक संगीत की प्रसिद्ध गायिका एस सौम्या को प्रत ...

2 महीने पहले

पूर्व लोकसभा सांसद ए के रॉय का निधन

पूर्व लोकसभा सांसद और मार्क्सवादी समन्वय समिति (एमसीसी) के संस्थापक ए के रॉय ...

2 महीने पहले

मिजोरम में आजाद हिंद फौज के एकमात्र जीवित सदस्य डर्थावमा का निधन

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की आजाद हिंद फौज का हिस्सा रहे इसके एकमात्र मिजोरमवा ...

2 महीने पहले

Provide your feedback on this article: