Bookmark Bookmark

15वां प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन

15वां प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी में 22 जनवरी को 15वें प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन का उद्घाटन किया।

इस साल के प्रवासी भारतीय दिवस का विषय ‘नये भारत के निर्माण में प्रवासी भारतीयों की भूमिका’ है। मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद जगन्नाथ इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे।

प्रवासी भारतीय दिवस मनाने का फैसला 2003 में तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने किया था और पहला कार्यक्रम उस साल नौ जनवरी को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में हुआ था।

इस कार्यक्रम के लिए नौ जनवरी का चयन इसलिए किया गया था क्योंकि 1915 में इसी दिन महात्मा गांधी दक्षिण अफ्रीका से भारत लौटे थे। प्रवासी भारतीय दिवस अब हर दो साल पर मनाया जाता है।

इस अवसर पर प्रायः तीन दिवसीय कार्यक्रम आयोजित किया जाता है। इसमें अपने क्षेत्र में विशेष उपलब्धि प्राप्त करने वाले भारतवंशियों का सम्मान किया जाता है तथा उन्हे प्रवासी भारतीय सम्मान प्रदान किया जाता है।

You might be interested:

वन लाइनर्स ऑफ़ द डे : 23 जनवरी 2019

राष्ट्रीय 15वां प्रवासी भारतीय दिवस इस शहर में शुरू हुआ -वाराणसी (भारत) अंतर्राष्ट्रीय अरब आर्थ ...

2 महीने पहले

बैंकिंग डाइजेस्ट : 23 जनवरी 2019

राष्ट्रीय 15वां प्रवासी भारतीय दिवस इस शहर में शुरू हुआ -वाराणसी (भारत) अंतर्राष्ट्रीय अरब आर् ...

2 महीने पहले

दैनिक समाचार डाइजेस्ट:21 January 2019

खेलो इंडिया गेम्स का समापनमेजबान महाराष्ट्र ने 85 गोल्ड, 62 सिल्वर और 81 ब्रॉन्ज सहित कुल 228 पदक जीतक ...

2 महीने पहले

वन लाइनर्स ऑफ़ द डे : 22 जनवरी 2019

राष्ट्रीय इस राज्य सरकार ने 'अमा घरे एलईडी' योजना शुरू की -ओडिसा ''भारत रबड़ एक्सपो 2019'' का 10वां संस ...

2 महीने पहले

बैंकिंग डाइजेस्ट : 22 जनवरी 2019

राष्ट्रीय इस राज्य सरकार ने 'अमा घरे एलईडी' योजना शुरू की -ओडिसा ''भारत रबड़ एक्सपो 2019'' का 10वां संस ...

2 महीने पहले

कृत्रिम बुद्धिमत्ता पर शोध के मामले में भारत का तीसरा स्थान

कृत्रिम बुद्धिमत्ता पर शोध के मामले में भारत का तीसरा स्थान भारत कृत्रिम बुद्धिमत्ता (एआई) में ...

2 महीने पहले

Provide your feedback on this article: