Bookmark Bookmark

अंग्रेजी लेखक अमिताव घोष ज्ञानपीठ-2018 के लिए चुने गए

अंग्रेजी लेखक अमिताव घोष ज्ञानपीठ-2018 के लिए चुने गए

अंग्रेजी के प्रतिष्ठित साहित्यकार अमिताव घोष को वर्ष 2018 के लिए 54वां ज्ञानपीठ पुरस्कार मिला है। ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित होने वाले वे अंग्रेजी के पहले लेखक हैं।

ज्ञानपीठ पुरस्कार

  • ज्ञानपीठ पुरस्कार भारतीय ज्ञानपीठ न्यास द्वारा भारतीय साहित्य के लिए दिया जाने वाला सर्वोच्च पुरस्कार है।
  • भारत का कोई भी नागरिक जो आठवीं अनुसूची में बताई गई 22 भाषाओं में से किसी भाषा में लिखता हो इस पुरस्कार के योग्य है।
  • पुरस्कार में ग्यारह लाख रुपये की धनराशि, प्रशस्तिपत्र और वाग्देवी की कांस्य प्रतिमा दी जाती है।
  • 1965 में 1 लाख रुपये की पुरस्कार राशि से प्रारंभ हुए इस पुरस्कार को 2005 में 7 लाख रुपए कर दिया गया जो वर्तमान में ग्यारह लाख रुपये हो चुका है।
  • 2005 के लिए चुने गये हिन्दी साहित्यकार कुंवर नारायण पहले व्यक्ति थे जिन्हें 7 लाख रुपए का ज्ञानपीठ पुरस्कार प्राप्त हुआ।
  • प्रथम ज्ञानपीठ पुरस्कार 1965 में मलयालम लेखक जी शंकर कुरुप को प्रदान किया गया था।

अमिताव घोष के बारे में

  • अमिताव घोष अंग्रेज़ी भाषा के विख्यात साहित्यकार हैं। इनके द्वारा रचित एक उपन्यास द शैडो लाइन्स के लिये उन्हें वर्ष 1989 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया। घोष साहित्य अकादमी और पद्मश्री सहित कई पुरस्कारों से सम्मानित हो चुके हैं।
  • उनकी प्रमुख रचनाओं में 'द सर्किल ऑफ रीजन', 'दे शेडो लाइन', 'द कलकत्ता क्रोमोसोम', 'द ग्लास पैलेस', 'द हंगरी टाइड', 'रिवर ऑफ स्मोक' और'फ्लड ऑफ फायर' प्रमुख हैं।

You might be interested:

अशोक गेहलोत होंगे राजस्थान के मुख्यमंत्री व सचिन पायलट उपमुख्यमंत्री

अशोक गेहलोत होंगे राजस्थान के मुख्यमंत्री व सचिन पायलट उपमुख्यमंत्री कांग ...

2 साल पहले

श्रीलंका के प्रधानमंत्री का इस्तीफ़ा

श्रीलंका के प्रधानमंत्री का इस्तीफ़ा विवादों में फंसे श्रीलंका के प्रधानमं ...

2 साल पहले

रामफल पवार को राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड्स ब्यूरो का निदेशक नियुक्त किया

रामफल पवार को राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड्स ब्यूरो का निदेशक नियुक्त किया खुफि ...

2 साल पहले

राष्ट्रीय मेडिकल उपकरण संवर्धन परिषद का होगा गठन

राष्ट्रीय मेडिकल उपकरण संवर्धन परिषद का होगा गठन वाणिज्य और उद्योग मंत्री ...

2 साल पहले

इको निवास संहिता 2018 लांच

इको निवास संहिता 2018 लांच विद्युत मंत्रालय ने रिहायशी इमारतों के लिए ऊर्जा सं ...

2 साल पहले

दैनिक समाचार डाइजेस्ट:14 December 2018

भारत, एडीबी ने असम में बाढ़ को कम करने के लिए $ 60 मिलियन ऋण समझौते पर हस्ताक्षर ...

2 साल पहले

Provide your feedback on this article: