Guest
Welcome, Guest

Login/Register

महत्त्वपूर्ण लिंक

हमसे सम्पर्क करें

Bookmark Bookmark

भारत की पहली वन-प्रमाणन योजना को वैश्विक मान्यता

भारत की पहली वन-प्रमाणन योजना को वैश्विक मान्यता

22 मार्च 2019 को, वन प्रमाणन योजना ‘सर्टिफिकेशन स्टैंडर्ड फॉर सस्टेनेबल फॉरेस्ट मैनेजमेंट (एसएफएम)’ जिसे नेटवर्क फॉर सर्टिफिकेशन एंड कंजर्वेशन ऑफ फॉरेस्ट (एनसीसीएफ) द्वारा विकसित किया गया है, को जिनेवा स्थित गैर-लाभकारी फर्म द्वारा वैश्विक मान्यता मिली है।

  • वन प्रमाणन एक बाजार आधारित संरक्षण उपकरण है, जो एक स्वतंत्र तीसरे पक्ष द्वारा जंगल के बाहर पेड़ों के स्थायी प्रबंधन को बढ़ावा देने के लिए बनाया गया है।
  • यह निर्णय एक डाक मतपत्र के माध्यम प्रोग्राम फॉर एंडोर्समेंट ऑफ़ फारेस्ट सर्टिफिकेशन (पीईएफसी) की परिषद द्वारा किया गया था, जो एक अंतरराष्ट्रीय गैर-लाभकारी फर्म है जो सतत वन प्रबंधन के लिए स्वतंत्र तृतीय पक्ष प्रमाणन प्रदान करती है।
  • सरकार ने ग्रीन गुड डीड्स मूवमेंट के तहत टिकाऊ वन प्रबंधन को बढ़ावा देने के लिए प्रमाणित लकड़ी से बने उत्पादों को खरीदने के महत्व पर जोर दिया है।
  • सतत वन प्रबंधन प्रमाणपत्र निर्यात के लिए अनिवार्य हो जाता है क्योंकि कई विकसित देशों ने अपने देशों में गैर-इमारती लकड़ी उत्पादों, गैर-प्रमाणित लकड़ी और लकड़ी आधारित वस्तुओं के आयात पर व्यापार प्रतिबंध लगा दिया है।

You might be interested:

33वें भारत-इंडोनेशिया कॉर्पेट की शुरुआत हुई

33वें भारत-इंडोनेशिया कॉर्पेट की शुरुआत हुई भारत-इंडोनेशिया समन्वित गश्ती द ...

4 महीने पहले

बिहार दिवस: 22 मार्च

बिहार दिवस: 22 मार्च बिहार प्रदेश ने 22 मार्च को अपनी 107वीं वर्षगांठ मनाई। बिहार ...

4 महीने पहले

ललित कला अकादमी ने घोषित किए 15 राष्ट्रीय अकादमी पुरस्कार

ललित कला अकादमी ने घोषित किए 15 राष्ट्रीय अकादमी पुरस्कार दिल्ली स्थित ललित ...

4 महीने पहले

फिनटेक कॉन्क्लेव 2019

फिनटेक कॉन्क्लेव 2019 नीति आयोग 25 मार्च को नई दिल्ली में फिनटेक कॉन्क्लेव 2019 का ...

4 महीने पहले

एबेल पुरस्कार 2019

एबेल पुरस्कार 2019 एबेल पुरस्कार (Abel Prize) की शुरुआत नॉर्वे के सबसे प्रसिद्ध गणितज ...

4 महीने पहले

Vocab Express (शब्दावली एक्सप्रेस)- 686

Vocab Express (शब्दावली एक्सप्रेस)- 686 प्रिय उम्मीदवार, आपकी शब्दावली को बढ़ाने ...

4 महीने पहले

Provide your feedback on this article: