Bookmark Bookmark

भारत वैश्विक भूख सूचकांक 2021 में 101वें स्थान पर है

भारत वैश्विक भूख सूचकांक 2021 में 101वें स्थान पर है

संदर्भ:

वैश्विक भूख सूचकांक (GHI) 2021 में 116 देशों में भारत का स्थान 101वां है। भारत 2020 के अपने 94वें स्थान से नीचे खिसक गया है और अपने पड़ोसी देश नेपाल, पाकिस्तान और बांग्लादेश से पीछे है।

मुख्य बिंदु:

  • गरीबी और कुपोषण पर नज़र रखने वाली ग्लोबल हंगर इंडेक्स वेबसाइट के अनुसार, चीन, ब्राजील और कुवैत सहित 18 देशों ने उच्चतम जीएचआई स्कोर पांच से कम साझा किया है।
  • रिपोर्ट संयुक्त रूप से आयरिश सहायता एजेंसी कंसर्न वर्ल्डवाइड और जर्मन संगठन वेल्ट हंगर हिल्फ़ द्वारा तैयार की गई है, जिसने भारत में भूख के स्तर को "खतरनाक" करार दिया।

GHI स्कोर:

  • इसकी गणना 4 संकेतकों पर की जाती है, अर्थात् अल्पपोषण; बच्चे की बर्बादी (5 साल से कम उम्र के बच्चों का हिस्सा जो बर्बाद हो गए हैं यानी जिनका वजन उनकी ऊंचाई के लिए कम है, तीव्र कुपोषण को दर्शाता है); बाल बौनापन (पांच वर्ष से कम उम्र के बच्चे जिनकी लंबाई उनकी उम्र के हिसाब से कम है, जो पुराने कुपोषण को दर्शाता है) और बाल मृत्यु दर (पांच साल से कम उम्र के बच्चों की मृत्यु दर)।
  • भारत का जीएचआई स्कोर भी 2000 में 38.8 से घटकर 2012 और 2021 के बीच 28.8 - 27.5 के बीच रह गया है।

You might be interested:

माईपार्किंग ऐप लॉन्च किया गया

माईपार्किंग ऐप लॉन्च किया गया संदर्भ: हाल ही में, सूचना और प्रसारण मंत्री अन ...

7 महीने पहले

बीएसएफ की शक्तियां बढीं

बीएसएफ की शक्तियां बढीं संदर्भ: गृह मंत्रालय ने सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) की श ...

7 महीने पहले

दैनिक समाचार डाइजेस्ट:20 October 2021

विद्युत मंत्रालय ने एनटीपीसी और डीवीसी को दिशा-निर्देश जारी किए पिछले 10 दिन ...

7 महीने पहले

G20 इनोवेशन लीग

G20 इनोवेशन लीग संदर्भ: G20 के इतालवी प्रेसीडेंसी ने एक स्थायी भविष्य के निर्माण ...

7 महीने पहले

प्याज, आलू और टमाटर के दाम पिछले साल के मुकाबले सस्ते

प्याज, आलू और टमाटर के दाम पिछले साल के मुकाबले सस्ते संदर्भ: उपभोक्ता मामलो ...

7 महीने पहले

डीजीडीई के आईडीई अधिकारियों और तकनीकी कर्मचारियों के लिए क्षमता निर्माण कार्यक्रम

डीजीडीई के आईडीई अधिकारियों और तकनीकी कर्मचारियों के लिए क्षमता निर्माण का ...

7 महीने पहले

Provide your feedback on this article: