Bookmark Bookmark

भारतीय अर्थव्यवस्था अभ्यास प्रश्न: सेट-5

प्रश्न 1: निम्नलिखित में से कौन-सा से क्षेत्र औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (IP) के अंतर्गत आता आते है/हें?

1. उत्खनन

2. विनिमणि

3. विद्युत

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिए।

(a) केवल 1 और 2

(b) केवल 2

(c) केवल 1 और 3

(d) 1, 2 और 3

Answer: d

Explanation: औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (IIP) अर्थव्यवस्था में औद्योगिक उत्पादन में होने वाले परिवर्तन के परिमाण का मापन करता है और देश में औद्योगिक गतिविधियों का सामान्य स्तर दर्शाता है। यह सूचकांक संख्या के रूप में व्यक्त समग्र सूचक है जो आधार अवधि के संबंध में निश्चित अवधि के दौरान औद्योगिक उत्पादों के बास्केट के उत्पादन की मात्रा में होने वाले लघु अवधि के (CSO) करता है।IIP में 682 मदें हैं जिसमें खनन (61 मदें), विनिर्माण (620 मदें) और विद्युत (1 मद) सम्मिलित है। इन तीन क्षेत्रकों का भार क्रमशः 14.16%, 75.53% और 10.32% है और यह वर्ष 2004-05 के दौरान कारक लागत(Factor Cost) पर सकल घरेलू उत्पाद में इनके हिस्से के आधार पर है।

---------------------------------------------------------------------

प्रश्न 2: पार्टिसिपेटरी नोट्स (PNs) के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए:

1. ये वित्तीय लिखत (विलेख) हैं, जिनका प्रयोग ऐसे निवेशकों द्वारा भारतीय प्रतिभूतियों में निवेश करने के लिए किया जाता है जो SEBI के अंतर्गत पंजीकृत नहीं हैं।

2. निवेशकों को PN के माध्यम से निवेशित शेयरों के संबंध में मताधिकार प्राम होता है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

(a) केवल 1

(b) केवल 2

(c) 1 और 2 दोनों

(d) न तो 1, न ही 2

Answer: a

Explanation: कथन 1 सही है। पार्टिसिपेटरी नोट्स "जिन्हें पी-नोट्स के रूप में भी संदर्भित किया जाता है" ऐसे विलेख हैं जिनका भारतीय प्रतिभूतियों में निवेश करने के लिए उन वित्तीय निवेशकों या हेज फंडों द्वारा प्रयोग किया जाता है जो भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (SEBI) के अंतर्गत पंजीकृत नहीं हैं।

कथन 2 गलत है। PN में निवेश करने वाले निवेशक के पास अंतर्निहित भारतीय प्रतिभूतियों का स्वामित्व नहीं होता है, जिसे PN जारी करने वाले विदेशी संस्थागत निवेशकों द्वारा धारित किया जाता है। इस प्रकार PN में निवेश करने वाले निवेशक प्रतिभूति में निवेश करने का, वास्तव में उसे रखे बिना, आर्थिक लाभ प्राम करते हैं। चूंकि PN का मूल्य अंतर्निहित भारतीय प्रतिभूति के मूल्य से जुड़ा होता है, अत: वे अंतर्निहित प्रतिभूति की कीमत में होने वाले उतार-चढ़ाव से लाभान्वित होते हैं। इसके साथ ही PN धारक PN द्वारा संदर्भित प्रतिभूति / शेयरों के संबंध में किसी भी मताधिकार का उपभोग नहीं करते हैं।

--------------------------------------------------------------------

प्रश्न 3: निम्नलिखित में से कौन-सा से द्वितीयक पूंजी बाजार के लिखत (इंस्टूमेंट) है/हैं?

1. बंधपत्र(बांड)

2. इनिशियल पब्लिक ऑफर (प्रारंभिक सार्वजनिक प्रस्ताव)

3. वाणिज्यिक प्रपत्र

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिए।

(a) केवल 1 और 3

(b) केवल 1

(c) केवल 2 और 3

(d) 1, 2 और 3

Answer: a

Explanation: द्वितीयक बाजार में इब्रिटी बाजार और ऋण बाजार सम्मिलित हैं। निम्नालिखित द्वितीयक बाजार में लेनदेन किए जाने वाले मुख्य वित्तीय उत्पाद / विलेख हैं:

इङ्गिटी: धारकों की कंपनी में उसके आम और अधिमानी शेयरों का स्वामित्व हित।  प्रारंभिक सार्वजनिक प्रस्ताव (IPO) प्राथमिक बाजार का प्रस्ताव है जहां कंपनी पहली बार जनता को शेयर बेचने का निर्णय करती है।

----------------------------------------------------------------------

प्रश्न 4: निम्नलिखित में से किसके परिणामरूवरूप भुगतान संतुलन (BoP) में चालू खाते का अधिशेष होने की संभावना है?

1. विदेशों से प्राम होने वाले प्रेषण में वृद्धि।

2. वैश्विक बाजार में भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा बंधपत्रों की बिक्री।

3. वैश्विक तेल कोमतों में गिरावट

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिए।

(a) केवल 1 और 2

(b) केवल 1 और 3

(c) केवल 3

(d) 1, 2 और 3

Answer: b

Explanation: कथन 1 सही है क्योंकि अंतरण भुगतान जिसमें विप्रेषित धन, उपहार और अनुदान सम्मिलित होते हैं, भुगतान संतुलन के पूंजी खाते का भाग है। इनमें होने वाली किसी भी वृद्धि से चालू खाते में अधिशेष होने की संभावना होती है।

कथन 2 सही नहीं है। मुद्रा, शेयर, बंधपत्र आदि जैसी परिसंपत्तियों को सभी अंतरराष्ट्रीय खरीद और बिक्री को पूंजी खाते में दर्ज किया जाता है। कथन 3 सही है क्योंकि तेल की कीमतों में वैश्विक गिरावट से आयात कम हो जाएगा जिससे चालू खाते के अधिशेष में वृद्धि होगी।

------------------------------------------------------------------------

प्रश्न 5: भारत में कचे तेल की कीमत में गिरावट की मुद्रास्फीति पर प्रभाव के संदर्भ में, निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए:

1. इसने ग्रामीण उपभोक्ताओं की तुलना में शहरी उपभोक्ताओं को अधिक लाभान्वित किया है।

2. इसने CPI (ईधन) घटक की तुलना में WP। (ईधन) घटक को अधिक प्रभावित किया है।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिए।

(a) केवल 1

(b) केवल 2

(c) 1 और 2 दोनों

(d) न तो 1 न ही 2

Answer: c

Explanation: कथन 1 सही है क्योंकि ग्रामीण भारत का ईधन मिश्रण मुख्य रूप से घरेलू उत्पादित जलावन, चैले और बायोगैस आदानों पर आधारित है, जो कचे तेल की कीमत पर काफी अधिक निर्भर नहीं है। वहीं दूसरी ओर, शहरी भारत में ईधन उत्पादों का अधिक व्यापक प्रयोग किया जाता है, अर्थात् LPG और डीजल निम्नस्तरीय वैश्विक कीमतों से लाभान्वित हुए हैं।

कथन 2 सही है। हालांकि कचे तेल की कीमतों में गिरावट ने WP। ईधन और विद्युत मुद्रास्फीति को काफी प्रभावित किया है, लेकिन CPI ईधन और विद्युत पर प्रभाव अल्पतम है। ऐसा मुख्य रूप से WPI और CPI ईधन टोकरी में सम्मिलित वस्तुओं और उनके भार में अंतर के कारण है। डीजल और पेट्रोल जिनकी कीमतें सीधे वैश्विक कचे तेल की कीमतों से जुड़ी हैं का WP। ईधन और विद्युत टोकरी में लगभग 40 प्रतिशत का योगदान है। 

व्यक्तिगत फीड्स देखें

लॉग इन करें और व्यक्तिगत होयें

Attempt Mock Test

View all

मॉक टेस्ट प्रयास करें

Attempt Free Mock Tests

Daily articles on app in Hindi

Daily articles on app in Hindi

You might be interested:

IBPS RRB ऑफिसर साक्षात्कार (इंटरव्यू) 2017 : कैसे हों सफल ?

IBPS RRB ऑफिसर परीक्षा 2017 : साक्षात्कार में सफलता कैसे प्राप्त करें- बैंकिंग कार्मिक चयन ने आधिकारि ...

7 महीने पहले

Vocab Express (शब्दावली एक्सप्रेस)- 354

Vocab Express (शब्दावली एक्सप्रेस)- 354 प्रिय उम्मीदवार, आपकी शब्दावली को बढ़ाने के लिए यहां 5 नए शब्द ...

7 महीने पहले

IAS एक गरिमामय करियर : सुविधाएँ एवं वेतनमान

IAS एक गरिमामय करियर : सुविधाएँ एवं वेतनमान - भारतीय प्रशासनिक सेवा  (Indian Administrative Service) अखिल भारतीय स ...

7 महीने पहले

IBPS क्लर्क प्रारंभिक परीक्षा संभावित कटऑफ 2017 (सम्पूर्ण और अनुभागीय)

IBPS क्लर्क प्रारंभिक परीक्षा संभावित कटऑफ 2017 (सम्पूर्ण और अनुभागीय)- बैंकिंग कार्मिक चयन संस्थ ...

7 महीने पहले

भारतीय इतिहास अभ्यास प्रश्न: सेट-5

प्रश्न 1: 1892 के इंडियन काउंसिल एक्ट भारतीय परिषद अधिनियम ) के संबंध में निम्नलिखित कथनों पर विचार ...

7 महीने पहले

विज्ञानं एवं प्रोद्यौगिकी अभ्यास प्रश्न: सेट-4

प्रश्न 1: इंडियन पेंगोलिन के संदर्भ में, निम्नलिखित में से कौन-सा/ से कथन सही है/ हैं? 1. यह एक स्तनधा ...

7 महीने पहले

Provide your feedback on this article: