Bookmark Bookmark

भारतीय मूल के अमेरिकी छात्र नीत टीम के क्यूबसैट को नासा करेगी प्रक्षेपित

भारतीय मूल के अमेरिकी छात्र नीत टीम के क्यूबसैट को नासा करेगी प्रक्षेपित

नासा ने भारतीय मूल के अमेरिकी छात्र की अगुवाई वाली एक टीम को चुना है जो अपने क्यूबसैट को अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी के भविष्य के मिशनों के लिए अंतरिक्ष में भेज सकते हैं।

क्यूबसैट अनुसंधान करने वाला एक लघु उपग्रह है जो ब्रह्माण्डीय किरणों का पता लगा सकता है।

केशव राघवन (21) की अगुवाई में येल अंडरग्रेजुएट एअरोस्पेस एसोसिएशन (वाईयूएए) के अनुसंधानकर्ताओं की टीम देश भर की उन 16 टीमों में शामिल है जिनके क्यूबसैट को 2020, 2021 और 2022 में अंतरिक्ष में भेजे जाने की योजना है।

टीम के क्यूबसैट बलास्ट (बोशेट लो अर्थ अल्फा/ बीटा स्पेस टेलीस्कोप) का नाम भौतिकीविद् ''एडवर्ड ए बोशेट'' के नाम पर रखा गया है, जो अमेरिका में पीएचडी प्राप्त करने वाले पहले अफ्रीकी अमेरिकी हैं। छात्रों ने चार साल में इस उपग्रह को तैयार किया है।

नासा के अनुसार, बीएलएएसटी एक वैज्ञानिक जांच मिशन है जो रात के आकाश में गैलेक्टिक कॉस्मिक रेडिएशन के वितरण को मैप करता है।

उपग्रह किरणों में अल्फा कणों और बीटा कणों की पहचान करेगा और पृथ्वी के चारों ओर विकिरण ऊर्जा को मापेगा।

You might be interested:

चीन ने बनाई विश्व की पहली सशस्त्र पानी एवं जमीन पर चलने वाली ड्रोन बोट

चीन ने बनाई विश्व की पहली सशस्त्र पानी एवं जमीन पर चलने वाली ड्रोन बोट चीन ने ...

2 साल पहले

दुनिया के सबसे बड़े विमान ने भरी उड़ान

दुनिया के सबसे बड़े विमान ने भरी उड़ान दुनिया के सबसे बड़े विमान ने कैलिफोर् ...

2 साल पहले

ई-वॉलेट की तुलना में तेजी से बढ़ रहा यूपीआई

ई-वॉलेट की तुलना में तेजी से बढ़ रहा यूपीआई UPI प्लेटफ़ॉर्म पर किए गए भुगतान ने ...

2 साल पहले

दैनिक समाचार डाइजेस्ट:15 April 2019

600,000 डॉक्टरों की कमी का सामना कर रहा भारत: अध्ययनभारत में अनुमानित तौर पर छह ला ...

2 साल पहले

बैंकिंग डाइजेस्ट, 16 अप्रैल 2019

अर्थव्यवस्था मार्च 2019 में भारत की वार्षिक थोक मूल्य मुद्रास्फीति - 3.18%. पर् ...

2 साल पहले

वन लाइनर्स ऑफ द डे, 16 अप्रैल 2019

पर्यावरण केंद्रीय समुद्री मत्स्यपालन अनुसंधान संस्थान (सीएमएफआरआई) ने इस ...

2 साल पहले

Provide your feedback on this article: