Bookmark Bookmark

छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस रेल्वे स्टेशन ने आईजीबीसी (इंडियन ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल) गोल्ड प्रमाणन प्राप्त किया है

छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस रेल्वे स्टेशन ने आईजीबीसी (इंडियन ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल) गोल्ड प्रमाणन प्राप्त किया है

प्रसंग

मध्य रेलवे के तहत मुंबई का छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस महाराष्ट्र में आईजीबीसी (इंडियन ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल) गोल्ड प्रमाणन प्राप्त करने वाला पहला रेलवे स्टेशन बन गया है।

विवरण

  • भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) की भारतीय ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल (IGBC) रेटिंग के आधार पर साइटों और स्थानों को गोल्ड प्रमाणन प्रदान किया जाता है।
  • प्रमाणन को अपने क्षेत्र में विभिन्न हरित पहल की मान्यता प्रदान की गई है।
  • रेटिंग प्रणाली आगे राष्ट्रीय प्राथमिकताओं जैसे ऊर्जा दक्षता, अपशिष्ट उपायों से निपटने, जल संरक्षण, आदि को बढ़ावा देगी।
  • मुंबई में छत्रपति शिवाजी टर्मिनस, जिसे पहले विक्टोरिया टर्मिनस स्टेशन के रूप में जाना जाता था, भारत में विक्टोरियन गोथिक पुनरुद्धार वास्तुकला का एक उत्कृष्ट उदाहरण है।
  • इस इमारत को ब्रिटिश वास्तुकार एफ॰ डब्ल्यू॰ स्टीवंस ने डिजाइन किया था।
  • इसने बॉम्बे को 'गोथिक सिटी' के प्रतीक के रूप में और भारत के प्रमुख अंतर्राष्ट्रीय व्यापारिक बंदरगाह के रूप में बनाया।

You might be interested:

विश्व आर्थिक मंच ने “पार्टनरिंग फॉर रेशिअल जस्टिस इन बिज़नेस इनिशिएटिव” नामक एक पहल शुरू की

विश्व आर्थिक मंच ने “पार्टनरिंग फॉर रेशिअल जस्टिस इन बिज़नेस इनिशिएटिव” ...

एक महीने पहले

‘फ्रीडम इन द वर्ल्ड 2021 रिपोर्ट जारी की गई

‘फ्रीडम इन द वर्ल्ड 2021 रिपोर्ट जारी की गई प्रसंग ‘फ्रीडम इन द वर्ल्ड 2021 - डे ...

एक महीने पहले

कर्नाटक सरकार ने 'इंजीनियरिंग रिसर्च पॉलिसी' जारी की

कर्नाटक सरकार ने 'इंजीनियरिंग रिसर्च पॉलिसी' जारी की प्रसंग कर्नाटक की राज् ...

एक महीने पहले

विश्व श्रवण दिवस मनाया गया

विश्व श्रवण दिवस मनाया गया प्रसंग विश्व भर में प्रत्येक वर्ष 03 मार्च को विश् ...

एक महीने पहले

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने वर्ष 2023 को “मोटे अनाज का अंतर्राष्ट्रीय वर्ष” घोषित किया

संयुक्त राष्ट्र महासभा ने वर्ष 2023 को “मोटे अनाज का अंतर्राष्ट्रीय वर्ष” ...

एक महीने पहले

दैनिक समाचार डाइजेस्ट:04 March 2021

‘कैच द रेन अभियान’ लॉन्च किया जायेगाजल शक्ति मंत्रालय 100 दिनों का ‘कैच द रे ...

एक महीने पहले

Provide your feedback on this article: