Guest
Welcome, Guest

Login/Register

महत्त्वपूर्ण लिंक

हमसे सम्पर्क करें

Bookmark Bookmark

दैनिक समाचार: चुनाव आयोग की शक्तियाँ

दैनिक समाचार: चुनाव आयोग की शक्तियाँ

भारत के चुनाव आयोग द्वारा जारी चुनाव अभियान में बार-बार कानून के उल्लंघन और आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन देखने को मिल रहा है। चुनाव आयोग योगी आदित्यनाथ, मायावती जैसे बड़े नेताओं को सजा भी दे चुका है, फिर भी सियासत को शर्मसार करने वाले बयान बेलगाम हैं।

ऐसे में जो लोग अपमानजनक और विभाजनकारी भाषणों की झड़ी लगाते हैं उनको लेकर कानून लागू करने में पहल की कमी के कारण 15 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग को लताड़ा इसके बाद एक्शन में तेजी आई।

आयोग के पास पर्याप्त शक्तियां हैं। वह शक्तियों को लेकर ईश्वर से नहीं बोल सकता कि हे प्रभु मुझे शक्ति दो, ताकि मैं इन परिस्थितियों का सामना कर सकूं। खुद सुप्रीम कोर्ट ने एमएस गिल केस मामले में स्पष्ट किया हुआ है कि जिस विषय पर संसद ने कानून नहीं बनाया, उस पर आयोग जो फैसला लेगा, वही कानून होगा।

दरअसल आयोग विवादित बयानों पर कार्रवाई में देरी नहीं करता, तो उसकी छवि पर प्रश्नचिह्न नहीं लगता। जैसा कि बाद में मायावती, योगी आदि पर की। अब प्रशासन के पास भी वह खौफ नहीं रहा। हम जब कलेक्टर से छह घंटे में रिपोर्ट मंगाते थे तो चार घंटे में आती थी, अब वह नहीं दिखता।

ईवीएम नहीं ईवीएम के इस्तेमाल पर होता है शक

ईवीएम पर संदेह नहीं है, लेकिन वह जिन कर्मचारियों के हाथों में रहती है, उनकी विश्वसनीयता पर अवश्य संदेह है।  ये लोग ईवीएम का कैसा इस्तेमाल करें, यह कहा नहीं जा सकता।

ऐसा मणिपुर में हो चुका है। उस समय एक सज्जन बूथ पर आए और अंदर चले गए, उन्होंने मतदाता को अंदर बुलाया, उसकी अंगुली पर अमिट स्याही लगवाई और उसका वोट खुद डाल दिया।

इसके बाद वह हर मतदाता के साथ यही करने लगे। आयोग ने वहां के अधिकारियों को फोन किया और तुरंत गड़बड़ी रोकने के आदेश दिए। यदि आयोग निगरानी नहीं रखता तो ईवीएम पर ही आरोप लगता और सवाल आयोग पर उठते।

You might be interested:

'वरुण' अभ्यास में भारत और फ्रांस की ताकत का दिखेगा नजारा

वरुण नौसेना अभ्यास भारत और फ्रांस के बीच अब तक का सबसे बड़ा नौसेना अभ्यास जल ...

एक महीने पहले

भारत ने लगाई जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा के पार व्यापार पर रोक

भारत ने लगाई जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा के पार व्यापार पर रोक सरकार की य ...

एक महीने पहले

आईएमएफ और विश्व बैंक ने इन-हाउस उद्देश्यों के लिए लर्निंग कॉइन लॉन्च किया

आईएमएफ और विश्व बैंक ने इन-हाउस उद्देश्यों के लिए लर्निंग कॉइन लॉन्च किया अं ...

एक महीने पहले

विश्व प्रेस स्वतंत्रता सूचकांक

विश्व प्रेस स्वतंत्रता सूचकांक ‘रिपोर्ट्स विदआउट बॉर्ड्स्’ की सालाना र ...

एक महीने पहले

सऊदी अरब 2020 में जी 20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा

सऊदी अरब 2020 में जी 20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा सऊदी अरब ने घोषणा की कि वह अ ...

एक महीने पहले

केनरा बैंक RBIs EMV जनादेश को पूरा करने वाला पहला PSB बना

केनरा बैंक RBIs EMV जनादेश को पूरा करने वाला पहला PSB बना ACI वर्ल्डवाइड, रियलटाइम इले ...

एक महीने पहले

Provide your feedback on this article: