Bookmark Bookmark

दैनिक समाचार डाइजेस्ट:25 May 2020

मिजोरम ने रोजगार उत्पन्न करने के लिए खेलों को औद्योगिक दर्जा दिया है

मिजोरम की राज्य सरकार ने रोजगार सृजन के उद्देश्य से खेलों को औद्योगिक दर्जा दिया है। क्षेत्र को उद्योग की स्थिति प्रदान करने से खिलाड़ी की आवश्यकताओं और क्षेत्र में शामिल अन्य लोगों से मिलने में मदद मिलेगी। इससे स्पोर्ट्सपर्सन को सबसे बड़ा फायदा देने के अलावा स्पोर्ट्स के निवेशकों और प्रमोटरों को भी फायदा होगा।

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT), मद्रास के शोधकर्ताओं ने ‘परवलयिक गर्त कलेक्टर’ विकसित किया

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT), मद्रास ने एक (‘परवलयिक गर्त कलेक्टर’ विकसित किया है जो उद्योगों की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए उन्नत सुविधाओं से लैस है। नया गर्त कलेक्टर हल्का, लागत प्रभावी और कुशल है और विभिन्न जलवायु परिस्थितियों में कार्य कर सकता है।

एक 'गर्त कलेक्टर' एक उपकरण है जो ऊर्जा को एक छोटे से क्षेत्र पर केंद्रित करता है, जिसे बदले में अवशोषित किया जाता है और ऊर्जा का उपयोग किया जाता है।

विश्व इस्पात रिपोर्ट 2020

विश्व इस्पात रिपोर्ट 2020 को 24 मई 2020 को विश्व इस्पात एसोसिएशन द्वारा जारी किया गया है। रिपोर्ट में राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के कारण कच्चे स्टील के उत्पादन में 65 प्रतिशत से 3.13 मिलियन टन की गिरावट को दर्शाया गया है, जिसमें सर्वव्यापी महामारी कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिए लगाया गया था। भारत ने वर्ष 2019 में समान समय अवधि में 9.02 मिलियन टन स्टील का उत्पादन किया था।

भारतीय खेल प्राधिकरण टीसीएलएल के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर

खेल प्राधिकरण गुजरात ने व्यक्तित्व और कौशल विकास के लिए पूरे गुजरात में इच्छुक एथलीटों को प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए टाइम्स सेंटर फॉर लर्निंग लिमिटेड (TCLL) के साथ एक समझौता ज्ञापन (MoU) पर हस्ताक्षर किए हैं। साझेदारी के तहत, 2000 से अधिक युवा और इच्छुक एथलीटों को शुरू में गुजरात भर में आनंद, तापी, नडियाद, पोरबंदर, नगर हिम्मत और सूरत जैसे क्षेत्रों में प्रशिक्षित किया जाएगा।

आभास झा को दक्षिण एशिया में विश्व बैंक प्रमुख पद पर नियुक्त किया गया

विश्व बैंक ने दक्षिण एशिया में जलवायु परिवर्तन और आपदा प्रबंधन पर एक महत्वपूर्ण स्थिति के लिए भारतीय अर्थशास्त्री आभा झा को नियुक्त किया है। दक्षिण एशिया के लिए जलवायु परिवर्तन और आपदा जोखिम प्रबंधन के लिए अभ्यास प्रबंधक के रूप में आभास झा, ग्लोबल प्रैक्टिस सीमाओं के साथ सहयोग और जुड़ने के लिए आपदा जोखिम प्रबंधन और दक्षिण एशिया क्षेत्र के जलवायु परिवर्तन (एसएआर) की टीम को सक्षम, प्रोत्साहित और सहायता करेंगे। आभास झा के अधीन क्षेत्राधिकार में श्रीलंका, भारत, लंका, पाकिस्तान, नेपाल, अफगानिस्तान और मालदीव शामिल हैं।

मार्च 2020 में ईएसआईसी सामाजिक सुरक्षा योजना में 8.21 लाख नामांकन देखे गए

मार्च 2020 में कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ESIC) द्वारा चलाई गई सामाजिक सुरक्षा योजना में लगभग 8.21 लाख नए सदस्य शामिल हुए हैं, जबकि फरवरी में यह संख्या 11.83 लाख थी। रिपोर्ट का शीर्षक 'पेरोल रिपोर्टिंग इन इंडिया: एन एंप्लॉयमेंट पर्सपेक्टिव - मार्च 2020' था। रिपोर्ट में बताया गया है कि सितंबर 2017 से मार्च 2020 के दौरान लगभग 3.83 करोड़ नए ग्राहक ईएसआईसी की सामाजिक सुरक्षा योजना में शामिल हुए।

You might be interested:

वन लाइनर्स ऑफ द डे, 26 मई 2020

रक्षा चौथी पीढ़ी के एलसीए तेजस विमान के साथ भारतीय वायु सेना अपने 18 स्क्वाड् ...

2 महीने पहले

मार्च 2020 में ईएसआईसी सामाजिक सुरक्षा योजना में 8.21 लाख नामांकन देखे गए

मार्च 2020 में ईएसआईसी सामाजिक सुरक्षा योजना में 8.21 लाख नामांकन देखे गए मार्च 2020 ...

2 महीने पहले

आभास झा को दक्षिण एशिया में विश्व बैंक प्रमुख पद पर नियुक्त किया गया

आभास झा को दक्षिण एशिया में विश्व बैंक प्रमुख पद पर नियुक्त किया गया विश्व ब ...

2 महीने पहले

भारतीय खेल प्राधिकरण टीसीएलएल के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर

भारतीय खेल प्राधिकरण टीसीएलएल के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर खेल प्राधि ...

2 महीने पहले

विश्व इस्पात रिपोर्ट 2020

विश्व इस्पात रिपोर्ट 2020 विश्व इस्पात रिपोर्ट 2020 को 24 मई 2020 को विश्व इस्पात एसोस ...

2 महीने पहले

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT), मद्रास के शोधकर्ताओं ने ‘परवलयिक गर्त कलेक्टर’ विकसित किया

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT), मद्रास के शोधकर्ताओं ने ‘परवलयिक गर्त कले ...

2 महीने पहले

Provide your feedback on this article: