Bookmark Bookmark

दैनिक समाचार डाइजेस्ट:25 February 2021

केंद्रीय रोजगार गारंटी परिषद की 22 वीं बैठक आयोजित की गयी

केंद्रीय रोजगार गारंटी परिषद की 22 वीं बैठक केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री की अध्यक्षता में हुई थी। यह परिषद महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (महात्मा गांधी नरेगा), 2005 की धारा 10 के तहत गठित की गई है।

अब तक कुल 344 करोड़ व्यक्ति-दिन का रोजगार उत्पन्न हुआ है।

पुडुचेरी में राष्ट्रपति शासन

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पुडुचेरी में राष्ट्रपति शासन लगाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है।

भारत के संविधान के अनुच्छेद 356 के तहत, जब कोई राज्य सरकार संवैधानिक प्रावधानों के अनुसार कार्य करने में असमर्थ है, तो केंद्र सरकार राज्य मशीनरी का प्रत्यक्ष नियंत्रण ले सकती है। राज्य के राज्यपाल, राष्ट्रपति की ओर से, राज्य के मुख्य सचिव या राष्ट्रपति द्वारा नियुक्त सलाहकारों की सहायता से राज्य प्रशासन पर कार्य करते हैं।

जापान ने पहला अकेलापन मंत्री नियुक्त किया

जापान ने बढ़ती आत्महत्या दर की जांच करने के लिए अकेलापन मंत्री टेटुशी सकामोटो को नियुक्त किया।

पीएम ने इंडिया खिलौना मेला – 2021 का उद्घाटन किया

इंडिया खिलौना मेला – 2021, यह एक पहली तरह की पहल है जिसका उद्देश्य स्थायी खिलौना बनाने के लिए भारतीय खिलौना उद्योग के सभी हितधारकों को एक साथ लाना है।

राष्ट्रीय शहरी डिजिटल मिशन (NUDM) का शुभारंभ

राष्ट्रीय शहरी डिजिटल मिशन (NUDM) इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MEITY) के साथ आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय (MoHUA) द्वारा लॉन्च किया गया। यह मिशन वर्ष 2022 तक 2022 शहरों और 2024 तक भारत के सभी शहरों और नगरों में शहरी शासन और सेवा वितरण के लिए नागरिक केन्द्रित और इकोसिस्टम द्वारा संचालित दृष्टिकोण को साकार करने का काम करेगा।

सरकार सूचना प्रौद्योगिकी (मध्यस्थता और डिजिटल मीडिया आचार संहिता) नियम 2021 को अधिसूचित करती है

केंद्र ने ओवर द टॉप ऑनलाइन स्ट्रीमिंग और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के लिए दिशानिर्देश और डिजिटल मीडिया आचार संहिता की घोषणा की। दिशानिर्देशों के तहत, सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स को शिकायतों के मुख्य अनुपालन अधिकारी, नोडल संपर्क व्यक्ति और एक रेजिडेंट शिकायत अधिकारी की नियुक्ति करनी होती है। शरारती सामग्रियों के पहले प्रवर्तक का खुलासा करने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफार्मों की आवश्यकता होगी।

अल्पाइन पौधे की एक नई प्रजाति अरुणाचल प्रदेश में खोजी गई हैं

अरुणाचल प्रदेश के तवांग जिले में अल्पाइन पौधे की एक नई प्रजाति की खोज की गयी है। पौधे की नई प्रजाति हिमालयन सूरजमुखी के परिवार से संबंधित है। इसे क्रेमनथोडियम इंडिकम नाम दिया गया है। यह तवांग जिले के पेंगा-टेंग त्सो झील के लिए स्थानिक है। पौधे की यह प्रजाति आमतौर पर जुलाई से अगस्त तक फूल देती है।

You might be interested:

वन लाइनर्स ऑफ द डे, 26 फरवरी 2021

रक्षा 24 फरवरी 2021 से नए फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग वेस्टर्न फ्लीट (FOCWF) - रियर एडमिरल अ ...

2 महीने पहले

अल्पाइन पौधे की एक नई प्रजाति अरुणाचल प्रदेश में खोजी गई हैं

अल्पाइन पौधे की एक नई प्रजाति अरुणाचल प्रदेश में खोजी गई हैं प्रसंग अरुणाचल ...

2 महीने पहले

सरकार सूचना प्रौद्योगिकी (मध्यस्थता और डिजिटल मीडिया आचार संहिता) नियम 2021 को अधिसूचित करती है

सरकार सूचना प्रौद्योगिकी (मध्यस्थता और डिजिटल मीडिया आचार संहिता) नियम 2021 को ...

2 महीने पहले

राष्ट्रीय शहरी डिजिटल मिशन (NUDM) का शुभारंभ

राष्ट्रीय शहरी डिजिटल मिशन (NUDM) का शुभारंभ प्रसंग राष्ट्रीय शहरी डिजिटल मिशन ...

2 महीने पहले

पीएम ने इंडिया खिलौना मेला – 2021 का उद्घाटन किया

पीएम ने इंडिया खिलौना मेला – 2021 का उद्घाटन किया विवरण यह एक पहली तरह की पहल ह ...

2 महीने पहले

जापान ने पहला अकेलापन मंत्री नियुक्त किया

जापान ने पहला अकेलापन मंत्री नियुक्त किया प्रसंग जापान ने बढ़ती आत्महत्या ...

2 महीने पहले

Provide your feedback on this article: