Bookmark Bookmark

इजरायल की निजी कंपनी का पहला चंद्र अभियान नाकाम

इजरायल की निजी कंपनी का पहला चंद्र अभियान नाकाम

इजरायल की निजी कंपनी का पहला चंद्र अभियान नाकाम रहा। उसका यान बेरेशीट 11 अप्रैल को चंद्रमा की सतह पर उतरने की कोशिश के दौरान क्रैश हो गया।

यह दुनिया का पहला निजी चंद्र अभियान था। इसे इजरायल की प्राइवेट कंपनी ने 21 फरवरी को रवाना किया था।

इस अभियान में अगर कामयाबी मिलती तो इजरायल रूस, अमेरिका और चीन के बाद चांद पर यान उतारने वाला चौथा देश बन जाता।

इजरायल एयरोस्पेस इंडस्ट्रीज के अंतरिक्ष विभाग के महाप्रबंधक ओफेर डोरोन ने बताया कि हमारा यान चन्द्रमा की सतह पर दुर्घटनाग्रस्त हो गया है।

बताया जा रहा है कि यान के इंजन में तकनीकी समस्या आने के बाद इसका ब्रेकिंग सिस्टम नाकाम हो गया था। यह चंद्रमा की सतह से करीब 10 किलोमीटर दूर था। तभी पृथ्वी से इसका संपर्क टूट गया।

पीएम नेतन्याहू का वादा, इजरायल चांद पर उतरेगा

प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू इस मिशन पर कंट्रोल रूम से नजर रखे हुए थे। उन्होंने वैज्ञानिकों का हौसला बढ़ाते हुए कहा, 'इजरायल चांद पर उतरेगा। पहली बार में आप नाकाम रहे, फिर कोशिश करें।' उन्होंने अगले दो साल में चंद्रमा पर यान उतारने की प्रतिज्ञा ली।

You might be interested:

भारतीय मूल के अमेरिकी छात्र नीत टीम के क्यूबसैट को नासा करेगी प्रक्षेपित

भारतीय मूल के अमेरिकी छात्र नीत टीम के क्यूबसैट को नासा करेगी प्रक्षेपित ना ...

2 साल पहले

चीन ने बनाई विश्व की पहली सशस्त्र पानी एवं जमीन पर चलने वाली ड्रोन बोट

चीन ने बनाई विश्व की पहली सशस्त्र पानी एवं जमीन पर चलने वाली ड्रोन बोट चीन ने ...

2 साल पहले

दुनिया के सबसे बड़े विमान ने भरी उड़ान

दुनिया के सबसे बड़े विमान ने भरी उड़ान दुनिया के सबसे बड़े विमान ने कैलिफोर् ...

2 साल पहले

ई-वॉलेट की तुलना में तेजी से बढ़ रहा यूपीआई

ई-वॉलेट की तुलना में तेजी से बढ़ रहा यूपीआई UPI प्लेटफ़ॉर्म पर किए गए भुगतान ने ...

2 साल पहले

दैनिक समाचार डाइजेस्ट:15 April 2019

600,000 डॉक्टरों की कमी का सामना कर रहा भारत: अध्ययनभारत में अनुमानित तौर पर छह ला ...

2 साल पहले

बैंकिंग डाइजेस्ट, 16 अप्रैल 2019

अर्थव्यवस्था मार्च 2019 में भारत की वार्षिक थोक मूल्य मुद्रास्फीति - 3.18%. पर् ...

2 साल पहले

Provide your feedback on this article: