Bookmark Bookmark

जनजातीय मामले मंत्रालय ने गोल परियोजना पर सांसदों के संवेदीकरण के लिए फेसबुक इंडिया के साथ वेबिनार की मेजबानी की

जनजातीय मामले मंत्रालय ने गोल परियोजना पर सांसदों के संवेदीकरण के लिए फेसबुक इंडिया के साथ वेबिनार की मेजबानी की

जनजातीय मामले मंत्रालय ने ‘गोईंग ऑनलाइन ऐज लीडर्स (गोल) परियोजना’पर भारत के अनुसूचित जनजाति (एसटी) संसदीय निर्वाचन क्षेत्रों के संसद सदस्यों (एमपी) के संवेदीकरण के लिए फेसबुक इंडिया के साथ वेबिनार की मेजबानी की।

प्रमुख बिंदु:

  • गोईंग ऑनलाइन ऐज लीडर्स (गोल) एक डिजिटल कौशल निर्माण एवं संरक्षण पहल है जो डिजिटल तंत्रों के जरिये पूरे भारत के अनुसूचित जनजाति के युवकों को व्यक्तिगत रूप से संरक्षण प्रदान करने के लिए व्यवसाय, शिक्षा, स्वास्थ्य, राजनीति, कला एवं उद्यमशीलता से जुड़े क्षेत्रों के विख्यात नेता एवं विशेषज्ञों को इससे जोड़ेगी।
  • कार्यक्रम युवा आदिवासी पीढ़ी को कल के परिवर्तन निर्माता बनने की सुविधा प्रदान करेगा।
  • पहल का उद्देश्य जनजातीय क्षेत्रों में रहने वाले युवकों के क्षमता निर्माण को लक्षित करना है जो उन्हें उनका आत्म विश्वास स्तर बढ़ाने एवं उनमें उच्च आकांक्षा भरने के लिए उन्हें प्रेरित, दिशा निर्देशित और प्रोत्साहित करेगी।
  • कार्यक्रम के तहत नेतृत्व, डिजिटल साक्षरता, उद्यमिता और जीवन कौशल पर ध्यान दिया जाएगा। कार्यक्रम आदिवासी युवाओं को जीवन के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए अपने स्मार्टफोन का उपयोग करने में सक्षम करेगा।
  • केंद्रीय जनजातीय मामले मंत्री श्री अर्जुन मुंडा, जनजातीय मामले राज्य मंत्री श्रीमती रेणुका सिंह सरुता, कई संसद सदस्यों एवं जनजातीय मामले मंत्रालय तथा माईगॉव और फेसबुक इंडिया के वरिष्ठ अधिकारियों ने वेबिनार में भाग लिया।

You might be interested:

लोगों को आजीविका के अवसर तलाशने में मदद करने के लिए सरकार द्वारा शुरू किया गया असीम पोर्टल

लोगों को आजीविका के अवसर तलाशने में मदद करने के लिए सरकार द्वारा शुरू किया ग ...

2 महीने पहले

दैनिक समाचार डाइजेस्ट:10 July 2020

संस्कृति मंत्रालय मंगोलियाई कंजूर पांडुलिपियों के पांच पुनर्मुद्रण की पर ...

2 महीने पहले

वन लाइनर्स ऑफ द डे, 11 जुलाई 2020

महत्वपूर्ण दिन विश्व जनसंख्या दिवस - 11 जुलाई अर्थव्यवस्था भारत में एक गैर-ब ...

2 महीने पहले

आईईए और एडीबी द्वारा नए सिरे से ऊर्जा क्षेत्र स्थिरता और लचीलापन में सहयोग पर समझौता

आईईए और एडीबी द्वारा नए सिरे से ऊर्जा क्षेत्र स्थिरता और लचीलापन में सहयोग प ...

2 महीने पहले

लॉयल टेक्सटाइल मिल्स लिमिटेड द्वारा ट्रिपल वायरल शील्ड टेक्नोलॉजी के साथ दुनिया में पहला पुन: प्रयोज्य पीपीई शुरू किया गया

लॉयल टेक्सटाइल मिल्स लिमिटेड द्वारा ट्रिपल वायरल शील्ड टेक्नोलॉजी के साथ द ...

2 महीने पहले

जहाजरानी मंत्रालय ने सार्वजनिक परामर्श के लिए नौवहन सहायता विधेयक 2020 का मसौदा जारी किया

जहाजरानी मंत्रालय ने सार्वजनिक परामर्श के लिए नौवहन सहायता विधेयक 2020 का मसौ ...

2 महीने पहले

Provide your feedback on this article: