Bookmark Bookmark

मथुरा में हाथियों के लिए एक जल चिकित्सालय खोला गया

मथुरा में हाथियों के लिए एक जल चिकित्सालय खोला गया

भारत ने उत्तर प्रदेश के मथुरा में गठिया, जोड़ों के दर्द और पैर की बीमारियों से पीड़ित हाथियों के लिए अपना पहला विशेष हाइड्रोथेरेपी उपचार शुरू किया है।

देखभाल केंद्र उत्तर प्रदेश वन विभाग और गैर सरकारी संगठन वन्यजीव SOS के सहयोग से चलाया जा रहा है।

यह बड़ा सा पूल है जो 11 फुट गहरा है और इसमें 21 उच्च दबाव जेट स्प्रे हैं जो पानी के दबाव को बनाते हैं यह हाथियों के पैरों और शरीर की मालिश करते हैं और रक्त परिसंचरण को बढ़ाने में मदद करते हैं।

इस चिकित्सालय को लेकर डॉ खडपेकर ने कहा कि ऑस्टियोआर्थराइटिस और पैर की समस्याएं आम बीमारियां हैं। ऐसे में पानी का दबाव एडिमा और सूजन को कम कर सकता है।

वन्यजीव एसओएस की सह-संस्थापक गीता शेषमणि ने कहा कि अतीत को इन जानवरों के लिए नहीं बदला जा सकता है, पशु चिकित्सकों और प्रशिक्षित कर्मचारियों की टीम चौबीसों घंटे काम करती है ताकि बचाए गए हाथियों की जरूरतों को पूरा किया जा सके।

You might be interested:

दैनिक समाचार डाइजेस्ट:21 June 2019

भारतीय नौसेनेा के लिए छह पी75 (i) पनडुब्बियों के निर्माण के लिए अभिरूचि पत्र आम ...

एक साल पहले

वन लाइनर्स ऑफ द डे, 22 जून 2019

दिन विशेष अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2019 (21 जून) के लिए विषय - योग फॉर हार्ट. विश्व ...

एक साल पहले

क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग-2020 जारी

क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग-2020 जारी क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकि ...

एक साल पहले

2022 तक लगभग 35,000 किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्गों का होगा निर्माण

2022 तक लगभग 35,000 किलोमीटर राष्ट्रीय राजमार्गों का होगा निर्माण राष्ट्रपति राम ...

एक साल पहले

एफएमसीजी एंड डी सेक्टर में आ सकती हैं 2.76 लाख नौकरियां

एफएमसीजी एंड डी सेक्टर में आ सकती हैं 2.76 लाख नौकरियां एफएमसीजी एंड डी सेक्टर ...

एक साल पहले

4.8 तीव्रता के साथ महाराष्ट्र के सतारा जिले में भूकंप के झटके

4.8 तीव्रता के साथ महाराष्ट्र के सतारा जिले में भूकंप के झटके महाराष्ट्र के सत ...

एक साल पहले

Provide your feedback on this article: