Bookmark Bookmark

MP पटवारी परीक्षा 2017 (9-13 दिसंबर) का ओवरऑल विश्लेषण, पेपर समीक्षा

MP पटवारी परीक्षा 2017 (9-13 दिसंबर) का ओवरऑल विश्लेषण: वर्ष 2017 के लिए, मध्य प्रदेश पटवारी भर्ती परीक्षा 2017 के माध्यम से 9,235 पटवारियों की रिक्तियों के लिए आवेदन भरे गए थे। आपको बता दें कि व्यापम ने 9 दिसंबर से 31 दिसंबर, 2017 तक MP पटवारी परीक्षा का आयोजन किया था।

इस लेख के माध्यम से हम आपको 9 दिसंबर से 13 दिसंबर 2017 तक आयोजित परीक्षा का विश्लेषण बताएंगे। इसके अलावा हम आपको सेक्शन-वाइज़ कठिनाई स्तर के बारे में भी बताएंगे।

MP पटवारी परीक्षा का ओवरऑल परीक्षा विश्लेषण

चलिए अब हम पहले आपको इस परीक्षा से संबंधित पैटर्न से अवगत करा दें। MP पटवारी पद की लिखित परीक्षा में 5 विषय शामिल थे। परीक्षा के लिए कुल 100 अंक निर्धारित थे। इसके अलावा आपको बता दें कि परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग का प्रावधान नहीं था।

 

विषय कुल अंक
जनरल नॉलेज 100
क्वॉन्टिटेटिव एप्टीट्यूड
हिंदी भाषा
ग्रामीण अर्थव्यवस्था एवं पंचायत व्यवस्था
कम्प्यूटर

 

MP पटवारी परीक्षा का कठिनाई स्तर मध्यम स्तर का था। MP पटवारी परीक्षा का सेक्शन-वाइज़ विस्तृत विश्लेषण नीचे दिया गया है।

  • जनरल नॉलेज: मध्यप्रदेश से संबंधित जानकारी गहनता से पूछी गई थी।
  • कंप्यूटर : मध्यम स्तर
  • गणित : क्वॉन्ट सेक्शन सरल था
  • रीज़निंग : रीज़निंग सेक्शन से कोई प्रश्न नहीं था।
  • हिन्दी: संधि, समास, अलंकार, वालोम, पर्यायवाची, उपसर्ग, वर्तनी, त्रुटि आदि।
  • पंचायत: योजनाएं और तिथियां

आइये अब हम MP पटवारी परीक्षा 2017 के समग्र विश्लेषण और परीक्षा की समीक्षा के लिए आगे बढ़ते हैं:

  • क्वॉन्ट सेक्शन के प्रश्नों का कठिनाई स्तर सरल था।
  • कंप्यूटर सेक्शन मध्यम स्तर का था।
  • हिन्दी सेक्शन सरल था, संधि, समास, अलंकार, वालोम, पर्यायवाची, उपसर्ग, वर्तनी, त्रुटि आदि से संबंधित प्रश्न परीक्षा में शामिल थे|
  • पंचायती राज और ग्राम अर्थव्यवस्था से सीधे 20 प्रश्न पूछे गए थे।
  • पंचायती राज के अधिकांश सवाल (योजना) से संबंधित थे। उदाहरण के लिए IAY (इंदिरा आवास योजना) के लिए PMAY (प्रधान मंत्री आवास योजना)
  • पंचायती राज में, प्रश्न वर्तमान योजनाओं (सरकारी योजना) पर आधारित थे।
  • राष्ट्रीय अनुसंधान केन्द्रों जैसे "खनिज अनुसंधान केंद्र", "बीज अनुसंधान केंद्र" पर आधारित प्रश्न पूछे गये थे।
  • मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण (ऐतिहासिक) समितियों से भी प्रश्न पूछे गए थे उदाहरण के लिए "अशोक मेहता समिति" (अशोक मेहता समिति एक असफल योजना थी लेकिन यह ऐतिहासिक थी और इसलिए उन्होंने इसके बारे में पूछा)।
  • उक्त परीक्षा में अभी तक उपस्थित होने वाले छात्रों की टिप : मध्य प्रदेश में स्थित सभी शोध केंद्रों को याद रखें।

जनरल नॉलेज के अधिकांश प्रश्न मध्य प्रदेश राज्य से संबंधित थे। राष्ट्रीय स्तर (जीके) के प्रश्न कम थे। जनरल अवेयरनेस के प्रश्न निम्न टपिक्स पर आधारित थे:

  • सरकारी योजनाएं (मुख्य रूप से तिथियां पूछी गईं)
  • MP की नदियां, पहाड़, पवित्र स्थान, प्रथम आईएएस अधिकारी
  • जीएसटी से संबंधित प्रश्न
  • विज्ञान से संबंधित प्रश्न परीक्षा में नहीं पूछे गये थे, लेकिन इतिहास से से संबंधित प्रश्न शामिल थे।
  • परीक्षा में राष्ट्रीय और MP स्तर पर करेंट अफेयर्स के प्रश्न शामिल थे।

राज्य स्तरीय परीक्षा तैयारी से संबंधित अधिक जानकारी के लिए हमसे जुड़े रहें।

Attempt Mock Test

View all

मॉक टेस्ट प्रयास करें

Attempt Free Mock Tests

Daily articles on app in Hindi

Daily articles on app in Hindi

You might be interested:

SSC स्टेनोग्राफ़र परीक्षा से संबंधित उत्तर कुंजी (ऑफिशियल) जारी

SSC स्टेनोग्राफ़र परीक्षा 2017 की उत्तर कुंजी  (अंतिम) 13 दिसम्बर 2017 को कर्मचारी चयन आयोग द्वारा जारी ...

एक महीने पहले

वन लाइनर्स ऑफ़ द डे: 14 दिसंबर 2017

राष्ट्रीय सुभाष भामरे ने इस राज्य के दो पुलों को राष्ट्र को समर्पित किया है - अरुणाचल प्रदेश औद ...

एक महीने पहले

बैंकिंग डाइजेस्ट: 14 दिसंबर 2017

राष्ट्रीय सुभाष भामरे ने इस राज्य के दो पुलों को राष्ट्र को समर्पित किया है - अरुणाचल प्रदेश औद ...

एक महीने पहले

नया ‘ब्लैक बॉक्स’ रिकॉर्डर सर्जन की दक्षता का पता लगाएगा

नया ‘ब्लैक बॉक्स’ रिकॉर्डर सर्जन की दक्षता का पता लगाएगा: अमेरिकी वैज्ञानिकों ने हवाईजहाजो ...

एक महीने पहले

भारतीय राज्यव्यवस्था अभ्यास प्रश्न: सेट-5

प्रश्न 1: निम्नलिखित में से कौन 73वें संविधान संशोधन अधिनियम का अनिवार्य प्रावधान नहीं है? (a) पंचा ...

एक महीने पहले

मोबाइल इंटरनेट स्पीड के मामले में भारत 109वें स्थान पर: रिपोर्ट

मोबाइल इंटरनेट स्पीड के मामले में भारत 109वें स्थान पर: रिपोर्ट मोबाइल इंटरनेट स्पीड के मामले मे ...

एक महीने पहले

Provide your feedback on this article: