Bookmark Bookmark

नारियल रेशे यानी कॉयर और उससे बने उत्‍पादों के निर्यात में भारत ने सबसे अधिक वृद्धि दर्ज की

नारियल रेशे यानी कॉयर और उससे बने उत्‍पादों के निर्यात में भारत ने सबसे अधिक वृद्धि दर्ज की

भारत से नारियल रेशे और उससे बने उत्‍पादों का वर्ष 2019-20 में 2757.90 करोड़ रुपये का रिकॉर्ड निर्यात हुआ जबकि वर्ष 2018-19 में यह निर्यात 2728.04 करोड़ रुपये का था यानी कि पिछले वर्ष की तुलना में इस बार लगभग 30 करोड़ रुपये अधिक का निर्यात हुआ है।

प्रमुख बिंदु:

  • वर्ष 2019-20 की अवधि में देश से नारियल रेशे और उससे बने उत्‍पादों का 9,88,996 मीट्रिक टन निर्यात किया गया जबकि पिछले वर्ष यह निर्यात 9,64,046 मीट्रिक टन था।
  • नारियल रेशे से बने उत्‍पाद जैसे कॉयर पिथ, टफ्ड मैट,  जियो-टेक्सटाइल्स,  रग्स और कालीन तथा  रस्सी और पावर-लूम मैट के निर्यात में मात्रा और मूल्य दोनों के संदर्भ में वृद्धि दर्ज की गई।
  • हैंड-लूम मैट, कॉयर यार्न, रबराइज्ड कॉयर और पावर-लूम मैटिंग जैसे उत्पादों में मात्रा के संदर्भ में गिरावट और मूल्य के संदर्भ में वृद्धि देखी गई।
  • कॉयर निर्यात के प्रमुख घटक:
  1. देश से निर्यात किए गए कुल नारियल रेशा उत्‍पादों में से कॉयर पिथ का 1349.63 करोड़ रुपये का निर्यात हुआ जो कुल कॉयर निर्यात की कमाई का 49 प्रतिशत रहा।.
  2. कुल कॉयर निर्यात में से कॉयर फाइबर के निर्यात की हिस्‍सेादारी 18 प्रतिशत के साथ 498.43 करोड़ रुपये की रही। 
  3. कॉयर के मूल्‍य संवर्धित उत्‍पादों का निर्यात कुल कॉयर निर्यात का 33 प्रतिशत रहा। 
  • कॉयर और उसके उत्‍पादों का निर्यात समुद्री मार्ग से भारतीय बंदरगाहों के जरिए किया जाता है। इनमें तूतीकोरीन,चेन्‍नई और कोच्‍चि के बंदरगाह शामिल हैं।
  • अन्‍य बंदरगाह जहां से इन वस्‍तुओं का निर्यात किया जाता है उसमें विशाखापत्‍तनम, मुबंई और कोलकाता आदि शामिल हैं।

You might be interested:

10 साल से कम अर्हकारी सेवा देने वाले सशस्त्र बल कार्मिक व्यक्ति अमान्य पेंशन के लिए पात्र हैं

10 साल से कम अर्हकारी सेवा देने वाले सशस्त्र बल कार्मिक व्यक्ति अमान्य पेंशन ...

4 हफ्ते पहले

पीसीबीएस के तहत पीएसबी द्वारा खरीदे जाने वाले 14,667 करोड़ रुपये के एनबीएफसी बांड

पीसीबीएस के तहत पीएसबी द्वारा खरीदे जाने वाले 14,667 करोड़ रुपये के एनबीएफसी बा ...

4 हफ्ते पहले

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री ने आईआईटी दिल्ली द्वारा दुनिया की सबसे सस्ती कोविड-19 डायग्नोस्टिक किट लॉन्च की

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री ने आईआईटी दिल्ली द्वारा दुनिया की सबसे स ...

4 हफ्ते पहले

भारतीय सशस्त्र बलों को 300 करोड़ रुपये तक की तत्काल पूंजी अधिग्रहण की शक्ति दी गयी

भारतीय सशस्त्र बलों को 300 करोड़ रुपये तक की तत्काल पूंजी अधिग्रहण की शक्ति दी ...

4 हफ्ते पहले

इंफाल में एनएसटीआई, एक्सटेंशन सेंटर का उद्घाटन

इंफाल में एनएसटीआई, एक्सटेंशन सेंटर का उद्घाटन राष्ट्रीय कौशल प्रशिक्षण सं ...

4 हफ्ते पहले

Provide your feedback on this article: