Guest
Welcome, Guest

Login/Register

महत्त्वपूर्ण लिंक

हमसे सम्पर्क करें

Bookmark Bookmark

पिनाकी चंद्र घोष भारत के पहले लोकपाल

पिनाकी चंद्र घोष भारत के पहले लोकपाल

जस्टिस पीसी घोष को देश का पहला लोकपाल नियुक्त किया गया है। भले ही सरकार को लोकपाल नियुक्त करने में पांच साल का समय लग गया हो, लेकिन लोकसभा चुनाव से ठीक पहले इस पद पर सेवानिवृत्त जज जस्टिस पिनाकी चंद्र घोष की नियुक्ति को सरकार के मास्टर स्ट्रोक के रूप में देखा जा रहा है।

जस्टिस पिनाकी चंद्र घोष -

जस्टिस पीसी घोष को मानवाधिकार कानूनों पर उनकी बेहतरीन समझ और विशेषज्ञता के लिए जाना जाता है।

जस्टिस घोष उच्चतम न्यायालय के जज रह चुके हैं। वह आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस भी रहे हैं।

वह अपने दिए गए फैसलों में मानवाधिकारों की रक्षा की बात बार-बार करते थे। वह राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के सदस्य भी हैं।

शशिकला को सजा सुनाकर चर्चा में आए थे जस्टिस घोष

जस्टिस घोष ने अपने सुप्रीम कोर्ट कार्यकाल के दौरान कई अहम फैसले दिए। वह तमिलनाडु की मुख्यमंत्री रहीं जयललिता की करीबी शशिकला को आय से अधिक संपत्ति मामले में सजा सुनाकर देश भर में चर्चा में आए।

उन्होंने शशिकला समेत बाकी आरोपियों को दोषी करार देने के निचली अदालत के फैसले को बरकरार रखा। हालांकि फैसला सुनाए जाने से पहले तक जयललिता की मौत हो चुकी थी।

You might be interested:

वन लाइनर्स ऑफ़ द डे : 19 मार्च 2019

राष्ट्रीय  मनोहर पर्रिकर इस राज्य के मुख्य मंत्री थे, जिनका हाल ही में निध ...

5 महीने पहले

बैंकिंग डाइजेस्ट : 19 मार्च 2019

राष्ट्रीय  मनोहर पर्रिकर इस राज्य के मुख्य मंत्री थे, जिनका हाल ही में निध ...

5 महीने पहले

डे लाइट सेविंग टाइम : जाने महत्वपूर्ण बातें

डे लाइट सेविंग टाइम : जाने महत्वपूर्ण बातें ग्रीष्म ऋतु में दिन बड़ा होता है, ...

5 महीने पहले

डोमिनिक थिएम ने जीता इंडियन वेल्स 2019 का खिताब

डोमिनिक थिएम ने जीता इंडियन वेल्स 2019 का खिताब 25 वर्षीय ऑस्ट्रियाई खिलाड़ी डोम ...

5 महीने पहले

कूर्ग अरेबिका कॉफी व चार अन्य को जीआई टैग (राष्ट्रीय)

कूर्ग अरेबिका कॉफी व चार अन्य को जीआई टैग (राष्ट्रीय) भौगोलिक संकेत रजिस्ट्र ...

5 महीने पहले

एमआर कुमार बने एलआईसी निदेशक

एमआर कुमार बने एलआईसी निदेशक एमआर कुमार को भारतीय जीवन बीमा निगम का चेयरमैन ...

5 महीने पहले

Provide your feedback on this article: