Bookmark Bookmark

राष्ट्रपति कोविंद ने भारत-म्यांमार चावल बायो पार्क का उद्घाटन किया

राष्ट्रपति कोविंद ने भारत-म्यांमार चावल बायो पार्क का उद्घाटन किया

भारतीय राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने अपने म्यांमार दौरे के दौरान दिसम्बर 11, 2018 को भारत द्वारा फंडेड चावल बायो पार्क को म्यांमार की जनता को समर्पित किया। 

चावल बायो पार्क एक अनोखी फैसिलिटी हैं जहाँ पर चावल के आनुषंगिक उपज जैसे कि भूसी, भूसे और ब्रान को बायोमास मूल्यवर्धित उत्पादों में परिवर्तित किया जाएगा। डॉ. पिल्लैयार की मदद से चावल बायो पार्क एम एस स्वामीनाथन अनुसन्धान संस्था द्वारा क्रियान्वयन किया जाएगा।

इसके साथ भारतीय राष्ट्रपति ने म्यांमार में कृषि अनुसंधान और शिक्षा के लिए उन्नत केंद्र का भी उद्घाटन किया। यह फैसिलिटी दिल्ली-स्थित भारतीय कृषि अनुसन्धान संस्थान द्वारा क्रियान्वयन किया जाएगा।

इन सुविधाओं का महत्व क्या हैं?

म्यांमार मूलत: एक ग्रामीण और कृषि प्रधान देश हैं, जहाँ पर कृषि कुल सकल घरेलु उत्पाद का 32 प्रतिशत और कुल निर्यात का 18 प्रतिशत प्रदान करता हैं। लगभग एक-तिहाई जनसँख्या कृषि पर निर्भर हैं और चावल और दाल प्राथमिक फसलें हैं।

चावल बायो पार्क मिलिंग के तरीकों को प्रदर्शित करते हुए, धान से चावल बनाने के प्रक्रिया में व्यापक नुकसान से किसानों को बचाएगा।

You might be interested:

मैरी कॉम को मेथोइलीमा खिताब से सम्मानित किया गया

मैरी कॉम को मेथोइलीमा खिताब से सम्मानित किया गया  मणिपुर सरकार ने इम्फाल में एक समारोह में "मी ...

एक महीने पहले

मारे गए पत्रकार खशोगगी टाइम के "पर्सन ऑफ द ईयर" घोषित

मारे गए पत्रकार खशोगगी टाइम के "पर्सन ऑफ द ईयर" घोषित मारे गए सऊदी अरब के पत्रकार जमाल खशोगगी को क ...

एक महीने पहले

राज्य विधानसभा चुनाव 2018 परिणाम

राज्य विधानसभा चुनाव 2018 परिणाम पांच राज्यों के विधान सभा के लिए नवम्बर 2018 में कराये गए चुनावों क ...

एक महीने पहले

शक्तिकांत दास भारतीय रिजर्व बैंक के नए गवर्नर नियुक्त

शक्तिकांत दास भारतीय रिजर्व बैंक के नए गवर्नर नियुक्त केंद्र सरकार ने भूतपूर्व वित्त सचिव शक् ...

एक महीने पहले

Vocab Express (शब्दावली एक्सप्रेस)- 614

Vocab Express (शब्दावली एक्सप्रेस)- 614 प्रिय उम्मीदवार, आपकी शब्दावली को बढ़ाने के लिए यहां 5 नए शब्द ...

एक महीने पहले

वन लाइनर्स ऑफ़ द डे : 12 दिसम्बर 2018

राष्ट्रीय स्वदेश में विकसित यह मिसाइल 5,000 किलोमीटर की दूरी तक लक्ष्य भेदने में सक्षम है -अग्नि-5 ...

एक महीने पहले

Provide your feedback on this article: