Bookmark Bookmark

संस्कृति मंत्रालय मंगोलियाई कंजूर पांडुलिपियों के पांच पुनर्मुद्रण की परियोजना शुरू की

संस्कृति मंत्रालय मंगोलियाई कंजूर पांडुलिपियों के पांच पुनर्मुद्रण की परियोजना शुरू की

संस्कृति मंत्रालय ने राष्ट्रीय पांडुलिपि मिशन के अंतर्गत मंगोलियन कंजूर पांडुलिपियों के 108 खंडों के पुनर्मुद्रण की परियोजना शुरू की है। इस मिशन के तहत पांच खंडों का पहला सेट इस महीने की 4 जुलाई 2020 को गुरु पूर्णिमा अर्थात् धर्म चक्र दिवस के मौके पर राष्ट्रपति को भेंट किया गया।

प्रमुख बिंदु:-

  • मंगोलियाई कंजूर पांडुलिपि के 108 संस्करणों का पूरा संग्रह मार्च 2022 तक प्रकाशित किया जाएगा। मंगोलियाई कंजूर मंगोलिया में सबसे महत्वपूर्ण धार्मिक ग्रंथ समझे जाते हैं।
  • भारत सरकार ने पर्यटन और संस्कृति मंत्रालय के तहत राष्ट्रीय पांडुलिपि मिशन की शुरुआत 2003 में की थी। इसका उद्देश्य पांडुलिपियों में निहित जानकारी का प्रलेखन, संरक्षण और सम्प्रेषण करना है।
  • भारत में मंगोलिया के राजदूत, महामहिम श्री गोंचिंग गैंबोल्ड को पांडुलिपि का एक सेट भी सौंपा गया था।
  • मिशन का उद्देश्य अप्रकाशित और दुर्लभ पांडुलिपियों को विद्वानों, अनुसंधान और बड़े पैमाने पर सामान्य जनता के बीच उनके बीच संरक्षित जानकारी को प्रकाशित करना है।
  • पांडुलिपियों के पुनर्मुद्रण का कार्य प्रख्यात विद्वान प्रो. लोकेश चंद्रा के नेतृत्व में कार्यान्वित किया जा रहा है।

टिपण्णी:

  • मंगोलियाई कंजूर पांडुलिपि बौद्ध धर्म का एक विहित पाठ है और इसमें 108 खंड शामिल हैं।
  • मंगोलियाई भाषा में कंजूर का अर्थ संक्षिप्त आदेश है और यह भगवान बुद्ध के शब्दों को संदर्भित करता है। कंजूर मंगोलिया के ज्यादातर मठों में पाया जा सकता है।
  • मंगोलियाई पाठ का तिब्बती से अनुवाद किया गया है और इसे शास्त्रीय मंगोलियाई में लिखा गया है और यह देश के लिए सांस्कृतिक पहचान का एक स्रोत है।

You might be interested:

दैनिक समाचार डाइजेस्ट:09 July 2020

ओडिशा ने सरकारी भूमि के अतिक्रमण को रोकने के लिए BLUIS प्रणाली शुरू कीओडिशा के म ...

3 महीने पहले

वन लाइनर्स ऑफ द डे, 10 जुलाई 2020

अर्थव्यवस्था 10 से 18 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए, ‘भविष्य’ बचत खाता प्रस्त ...

3 महीने पहले

रक्षा मंत्री श्री द्वारा जम्मू-कश्मीर में छह पुलों का ई-उद्घाटन किया

रक्षा मंत्री श्री द्वारा जम्मू-कश्मीर में छह पुलों का ई-उद्घाटन किया जम्मू-क ...

3 महीने पहले

श्रीलंका और मालदीव ने 2023 से पहले रूबेला और खसरा को समाप्त कर दिया है

श्रीलंका और मालदीव ने 2023 से पहले रूबेला और खसरा को समाप्त कर दिया है श्रीलंका ...

3 महीने पहले

मंत्रिमंडल ने शहरी प्रवासियों/गरीबों के लिए कम किराये वाले आवासीय परिसरों के विकास को स्वीकृति दी

मंत्रिमंडल ने शहरी प्रवासियों/गरीबों के लिए कम किराये वाले आवासीय परिसरों ...

3 महीने पहले

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने एक लाख करोड़ रुपए के ‘कृषि अवसंरचना कोष’ की स्थापना को मंजूरी दी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने एक लाख करोड़ रुपए के ‘कृषि अवसंरचना कोष’ की स्थाप ...

3 महीने पहले

Provide your feedback on this article: