Bookmark Bookmark

विज्ञानं एवं प्रोद्यौगिकी अभ्यास प्रश्न: सेट-4

प्रश्न 1: इंडियन पेंगोलिन के संदर्भ में, निम्नलिखित में से कौन-सा/ से कथन सही है/ हैं?

1. यह एक स्तनधारी है जो अपने शरीर पर शल्कों के लिए जाना जाता है।

2. इसे IUCN की रेड लिस्ट में एनडेंजर्ड के रूप में वर्गीकृत किया गया है।

3. पर्यावास का विनाश इसकी आबादी में गिरावट का प्रमुख कारण है।

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर दीजिए।

(a)  केवल 1 और 2

(b)  केवल 2

(c)  केवल 1 और 3

(d) 1, 2 और 3

Answer: a

Explanation: पैंगोलिन काम मलय भाषा में अर्थ में ‘लुढ़कन होता हैI इसका यह नाम इसलिए पड़ा है क्योंकि यह संकट अनुभव करने का एक गेंद के रूप में सिकुड़ जाता हैI पैंगोलिन के बड़े, सुरक्षात्मक केराटिन शल्क होते हैं जो कि इसकी त्वचा को ढके रहते हैंI इसलिए कथन 1 सही हैI

पैंगोलिन 8 प्रजातियों में से एक इंडियन पेंगोलिन को ICUN की थ्रीडेंट प्रजाति की रेड लिस्ट में एनडेंजर्ड के रूप में वर्गीकृत किया गया हैI इसलिए कथन 2 सही हैI

पैंगोलिन सर्वाधिक अवैध शिकार किए जाने वाले स्तनधारियों में से एक हैI निर्वाह और अंतरराष्ट्रीय व्यापार के लिए शिकार और अवैध शिकार के कारण उनकी संख्या घट रही है इसलिए कथन 3 सही नहीं हैI

-----------------------------------------------------------------------

प्रश्न 2: हाल ही में चर्चा में रहा आदित्य L1 (Aditya L1) है:

(a) सूर्य का अध्ययन करने हेतु ISRO का प्रथम मिशन।

(b) एरोनॉटिकल डेवलपमेंट एजेंसी (ADA) द्वारा तैयार किया गया हल्का युद्धक विमान।

(c) स्वदेशी रूप निर्मित टारपीडो लांच एंड रिकवरी वेसल

(d) ISRO द्वारा प्रक्षेपितप्रथम समर्पित बहु-तरंगदैधर्य अंतरिख वेदशाला ।

Answer: a

Explanation: आदित्य L1 (Aditya L1) सूर्य का अध्ययन करने के लिए भारत का पहला समर्पित वैज्ञानिक मिशन है। आदित्य L1 मिशन को L1 के चारों ओर प्रभा मंडल कक्षा में प्रवेश किया जाएगा जो पृथ्वी से 1.5 लाख किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यह उपग्रह परिष्कृत विज्ञान प्रयोजन और उद्देश्यों के संदर्भ में अतिरिक्त छह पे लोड वहन करता हैI 

आदित्य L1, अतिरिक्त एक्सपेरिमेंट के जरिये (आदित्य की तुलना में) अब सूर्य के प्रकाश मंडल (मृदु और तीक्ष्ण एक्स-रे), वर्ण मंडल (पराबैंगन) एवं कोरोना (दृश्यमान एवं अवरक्त वर्णक्रम निकटवर्ती) प्रेक्षण प्रदान कर सकता है। इसके अतिरिक्त पार्टिकल पेलोड सूर्य से प्रसर्जित एवं L1 कक्षा तक पहुँचने वाले पार्टिकल फ्लक्स का अध्ययन करेगा, एवं मैग्नेटो मीटर पेलोड L1 कक्षा के चारों ओर प्रभा मंडल कक्षा में चुंबकीय क्षेत्र प्रबलता में होने वाले परिवर्तनों का मापन करेगाI

---------------------------------------------------------------------

प्रश्न 3: निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिए:

1. अटल इनोवेशन मिशन (AIM) का उद्देश्य देश में, विशेषकर प्रौद्योगिकी आधारित क्षेत्रों में उद्यमशीलता की भावना को उत्प्रेरित करना है।

2. राष्ट्रीय आविष्कार अभियान (RAA) का उद्देश्य स्कूली बच्चों में जिज्ञासा और विज्ञान व गणित के लिए लगाव पैदा करना है।

3. AIM और RAA दोनों मानव संसाधन विभाग मंत्रालय की पहल है।

उपर्युक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?

(a) केवल 1 और 2

(b) केवल 1

c) केवल 2 और 3

(d) 1, 2 और 3

Answer: a

Explanation: अटल इनोवेशन मिशन (AIM) का उद्देश्य राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय अनुभव से सीख लेते हुए भारत में नवाचार शोध एवं विकास की संस्कृति को पोषित करने के लिए शिक्षाविदों, उद्यमियों एवं शोधकर्ताओं को सम्मिलित करते हुए नवाचार प्रोत्साहन प्लेटफार्म के रूप में विकसित होना है। 

राष्ट्रीय आविष्कार अभियान (RAA) का उद्देश्य 6 से 18 आयु वर्ग के छात्रों में जिज्ञासा प्रयोग रचनात्मकता की भावना जगाना हैI इसका उद्देश्य गैर-कक्षा आधारित शिक्षण व्यवस्था के माध्यम से विज्ञान गणित एवं प्रद्योगिकी को सीखने की संभावना का लाभ उठाना है। राष्ट्रीय आविष्कार अभयान मानव संसाधन विकास मंत्रालय की पहल है।

औद्योगिक क्षेत्रकों के वर्गीकरण के लिए पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय प्रदूषण सूचकांक का उपयोग करता है।

--------------------------------------------------------------------

प्रश्न 4: निम्नलिखित में से किन मापदंडों पर प्रदूषण सूचकांक में विचार किया जाता है?

1 उत्सर्जन

2. बहि:स्राव अपशिष्ट

3. उत्पन्न खतरनाक अपशिष्ट

 4. संसाधनों की खपत

नीचे दिए गए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिए

(a) केवल 1 और 3

(b) केवल 2 और 4

 (c) 1, 2, 3 और 4

 (d) केवल 1, 2 और 3

Answer: c

Explanation: पर्यावरण वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय, (MoEFCC) ने प्रदूषण सूचकांक के आधार पर औद्योगिक क्षेत्रों का वर्गीकरण के मानदंड विकसित किए हैं । यह प्रदूषण सूचकांक उत्सर्जन (वायु प्रदूषकों) बहि,:स्रावों (जल प्रदूषकों), उत्पन्न खतरनाक अपशिष्ट को एवम संसाधनो की खपत का फलन है।

---------------------------------------------------------------------

प्रश्न 5: निम्नलिखित में से कौन साथ थोर (Thor) प्रयोग का उद्देश्य है?

(a) तरितझंझा में होने वाली विद्युतीय गतिविधि की जांच करना।

(b) सर्दियों के दौरान कोहरे के जीवन चक्र का अध्ययन करना।

(c) सूक्ष्म गुरुत्वाकर्षण में पदार्थों की सहनशीलता का परिमाण निर्धारित करना

(d) डार्क मैटर और भौतिकी के मानव मॉडल के उल्लंघन का अध्ययन करना

Answer: a

Explanation: THOR (थोर प्रयोग का उद्देश्य तड़ित झंझा (thunderstorms) से होने वाली गतिविधि की जांच करना है करना है।) वायुमंडल में 10 से 100 किलोमीटर की ऊंचाई पर आवेशित कणों के बीच होने वाली अन्योन्यक्रिया। थोर प्रयोग में अंतराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशनं के सुविधाजनक स्थान से थंडरस्टॉर्म इमेजिंग सिस्टम से इन्हे देखा जायेगा। नॉरडिस्प्यूरानिक कथाओं में गर्जना (थंडर)और तूफान के देवता के नाम पर इस प्रयोग का नामकरण ‘थोर’ किया गया है।

व्यक्तिगत फीड्स देखें

लॉग इन करें और व्यक्तिगत होयें

Attempt Mock Test

View all

मॉक टेस्ट प्रयास करें

Attempt Free Mock Tests

Daily articles on app in Hindi

Daily articles on app in Hindi

You might be interested:

वन लाइनर्स ऑफ़ द डे: 11 दिसंबर 2017

राष्ट्रीय असम सरकार इस मंदिर को देश के सबसे स्वच्छ तीर्थ स्थल के रूप में बनाना चाहती है - कामाख् ...

5 महीने पहले

बैंकिंग डाइजेस्ट: 11 दिसंबर 2017

राष्ट्रीय असम सरकार इस मंदिर को देश के सबसे स्वच्छ तीर्थ स्थल के रूप में बनाना चाहती है - कामाख् ...

5 महीने पहले

केवल 31% भारतीयों के पास ही अलग से स्वास्थ्य बीमा पालिसी हैं: रिपोर्ट

केवल 31% भारतीयों के पास ही अलग से स्वास्थ्य बीमा पालिसी हैं: रिपोर्ट अधिकतर भारतीय व्यक्ति या तो ...

5 महीने पहले

विश्व मानवाधिकार दिवस: 10 दिसंबर

विश्व मानवाधिकार दिवस: 10 दिसंबर विश्व मानवाधिकार दिवस प्रत्येक वर्ष 10 दिसंबर को दुनिया भर में म ...

5 महीने पहले

इवनिंग न्यूज़ डाइजेस्ट: 10 दिसंबर 2017

यूएई जल्द ही भारत में तीन नए कांसुलर कार्यालय खोलेगा: नई दिल्ली में यूएई दूतावास ने घोषणा की है ...

5 महीने पहले

ब्रह्मांडीय कणों का अध्ययन करने के लिए नासा का 'सुपरटाइगर' बलून

ब्रह्मांडीय कणों का अध्ययन करने के लिए नासा का 'सुपरटाइगर' बलून: अंटार्कटिका में नासा के वैज्ञा ...

5 महीने पहले

Provide your feedback on this article: