Bookmark Bookmark

विश्व प्रेस स्वतंत्रता सूचकांक

विश्व प्रेस स्वतंत्रता सूचकांक

‘रिपोर्ट्स विदआउट बॉर्ड्स्’ की सालाना रिपोर्ट में भारत प्रेस की आजादी के मामले में दो पायदान खिसक गया है।

180 देशों में भारत का स्थान 140वां है। 18 अप्रैल को जारी रिपोर्ट में भारत में चल रहे चुनाव प्रचार के दौर को पत्रकारों के लिए खासतौर पर सबसे खतरनाक वक्त के तौर पर चिन्हित किया है।

‘विश्व प्रेस स्वतंत्रता सूचकांक 2019’ में नॉर्वे शीर्ष पर है। इसमें पाया गया है कि दुनिया भर में पत्रकारों के प्रति दुश्मनी की भावना बढ़ी है। इस वजह से भारत में बीते साल अपने काम के कारण कम से कम छह पत्रकारों की हत्या कर दी गई।

सूचकांक में कहा गया है कि भारत में प्रेस स्वतंत्रता की वर्तमान स्थिति में से एक पत्रकारों के खिलाफ हिंसा है जिसमें पुलिस की हिंसा, माओवादियों के हमले, अपराधी समूहों या भ्रष्ट राजनीतिज्ञों का प्रतिशोध शामिल है।

2018 में अपने काम की वजह से भारत में कम से कम छह पत्रकारों की जान गई है।

विश्लेषण में आरोप लगाया गया है कि 2019 के आम चुनाव के दौरान सत्तारूढ़ भाजपा के समर्थकों द्वारा पत्रकारों पर हमले बढ़े हैं।

2018 में मीडिया में ‘मी टू’ अभियान के शुरू होने से महिला संवाददाताओं के संबंध में उत्पीड़न और यौन हमले के कई मामलों पर से पर्दा हटा। इसमें कहा गया है कि जिन क्षेत्रों को प्रशासन संवेदनशील मानता है वहां रिपोर्टिंग करना बहुत मुश्किल है जैसे कश्मीर। कश्मीर में विदेशी पत्रकारों को जाने की इजाजत नहीं है और वहां अक्सर इंटरनेट काट दिया जाता है।

दक्षिण एशिया से, प्रेस की आजादी के मामले में पाकिस्तान तीन पायदान गिरकर 142वें स्थान पर है जबकि बांग्लादेश चार पायदान गिरकर 150वें स्थान पर है। नॉर्वे लगातार तीसरे साल पहले पायदान पर है जबकि फिनलैंड दूसरे स्थान पर है।

You might be interested:

सऊदी अरब 2020 में जी 20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा

सऊदी अरब 2020 में जी 20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा सऊदी अरब ने घोषणा की कि वह अ ...

12 महीने पहले

केनरा बैंक RBIs EMV जनादेश को पूरा करने वाला पहला PSB बना

केनरा बैंक RBIs EMV जनादेश को पूरा करने वाला पहला PSB बना ACI वर्ल्डवाइड, रियलटाइम इले ...

12 महीने पहले

नेपाल का पहला उपग्रह लांच

नेपाल का पहला उपग्रह लांच नेपाल ने अपना पहला उपग्रह 18 अप्रैल की सुबह अंतरिक् ...

12 महीने पहले

बैंकिंग डाइजेस्ट, 20 अप्रैल 2019

दिन विशेष 20 अप्रैल, 1997 को ……. देश के 12 वें प्रधान मंत्री बने - इंदर कुमार गुज ...

12 महीने पहले

वन लाइनर्स ऑफ द डे, 20 अप्रैल 2019

दिन विशेष 20 अप्रैल, 1997 को ……. देश के 12 वें प्रधान मंत्री बने - इंदर कुमार गुज ...

12 महीने पहले

दैनिक समाचार: नोट्रे-डेम कैथेड्रल

दैनिक समाचार: नोट्रे-डेम कैथेड्रल चर्चा में: पेरिस के बीचों-बीच स्थित ऐतिहास ...

12 महीने पहले

Provide your feedback on this article: