Bookmark Bookmark

यशवर्धन के. सिन्हा को नए मुख्य सूचना आयुक्त के रूप में नियुक्त किया गया

यशवर्धन के. सिन्हा को नए मुख्य सूचना आयुक्त के रूप में नियुक्त किया गया

प्रसंग

केंद्र पूर्व भारतीय विदेश सेवा अधिकारी और सूचना आयुक्त यशवर्धन सिन्हा को नया मुख्य सूचना आयुक्त नियुक्त करेगा।

यशवर्धन सिन्हा के बारे में:-

वह भारतीय विदेश सेवा के एक सेवानिवृत्त अधिकारी हैं और पहले यूनाइटेड किंगडम और श्रीलंका में भारत के उच्चायुक्त के रूप में कार्य कर चुके हैं। उन्हें जनवरी 2019 में केंद्रीय सूचना आयोग के सदस्य के रूप में नियुक्त किया गया था।

विवरण:-

  • केंद्रीय सूचना आयोग की स्थापना 2005 में केंद्र सरकार द्वारा की गई थी। यह सूचना का अधिकार अधिनियम (2005) के प्रावधानों के तहत एक आधिकारिक राजपत्र अधिसूचना के माध्यम से गठित किया गया था। इसलिए, यह एक संवैधानिक निकाय नहीं है।
  • आयोग में एक मुख्य सूचना आयुक्त होता है और अध्यक्ष के रूप में एक समिति की सिफारिश पर अधिक नहीं है जिसमें अध्यक्ष, लोकसभा में विपक्ष के नेता और दस सूचना आयुक्तों की तुलना में एक केंद्रीय मंत्रिमंडल है।
  • इनकी नियुक्ति राष्ट्रपति द्वारा एक समिति की सिफारिश पर की जाती है। इस समिति के अध्यक्ष प्रधानमंत्री होते हैं। उन्हें कानून, विज्ञान और प्रौद्योगिकी, सामाजिक सेवा, प्रबंधन, पत्रकारिता, जनसंचार या प्रशासन और शासन में व्यापक ज्ञान और अनुभव के साथ सार्वजनिक जीवन में श्रेष्ठता प्राप्त करनी चाहिए।
  • उन्हें संसद सदस्य या किसी राज्य या केंद्र शासित प्रदेश के विधानमंडल का सदस्य नहीं होना चाहिए।
  • उन्हें लाभ का कोई अन्य कार्यालय नहीं रखना चाहिए और न ही किसी राजनीतिक दल से जुड़ा होना चाहिए और न ही किसी व्यवसाय को चलाना चाहिए और न ही किसी पेशे को आगे बढ़ाना चाहिए।

You might be interested:

अंतर-संसदीय संघ की गवर्निंग काउंसिल के 206 वें सत्र का आयोजन 1 नवंबर से किया जाएगा

अंतर-संसदीय संघ की गवर्निंग काउंसिल के 206 वें सत्र का आयोजन 1 नवंबर से किया जाए ...

4 हफ्ते पहले

वन लाइनर्स ऑफ द डे, 01 नवंबर 2020

महत्वपूर्ण दिन विश्व शाकाहारी दिवस - 1 नवंबर अंतरराष्ट्रीय ब्रिटेन स्थित व ...

4 हफ्ते पहले

दैनिक समाचार डाइजेस्ट:30 October 2020

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने गुजरात के केवडिया में आरोग्य वन, आरोग्य ...

4 हफ्ते पहले

इतिहास में यह दिन

30 - अक्टूबर - 1883 आर्य समाज के संस्थापक स्वामी दयानंद सरस्वती का अजमेर में निधन। ...

4 हफ्ते पहले

समाचार में स्थान

फ्रांस यह पश्चिमी यूरोप और कई विदेशी क्षेत्रों में महानगरीय फ्रांस से मिलक ...

4 हफ्ते पहले

मंत्रिमंडल ने जूट सामग्री से होने वाली पैकिंग के अनिवार्यता संबंधी नियमों के विस्‍तार को मंजूरी दी

मंत्रिमंडल ने जूट सामग्री से होने वाली पैकिंग के अनिवार्यता संबंधी नियमों ...

4 हफ्ते पहले

Provide your feedback on this article: